बिहार : सेवानिवृत टीचर माग्रेट सेराफिम का निधन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 7 मार्च 2021

बिहार : सेवानिवृत टीचर माग्रेट सेराफिम का निधन

  • दो माह के अंदर भाई पीटर और दीदी माग्रेट को खो दिये परिजन 

retired-teacher-margret-serafim-died
पटना. आज सेवानिवृत टीचर माग्रेट सेराफिम का निधन हो गया.सुबह करीब पांच बजे सुबह में माग्रेट सेराफिम ने कोठिया विकास नगर स्थित आवास पर अंतिम सांस ली.वे 73 साल की थीं.  बताया जाता है सेराफिम रूमाल्डो और माग्रेट सेराफिम के 2 लड़की और 1लड़का है.डॉन बोस्को एकेडमी के टीचर सेराफिम रूमाल्डो थे.वहीं माग्रेट सेराफिम ने कुछ दिनों तक हार्टमन स्कूल में सेवा देने के बाद राज्य की सेवा करने लगी.सरकारी स्कूल की रिटायर टीचर थीं. इस बीच बच्चाें के पिताश्री  सेराफिम रूमाल्डो का निधन 2013 में हो गया.तब से मां-बाप का दायित्व संभालकर बच्चों की देखभाल करती रहीं. रोगग्रस्त मां को देखकर बच्चे और दीदी को देखकर लीली शनिवार को चले गये.रविवार को प्रभु की प्यारी हो गयीं.कैंसर और किडनी रोग से पीड़ित थीं. इस बीच कुर्जी पल्ली के सहायक पल्ली पुरोहित फादर राजेश ने रक्तदान करके बाइक चलाकर विकास नगर में जाकर पार्थिव शरीर पर पवित्र जल का छिड़काव कर प्रार्थना की. बताया गया कि सोमवार को पार्थिव शरीर को रखकर कुर्जी चर्च में तीन बजे से मिस्सा होगा.उसके बाद माग्रेट सेराफिम का पार्थिव शरीर को कब्रिस्तान में दफन कर दिया जाएगा.इस तरह पवित्र बुधवार का  पवित्र राख लगाने के बाद कथन 'हे! मानुष तू मिट्टी है और मिट्टी में मिल जाएगा' पूरा हो जाएगा.सेवानिवृत टीचर माग्रेट सेराफिम को अनेक लोगों ने श्रद्धांजलि दी है.

कोई टिप्पणी नहीं: