किसानों ने रेलवे स्टेशन पर धरना दिया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 15 मार्च 2021

किसानों ने रेलवे स्टेशन पर धरना दिया

farmer-protest-on-railway-station
उचाना, 15 मार्च, संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर निजीकरण के विरोध में किसानों ने स्थानीय रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर दो पर बने एक शेड के नीचे धरना दिया । धरने में किसानों के अलावा विभिन्न विभागों के कर्मचारी संगठन के पदाधिकारियों ने भी हिस्सा लिया। किसान एवं कर्मचारी संगठनों के धरने को संबोधित करते हुये किसान नेता फूल सिंह श्योकंद ने कहा कि सरकार निजीकरण को बढ़ावा दे रही है और इससे केवल पूंजीपतियों को फायदा होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सत्ता में आने से से पहले दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वायदा किया था लेकिन अब सत्ता में आने के बाद रोजगार छीनने का काम कर रही है। दूसरी तरफ, किसानों ने उचाना के पुराना रजबाहा रोड पर स्थिति जननायक जनता पार्टी के कार्यालय में कार्यालय सचिव द्वारा लोगों की समस्या सुनने का विरोध किया और जमकर नारेबाजी की। किसानों ने कहा कि जब तक किसान आंदोलन चल रहा है तब तक वे जेजेपी और भाजपा को कोई भी राजनीतिक गतिविधियां नही करने देंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: