विजय हजारे ट्रॉफी में पृथ्वी शॉ ने सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर बनाया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 25 फ़रवरी 2021

विजय हजारे ट्रॉफी में पृथ्वी शॉ ने सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर बनाया

prithwi-shaw-top-schore-in-vijay-hazare-trophy
जयपुर। टीम इंडिया से बाहर चल रहे पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में इतिहास रच दिया है।पृथ्वी ने गुरुवार को जयपुर में मुंबई के लिए खेलते हुए पुडुचेरी के खिलाफ नाबाद दोहरा शतक जड़ा।पृथ्वी ने 152 गेंदों पर 227 रनों की कप्तानी पारी खेली, जिसमें 31चौके और 5 छक्के शामिल हैं। पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी राष्ट्रीय एक दिवसीय क्रिकेट चैम्पियनशिप में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। 152 गेंद में नाबाद 227 रन की मदद से मुंबई ने पुडुच्चेरी के खिलाफ एलीट ग्रुप डी के मैच में चार विकेट पर 457 रन बनाये। भारत के लिये पांच टेस्ट और पांच वनडे खेल चुके शॉ ने संजू सैमसन का रिकॉर्ड तोड़ा। जिन्होंने 2019 में गोवा के खिलाफ नाबाद 212 रन बनाये थे। लिस्ट ए क्रिकेट में शॉ का यह पहला दोहरा शतक है। वह लिस्ट ए में दोहरा शतक जमाने वाले आठवें भारतीय बन गए। विजय हजारे ट्रॉफी में यह चौथा दोहरा शतक था। इसके पहले एस सैमसन - 212 * (129) वी गोवा, 2019,वाई जायसवाल - 203 (154) वी जेएचकेडी, 2019 और के कौशल - 202 (135) वी सिक्किम, 2018 दोहरा शतक जमा चुके हैं.यह टूर्नामेंट में शॉ का दूसरा शतक भी है जिन्होंने दिल्ली के खिलाफ पहले मैच में नाबाद 105 रन बनाये थे।


मुंबई को पहले बल्लेबाजी के लिये भेजने का पुडुच्चेरी का फैसला गलत साबित हुआ। शॉ के अलावा सूर्यकुमार यादव ने भी 58 गेंद में 133 रन बना डाले। आदित्य तारे ने सात चौकों की मदद से 56 रन बनाये और दूसरे विकेट के लिये 153 रन जोड़े। यादव ने अपनी पारी में 22 चौके और चार छक्के लगाये और तीसरे विकेट के लिये 201 रन की साझेदारी की। भारतीय टीम से बाहर चल रहे युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में दोहरा शतक जड़ दिया है। पुडुचेरी के खिलाफ मुंबई की तरफ से कप्तानी करने उतरे शॉ ने शानदार खेल दिखते हुए मात्र 142 गेंदों में अपना दोहरा शतक पूरा कर लिया। इसी के साथ वे लिस्ट ए क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। यही नहीं लिस्ट ए क्रिकेट में सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड भी उन्होंने अपने नाम कर लिया है। उन्होंने इस मामले में केरल के संजू सैमसन को पीछे छोड़ दिया है। 21 वर्षीय शॉ को इस मैच में कप्तानी करने का मौका मिला था और उन्होंने इस मौके को यादगार बनाते लिस्ट ए क्रिकेट का अपना पहला दोहरा शतक लगा दिया। इसी के साथ वे बतौर कप्तान विजय हजारे ट्रॉफी में दोहरा शतक जड़ने वाले पहले खिलाड़ी भी बन गए हैं।


पृथ्वी शॉ- 227*(152) वी पुडुचेरी, 2021

एस सैमसन - 212 * (129) वी गोवा, 2019

वाई जायसवाल - 203 (154) वी जेएचकेडी, 2019

के कौशल - 202 (135) वी सिक्किम, 2018

ए रहाणे - 187 (142) वी एमएएच, 2008

डब्ल्यू जाफर - 178 * (132) वी बार, 2008

ए बैंस- 173 * (139) वी वीआईडी, 2018

ईशान किशन -173 (94) v मध्य प्रदेश , 2021


बताते चले कि झारखंड राज्य के कप्तान है ईशान किशन।मुंबई से पृथ्वी शॉ खेलते हैं.दोनों बिहार के निवासी हैं।दोनों क्रिकेट में महारत हासिल प्राप्त करने में अग्रसर हैं।ईशान किशन का चयन टी-20 में भारतीय टीम में हुआ है।वहीं पृथ्वी शॉ टेस्ट मैच खेल चुके हैं.अभी बाहर चल रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: