तमिल भाषा, संस्कृति की रक्षा करना मेरा कर्तव्य है : राहुल गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 मार्च 2021

तमिल भाषा, संस्कृति की रक्षा करना मेरा कर्तव्य है : राहुल गाँधी

will-save-tamil-langauge-and-culture-rahul-gandhi
कन्याकुमारी, 01 मार्च, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर तमिल भाषा और संस्कृति सम्मान नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इसकी रक्षा करना उनका कर्तव्य है। श्री गांधी ने कहा कि अपने तीन दिवसीय अभियान के आखिरी चरण में वह लोगों से कुछ बातें साझा करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि श्री मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार तमिल भाषा और संस्कृति को सम्मान नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि यह अफसोसजनक है कि मुख्यमंत्री ई. के. पलानीस्वामी लोगों के मुद्दों पर ध्यान देने के बजाय श्री मोदी के आदेश पर कार्रवाई कर रहे हैं। श्री मोदी और आरएसएस तमिल भाषा और संस्कृति का अपमान करने प्रयास कर रहे हैं। वे एक राष्ट्र, एक भाषा और एक संस्कृति लाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि क्या तमिल भारतीय भाषा नहीं है। बांग्ला भारतीय भाषा नहीं है। तमिल संस्कृति भारतीय संस्कृति नहीं है। उन्होंने कहा, “मैं यहां हूं, तमिल भाषा और संस्कृति की रक्षा करना मेरा कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि सभी भाषाओं, संस्कृति और धर्मों की रक्षा करना मेरा कर्तव्य है।”

कोई टिप्पणी नहीं: