मधुबनी : बिहार कांग्रेस प्रभारी के मधुबनी आगमन को लेकर बैठक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 7 मार्च 2021

मधुबनी : बिहार कांग्रेस प्रभारी के मधुबनी आगमन को लेकर बैठक

madhubani-congress-meeting
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) आज जिला कांग्रेस कमिटी मधुबनी की जिला पदाधिकारियों, प्रखण्ड अध्यक्षों, कार्यसमिति के सदस्यों, मोर्चा संगठन के पदाधिकारियों, प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों एवम बरिष्ट कांग्रेसजनों की महती बैठक जिला कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष प्रो शीतलाम्बर झा के अध्यक्षता में हुई। आज की इस बैठक में अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी बरिष्ट नेता,पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री डॉ शकील अहमद, विधान पार्षद सह राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम चन्द्र मिश्रा, विहार कांग्रेस के बरिष्ट नेता,पूर्वमंत्री कृपा नाथ पाठक, पूर्व विधायक भावना झा प्रमुख रूप से उपस्थित थे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के महासचिव, बिहार प्रभारी,पूर्व केन्द्रीय मंत्री भक्त चरण दास जी का 14 मार्च का मधुबनी कार्यक्रम ऐतिहासिक बनाने पर गहन विचार विमर्श किया ,और निर्णय लिया गया कि सभी कार्यक्रम  ऐतिहासिक होगा। देश के अन्नदाता किसानों के समर्थन में किसान सत्यग्रह पदयात्रा करने एवम किसान महापंचायत आयोजित करने का फैसला लिया गया। यह पदयात्रा पंडौल बाजार में स्थापित महान क्रांतिकारी नेता स्वतंत्रता सेनानी स्व सूरज नारायण सिंह प्रतिमा सह स्मारक स्थल से महान स्वतंत्रता सेनानी,पूर्व विधायक, पूर्व प्राचार्य स्व रामा कांत झा स्मारक सोहराय गाँव तक किया जाएगा,इस पदयात्रा में जिला भर से किसान एवम कांग्रेस जन की भारी समागम होगी और सोहराय गाँव स्थिति मध्य विद्यालय के प्रांगण में किसान महापंचायत किया जायेगा जो ऐतिहासिक करने का फ़ैसला लिया गया।


कार्यक्रम को संवोधित करते हुए बरिष्ट कांग्रेस नेता,पूर्वमंत्री डॉ शकील अहमद ने कहा कि आज देश मे मोदीजी की सरकार किसान विरोधी तीन काला कानून  लाकर देश के किसानों को सड़क पर लाकर छोड़ा है आज किसान एक सौ दिन से ज्यादा से दिल्ली के बॉडर पे धरना प्रदर्शन कर रहे है ,इस क्रम में सैकड़ों किसानों की शहादत भी हो गई,लेकिन देश के प्रधानमंत्री स्वयं आंदोलन को समाप्त कराने का पहल तक नही किया न एक शब्द शहीद हुए किसानोंके सम्मान में बोले न  श्रद्धांजलि दी ,वहीं विधान पार्षद प्रेम चन्द्र मिश्रा ने सम्बोधित करते हुए कहा कि देश के अन्नदाता सड़क पर है और सरकार किसानों की जमीन अपने पूंजीपति मित्रों को यह कानून लाकर सौपना चाहती है जिसके खिलाफ आज सम्पूर्ण देश मे आंदोलन चल रही है और सरकार चिरनिद्रा में सो रही रही है,मोदी सरकार सिर्फ चुनाव लड़ने में व्यस्त है और किसानों के संगठन को तोड़ना चाहती है जिसे कांग्रेस नेता राहुल गांधी जी के नेतृत्व में नही होने दिया जाएगा। विधान पार्षद मिश्रा जी ने 14 मार्च का कार्यक्रम को सफल बनाने का आह्वान कार्यकर्ताओं से किया। विहार कांग्रेस के बरिष्ट नेता पूर्वमंत्री कृपा नाथ पाठक ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुई कहा कि आज देशमें राष्ट्रभक्ति की नई परिभाषा परिभाषित किया जा रहा है किसान आंदोलन करते है तो उनपर राष्ट्रद्रोह की मुकदमा चलाया जा रहा है, एक प्रकार से बोलने की आजादी पर अंकुश लगाया जा रहा है, देश की एकता और अखंडता पर खतरा पैदा कर दिया गया चारो ओर लोग हताश में जी रहें है,मंहगाई चरम सीमा पार कर गई सरकार पूंजीपतियों को फायदा पहुंचा रही है ,विहार प्रभारी का मधुबनी के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे। कार्यक्रम में दीपक सिंह, राम सुंदर टरेत, मनोज मिश्रा,विजय कुमार राउत,ज्योति झा,हिमांशू कुमार, प्रो इस्तिहक अहमद,प्रो कृष्ण कुमार झा,मो अकील अंजुम,सुनील कुमार झा,बशिष्ठ नारायण झा,शिव चन्द्र झा,मो हासिम,शुभकर झा,केशव किशोर मिश्रा,उपेंद्र यादव,कौशल किशोर चौधरी, जय कुमार झा,मो साबिर अहमद,अनुरंजन सिंह,फ़ैज़ी आर्यन,अशोक कुमार,नलिनी रंजन झा,आनंद कुमार झा,कृष्ण कांत झा,नित्या नंद झराज कुमार झा,माया नंद झा,मीना देवी कुशवाहा,मो मक्की बाबु, ललन सिंह,सीतेश पासवान,सुरेश चंद्र झा,मुकेश कुमार झा,विनय झा,धनेश्वर ठाकुर,भास्कर चौधरी,नागेश्वर पांडेय आदि सैकड़ों की संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: