डुप्लेसिस ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया, अब टी20 होगी प्राथमिकता - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 17 फ़रवरी 2021

डुप्लेसिस ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया, अब टी20 होगी प्राथमिकता

duplessis-retire
जोहानिसबर्ग, 17 फरवरी, दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने बुधवार को टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की और अब वह छोटे प्रारूपों विशेषकर टी20 के अपने करियर पर ध्यान देंगे। इस 36 वर्षीय खिलाड़ी ने इंस्टाग्राम पर अपने पेज में बयान जारी करके यह घोषणा की। डुप्लेसिस ने लिखा, ‘‘यह हम सभी के लिये मुश्किलों से लड़कर आगे बढ़ने वाला साल रहा। कभी अनिश्चितता भी रही लेकिन इससे कई पहलुओं को लेकर मेरी स्पष्ट राय बनी। मेरा दिल साफ है और यह नये अध्याय की शुरुआत करने के लिये सही समय है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘खेल के सभी प्रारूपों में देश का प्रतिनिधित्व करना सम्मान है लेकिन अब मेरे लिये टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का समय आ गया है। ’’


वह अब टी20 प्रारूप पर ध्यान देंगे लेकिन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट (वनडे) भी उनकी योजना का हिस्सा बना रहेगा। डुप्लेसिस ने कहा, ‘‘अगले दो साल आईसीसी टी20 विश्व कप होगा। इस वजह से मैं अपना ध्यान इस प्रारूप पर केंद्रित कर रहा हूं। मैं दुनिया भर में इस प्रारूप में अधिक से अधिक खेलना चाहता हूं ताकि मैं जितना संभव हो सके सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी बन सकूं। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि मैं इस प्रारूप में दक्षिण अफ्रीका की टीम में अहम योगदान दे सकता हूं। इसका मतलब यह नहीं है कि वनडे क्रिकेट मेरी योजना का हिस्सा नहीं है। मैं कुछ समय के लिये टी20 क्रिकेट को अपनी प्राथमिकता बना रहा हूं। ’’ डुप्लेसिस ने 69 टेस्ट मैच खेले जिनमें उन्होंने 40.02 की औसत से 4163 रन बनाये। उन्होंने इस प्रारूप में 10 शतक और 21 अर्धशतक लगाये। उनका उच्चतम स्कोर 199 रन रहा जो उन्होंने पिछले साल दिसंबर में श्रीलंका के खिलाफ सेंचुरियन में बनाया था। डुप्लेसिस ने नवंबर 2012 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ एडीलेड में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था। उन्होंने पिछले साल दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट और टी20 कप्तान का पद छोड़ दिया है। उन्होंने 2016 में एबी डिविलियर्स से यह जिम्मा संभाला था। डुप्लेसिस ने कहा, ‘‘अगर कोई 15 साल पहले मुझसे कहता कि मैं दक्षिण अफ्रीका के लिये 69 टेस्ट मैच खेलूंगा और टीम की कप्तानी भी करूंगा तो मैं उस पर विश्वास नहीं करता। ’’ डुप्लेसिस इस महीने के आखिर में आस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली घरेलू श्रृंखला से टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की योजना थी लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण यह दौरा अनिश्चितकाल के लिये स्थगित कर दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: