सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 19 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 19 फ़रवरी 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 19 फ़रवरी

खेल एवं युवा कल्याण, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया आज आयेंगी नसरूल्लागंज  


खेल एवं युवा कल्याण, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया 20 फरवरी को सीहोर जिले के नसरूल्लागंज आयेंगी । जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया प्रात: 09.30 बजे भोपाल से कार द्वारा प्रस्थान कर 11.15 बजे सीहोर जिले के नसरूल्लागंज पहुंचेंगी। यहां वे प्रात: 11.30 बजे स्थानीय कार्यक्रम में सम्मिलित होंगी । इसके पश्चात दोप. 12.30 बजे नसरूल्लागंज से भोपाल की ओर प्रस्थान करेंगी ।   


 नगरपालिका सीहोर द्वारा निकाली गई प्लागिंग रन मैराथन


sehore news
स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 अंतर्गत एवम साफ सफाई जन प्रचार प्रसार हेतु शुक्रवार 19 फरवरी को नगरपालिका सीहोर द्वारा पलागिंग रन pick up and run मैराथन निकाली गई जो आवासीय खेलकूद संस्थान से शहर के प्रमुख स्थानों से होते हुए टाउन हॉल पर समाप्त हुई। कार्यक्रम में स्वच्छता तथा सूखा गीला कचरा अलग अलग रखने,प्लास्टिक का उपयोग न करने, सार्वजनिक स्थानों पर  शौच न करने,अपने आसपास साफ सफाई रखने ,दुकानों,घरों में डस्टबिन रखने की भी शपथ ली गई। इस कार्यक्रम में समाज सेवी श्री अखिलेश राय,नगरपालिका सीहोर के मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्री संदीप श्रीवास्तव, आवासीय खेलकूद प्राचार्य,एन एस एस,एन सी सी प्रभारी, छात्र छात्राए,स्वास्थ प्रभारी श्री दीपक देवगड़े तथा अन्य जन नागरिकों ने भी इस मैराथन में भाग लेकर प्लास्टिक फ्री संदेश में अपना सहयोग दिया। कार्यक्रम समापन उपरांत प्रतिभागियों को पुरुष्कार वितरण एवं प्रशस्ति पत्र का वितरण किया गया। सफल आयोजन के लिए मुख्य नगर पालिका अधिकारी द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया गया।

अभिमुखीकरण कार्यक्रम - राष्ट्रीय सेवा योजना


sehore news
चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नाकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय सीहोर में राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा अभिमुखीकरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्जवलन के साथ आरम्भ हुआ। कार्यक्रम में स्वयंसेवकों द्वारा पारम्परिक वेश-भूषा के साथ अतिथियों का स्वागत किया। जिसमे सभी नव पंजीकृत स्वयंसेवकों का बैज लगाकर स्वागत किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत कार्यक्रम अधिकारी श्री जय सिंह के द्वारा प्रारम्भ हुई उन्होने स्वयंसेवकों को राष्ट्रीय सेवा योजना की स्थापना तथा इसके विकास यात्रा से परिचित कराया साथ ही उन्होने राष्ट्रीय सेवा योजना के उद्देश्यों पर विशद प्रकाश डाला तथा स्वयंसेवकों से राष्ट्रीय सेवा योजना आचरण संहिता का पालन करने की अपेक्षा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्राचार्य डॉ.अनिल राजपूत ने राष्ट्रीय सेवा योजना के महत्व को बताते हुये कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना का आधार ही ‘‘मैं नही आप’’ है। उन्होने बताया कि राष्ट्रीय सेवा योजना के माध्यम से स्वयंसेवकों के व्यक्तित्व का विकास होता है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री राकेष कुमार वर्मा ने राष्ट्रीय सेवा योजना का समाज में भूमिका पर प्रकाश डाला तथा साथ ही उन्होने राष्ट्रीय सेवा योजना में शिविर के महत्व को समझाया। उन्होने राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत मिलने वाले विभिन्न स्तर के पुरस्कार के बारे में अवगत कराया। छात्रा इकाई डॉ.रूखसाना अंजुम खान ने स्वयंसेवकों को सामज सेवा के प्रति सदैव समर्पित रहने का सुझाव दिया। राष्ट्रीय सेवा योजना के सरंक्षक श्री देवेन्द्र वरवडे द्वारा बताया गया कि भावनात्मक बुद्धिमत्ता के माध्यम से स्वयंसेवकों में उनके अंदर अंर्तनिहित समाजसेवा के कौशल को विकसित किया जा सकता है। इस अवसर पर वरिष्ठ एवं नव स्वयंसेवकों ने भी अपने विचार रखे। इस कार्यक्रम में विनोद भिलाला, भारत मीना, पवन गिर, अनिल, जुनैद, इरशाद, कविता, कोमल, शर्मिला, किरण, अनुशी, रितु आदि उपस्थित रहे।

शनिवार से लगेगा कोविड-19 टीके का द्वित्तीय डोज, कोविड टीकाकरण के लिए प्रदेश में जिले का तीसरा स्थान

  • प्रथम टीका लगने के 28 दिन पश्चात लगना है द्वित्तीय डोज, 5455 स्वास्थ्य कर्मियों को लगा था कोविड का प्रथम डोज

कोविड-19 टीके को द्वित्तीय डोज शनिवार 20 फरवरी से जिले की चार संस्थाओं पर लगाया जाएगा। प्रथम चरण में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों सहित निजी स्वास्थ्य संसथाओं के कर्मचारियों का भी टीकाकरण किया गया था। कोविड-19 टीकाकरण की शुरूआज 16 जनवरी 2021 जिले के चार संस्थाओं जिला चिकित्सालय सीहोर, सिविल अस्पताल आष्टा, सीएचसी श्यामपुर तथा सीएचसी बुदनी में हुई थी। कोविड-19 टीकाकरण के लिए प्रदेश में सीहोर जिले का तीसरा स्थान है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर कुमार डेहरिया ने जानकारी दी कि शनिवार को प्रथम एवं द्वित्तीय चरण में टीकाकरण से छूटे हुए स्वास्थ्य कर्मी तथा फ्रंटलाईन वर्कर्स का भी टीकाकरण मापअप राउण्ड संचालित किया जा रहा है, दोनो चरणों में टीकाकरण से छूटे हुए कर्मचारियों के लिए  टीकाकरण का यह अंतिम अवसर  अवसर होगा। प्रथम चरण के टीकाकरण में आष्टा में 1366, बुदनी में 640, इछावर में 701, नसरूल्लागंज में 796 तथा सीहोर में 1952 स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया गया था। जिन कर्मचारियों को कोविड-19 टीकाकरण का प्रथम डोज लगे 28 दिन पूरे हो गए है उन्हें द्वित्तीय डोज लगाया जाएगा।


भिक्षावृत्ति में संलग्न बच्चों की वल्नेरेबिलिटी मैपिंग होगी, प्रमुख सचिव श्री अशोक शाह की अध्यक्षता में हुई राज्य बाल संरक्षण समिति की बैठक


प्रमुख सचिव, महिला-बाल विकास श्री अशोक शाह ने वल्नरेबल क्षेत्रों में निवासरत भिक्षावृत्ति, अखबार वितरित करने जैसे कार्य में संलग्न बच्चों की वल्नेरेबिलिटी मैपिंग के निर्देश दिए है। श्री शाह गुरुवार को राज्य बाल संरक्षण समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बाल संरक्षण के क्षेत्र में देख-रेख एवं संरक्षण की आवश्यकता वाले बच्चों के लिये कार्यरत सभी संस्थाओं का किशोर न्याय अधिनियम के अंतर्गत पंजीयन कराना अनिवार्य होगा। प्रमुख सचिव श्री शाह ने अधिकारियों को बाल संरक्षण से संबद्ध मुद्दों पर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने पॉक्सो अधिनियम के बारे में जागरूकता के लिये अंतर्विभागीय समन्वय के माध्यम से प्रयास, जोखिमपूर्ण अवस्था में पाये जाने वाले बच्चों के संरक्षण एवं देख-रेख के आवश्यक उपाय, बाल अपराधों के आंकड़ों के संबंध में अद्यतन जानकारी साझा करने के लिये गृह विभाग से समन्वय स्थापित करने, शासकीय चिकित्सालयों तथा स्वास्थ्य केन्द्रों में पालना स्थापित करने, बाल देख-रेख संस्थाओं में निवासरत बच्चों की व्यक्तिगत देख-रेख योजना तैयार कर बच्चों के पुनर्वास के लिये विशेष प्रयास किये जाने के भी निर्देश दिये। श्री शाह ने उच्च न्यायालय की किशोर न्याय समिति द्वारा दिये गये निर्देशों के परिपालन के लिये विभिन्न संबद्ध विभागों द्वारा अपेक्षित कार्यवाही पर चर्चा कर आवश्यक कदम उठाने को कहा है। इस अवसर पर संचालक महिला-बाल विकास श्रीमती स्वाती मीणा नायक तथा संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।


मनरेगा का वार्षिक लक्ष्य बढ़ कर हुआ 33 करोड़ मानव दिवस


भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए मनरेगा अंतर्गत मध्यप्रदेश का वार्षिक लेबर बजट रिवाइज कर 33 करोड़ मानव दिवस का किया है। मनरेगा अंतर्गत अब प्रदेश में 33 करोड़ मानव दिवस सृजित करने का लक्ष्य हो गया है, जिसे 31 मार्च 2021 तक पूरा करना होगा। अपर मुख्य सचिव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग श्री मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि पूर्व में वर्ष 2020-21 के लिए भारत सरकार द्वारा 20 करोड़ 50 लाख मानव दिवस का लक्ष्य रखा गया था। प्रदेश में कोराना काल में मनरेगा श्रमिकों को हर हाथ को काम मुहैया कराकर इस लक्ष्य को माह सितम्बर 2020 में प्राप्त कर लिया था। जिसे भारत सरकार ने पुनरीक्षित कर 28 करोड़ 50 लाख मानव दिवस कर दिया था। प्रदेश द्वारा 28 करोड़ 50 लाख मानव दिवस के लक्ष्य को 25 जनवरी 2021 तक हासिल कर लिया। भारत सरकार द्वारा पुनर्लक्षित करते हुए 31 करोड़ मानव दिवस का कर दिया था। मध्यप्रदेश में 18 फरवरी की स्थिति में 30 करोड़ 63 लाख मानव दिवस सृजित हो चुके है। भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय के साथ गुरूवार को आयोजित हुयी वीडियो कॉन्फ्रेंस में केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा मघ्यप्रदेश में मनरेगा के पूर्व लक्ष्य 31 करोड़ मानव दिवस को को संशोधित करते हुए 33 करोड़ मानव दिवस कर दिया है। दो करोड़ मानव दिवस का लक्ष्य बढ़ जाने से प्रदेश के ग्रामीण परिवारों को जहाँ रोजगार के अतिरिक्त अवसर मुहैया होंगे वहीं मनरेगा में काम करने वाले श्रमिकों को 380 करोड़ रूपये मजदूरी के रूप में अतिरिक्त प्राप्त होंगे। प्रदेश में मनरेगा अन्तर्गत ग्रामीण जॉब-कार्डधारी परिवारों को हर हाथ को काम मुहैया कराया जा रहा है। वित्तीय वर्ष 2020-21 अंतर्गत 52 लाख 47 हजार परिवारों के 98 लाख 79 हजार श्रमिकों को 30 करोड़ 63 लाख मानव दिवस का रोजगार मुहैया कराया जा चुका है। कोविड काल में मनरेगा अंतर्गत सृजित मानव दिवस योजना प्रारंभ से अब-तक के वर्षों में रिकार्ड सर्वाधिक है। मनरेगा के तहत कोविड काल, वर्ष 2020-21 में 6 लाख 45 हजार हितग्राही मूलक और सामुदायिक कार्य पूर्ण किये जा चुके हैं। वर्तमान में 6 लाख 74 हजार कार्य प्रगतिरत हैं।


आज 02 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 18


मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान 02  व्यक्ति की जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर के सेंकड़ाखेडी एवं श्रवण का बगीचा से 01-01 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई ।  वर्तमान में जिले में एक्टिव/पॉजिटिव की संख्या 18 है। अब तक कुल रिकवर की संख्या 2755  है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 238 सैम्पल लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से 15 सैम्पल लिए गए,  नसरूल्लागंज 35, आष्टा से 51, इछावर से 23, श्यामपुर से 62,  बुदनी से 52 सैम्पल लिए गए है । आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2821 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2755 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 18 है। आज 238 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 72707 हैं जिनमें से 68872सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 247 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 943 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। आज पॉजिटिव मिले नये कन्टेनमेंट झोन सहित समस्त कन्टेनमेंट एवं बफर जोन मे स्वास्थ्य दलों द्वारा स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है वहीं पॉजिटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्ये कन्टेनमेंट जोन मे सर्वे के लिए जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-07562 226470 है एवं 1075 नंबर पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती हैं। जिला स्तर पर मोबाइल नंबर 9425400273, 9425400453, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होन कारोन्टाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हल्पलाईन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम कारान्टाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकॉलोजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते है। 


नर्मदा जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान पहुँचे बुधनी घाट, की माँ नर्मदा की पूजा अर्चना


sehore news
शुक्रवार, 19 फरवरी को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान बुधनी घाट पहुँचे । सर्वप्रथम उन्होने नर्मदा जयंती के अवसर पर माँ नर्मदा का पूजन अर्चन किया। श्री चौहान ने इस अवसर पर सबकी सुख समृद्धि की प्रार्थना की। सभी को संबोधित करते हुए कहा कि हालांकि कोरोना का असर कम होता जा रहा है, वैक्सीन भी आ गई है परंतु फिर भी आप सभी सावधानी ज़रूर रखें। मां नर्मदा जयंती के उपलक्ष्य में अगले वर्ष से तीन दिवसीय बुधनी महोत्सव प्रारंभ किया जाएगा। शासन द्वारा गरीब परिवारों के बच्चों को 12वी की परीक्षा अच्छे अंकों से उत्तीर्ण करने पर प्रोत्साहित किया जाएगा। मेधावी छात्रों को लैपटॉप भी दिए जायँगे। इसके साथ ही उच्च शिक्षा के लिए मेधावी छात्र-छात्राओं को आर्थिक मदद भी दी जाएगी। स्थानीय निवासियों की मांग पर मुख्यमंत्री ने कहा  कि खेल मैदान में जो कमियां है उन्हें शीघ्र ही पूरा करवाया जायेगा, साथ में लाइट की व्यवस्था की जाएगी जिससे कि रात्रि में होने वाले खेल भी यहां हो सकें । श्री चौहान ने इस अवसर पर कहा कि बुधनी को मिनी स्मार्ट सिटी बनाने के लिए मास्टर प्लान तैयार करवाया जा रहा है। फ्लाईओवर का सौन्दर्यकरण भी किया जाएगा। बुधनी घाट पर स्वागत द्वार बनवाया जाएगा। नया थाना भवन बनवाया जाएगा। तहसील स्टाफ क्वार्टर बनाये जायँगे। यहां उन्होंने रोज़ एक पेड़ लगाने का संकल्प लिया, और आग्रह किया कि सभी लोग साल में एक बार किसी भी महत्वपूर्ण दिन पर एक पेड़ अवश्य लगाएं। लगभग 15 करोड़ की लागत से शासकीय चिकित्सालय (सुपर स्पेशलिटी) का निर्माण करवाया जाएगा। घर-घर मे शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। बुधनी के शासकीय महाविद्यालय का नाम स्वामी विवेकानंद महाविद्यालय किया जाएगा। उन्होंने सीहोर कलेक्टर श्री अजय गुप्ता को विशेष रूप से निर्देश दिेये कि सभी व्यवस्थाओं के लिए प्लान तैयार करें। सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट को पूर्ण करें। विकास कार्यों पर विशेष ध्यान देने पर बल दिया जाये। कार्यक्रम में विदिशा सांसद श्री रमाकांत भार्गव, सुहागपुर विधायक श्री विजय पाल ,श्री राजेन्द्र राजपूत, श्री महेश उपाध्याय, श्रीमती पुष्पा राजपूत आदि जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। इस अवसर पर संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत, भोपाल ए डी जी, कलेक्टर श्री अजय गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री शशिन्द्र चौहान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे ।

कोई टिप्पणी नहीं: