ओलंपिक आयोजकों के लिए समस्या बने अध्यक्ष मोरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 9 फ़रवरी 2021

ओलंपिक आयोजकों के लिए समस्या बने अध्यक्ष मोरी

mori-become-problame-for-olympic
तोक्यो, नौ फरवरी, स्थगित हुए तोक्यो ओलंपिक को महामारी के अलावा एक और समस्या का सामना करना पड़ रहा है जो स्थानीय आयोजन समिति के अध्यक्ष योशिरो मोरी हैं। मोरी ने लगभग एक हफ्ता पहले जापान ओलंपिक समिति की बैठक में महिलाओं के प्रति आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। मोरी ने कहा था कि महिलाएं काफी बोलती हैं। इस 83 साल के पूर्व प्रधानमंत्री को इसके बाद माफी मांगने को बाध्य होना पड़ा लेकिन इसके बावजूद उनके इस्तीफे की मांग जारी है। उनके इस्तीफे की मांग से ओलंपिक के प्रति समर्थन कमजोर पड़ा है और सवाल उठने लगे हैं कि आखिर क्यों जापान में राजनीति और निदेशक मंडल में उम्रदराज पुरुषों का दबदबा है। स्थानीय आयोजन समिति ने भी रविवार को अजीब बयान जारी करते हुए कहा था कि वे विविधता का समर्थन करते हैं। इस समिति में भी पुरुषों का दबदबा है और नेतृत्व भूमिका में कुछ ही महिलाएं हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: