विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 5 फ़रवरी 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 फ़रवरी

 धतूरिया चैराहे पर विधायक शशांक र्भाव के नेतृत्व में होगा चक्काजाम


विदिशाः- दिल्ली प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा देश भर मे राष्ट्रीय मार्ग पर चक्काजाम करने की अपील पर म.प्र. कांग्रेस कमेटी के आव्हान पर एवं 2018 का बकाया फसल बीमा वितरण करने, वर्तमान चना मसूर में तुसार पाले से हुए नुकसान का सर्वे कराने की मांग को लेकर आज दिनंाक 06 फरवरी 2021 को दोपहर 12.00 बजे से धतूरिया चैराहा भोपाल सागर राष्ट्रीय राजमार्ग 86 पर कांग्रेस पार्टी द्वारा चक्काजाम किया जायेगा। ब्लाॅक किसान कांग्रेस कमेेटी के अध्यक्ष रूपेन्द्रसिंह सोनू वना राजपूत ने बताया कि कल समस्त किसान संगठन, किसान कांगे्रस, समस्त मोर्चा संगठन एवं विशेष तौर पर ग्राम- धतूरिया, पांझ, कुआखेडी, पडरात, चिडोरिया, मदनखेडी, कराखेडी, धारूखेडी, डावर, मिर्जापुर, बराखेडा, मूडराहरिसिंह, ककरूआ, इमलिया, बहलोट, बंधेरा,, किरमची रूसल्ली, के सैकडो किसानों के द्वारा भोपाल सागर राष्ट्रीय राजमार्ग 86 पर दोपहर 12 बजे से चक्काजाम किया जायेगा, जिसमें विधायक शशांक भार्गव, जिला कांग्रेस अध्यक्ष कमल सिलाकारी सहित वरिष्ठ नेतागण उपस्थित रहेगे।


छात्रवृत्ति पोर्टल पर जानकारी से प्रशिक्षित हुए 


vidisha news
अनुसूचित जाति कल्याण विभाग की वर्ष 2020-21 में छात्रवृत्ति पोर्टल 2.0 पर दर्ज की जाने वाली जानकारियों खासकर परिवर्तन के संबंध में वीडियो कांफ्रेंसग के माध्यम से गत दिवस प्रशिक्षित किया गया है।  एनआईसी के वीडियो कांफ्रेसिंग कक्ष में राष्ट्रीय सूचना केन्द्र के तकनीकी निर्देशक श्री सुनील जैन, डीआईओ श्री योगेश सिंह तथा जनजातीय कार्य विभाग के अधिकारी व अन्य अमला मौजूद रहा। प्रशिक्षण में विभागीय अधिकारी, नोडल अधिकारी के द्वारा छात्रवृत्ति पोर्टल पर दर्ज की जाने वाली जानकारी को कैसे अपडेट करें से प्रशिक्षित किया गया वहीं नोडल कॉलेज शासकीय कन्या महाविद्यालय के प्रभारी अधिकारी व कम्प्यूटर आपरेटर तथा अशासकीय कॉलेजो के छात्रवृत्ति प्रभारी अधिकारियों की शंकाओं का समाधान वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से सम्पन्न हुए प्रशिक्षण किया गया है। 


यातायात नियमो का पालन करने की अपील 


vidisha news
सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान यातायात नियमो की जानकारी व पालन करने की अपील विभिन्न स्तरो पर वाहन चालको से की जा रही है साथ ही आमजनो में जागरूकता के लिए सडक सुरक्षा नियमों से भी अवगत कराया जा रहा है।  जिला परिवहन अधिकारी श्री गिरजेश वर्मा ने आज विवेकानंद चौराहे पर वाहन चालको को यातायात नियमोंं की जानकारी दी वही दो पहिया वाहन चालको को हेलमेट की अनिवार्यत से अवगत कराया है। इस दौरान वाहनो के निरीक्षण संबंधी कार्य भी सम्पादित किया गया है। जिला परिवहन अधिकारी श्री वर्मा ने बताया कि वाहनो की चैकिंग के दौरान 68 दो वाहन चालको को रोककर उनके घरो से हेलमेट मंगवाकर अथवा खरीद कर पहनाया गया है। उन्हें हमेशा वाहन चलाते वक्त हेलमेट पहनने की समझाईंश दी गई है। ततपश्चात् ही गंतव्य की ओर उन्हें रवाना किया गया है। इस दौरान 15 दो पहिया वाहन चालको के द्वारा हेलमट ना लाने पर उनके विरूद्व चालानी कार्यवाही कर तीन हजार 750 रूपए की राशि वसूली की गई है।


समन्वय अधिकारी नियुक्त 


कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने जिले में पदस्थ डिप्टी कलेक्टरो को विभिन्न विभागो का समन्वय अधिकारी नियुक्त करने का आदेश जारी किया है। नियुक्त समन्वय अधिकारी संबंधित विभागो में संचालित योजनाओ, विभागीय कार्यो की समीक्षा कर समय-समय पर अपना निरीक्षण जांच प्रतिवेदन जिला कार्यालय को उपलब्ध कराएंगे। कलेक्टर डॉ जैन के द्वारा जिन डिप्टी कलेक्टरो को समन्वय अधिकारी नियुक्त किया है उनमें संयुक्त कलेक्टर श्री रोशन राय को नगरीय निकाय, महिला एवं बाल विकास एवं आदिम जाति कल्याण विभाग का, इसी प्रकार डिप्टी कलेक्टर श्री कुमार शानू देवड़िया को कॉ-आपरेटिव, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, लोक निर्माण विभाग, कृषि विभाग, सिंचाई विभाग, ग्रामीण यांत्रिकी एवं उद्योग विभाग का, डिप्टी कलेक्टर श्री शैलेन्द्र सिंह को उद्यानिकी, पशुपालन एवं आयुष विभाग का, इसके अलावा डिप्टी कलेक्टर श्रीमती अमृता गर्ग को स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग का समन्वय अधिकारी नियुक्त किया है। 


अवैध कालोनियों को सूचीबद्ध कर कार्यवाही करें-संभागायुक्त श्री कियावत

कोटवारों को सशक्त बनाने के निर्देश  

vidisha news
भोपाल संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत ने आज विदिशा एवं रायसेन जिले के राजस्व अधिकारियों की बैठक आहूत कर दोनो जिलो में क्रियान्वित राजस्व कार्यो की संयुक्त एजेण्डा अनुसार समीक्षा की है। विदिशा के नवीन कलेक्ट्रेट बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित उक्त बैठक में विदिशा कलेक्टर डॉ पंकज जैन, रायसेन कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के अलावा दोनो जिलो के अपर कलेक्टर, जिला पंचायत सीईओ, समस्त एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, उपस्थित रहें।  संभागायुक्त श्री कियावत ने राजस्व कार्यो की समीक्षा बैठक की शुरूआत में अवैध कालोनियों पर कार्यवाही, शासकीय पट्टो का नवीनीकरण, डायवर्सन, राजस्व लक्ष्यों के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए उन्होंने अवैध कालोनियों की जानकारी दोनो जिलो के समस्त एसडीएमवार प्राप्त की है। ततपश्चात् संभागायुक्त ने बीस फरवरी तक अवैध कालोनियों की सूची तैयार कर कलेक्टर को उपलब्ध कराते हुए ऐसे कालोनाइजर जिनके द्वारा कालोनियों के रहवासियों को बुनियादी सुविधाएं जो मुहैया कराई जाती है जिसमें मुख्य रूप से पानी, बिजली, सड़क इत्यादि के अलावा अन्य की पूर्ति कराई गई है कि नही अर्थात विकास कराया गया है कि नही। यदि परलिक्षित नही होता है तो संबंधित कालोनाइजर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का कार्य संबंधित क्षेत्र के एसडीएम को कराने हेतु निर्देशित किया है।  संभागायुक्त श्री कियावत ने कहा कि भोपाल संभाग में अवैध कालोनियों पर सख्त कार्यवाही हो इसके लिए संभाग स्तर पर चार दल गठित किए गए है जो संभाग के जिलो में भ्रमण कर कालोनाइजरों के कार्यो का सत्यापन मौके पर करेंगे साथ ही कालोनी विकसित के लिए निर्धारित मापदण्ड संबंधितो के द्वारा पालन किया गया है कि नही का परीक्षण करेंगें  संभागायुक्त श्री कियावत ने कहा कि दलो के सदस्यों को भ्रमण के दौरान अवैध कालोनियों पर कार्यवाही नही करने, बुनियादी सुविधायुक्त विकास कार्यो को मूर्तरूप नही देने पर संबंधित क्षेत्र के एसडीएम को निलंबित करने की कार्यवाही की जाएगी। अतः दोनो जिलो के समस्त एसडीएम इस बात का गांठ बांध ले की उनके कार्यक्षेत्रों में कौन-कौन सी अवैध कालोनी है कि स्पष्ट सूची तैयार कर पूर्व में ही वस्तुस्थिति से अवगत कराएं। संभागायुक्त श्री कियावत ने कहा कि शहरी क्षेत्रो में एफआईआर दर्ज कराने की स्वीकृति कलेक्टर से एवं ग्रामीण क्षेत्रो में एफआईआर दर्ज कराने की स्वीकृति संबंधित एसडीएम से तहसीलदार, नायब तहसीलदार प्राप्त करेंगे।  विदिशा कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने शहरी क्षेत्रों के समीपवर्ती ग्रामो में भी कालोनियां विकसित हो रही है अतः एसडीएम इस ओर भी विशेष ध्यान देंं ताकि निकाय क्षेत्रों की परिधि के समीपवर्ती ग्रामो में भी शहरी क्षेत्रों की तर्ज पर कालोनियां विकसित हो रही है तो वे पूरे मापदण्डो पर खरी उतर रही है कि नहीं का भी परीक्षण कर रिपोर्ट शीघ्रतिशीघ्र उपलब्ध कराएं।  रायसेन कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने रायसेन जिले में भू-माफियाओं पर की गई कार्यवाही से अवगत कराते हुए कहा कि रायसेन जिले में मास्टर प्लान के मुताबिक जो कालोनियोंं में विकास कार्य नही कराए गए है उन कालोनियों के बंधक प्लाटो का विक्रय कर विकास कार्यो को सम्पादित कराया जाएगा वही कालोनाइजर्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की कार्यवाही की जाएगी। 

राजस्व प्रकरण

संभागायुक्त श्री कियावत ने दोनो जिलो में एसडीएमवार दर्ज राजस्व प्रकरणो के निराकरण हेतु तय रणनीति की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि समस्त एसडीएम अपने कार्यालय तक ही सीमित ना रहे बल्कि अनुविभाग के अधीनस्थ कार्यालयों पर भी नजर रखें उनके द्वारा सम्पादित किए जाने वाले कार्यो खासकर हितग्राहीमूलक योजनाओं और विकास कार्यो की क्रास मानिटरिंग के प्रबंध सुनिश्चित करें। उन्होंने अनुविभाग स्तर पर विकास कार्यो की समीक्षा निर्धारित मापदण्डो के अनुसार संबंधित विधायक की उपस्थिति में कराना सुनिश्चित करें।  संभागायुक्त श्री कियावत ने राजस्व अभिलेखो के रिकार्ड संधारण हेतु किए जाने वाले प्रबंधो तथा अनुपयोगी का विनिष्टिकरण करने से पूर्व यह सुनिश्चित करें कि रिकार्ड में दर्ज है कि नहीं। 


रात्रि विश्राम

संभागायुक्त श्री कियावत ने समस्त एसडीएमो को निर्देश दिए है कि जनपद पंचायत अंतर्गत आने वाले समस्त ग्रामो में भ्रमण हेतु संबंधित क्षेत्र के अधिकारी को नोडल नियुक्त करें और सप्ताह में कम से कम एक दिन ग्रामो का भ्रमण अवश्य करें साथ ही जिस ग्राम में भ्रमण किया जा रहा है वहां रात्रि विश्राम अनिवार्यतः करें। दिनभर भ्रमण के उपरांत प्राप्त जानकारियों को विभागवार निर्धारित फार्मेट में दर्ज करें तथा रात्रि विश्राम में ग्राम पंचायत अमले की बैठक आयोजित कर उन्हें शासन की महत्वकांक्षी क्रियान्वित बिन्दुओं से अवगत कराएं साथ ही इन बिन्दुओं का क्रियान्वयन कैसे करें पर मार्गदर्शन जरूर दें।  संभागायुक्त श्री कियावत ने समस्त एसडीएमो को निर्देश दिए है कि ग्राम पंचायतो के भ्रमण उपरांत प्राप्त होने वाली शिकायतो, मांग सहित अन्य के निराकरण हेतु अनुविभाग स्तर पर शिविर आयोजित कर संबंधित ग्रामो के नोडल अधिकारियों द्वारा प्राप्त की गई जानकारी, सूचना, समस्या, मांग शिकायत इत्यादि की प्रति संबंधित विभाग के खण्ड स्तरीय अधिकारी को उपलब्ध कराई जाएं ताकि उनके द्वारा फालोअप किया जा सकें। 


कोटवार को सशक्त बनाएं

संभागायुक्त श्री कियावत ने ग्राम स्तरो पर सूचनाएं प्राप्ति का प्रमुख माध्यम कोटवार को सशक्त बनाए जाने हेतु आवश्यक मार्गदर्शी सिद्धांत बताया। उन्होंने कहा कि कोटवार के जितने भी क्लेम्प है उनका निराकरण बीस फरवरी तक अनिवार्य रूप से करना सुनिश्चित करें। कोटवार फुल अपडेट पूर्ण निर्धारित वर्दी में रहे इसके लिए उनके मानदेय की राशि शीघ्रतिशीघ्र प्रदाय की जाए। उन्होंने बताया कि नगरीय क्षेत्र में किसी भी कोटवार की नियुक्ति नही की जानी है। ग्रामीण क्षेत्रों में पदस्थ कोटवार यदि 65 वर्ष से अधिक ओर शारीरिक रूप सें अशक्त है तो उनकी जगह उनके परिवार के अन्य सदस्य को कोटवार बनाया जाए।  संभागायुक्त श्री कियावत ने कोटवारो के लिए अनुविभाग स्तर पर स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित कर उन्हें आवश्यक दवाईयां आरोग्यम केन्द्रो से मिले के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। सभी  कोटवार शारीरिक रूप से पूर्ण स्वस्थ है कि नही का पता लगाने के लिए साइकिलो से ग्रामो में परिभ्रमण कराएं।  संभागायुक्त श्री कियावत ने कोटवारो को बहुउपयोग की श्रेणी में शामिल करते हुए उन्हें मुनादी कराने की विधि, निर्धारित प्रपत्रो में यह जानकारी दर्ज करें कि गांवो में कौन बाहर से आया है, गांव में किसके यहां जन्म और मृत्यु हुई है इत्यादि का रिकार्ड संधारित करें ताकि बी-वन के वाचन के दौरान राजस्व अभिलेखो में दर्ज कराने से किसी भी प्रकार की त्रुटि ना हो सकेंं। उन्होंने कोटवारो से नोटिसो की तामील कराने का भी निर्वहन सम्पादित कराने हेतु निर्देशित किया है। 

एक पहल एक प्रयास 

संभागायुक्त श्री कियावत ने ग्राम स्तरीय अमले को सूचना तंत्र की प्रथम कडी रेखांकित करते हुए कहा कि एक पहल एक प्रयास की भूमिका में कोटवार ओर पटवारी प्रमुख धूरि है। पटवारी अपने-अपने मुख्यालय पर रहना सुनिश्चित करें। सोमवार और गुरूवार को मुख्यालय पर मौजूद रहकर राजस्व के अलावा अन्य समस्याओं के निदान की पहल करें ताकि सीएम हेल्पलाइन से संबंधित शिकायतो का स्थानीय स्तर पर प्रथम दृष्टया में निराकरण की पहल हो सकें। संभागायुक्त श्री कियावत ने ग्राम एंव खण्ड स्तरीय अमले की दक्षता उन्नयन हेतु बैठको में उनका मॉटिवेशन करें ताकि वे अपने कार्यो में निखार ला सकें। उन्होंने निरीक्षण की प्रक्रिया निचले स्तर तक क्रियान्वित करने पर बल देते हुए कहा कि निरीक्षण अर्थात कागजो को फेरना उल्टना है ताकि किसी भी प्रकार की कमियां ना रह पाएं। निरीक्षण के लिए उन्होंने एडीएम को एसडीएम कार्यालय का इसी प्रकार एसडीएम तहसील कार्यालय का तहसीलदार, नायब तहसीलदार कार्यालय का इसी प्रकार नायब तहसीलदार , आरआई और पटवारी के अभिलेखो का सतत निरीक्षण करते रहें। 


महिला स्वसहायता 

संभागायुक्त श्री कियावत ने निर्देश दिए है कि महिला स्वसहायता समूहो के सदस्यों को कैटीन व साइकिल स्टेण्ड के संचालन व्यवस्था का दायित्व सौपा जाए ताकि अनावश्यक रूप से होने वाली गतिविधियों पर परोक्ष रूप से अंकुश लग सकें। इसके लिए उन्होंने स्वसहायता समूहो के वित्त पोषण के संबंध में जिला पंचायत सीईओ को निर्देश दिए है। 

स्वामित्व सर्वे

विदिशा एवं सीहोर जिले में ड्रोन कैमरो के माध्यम से आबादी सर्वे कार्य हेतु पायलेट के रूप में चिन्हांकन किया गया है। संभागायुक्त द्वारा विदिशा जिले में स्वामित्व सर्वे के तहत अब तक किए गए कार्यो की जानकारी प्राप्त की गई है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि विदिशा जिले के 272 गांव का सर्वे कार्य ड्रोन कैमरे के माध्यम से किया जाना है जिसमें से 45 गांव के नक्शे अभी तक प्रापत नही हुए है। सर्वे उपरांत नक्शे तैयार करने हेतु जबलपुर भेजे जाने की प्रक्रिया में होने वाले विलंबता के संबंध में जानकारी दी गई। संभागायुक्त ने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से एनआईसी एवं लोक सेवा गारंटी के संचालक, प्रबंधको का प्रशिक्षण जबलपुर से समन्वय स्थापित कर कराने के निर्देश दिए है। 


कार्यालयों को व्यवस्थित करें

सभी राजस्व अधिकारी अपने अपने कार्यालयों को व्यवस्थित करें। इस कार्य के लिए एडीएम नोडल होंगे। वह एक सप्ताह में सभी कार्यालयों का निरीक्षण करे। उन्होंने सभी भृत्यों को सफेद ड्रेस और बेज के साथ उपस्थित रहने के लिए पाबंद करने के निर्देश दिए।


जिला चिकित्सालय के वार्डो का जायजा   


vidisha news
भोपाल संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत ने आज श्रीमंत माधवराव सिंधिया शासकीय जिल चिकित्सालय के विभिन्न वार्डो का औचक निरीक्षण कर मरीजो को मुहैया कराई जाने वाली सुविधाओं का जायजा लिया है इस अवसर पर विदिशा कलेक्टर डॉ पंकज जैन, रायसेन कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव भी साथ मौजूद रहें। संभागायुक्त श्री कियावत ने ट्रामा यूनिट, डेण्टल यूनिट,ओपीडी पंजीयन, मैटरनिटी ओपीडी, आईसीयू, मेडीकल वार्ड, का भ्रमण कर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मानको के अनुरूप संचालन हो रहा है कि नही वही वार्डो में रिकार्ड अद्यतन के लिए क्या प्रक्रिया अपनाई जा रही है कि जानकारी प्राप्त की है।  निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार, सिविल सर्जन सह अधीक्षक डॉ संजय खरे के अलावा अन्य चिकित्सकगण उपस्थित रहें।


स्कूल के प्रबंधन का जायजा 


vidisha news
संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत ने स्कूल शिक्षा विभाग की गाइड लाइन अनुसार शासकीय स्कूलों में अंग्रेजी भाषा से अध्यापन कार्य कराए जाने हेतु किए गए प्रबंधो का एकीकृत शाला परिसर देवखजूरी में भ्रमण कर जायजा लिया है। गौरतलब हो कि शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवखजूरी में एकीकृत शाला (कक्षा एक से बारहवीं तक) का तथा परिसर में ही आंगनबाडी का संचालन किया जा रहा है। इस अवसर पर कलेक्टर डॉ पंकज जैन, रायसेन कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी श्री अतुल मुदगल, एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा साथ मौजूद रहें।  संभागायुक्त श्री कियावत ने माध्यमिक शाला में विद्यार्थियों के लिए किए जाने वाले प्रबंध खासकर प्रयोगशाला तथा खेल कूद के लिए उपलब्ध कराई जाने वाली सामग्री के अलावा प्रायमरी इंग्लिश मीडियम कक्षा एक से पांच तक के विद्यार्थियों हेतु अध्यापन कार्यो के संबंध में जानकारी प्राप्त की है। उन्होंने शाला परिसर में आधुनिक तमाम सुविधाएं मुहैया कराने के निर्देश दिए है जिसमें कम्प्यूटर, प्रयोगशाला, स्वास्थ्य परीक्षण, लाइब्रेरी, किचिन गार्डन, इत्यादि शामिल है। निरीक्षण के दौरान डीपीसी श्री एसपी जाटव ने संभागायुक्त ने अवगत कराया कि शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवखजूरी परिसर में संचालित आंगनबाडी केन्द्र में पचास बच्चे दर्ज है। प्राथमिक शाला में 125 जिसमें से 93 बच्चे अंग्रेजी माध्यम से अध्यापन कार्य कर रहे है। माध्यमिक शाला में 82 और हायर सेकेण्डरी में 337 इस प्रकार परिसर में कुल 594 बच्चों का आना जाना हो रहा है और उनकी शैक्षणिक गतिविधियों में उन्नयन किया जा रहा है। एक प्रयोगशाला है कम्प्यूटर उपलब्ध नही है इत्यादि से अवगत कराया।


हेल्थ केयर वर्करो हेतु टीकाकरण की अंतिम तिथि 


कोविड 19 वैक्सीन टीकाकरण अभियान के तहत जिले में प्रथम चरण में स्वास्थ्य वर्करो का टीकाकरण कार्य किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि जिले के ऐसे हेल्थ केयर वर्कर जिनके द्वारा अब तक टीकाकरण नही कराया गया है वे संबंधित टीकाकरण स्थल पर छह फरवरी शनिवार तक उपस्थित होकर अनिवार्य रूप से टीकाकरण कराना सुनिश्चित करें। रविवार को टीकाकरण कार्य नही किया जाता है आठ फरवरी से फं्रट लाइन वर्करो का टीकाकरण कार्य शुरू होगा।


पुलिस भर्ती के आवेदन की तिथि में हुई वृद्धि


मप्र प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड भोपाल द्वारा पुलिस भर्ती के लिए आवेदन (पीईबी) की तिथि में वृद्धि करते हुए 6 फरवरी निर्धारित की है। पहले आवेदन के लिए 30 जनवरी निर्धारित की गई थी। अब पात्र अभ्यर्थी 6 फरवरी तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। वहीं 9 फरवरी तक भरे गए आवेदन पत्रों में संशोधन कर सकेंगे। इन पदों पर लिखित परीक्षा और शारीरिक प्रवीणता परीक्षण के माध्यम से चयन किया जाएगा। परीक्षा 6 मार्च को दो पालियो में आयोजित होगी। इस परीक्षा के केंद्र भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, नीमच, रतलाम, मंदसौर, सागर, सतना, खंडवा, गुना, दमोह, सीधी, छिंदवाड़ा व बालाघाट में बनाए गए है। 


शासकीय पत्राचार में संबंधित अधिकारी का नाम, पद, मोबाइल नम्बर एवं  ईमेल का उल्लेख करनें के निर्देश


राज्य शासन के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा शासकीय कार्यालयों द्वारा जारी किए जाने वाले पत्रों ,निर्देशों, आदेशों में जारीकर्ता अधिकारी का नाम, पदनाम, दूरभाष एवं ई-मेल पते का उल्लेख किए जाने के निर्देश  दिए गए है। शासन, शासकीय विभागों, शासकीय कार्यालयों द्वारा किए जाने वाले पत्राचारों में पत्र जारी करने वाले अधिकारी के हस्ताक्षर के साथ अधिकारी, कार्यालय का दूरभाष तथा ई-मेल पते की जानकारी ना होने से कतिपय संबंधित अधिकारी से संपर्क करने में कठिनाई होती है।  

कोई टिप्पणी नहीं: