सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 13 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 13 मार्च 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 13 मार्च

प्रायवेट अस्पताल जैसा है इछावर का सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र

  • कायाकल्प अभियान के तहत राज्य स्तर पर तीसरी बार मिला प्रथम पुरस्कार

sehore news
सरकारी अस्पताल का नाम आते ही जेहन में गंदगी और अव्यवस्थित अस्पताल की तस्वीर उभरकर आती है। कई अस्पतालों के डॉक्टर और अन्य स्टॉफ के मरीजों और परिजनों के प्रति नीरस व्यवहार तथा असहयोग की खबरें आती हैं। लेकिन सीहोर जिले के इछावर का प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बिल्कुल इसके विपरीत है। यहां की स्वछच्ता और स्टॉफ का व्यवहार किसी प्रायवेट अस्पताल जैसा है। स्टॉफ के अनुशासन] जागरूकता और सेवाभाव का ही परिणाम है कि लगातार तीसरी बार इस अस्पताल को प्रथम पुरस्कार मिला है । इस सामुदायिक स्वाथ्य केन्द्र का परिसर साफ-सुथरा और कीटाणु रहित है। यहां सभी तरह की स्वास्थ्य सुविधाएं निःशुल्क उपलब्ध है। इस अस्पताल में आने वाले मरीजों का कहना है कि यहां के स्टॉफ का व्यवहार बिल्कुल परिजनों जैसा है। अस्पताल में इलाज कराने आये मरीज तथा उनके परिजन  ग्राम मोलगा के बनवारी शर्मा]  हरिओम शर्मा] इछावर के अनिल कुमार चांडक] बंशीलाल सोनी तथा भाऊखेडी के बद्री प्रसाद का कहना है कि यहां आने के बाद कभी नहीं लगा की सरकारी अस्पताल में आए हैं। बिल्कुल प्रायवेट अस्पताल जैसा ही स्टॉफ का व्यवहार और सुविधाऐं हैं । यह ई अस्पाल है और मेरा अस्पताल एप के माध्यम से लोगों से अस्पताल की सेवाओं और स्वचछता संबंधी फीडबैक निरंतर लिया जाता है । लोगों से प्राप्त फीडबेक के आधार पर सेवाओं में सुधार भी किया जाता है। इछावर समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की स्वच्छता को देखते हुए कायाकल्प अभियान के तहत राज्य स्तर पर तीसरी बार प्रथम पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया है। कायाकल्प अभियान में तय किए गए 7 मापदण्ड जिसमें अस्पताल की सुविधा, अस्पताल स्वच्छता, कचरा प्रबंधन, संक्रमण नियंत्रण, सपोर्ट सर्विस, स्वच्छता के प्रचार पर खरा पाए जाने पर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र इछावर को पुरस्कार मिला है। पुरस्कार के रूप मे इछावर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र  को 15 लाख रूपए की राशि मिलेगी। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा स्वच्छ भारत मिशन के तहत अस्पताल भवन एवं परिसर को साफ-सुथरा बनाने के उद्देश्य वर्ष 2015 में कायाकल्प अभियान शुरू किया गया है। कायाकल्प अभियान के सार्थक परिणाम दिखने लगे हैं। डॉ बीबी शर्मा ने बताया कि अस्पताल के सभी स्वास्थ्य कर्मियों ने टीम भावना के साथ काम किया है जिसके परिणाम स्वरूप कायाकल्प अवार्ड मिला है।

वरिष्ठ नागरिकों के मुख्य अतिथिय में विधायक ने किया भूमिपूजन, कोलीपुरा में बनेगी 12 लाख रूपये की लागत से सीमेंटेट सड़क


sehore news
सीहोर। कोलीपुरा वार्ड क्रमांक एक में 12 लाख रूपयें की लागत से सीसी सड़क का निर्माण किया जाएगा। केमिस्ट भवन के पास शनिवार को विधायक सुदेश राय ने क्षेत्र के वरिष्ट बुजूर्ग नागरिकों के मुख्य अतिथिय में कन्या पूजन कर सड़क निर्माण के लिए भूमि पूजन किया। कोलीपुरा बिलकिसगंज रोड भारत कुशवाह के मकान से रामनारायण यादव के मकान तक सीसी सड़क का निर्माण किया जाएगा। कार्यक्रम में पहुंचे विधायक सुदेश राय का क्षेत्र के नागरिकों के द्वारा पुष्प मालाओं से स्वागत सत्कार किया गया। विधायक सुदेश राय ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा की जनता के आशिर्वाद से जनता के सब कार्य सम्पन्न हो रहे है। शहर में विकास कार्य निरंतर जारी रहेंगे। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष नरेश मेवाड़ा भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष पिं्रस राठौर केमिस्ट एसोसिएशन अध्यक्ष ओम राय,पूर्व जिला अध्यक्ष सीताराम यादव वरिष्ठ नेता राजेश राठोर राजकुमार गुप्ता,मानसिंह पवार,पार्षद मनोज राय,राजू सिकरवार मोहन चौरसिया बृजमोहन सोनी सतीश मंत्री आशीष पचौरी नरेंद्र राजपूत नैतिक राय,राजा अग्रवाल आदि भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे। 

कलेक्टर ने श्री गुप्ता ने लगवाई कोविड वैक्सीन, अपनी बारी आने पर कोविड का टीका लगाने की कलेक्टर ने सभी से की अपील


sehore news
कोविड-19 की रोकथाम एवं बचाव के लिए शतप्रतिशत टीकाकरण के लिये कार्ययाsजना बनाकर लक्ष्ति व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा रहा है। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने आज टीकाकरण केन्द्र पहुंच कर कोविड-19 का टीका लगवाया । मुख्य चिकित्सा एवं स्वाव्स्थ्य अधिकारी श्री सुधीर कुमार डेहरिया ने कलेक्टर श्री गुप्ता को टीकाकरण का प्रमाण पत्र प्रदान किया। कोविड का टीका लगवाने के बाद श्री गुप्ता ने कुछ समय वेटिंग रूम में बिताया।  उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है । इस वैक्सीन को  लगवाने से न तो किसी प्रकार की परेशानी होती और न ही किसी प्रकार साइड इफेक्ट हैं। उन्होंने हर व्यक्ति से अपनी बारी आने पर कोविड वैक्सीन लगवाने की अपील की है। कलेक्टर श्री गुप्ता ने जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों, स्वयं सेवी संगठनों, गणमान्य नागरिकों से अपील की है कि 60 वर्ष से अधिक के बुजुर्गों तथा 45 से 59 वर्ष के गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्तियों के टीकाकरण में आवश्यक सहयोग प्रदान करें। श्री गुप्ता ने कहा कि कोरोना से बचाव का सबसे कारगर उपाय टीकाकरण है। कोरोना टीका की पहली डोज लगाई जा चुकी है। किसी को किसी भी प्रकार का साइड इफेक्ट नहीं हुआ है। इसलिए घबराने या संकोच करने की आवश्यकता नहीं है। अपनी बारी आने पर अनिवार्य रूप से टीका लगवाने की अपील की है। कलेक्टर श्री गुप्ता ने  प्रथम डोज के 28 दिन बाद दूसरा डोज अनिवार्य रूप से लगवाने की भी अपील की है। उन्होंने कि कोरोन का संक्रमण पुनः बढ़ रहा है। पढ़ोसी राज्य महाराषट्र में तेजी से बढ़ रहे संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए हमे अत्याधिक सावधानी बरतने की जरूरत है। उन्होंने सभी से मास्क लगाने और सोसल डिस्टेंसिंग की पालन करने की अपील की है।

15 मार्च को यहां होगा टीकाकरण

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने बताया कि जिले में निर्वाचन केंद्रवार लक्षित समूहों का टीकाकरण किया जा रहा है।  उन्होंने स्वास्थ्य विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, नगरीय निकायों, महिला एवं बाल विकास विभाग तथा संबंधित बीएलओ को यह निर्देष दिए गये हैं कि उनके मतदान केंद्र के लिए निर्धारित तिथि को टीकाकरण का व्यापक प्रचार -प्रसार कर लक्षित समूह का शतप्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करें। टीकाकरा के लिये स्वास्थ्य विभाग द्वारा बनाइ गई कार्ययोजना के अनुसार 15 मार्च को बूथ क्रमांक 261, 262 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोठारी] 109, 110 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सिद्धीकगंज] बूथ क्रमांक 230 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मैना] बूथ क्रमांक सेवन 73, 74, 75 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बुधनी,  बूथ क्रमांक 120 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेंहटी, बूथ क्रमांक 90 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नीनोर,  बूथ क्रमांक 08 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बकतरा, बूथ क्रमांक 51 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शाहगंज] बूथ क्रमांक 199 , 200, 233 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाडकुई में कोविड टीकाकरण किया जायेगा। इसी प्रकार बूथ क्रमांक 147, 148 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चकल्दी, बूथ क्रमांक 307 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र इटावा-इटारसी, बूथ क्रमांक 309 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोपालपुर,  बूथ क्रमांक 321 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बाईबोरी,  बूथ क्रमांक 156, 158 सिविल अस्पताल आष्टा, बूथ क्रमांक 6 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जावर, बूथ क्रमांक 260,261 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र वीरपुर डेम, बूथ क्रमांक 247, 248, 249 सिविल अस्पताल नसरुल्लागंज, बूथ क्रमांक 84] 85] 86 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दौराहा बूथ क्रमांक 105, 106, 107 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिलकिसगंज, बूथ क्रमांक 11, 12 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अहमदपुर,  बूथ क्रमांक 60, 61 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बमुलिया]  बूथ क्रमांक 124,  125 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अमरोहा, बूथ क्रमांक 181 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भाउखेड़ी, बूथ क्रमांक 197, 198, 258, 263 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आबिदाबाद, बूथ क्रमांक 179, 180,  181 जिला चिकित्सालय सीहोर, बूथ क्रमांक 75, 76, 78 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र श्यामपुर टीकाकरण में टीकाकरण किया जायेगा।


चन्द्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय में मनाया गया,  “आजादी अमृत महोत्सव”


sehore news
देश को स्वतंत्र हुये 12 मार्च के ठीक 75 सप्ताह के बाद 75 वर्ष पूर्ण होंगे। इस अवसन पर “अमृत महोत्सव” की शुरूआत हो रही है। प्राचार्य डॉ आषा गुप्ता ने बताया कि 15 अग्रस्त 2022 को भारत की आजादी के 75 वर्ष पूर्ण हो रहे हैं इसके 15 सप्ताह पूर्व से म.प्र. शासन, उच्च शिक्षा विभाग द्वारा कई कार्यक्रमों की शुरूआत की जा रही है। 12 मार्च को महात्मा गाँधी द्वारा नमक कानून तोडने के लिए 386 किलोमीटर लंबे मार्ग पर यात्रा का शुभारंभ किया गया था। उसी को याद करने के लिए प्रधानमंत्री के द्वारा साबरमती आश्रम से दांडी मार्च को हरी झंडी दिखाकर इस अमृत महोत्सव का उदघाटन किया गया।  दूरदर्शन पर प्रसारित कार्यक्रम को सभी ने तन्मयता से देखा और सुना । महाविद्यालय के एनसीसी अधिकारी डॉ उदय डोलस ने बताया कि 16 मार्च को महाविद्यालय से एक साईकिल रैली प्रारंभ होकर शहर के विभिन्न मार्गों से निकलेगी तथा सीहोर के ऐतिहासिक स्थल शहीद चैन सिंह की छत्री पर समाप्त होगी यहां पर राष्ट्रीयता से ओतप्रोत कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। स्वामी विवेकानन्द कैरियर मार्गदर्शन योजना प्रभारी डॉ. सुमन रोहिला ने बताया कि 18 मार्च को निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा जिसका विषय “दांडी मार्च और महात्मा गाँधी” होगा। समस्त प्राध्यापक, कर्मचारीगण, एनसीसी कैडेटस, एनएसएस स्वयंसेवक तथा छात्र/छात्राऐं उपस्थित रहे।

इछावर, आष्टा विधायक को लगा कोविड टीके का प्रथम डोज एवं कलेक्टर को लगा टीके के द्वतीय डोज 37 टीकाकरण केन्द्रों पर किया जा रहा टीकाकरण


sehore news
शनिवार  को इछावर विधायक एवं पूर्व राजस्व मंत्री श्री करण सिंह वर्मा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र इछावर, तथा आष्टा विधायक श्री रघुनाथ सिंह मालवीय ने सिविल अस्पताल आष्टा पहुंचकर कोविड-19 का प्रथम डोज लगवाया। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने आज जिला चिकत्सालय स्थित डीईआईसी टीकाकरण केन्द्र पहुंचरक दूसरा डोज लगवाया। कोविड-19 की पोलिंग बूथ वाईज कार्ययोजना के अनुसार 37 टीकाकरण केन्द्रों पर टीकाकरण की व्यवस्था की गई है। हैल्थ केयर वर्कर एवं फ्रंट लाईन वर्कर्स जिन्होंने सेकण्ड डोज नहीं लगवाया है उन्हें भी द्वित्तीय डोज लगाया जा रहा है। सिविल अस्पताल आष्टा में मुस्लिम समाज के बुजूर्गों ने भी बडी संख्या में टीका लगवाया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि विकास खण्ड आष्टा अंतर्गत  सिविल अस्पताल आष्टा अंतर्गत सीएचसी आष्टा, जावर, कोठरी, सिद्धिकगंज, मैना, विकासखण्ड बुदनी के अंतर्गत सीएचसी बुदनी, सीएचसी रेहटी, पीएचसी शाहगंज, पीएचसी बकतरा, पीएचसी बायां, पीएचसी मर्दानपुर, पीएचसी नीनोर, प्राईवेट मधुबन हास्पिटल बुदनी, विकासखण्ड इछावर क अंतर्गत सीएचसी इछावर, पीएचसी दिवडिया, पीएचसी अमलाहा, पीएचसी रामनगर, पीएचसी वीरपुर डेम, पीएचसी आबिदाबाद, पीएचसी भाउखेडी विकासखण्ड नसरूल्सागंज के अंतर्गत सिविल अस्पताल नसरूल्लागंज, सीएचसी लाडकुई, पीएचसी इटावा ईटारसी, पीएचसी गोपालपुर, पीएचसी बाईबोडी, पीएचसी चकल्दी, श्यामपुर के अंतर्गत सीएचसी श्यामपुर, सीएचसी बिल्सिकगंज, सीएचसी दोराहा, पीएचसी बमूलिया, पीएचसी अहमदपुर तथा जिला चिकित्सालय के डीईआईसी भवन में टीकाकरण किया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण रोकने विशेष सतर्कता बरतें - मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • कोरोना संक्रमण दर में गिरावट नहीं होने पर कड़े उपाय लागू होंगे, भोपाल और इंदौर में रविवार या सोमवार से नाईट कफ्यू लगाने पर विचार

sehore news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संक्रमण प्रदेश में बढ़ रहा है, जो चिंता की बात है। कोरोना संक्रमण को हर हाल में नियंत्रित कर रोकना है। इसके लिए सभी उपाय किए जाएँ। जन-जागरूकता अभियान चलाया जाए। कोरोना संक्रमण दर बढ़ती है तो सख्त कदम भी उठाए जाएंगे। भोपाल और इंदौर जिले में रविवार या सोमवार से नाईट कर्फ्यू लगाया जा सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इन दोनों जिलों में सभा कक्ष में होने वाले आयोजनों में क्षमता से आधे लोगों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मौजूद थे। जिलों के प्रभारी अधिकारी प्रमुख सचिव वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक में शामिल हुए।

जागरूकता अभियान चलायें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नागरिकों को कोरोना से सुरक्षा के सभी उपाय अपनाने के लिए प्रेरित किया जाए। मास्क लगाने, बार-बार साबुन से हाथ धोने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, भीड़-भाड़ से बचने और कोरोना की वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया जाए। इंदौर, भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, खरगोन, रतलाम, उज्जैन, बेतूल, सागर, रीवा और खंडवा में विशेष रूप से पुलिस और नगर निगम, नगर पालिकाओं के वाहनों से लोगों को मास्क लगाने आदि सुरक्षात्मक उपाय करने तथा सतर्कता बरतने के लिए प्रेरित किया जाए। कलाकारों के माध्यम से जगह-जगह पर प्रस्तुतियाँ दी जाकर जागरूकता अभियान संचालित किए जाएं। लोगों को बताया जाए कि यदि कोरोना संक्रमण बढ़ता है तो सख्त कदम उठाए जाएंगे। प्रदेश के अन्य जिलों में जरूरत होने पर जागरूकता अभियान चलाया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक बुलाकर जिले की परिस्थिति के मुताबिक सुरक्षा उपाय अपनाने के निर्देश दिए।


महाराष्ट्र की सीमा से लगे जिलों में विशेष सावधानी बरतें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर सहित महाराष्ट्र की  सीमा से लगे जिलों में कोरोना संक्रमण को रोकने विशेष सतर्कता बरती जाए। महाराष्ट्र से आने वाले वायुयान, ट्रेनों और बसों में आने वाले यात्रियों की थर्मल जाँच की जाए और रोको-टोको अभियान के अंतर्गत मास्क और अन्य उपायों के लिए प्रेरित किया जाए। महाराष्ट्र से होने वाले आवागमन को सीमित करने के संबंध में भी बैठक में विचार किया गया।


दुकानों पर बरतनी होगी सावधानियाँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर सहित महाराष्ट्र की सीमा से लगे जिलों और 10 से अधिक कोरोना संक्रमण के प्रकरणों वाले जिलों में दुकानदारों को अपनी दुकान में कोरोना से बचाव के सभी सुरक्षात्मक उपाय करने होंगे। दुकान के सामने रस्सी लगाई जाए। दुकान पर आने वाले ग्राहकों के मध्य पर्याप्त दूरी रखी जाए। ग्राहकों को सैनिटाइजर का उपयोग करने और मास्क लगाने के लिए प्रेरित किया जाए। जो दुकानदार इन सुरक्षा उपायों का पालन नहीं करेंगे उनके विरुद्ध कार्यवाही की जाए।


त्योहारों में मध्य प्रदेश आने वाले श्रमिकों की जाँच

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि त्यौहार में अन्य प्रदेशों से मध्यप्रदेश के लिए श्रमिकों का आना शुरू हो गया है। श्रमिकों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाए। सुरक्षा उपाय अपनाए जाएं।


कोविड कमांड सेंटर

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि अधिक कोरोना संक्रमण वाले जिलों में कोविड कमांड सेंटरों को सक्रिय रखा जाए और पर्याप्त चिकित्सकों की सेवाएँ दी जाएं।


प्रभारी अधिकारी निगरानी रखें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि राज्य स्तर पर कोरोना संक्रमण एवं रोकथाम के लिए नियुक्त प्रभारी अधिकारी अपने प्रभार के जिलों में सतत् संपर्क बनाकर रखें। और उचित मार्गदर्शन देते रहें।


चिकित्सा इंतजामों की ली गई जानकारी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना संक्रमण से पीड़ित मरीजों के इलाज की जानकारी ली। उन्होंने अस्पताल में भर्ती मरीजों, वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखे गए मरीजों के संबंध में जानकारी ली। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गंभीर कोरोना मरीज की मृत्यु नहीं होने पाए। इसके लिए हरसंभव चिकित्सा उपाय किए जाएं।


कोरोना वैक्सीनेशन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पात्र व्यक्तियों को कोरोना की वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया जाए। पहला वैक्सीन डोज लगने के 28 दिन बाद अनिवार्य रूप से दूसरा वैक्सीन डोज लगे, यह सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए संबंधित व्यक्ति को सूचित भी किया जाए। टीकाकरण कार्य में जनप्रतिनिधियों का पूरा सहयोग लिया जाए। जन-जागरूकता अभियान चलाया जाए। अधिक वृद्ध नागरिकों को वाहन से टीकाकरण केंद्र तक लाने का इंतजाम किया जाए। टीकाकरण केंद्रों में जन-सुविधाएँ उपलब्ध रहें। बैठक में बताया गया कि प्रतिदिन एक लाख टीकाकरण करने के लक्ष्य को प्राप्त करने के प्रयास हो रहे हैं। बैठक में बताया गया कि आज इंदौर में 219, और भोपाल में 138 कोरोना के नए प्रकरण आए हैं। इसी तरह जबलपुर में 26, ग्वालियर में 25, छिंदवाड़ा में 19, बुरहानपुर में 16, खरगोन में 16, रतलाम में 15, उज्जैन में 15, बैतूल में 13, सागर में 11, रीवा में 10 और खंडवा में 9 प्रकरण दर्ज हुए हैं। प्रदेश में कोरोना से संक्रमित 603 नए व्यक्ति मिले हैं। प्रदेश में एक्टिव प्रकरणों की संख्या 4094 है। गत 7 दिनों मे औसत प्रतिदिन 490 कोरोना संक्रमित प्रकरण संख्या दर्ज की गई है। औसत रिकवरी दर 96.7 प्रतिशत है।


टीकाकरण

प्रदेश में टीकाकरण के लिए पंजीकृत व्यक्तियों के विरुद्ध 95 प्रतिशत व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली Mkstडोज दी जा चुकी है। इस कार्य में प्रदेश की स्थिति देश में दूसरे नंबर पर है। प्रदेश में 3 लाख 72 हजार 794 हेल्थ केयर वर्कर को वैक्सीन की प्रथम डोज, 2 लाख 51 हजार 887 हेल्थ केयर वर्कर को वैक्सीन की दूसरी डोज, 3 लाख 12 हजार 964 फ्रंटलाइन वर्कर को पहली डोज, 30 हजार 577 फ्रंटलाइन वर्कर को दूसरी डोज, 45 से 59 वर्ष के गंभीर बीमारी से पीड़ित 37 हजार 196 व्यक्तियों और 60 वर्ष से अधिक आयु के 2 लाख 82 हजार 933 लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।


आंधी-तूफान से प्रभावित किसानों को आरबीसी 6(4) के तहत राहत देंगे : मंत्री श्री पटेल


किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने सीहोर , हरदा और देवास के कलेक्टरों और उपसंचालक कृषि को तत्काल आंधी-तूफान से क्षतिग्रस्त फसलों की वीडियोग्राफी और सर्वे कार्य शुरू करने के निर्देश दिए हैं।उन्होंने कहा कि किसानों को चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है।किसानों को संकट की घड़ी में सरकार हर संभव मदद करेगी।किसानों के नुकसान की भरपाई सरकार के द्वारा की जाएगी। किसानों को क्षतिग्रस्त फसलों के लिए आरबीसी 6(4 )के तहत राशि प्रदान की जाएगी ।


ग्रामीण कृषि विस्तार एवं वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी भर्ती परीक्षा 2020 के संबंध में वस्तुस्थिति


प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग, मध्यप्रदेश, भोपाल के अन्तर्गत ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी के 791 एवं वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के 72 इस प्रकार कुल 863 पदों हेतु भर्ती परीक्षा का आयोजन दिनाँक 10/2/2021 एवं 11/02/2021 को कुल तीन पालियों में किया गया था। उक्त परीक्षा में ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी हेतु 19971 एवं वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी हेतु 8132 अभ्यर्थियों द्वारा आवेदन किया गया था। यह परीक्षा मध्यप्रदेश के 13 शहरों के 57 परीक्षा केन्द्रों में आयोजित की गई थी, जिसमें अभ्यर्थियों का उपस्थिति प्रतिशत 82.92 प्रतिशत रहा। अगस्त 2015 से पी.ई.बी. द्वारा ऑनलाईन पद्धति से परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है एवं तत्समय से ही परीक्षा प्रणाली को और सुदृढ़, सुचितापूर्ण एवं पारदर्शी बनाये जाने के हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं। इसी क्रम में परीक्षा समाप्ति के समय ही अभ्यर्थियों को उनके सही उत्तरों की संख्या/अंक प्रदर्शित किये जाते हैं। पूर्ण परीक्षा की समाप्ति के पश्चात् परीक्षा में आये प्रश्नों पर अभ्यर्थियों से आपत्तियां आमंत्रित की जाती हैं। नवम्बर-2020 से यह प्रक्रिया ऑनलाईन माध्यम से प्रारंभ की गई है। जिसमें पी.ई.बी. के पोर्टल पर प्रदर्शित लिंक के माध्यम से केवल अभ्यर्थी अपना रोल नम्बर, जन्मतिथि, परीक्षा तिथि एवं पाली को अंकित कर अपनी उत्तर पुस्तिका को मॉडल उत्तर कुंजी सहित देख सकता है तथा आपत्तिगत प्रश्नों पर ऑनलाइन अभ्यावेदन कर सकता है। तत्पश्चात आपत्तिगत प्रश्नों को विषय-विशेषज्ञों की कुंजी-समिति के समक्ष निर्णय हेतु रखा जाता है एवं समिति की अनुशंसा अनुसार निरस्त किये गये प्रश्नों/विकल्प परिवर्तन किए गए प्रश्नों के अनुसार अंकों में परिवर्तन किया जाता है। किसान कल्याण भर्ती परीक्षा हेतु प्रश्नों पर आपत्ति हेतु ऑनलाईन अभ्यावेदन प्रक्रिया दिनांक 17.02.2021 से प्रारंभ की गई थी एवं 07 दिवस पश्चात् दिनांक 23.02.2021 को समाप्त की गई। पी.ई.बी. द्वारा आयोजित परीक्षाएँ, जो एक से अधिक पॉलियों में आयोजित की जाती हैं, में यह संभव है कि भिन्न-भिन्न पॉलियों में प्रश्नों के कठिनता स्तर भिन्न-भिन्न हों एवं अंतिम चयन सूची में किसी एक विशेष पॉली जिसमें तुलनात्मक रूप से सरल प्रश्न आये हों, से ही अभ्यर्थियों का चयन हो जाए। अतः पी.ई.बी. द्वारा पालियों में आए प्रश्नों के कठिनता स्तर के अनुसार अंकों को समरूप करने हेतु परीक्षा परिणाम में नार्मलाइजेशन प्रक्रिया का उपयोग किया जाता है। जो एक सांख्यिकी सूत्र पर आधारित है, जिसमें पालियों में अभ्यर्थियों के औसत अंक एवं अंको के स्डेण्डर्ड डेविएशन का उपयोग किया जाता है। यह सांख्यिकी सूत्र मान. उच्च न्यायालय, मध्यप्रदेश द्वारा याचिका क्रमांक- 8083/2016, 8124/2016, 8434/2016 एवं 8609/2016 एवं अन्य में पारित आदेशों में भी अधिमान्य किया गया है। वर्तमान में उक्त परीक्षा हेतु विषय-विशेषज्ञों की कुंजी समिति की बैठक एवं नार्मलाइजेशन प्रक्रिया संपन्न नहीं हुई है, इसके पश्चात ही परीक्षा परिणाम घोषित किया जायेगा। समाचार-पत्रों में उल्लेख हो रहा है कि पी.ई.बी. द्वारा परीक्षाओं का संचालन अन्य राज्यों में ब्लैकलिस्टेड एजेंसी द्वारा कराया जा रहा है, जिसके संबंध में लेख है कि पी.ई.बी. द्वारा अनुबंधित परीक्षा संचालन एजेंसी एवं प्रश्न-पत्र निर्माण एजेंसी का चयन पूर्णतः पारदर्शी टेण्डर प्रक्रिया के तहत किया गया जिसमें एजेंसियों द्वारा ब्लैकलिस्ट नहीं होने संबंधी प्रमाण-पत्र प्रस्तुत किया गया है। दिनांक 17.02.2021 के उपरांत किसी एक विशेष क्षेत्र के अभ्यर्थियों को अधिक अंक प्राप्त होने के संबंध में शिकायतें प्राप्त हुई हैं। परीक्षा से संबंधित समस्त डाटा, सी.सी.टी.व्ही. फुटेज तथा सर्वर लॉग डिटेल की जॉच हेतु पी.ई.बी. द्वारा MPSEDC से सहयोग प्राप्त किया जा रहा है। जिनके द्वारा संपूर्ण परीक्षा संचालन प्रक्रिया तथा डाटा ट्रांसफर की प्रणालियों का भी परीक्षण किया जा रहा है। जाँच प्रतिवेदन शीघ्र अपेक्षित है। जिसकी प्राप्ति के उपरांत ही पी.ई.बी. द्वारा उक्त परीक्षा के परीक्षा परिणाम घोषणा के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। 


हमें वैक्सीन लगवाना ही नहीं है, प्रचार प्रसार कर और लोगों को भी लगवाना हैः-जिला न्यायाधीश


sehore news
माननीय जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष महोदय श्री राजवर्धन गुप्ता सर के मार्गदर्शन एवं गरिमामय उपस्थिति में दिनांक 13/03/2021 को जिला चिकित्सालय सीहोर  स्थित कोविड वैक्सीनेशन सेंटर के सभागृह में विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।  उक्त शिविर में श्री एस0के0 नागोत्रा अपर जिला न्यायाधीश/ सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, श्री अनीस उद्दीन अब्बासी जिला विधिक सहायता अधिकारी, डाॅ0 आनंद शर्मा सिविल सर्जन, डाॅं0 आर0 के0 वर्मा, डाॅ नीरा श्रीवास्तव, डाॅ0 अर्चना राजपूत, जिला प्राधिकरण के कर्मचारीगण एवं वैक्सीनेशन हेतु आये आमजन सम्मिलित हुए। जिला चिकित्सालय पहॅुचकर सबसे पहले माननीय जिला एवं अध्यक्ष महोदय श्री राजवर्धन गुप्ता साहब ने कोविड वैक्सीनेशन सेंटर में कोरोना वायरस कोविड-19 के वैक्सीनेशन कार्य का जायजा लिया,  जिसमें पाया गया कि वैक्सीनेशन के कार्य में लगी डाॅक्टर्स की टीम द्वारा सराहनीय कार्य किया जा रहा है, जिला न्यायाधीश महोदय ने स्वयं कोरोना वायरस कोविड-19 के वैक्सीन का टीका लगवाया। अपर जिला न्यायाधीश/सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर को भी कोविड वैक्सीनेशन का टीका लगाया गया। तत्पश्चात् विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।  उक्त शिविर में माननीय जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष महोदय श्री राजवर्धन गुप्ता सर द्वारा शिविर में उपस्थित आमजन को कोरोना कोविड-19 वैक्सीनेशन के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि हमें वैक्सीन लगावाना ही नहीं है वरन् उसका प्रचार प्रसार कर और लोगों को भी वैक्सीन लगवाये जाने हेतु प्रेरित करना है, ताकि वैक्सीनेशन के लक्ष्य की पूर्ति की जा सके और हमारा जिला सीहोर, प्रदेश और देश शीघ्रातिशीघ्र कोरोना मुक्त हो सके।  श्री एस0के0 नागोत्रा अपर जिला न्यायाधीश/सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर द्वारा व्यक्त किया कि कोरोना वैक्सीनेशन के पात्र व्यक्तियों को अतिशीघ्र अपना रजिस्ट्रेशन करवाकर वैक्सीनेशन कराना है ताकि कोरोना वायरस कोविड-19 नामक वैश्विक महामारी पर विजय हासिल की जा सके। श्री नागोत्रा द्वारा शिविर में उपस्थित आमजन को आयुष्मान भारत योजना के बारे में भी जानकारी दी गई और बताया गया कि यदि आयुष्मान भारत योजना का कार्ड किसी व्यक्ति ने बनवा लिया है तो उसका कोरोना वायरस कोविड-19 बीमारी का भी मुफ्त इलाज उक्त योजना के अंतर्गत किया जावेगा।  डाॅ0 श्री आर0के0 वर्मा द्वारा शिविर में उपस्थित आमजन को वैक्सीनेशन के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। श्री वर्मा द्वारा कोरोना वैक्सीन के लाभों के बारे में अवगत कराते हुए बताया गया कि वैक्सीन लाभकारी और कारगर है। वैक्सीन लगवाने के पश्चात् वैक्सीन का प्रमाण पत्र काउंटर से अवश्य प्राप्त करें। वैक्सीन लगवाने के पश्चात् भी हमंे मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है।  उक्त कार्यक्रम में कोरोना वायरस कोविड-19 के प्रोटोकाल (सोशल डिस्टंेसिंग, मास्क, सेंनेटाईजर का उपयोग कर) का पालन किया गया।  

चिंता नहीं करें ओलावृष्ठि पीडि़त किसान, विधायक ने शुरू कराया नुकसान का सर्वे फसल खराब मिली तो दिलाया जाएगा पर्याप्त मुआवजा


sehore news
सीहोर। ओलावृष्ठि से पीडि़त किसानों से विधायक सुदेश राय ने संयम बनाए रखने की अपील की है। उन्होने कहा की किसान चिंता नहीं करें शनिवार सुबह से राजस्व विभाग ने विधानसभा क्षेत्र में नुकसान का सर्वे कार्य शुरू कर दिया है। जल्दी हीं सर्वे कार्य पूर्ण हो जाएगा और सरकार से किसानों को पर्याप्त मुआवजा दिलाया जाएगा।   विधानसभा क्षेत्र में शुक्रवार शाम को तेज हवा बारिश और ओलावृष्ठि से खेतों में खड़ी गेंहू चना और मसूर की फसल और सब्जियों को काफी नुकसान पहुंचा है। विधायक सु़देश राय ने ओलावृष्टि से अधिक नुकसान वाले अंचलों के किसानों और जनप्रतिनिधियों से भी नुकसान को लेकर शनिवार को भी जानकारी प्राप्त की है। विधायक सुदेश राय के द्वारा तत्काल प्राकृतिक मौसमी आवदा से पीडि़त किसानों को आर्थिक मदद देने के लिए कलेक्टर अजय गुप्ता से शुक्रवार की रात को हीं चर्चा कर ली थी जिस में शनिवार से सर्वे कार्य शुरू करना तय किया गया था। विधायक सुदेश राय ने कहा की जरूरत पड़ती है तो इस संबंध में कृषि मंत्री कमल पटेल से भी भेंटवार्ता कर मौसम के कारण किसानों के समक्ष उत्पन्न हुई आर्थिक परेशानियों से अवगत कराया जाएगा। विधायक सुदेश राय ने कहा की कलेक्टर ने सर्वे के लिए टीमों का गठन किया है। खेतों खलियानों पर पहुंचकर किसानों के समक्ष ओला गिरने पानी लगने से खराब हुई फसलों का सर्वे टीम के द्वारा शुरू कर दिया गया है।

जगत के लिए प्रभू ने कई बार जहर पिया जीवन को कष्टों में बिता दिया. युवा पीड़ी कहती है की भगवान ने केवल रास किया- पंडित रविशंकर तिवारी  

  • वृंदावन में कन्हैया ने गोपियों के साथ खेली रास लीला प्रभू श्रीकृष्ण का रूकमणी के संग हुआ पंडाल में विवाह

sehore news
सीहोर। भक्तों के लिए भगवान ने सात कोस का गिरी पर्वत सात दिन तक सात साल की उम्र में उठा कर रखा। युवा पीड़ी कहती है की श्रीकृष्ण ने केवल रास किया,यह भी सत्य है की जगत के लिए प्रभू ने कई बार जहर भी पिया, उक्त विचार शनिवार को भागवत भूषण कथा व्यास पंडित रवि शंकर तिवारी ने हनुमान फाटक कस्बा मंदिर प्रांगण में आयोजित श्रीमद भागवत कथा के दौरान श्रद्धालुओं के समक्ष व्यक्त किए। श्रीमद भागवत कथा के द्वारा पंडाल में रास खेला गया। कृष्ण बने कलाकार ने नृत्य किया। फूलों की वर्षा की गई। पंडित श्री तिवारी ने रूकमण विवाह प्रसंग को सरल भाषा में प्रस्तुत किया। भगवान श्रीकृष्ण और माता रूकमणी का विवाह रचाया गया। भगवान के द्वारा रूकमणी माता को हरने का प्रसंग मंचित किया गया। श्रीकृष्ण भजनों पर श्रद्धालुगण भाव से पंडाल में नृत्य करते रहे। विभिन्न श्रीमद भागवत कथा के प्रसंगों के माध्यम से पंडित श्री तिवारी ने श्रोताओं को भक्ति मार्ग पर चलने का संदेश दिया। पंडित श्री तिवारी ने कहा की भगवान ने भक्तों को वचन दिया था मैं शरद पूर्णिमा की रात्रि को पति के रूप में तुम्हें मिलूंगा और तब रास करूंगा, भगवान जो कहते है वहीं करते है शरद पूर्णिंमा की रात्रि को भगवान श्रीकृष्णा यमुना किनारे पधारते है और तीन करोड़ गोपियों के संग श्रीकृष्ण रास खेलते है। लेकिन ध्यान रखिए रास भगवान की बड़ी आनंद की लीला है। भगवान ने गोपियां रूपी आत्माओं को रास से भक्ति का मार्ग दिखाया। भगवान ने अपनी बांसुरी की मधुर धुन पर गोपियां जो सभी पुण्य आत्माएं थी को आनंद से भर दिया। भगवान की महारास लीला में 18 झुंड थे जिन में करोड़ की संख्या में गोपियां शामिल थी भगवान सब को अपनी शरण में लेते है सब भगवान के है और सब में भगवान वास करते है। 

ओलावृष्टि पीडि़त किसानों को दिया जाए शीघ्र फसल बीमा और पर्याप्त मुआवजा राशि- महाजन  


sehore news
सीहोर। ओलावृष्टि पीडि़त जिले के सभी किसानों को फसल बीमा और पर्याप्त मुआवजा राशि शीघ्र दिए जाने के लिए गौरव सन्नी महाजन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम शनिवार को पत्र प्रेषित किया है। महाजन ने कहा की शुक्रवार की शाम को आंधी तूफान बारिश और ओलावृष्टि के कारण जिले के किसानों को काफी आर्थिक हानी हुई है। खेतों में खड़ी गेंहू और चने की फसल ओलावृष्टि के कारण आड़ी हो गई है। मसूर और सब्जियों पर भी ओलो का प्रकोप हुआ है। गेंहू की फसल की बालियां टूट कर खेतों में ही गिर गई है चने की घैंटियों का भी यही हाल हुआ है। महाजन ने कहा की ओलावृष्टि पानी लगने से गेंहू के दानों का रंग भी खराब हो गया है फसल दागी हो गई है। जिस कारण किसानों को फसल का सहीं दाम नहीं मिलता है। समर्थन मूल्य केंद्रों के द्वारा भी फसल को लेने से इंकार कर दिया जाता है। मुख्यमंत्री से गौरव सन्नी महाजन ने किसान हित में फसल को हुई भारी हानी को ध्यान में रखते हुए पीडि़त किसानों को पर्याप्त राहत राशि देने सहित बीमा राशि उपलब्ध कराने की मांग की है। 


कोई टिप्पणी नहीं: