तीसरे चरण में बुजुर्गों एवं 45 से अधिक के रोगियों को टीका - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 25 फ़रवरी 2021

तीसरे चरण में बुजुर्गों एवं 45 से अधिक के रोगियों को टीका

third-phase-vaccination
नयी दिल्ली 24 फरवरी, कोरोना विषाणु की रोकथाम के लिए देश में तीसरे चरण का टीकाकरण एक मार्च से शुरू होगा जिसमें 60 से अधिक आयु के सभी लोगों और 45 से अधिक आयु के अन्य रोगों से पीड़ित लोगों को टीका लगाया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल की आज यहां हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एक संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ तीसरे चरण का टीकाकरण एक मार्च से शुरू होगा। उन्होंने कहा कि इस चरण में 60 वर्ष से अधिक करीब एक करोड़ लोगों और 45 वर्ष से अधिक के ऐसे लोगों को टीका लगाया जाएगा जिनको मधुमेह, उच्च रक्तचाप सहित कोई ना कोई अन्य रोग है। श्री जावडेकर ने कहा कि लगभग दस हजार सरकारी केन्द्रों एवं करीब 20 हजार निजी केन्द्रों पर टीकाकरण किया जाएगा। सरकारी केन्द्रों पर निशुल्क और निजी केन्द्रों पर सशुल्क टीका लगाया जाएगा। निजी केन्द्रों पर लगने वाले टीके के शुल्क के बारे में केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय टीका निमार्ताओं और निजी अस्पतालों के बीच बातचीत हो रही है। इस बारे में सरकार की ओर से दो-तीन दिनों में जानकारी दी जाएगी। स्वास्थ्य कर्मियों और अन्य फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कोविड टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू किया गया था। देश भर में अब तक 1.14 करोड़ लोगों को कोविड का टीका लगाया जा चुका है। भारत के औषधि नियंत्रक ने गत तीन जनवरी को पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड कोविड-19 वैक्सीन कोविशिल्ड और भारत बायोटेक के स्वदेशी रूप से विकसित कोवैक्सिन को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दी थी।

कोई टिप्पणी नहीं: