भारत 3-1 से सीरीज जीत कर टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 6 मार्च 2021

भारत 3-1 से सीरीज जीत कर टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में

india-win-sereis-3-1
अहमदाबाद, 06 मार्च, ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (5/47) और लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल (5/48) के एक और घातक प्रदर्शन से भारत ने इंग्लैंड को नरेंद्र मोदी स्टेडियम में चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के तीसरे दिन ही शनिवार को पारी और 25 रन से रौंद कर चार मैचों की श्रृंखला 3-1 से जीत ली और इसके साथ ही उसने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बना ली, जहां उसका मुकाबला इंग्लैंड के ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान में 18 से 22 जून तक न्यूजीलैंड के साथ होगा। भारत ने अपने पहली पारी में 365 रन बनाकर 160 रन की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल की और इंग्लैंड को दूसरी पारी में 54.5 ओवर में 135 रन पर निपटा दिया। भारत के टेस्ट इतिहास में यह छठा मौका है जब उसने पहला टेस्ट गंवाने के बाद वापसी करते हुए सीरीज जीत हासिल की है। अश्विन ने 47 रन पर पांच विकेट और पटेल ने 48 रन पर पांच विकेट लिए। भारत की पहली पारी में शानदार 101 रन बनाने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। भारत ने चेन्नई में पहला टेस्ट गंवाया था, लेकिन फिर वापसी करते हुए चेन्नई में दूसरा टेस्ट 327 रन से बड़े अंतर से जीत लिया। भारत ने अहमदाबाद में खेले गए तीसरे दिन-रात्रि टेस्ट में आठ विकेट से जीत हासिल की और अहमदाबाद में चौथे टेस्ट में इंग्लैंड को पारी से रौंद दिया। इंग्लैंड के बल्लेबाजों के पास दोनों भारतीय स्पिनरों का कोई तोड़ नहीं था, हालांकि इस मुकाबले की पिच में ज्यादा टर्न नहीं था, लेकिन मानसिक दबाव में घिरे इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने अश्विन और पटेल के सामने घुटने टेक दिए। अश्विन ने 22.5 ओवर में 47 रन पर पांच विकेट और पटेल ने 24 ओवर में 48 रन पर पांच विकेट लिए। अश्विन ने पहली पारी में तीन और पटेल ने चार विकेट लिए थे। अश्विन ने डैनियल लॉरेंस को बोल्ड कर इंग्लैंड की पारी समेटी और अपना पांचवां विकेट लिया। अश्विन के करियर में यह 30वां मौका था जब उन्होंने एक पारी में पांच विकेट हासिल किए। अश्विन को सीरीज में गेंद और बल्ले से जबरदस्त प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला।

कोई टिप्पणी नहीं: