भाजपा को सबक सिखाएगी पुडुचेरी की जनता : गहलोत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 22 फ़रवरी 2021

भाजपा को सबक सिखाएगी पुडुचेरी की जनता : गहलोत

people-will-teach-lession-gahlot
जयपुर, 22 फरवरी, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पुडुचेरी में कांग्रेस नीत सरकार की विश्वासमत में हार और मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी के इस्तीफे के राजनीतिक घटनाक्रम को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए सोमवार को भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने पुडुचेरी सरकार गिराने के लिये अनैतिक तरीके अपनाने का भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भगवा पार्टी इन तौर तरीकों से लोकतंत्र को खत्म करना चाहती है। गहलोत ने ट्वीट किया, ‘‘पुडुचेरी में जो कुछ हुआ वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। भाजपा ने अनैतिक तरीके से कांग्रेस सरकार गिराकर दिखाया है कि वह सत्ता के लिए किसी भी हद तक जा सकती है। पहले वहां उपराज्यपाल के माध्यम से सरकार चलाने में परेशानियां पैदा कीं और अब धनबल से सरकार गिरा दी।’’ उल्लेखनीय है कि पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी और सत्तारूढ़ कांग्रेस-द्रमुक गठबंधन के विधायकों ने सोमवार को विश्वासमत में सरकार की हार के बाद उप राज्यपाल तमिलिसाई सुन्दरराजन को अपना इस्तीफा सौंप दिया। इससे पहले विधानसभा में विश्वासमत प्रस्ताव पर मतदान से पहले ही मुख्यमंत्री नारायणसामी और सत्तारूढ़ पार्टी के अन्य विधायकों ने सदन से बहिर्गमन किया। घटनाक्रम पर टिप्पणी करते हुए गहलोत ने कहा, ‘‘पहले कर्नाटक, फिर मध्य प्रदेश और अब पुडुचेरी में विधायकों को प्रलोभन देकर इस्तीफा दिलवाना भाजपा का गलत तरीके से सत्ता हथियाने का नया तरीका है। पार्टी ने राजस्थान में भी अनैतिक तरीकों से सत्ता हथियाने का प्रयास किया जिसका यहां की जनता ने उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया।’’ उन्होंने आगे कहा, ‘‘भाजपा इन तौर तरीकों से लोकतंत्र को खत्म करना चाहती है। लोग इनकी चालों को समझ चुके हैं। आने वाले चुनावों में पुडुचेरी की जनता भाजपा को सबक सिखाएगी।’’

कोई टिप्पणी नहीं: