झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 13 अप्रैल 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 अप्रैल

मानवाधिकार एवं सेवा समिति एम एम एम एस एस की प्रादेशिक व जिला कार्यकारणी मे  का हुआ गठन’ 


jhabua news
झाबुआ । मध्यप्रदेश - मानव अधिकार एव सेवा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ नितिन सिंह चैधरी ,राष्ट्रीय कानूनी सलाहकार शम्भूनाथ मुखर्जी (पूर्व डीएसपी), ,के निर्देशन एवं प्रदेश अध्यक्ष कपिल मिश्रा, की अनुशंसा पर प्रदेश ,जिला सहित ब्लॉक स्तरीय कार्यकरिणी का गठन किया गया जिसमें प्रदेश उपाध्यक्ष, रामस्वरूप श्रीवास्तव , प्रदेश उपसचिव राज्यवर्धन दुबे , प्रदेश अतिरिक्त सचिव महेश श्रीवास्तव , प्रदेश सचिव संजय तिवारी ,प्रदेश महामंत्री डॉ गजेंद्र श्रीवास्तव , प्रदेश प्रकोषध्क्ष रमेशचंद शर्मा (पूर्व वनविभाग), प्रदेश सचिव दिनेश श्रीवास्तवराष्ट्रीय मीडिया प्रभारी युवा अमन वर्मा महेष्वर, दिल्ली  महाराष्ट्र संभागीय अध्यक्ष  दिलीप देशमुख नागपुर ,उत्तरप्रदेश जिला उपाध्यक्ष प्रिया गुप्ता बलिया, उत्तरप्रदेश जिला अध्यक्ष कमलेश साहू ललितपुर, मीडिया प्रभारी महिला आकांक्षा सिंह इंदौर , जिला उपाध्यक्ष सुनील सिंह राठौर इंदौर , संभागीय आसाराम साहू ग्वालियर ,उपसचिव उमेश श्रीवास्तव ग्वालियर जिला अध्यक्ष अनुपम पाण्डे भिंड, जिला अध्यक्ष अनिल श्रीवास्तव झाबुआ ,जिला अध्यक्ष दीपक श्रीवास्तव अशोकनगर, उपाध्यक्ष अंकित साहू , संयुक्त सचिव नरेंद्र शर्मा जिला अध्यक्ष जीवन श्रीवास्तव  उज्जैन, जिला उपाध्यक्ष अजय जैन ,सयुंक्त सचिव सौरव जैन सागर , जिला उपाध्यक्ष रजाक खान खंडवा , जिला उपाध्यक्ष करण भटनागर शिवपुरी , जिला प्रकोषध्क्ष अनिल श्रीधर शिवपुरी , जिला सचिव विनोद विकट शिवपुरी , जिला महासचिव राजेंद्र श्रीवास्तव  (पूर्व शासकीय प्रबंधक) शिवपुरी  जिला संयुक्त सचिव शिवम बुंदेला शिवपुरी , तहसील उपाध्यक्ष कपिल शर्मा करैरा तहसील उपाध्यक्ष ह्रदेश पाठक पिछोर, तहसील मीडिया प्रभारी उमेश लोधी पिछोर, तहसील वित्त सलाहकार महिला निधि भट्ट पिछोर , तहसील कोषाध्यक्ष महिला मंजू लोधी पिछोर,  ब्लॉक सचिव  देवेंद्र गुप्ता पिछोर , तहसील संयुक्त सचिव संतोष लोधी पिछोर, तहसील अध्यक्ष राकेश गुप्ता कोलारस, तहसील मीडिया प्रभारी संतोष शर्मा नरवर, ब्लॉक मीडिया प्रभारी शिवम पांडेय   खनियाधाना, ग्रामपंचायत उपाध्यक्ष नरेश साहू सेमरी को बनाया गया इसके अलावा  50 लोगों को अलग अलग जिम्मेदारी सौपी गयी। साथ ही 500 से ज्यादा सामान्य सदस्य जोड़े गए, एवं वर्ष 2021 की निःशुल्क सदस्यता जारी है संगठन जिला अधिकारियों एवं प्रदेशिक अधिकारियों से सम्पर्क कर या कार्यालय से सदस्यता ले सकते है ।


मप्र के जिलों में कोविड नियंत्रण के लिए मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को अलग-अलग जिलों के बनाए कोविड नियंत्रण प्रभारी, झाबुआ जिले का प्रभार हरदीपसिंह डंग को सौंपा


jhabua news
झाबुआ। मप्र मंे तेजी से बढ़ते कोविड के संक्रमण को देखते हुए मप्र के मुखिया षिवराजसिंह चैहान ने प्रदेष के अलग-अलग जिलों के लिए मंत्रियों को कोविड नियंत्रण प्रभारी बनाकर उन्हंे जिम्मेदारी सौंपी है। यह प्रभारी अपने-अपने जिलांे में निरंतर बैठके लेकर कोरोना की स्थिति की समीक्षा करेंगे। बाद आवष्यक निर्देष जिला प्रषासन एवं पुलिस प्रषासन को जारी करने के साथ मप्र के मुख्यमंत्री को भी जिलेवार कोविड की स्थिति से अवगत करवाएंगे। जानकारी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने बताया कि इसी क्रम में झाबुआ जिले का प्रभार हरदीपसिंह डंग को सौंपा गया है। श्री डंग मप्र लिजेसलेटिव असंेंबली आॅफ मप्र के सदस्य है तथा प्रदेष के वरिष्ठ भाजपा नेता होकर काफी अनुभवी एवं सक्रिय भी है। झाबुआ जिले के साथ उन्हें खरगोन जिले का भी कोविड नियंत्रण प्रभारी बनाया गया है। वे दोनो जिलांे में जाकर जिला स्तर की बैठके कर जिलों में कोविड की स्थिति पर समीक्षा, संसाधन, समन्वय स्थापित करने तथा जिले में कोविड केयर सेंटर बनाने की रूपरेखा आॅक्सीजन बेड़ बढ़ाए जाने, दवा आपूर्ति इत्यादि की व्यवस्थाएं देखते हुए जिला प्रषासन एवं पुलिस प्रषासन के अधिकारियांे को भी आवष्यक निर्देष जारी करंेगे। साथ ही जिलों की रिपोर्ट शासन स्तर पर भी प्रस्तुत करेंगे। फिलहाल मंत्री गोविन्दसिंह राजपूत अस्वस्थ होने एवं गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा मप्र से बाहर होने से उन्हें बाद मंे जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।


शासकीय बालक उमा विद्यालय रातीतलाई में कक्षा 9वीं एवं 11वीं के विद्यार्थियांे को वार्षिक परीक्षा प्रष्न-पत्र एवं उत्तर-पुस्तिकाओं का किया वितरण, करीब 300 छात्रों को हुआ वितरण


jhabua news
झाबुआ। स्थानीय शासकीय बालक उमा विद्यालय रातीतलाई में 12 अप्रेल, सोमवार को सुबह कक्षा 9वीं एवं कक्षा 11वीं के विद्यार्थियों को संस्था में बुलवाकर उन्हें वार्षिक परीक्षा के प्रष्न-पत्र एवं उत्तर-पुस्तिकाओं का वितरण किया गया। छात्रांे को सभी 6 विषयांे के प्रष्न-पत्र और उत्तर-पुस्तिकाएं प्रदान कर वह अपने घरांे पर ही प्रष्न-पत्र हल करने के बाद 6 दिनों बाद उत्तर-पुस्तिकाएं विद्यालय में जमा करवाएंगे। ज्ञातव्य रहे कि इस वर्ष माध्यमिक षिक्षा मंडल मप्र भोपाल के निर्देष पर बढ़ते कोविड के प्रकोप को देखते हुए लोकल कक्षाओं के विद्यार्थियों की वार्षिक परीक्षा के लिए उन्हें घर पर ही परीक्षा के प्रष्न-पत्र हल करने की सुविधा प्रदान की गई है। साथ ही उत्तर-पुस्तिकाओं का मूल्यांकन भी लोकल स्तर पर किया जाकर परीक्षाओं का परिणाम जारी किया जाएगा। इसी के तहत सोमवार को शासकीय बालक उमा विद्यालय रातीतललाई झाबुआ में भी संस्था के उच्च श्रेणी षिक्षक मुकेष जोषी, दीपक त्रिवेदी, ऋतुराजसिंह राठौर, षिक्षिका अरूणा सिंह आदि ने कक्षा 9वीं एवं 11वीं के छात्रों को संस्था में बुलवाकर उन्हंे क्लास में मास्क पहनकर और सोष्यल डिस्टेनसिंग के साथ बिठाकर वार्षिक परीक्षा के सभी 6 विषयों के प्रष्न-पत्र और उत्तर-पुस्तिकाएं प्रदान की गई।


6 दिन में करंेगे जमा

संस्था के उच्च श्रेणी षिक्षक मुकेष जोषी ने बताया कि इस दौरान संस्था के करीब 300 छात्रों को यह वार्षिक सामग्रीयां प्रदान की गई। प्रत्येक दिन में एक प्रष्न-पत्र छात्र द्वारा हल कर इस प्रकार 6 दिन में 6 विषयांे के प्रष्न-पत्र हल कर संस्था में जमा करवाएंगे। जिसके बाद संस्था में उत्तर-पुस्तिकाओं की जांच कर उस आधार पर विद्यार्थियों के परीक्षा परिणाम जारी किए जाएंगे।


जला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित हुई


jhabua news
झाबुआ। कोविड-19 के संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिए गठित जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक सोमवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में प्रभारी कलेक्टर श्री सिद्धार्थ जैन की अध्यक्षता में आयोजित हुई। श्री जैन ने कहा कि जिले में ग्रामीण हाट बाजार बन्द रहेंगे। विवाह बन्द हाल में 50 लोग तथा खुली जगह में 100 लोग शामिल हो सकेंगे। डीजे पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध रहेगा। ग्रामीण क्षेत्र में कोटवार विवाह की सूचना तत्काल देवेगे। पटेल विवाह में कितने लोग उपस्थित रहेगें इसकी सूचना प्रशासन को देंगे। साथ ही विवाह में कम से कम लोग शामिल हो और दिन में विवाह कार्यक्रम आयोजित हो इस बात का भी विषेश ध्यान रखे। श्री जैन ने कहा कि कोरोना कफर््यू के लिए शासन को अनुमति के लिए प्रस्ताव भेजा जावेगा। श्री जैन ने स्पष्ट किया कि भविष्य जिले में कोरोना के प्रकरण बढ़ जाने की स्थिति में बैठक नहीं होगी और बैवीनार के माध्यम से यह बैठक रखी जावेगी। सांसद श्री गुमानसिंह डामोर ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए हैं कि वे अपने स्वास्थ्य केन्द्रो, फीवर क्लीनिक को और अधिक मजबूत बनाए। जिला अस्पताल से लोग नाराज होकर न जाए। ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। आईसीयू को तत्काल चालू किया जावे। श्री डामोर ने कहा कि व्यापारियों द्वारा उपभोक्ताओं द्वारा मास्क नहीं लगाने पर सामान नहीं दिया जाता है। यह बात ठीक नहीं है। व्यापारियों को चाहिये की वे उपभोक्ताओं को मास्क उपलब्ध कराकर मास्क की राशि शामिल कर सामान उपलब्ध कराए। श्री डामोर ने पुलिस प्रशासन द्वारा जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं नियत्रंण के लिए रोको-टोको अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान की प्रशंसा की। साथ ही जिला प्रशासन तथा पुलिस प्रशासन की पुरी टीम के प्रशंसा करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए जिले सराहनीय प्रयास किए जा रहे है। पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि पूर्व में जारी आदेश में रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक शहरी क्षेत्र में लाॅकडाउन रहेगा। उसमें पूर्व की भांति कड़ाई से आदेश का पालन कराया जा रहा है। रोको-टोको अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया गया है। इस बैठक में विधायक थांदला श्री वीरसिंह भूरिया तथा भाजपा जिलाध्यक्ष श्री लक्ष्मणसिंह नायक तथा समिति के अन्य सदस्यों ने भी अपने-अपने सुझाव दिए। इस बैठक में अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री सोहन कनास, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला सुश्री ज्योति परते, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री एल.एन.गर्ग सहित समिति के अन्य सदस्यगण उपस्थित थे।


भाजपा जिला मीडिया प्रभारी ने सपत्निक कोरोना से रोकथाम की वेक्सीन लगाकर जिले के नागरिकों को दिया जागरूकता का संदेष

  • टीका महोत्सव के तहत वेक्सीन लगवाने के लिए आने वाले महिला-पुरूषों को भी किया प्रेरित

jhabua news
झाबुआ। देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर संपूर्ण भारत में भाजपा द्वारा 11 अप्रेल ज्योति बा फूलेजी की जयंती से लेकर 14 अप्रेल डाॅ. भीमराव अंबेडकर की जयंती तक आयोजित टीकाकरण महोत्सव के दूसरे दिन 12 अप्रेल, सोमवार को दोपहर भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने अपनी धर्मपत्नि श्रीमती सरोज नाहर के साथ जिला चिकित्सालय के टीकाकरण केंद्र पर पहुंचकर टीका लगवाया। साथ ही इस दौरान उन्होंने टीका लगवाने के लिए आने वाले अन्य महिला-पुरूषों को भी प्रेरित किया। भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणंिसह नायक के मार्गदर्षन एवं उनके निर्देष पर भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर जागरूकता का ंसदेष देते हुए सोमवार को दोपहर अपनी धर्मपत्नि श्रीमती नाहर एवं दादी श्रीमती मोहनबाई नाहर के साथ जिला चिकित्सालय पहुंचे। यहां वेक्सीनेषन सेंटर मंें प्रवेष कर नाहर दंपति ने कोविड से रोकथाम हेतु वेक्सीन का पहला डोज लगाया। वहीं उनकी दादी श्रीमती मोहनबाई ने वेक्सीन का दूसरा डोज लगाकर जिलेवासियों को संदेष दिया कि 45 वर्ष और इसमें अधिक उम्र के प्रत्येक व्यक्ति अपने-अपने समीपस्थ स्वास्थ्य केंद्रांे पर पहुंचकर टीका केंद्रों पर आवष्यक रूप से वेक्सीन लगवाए। यह पूरी तरह से सुरक्षित होकर कोरोना जैसी जानलेवा और खतरनाक महामारी से बचाव के लिए महत्वपूर्ण है। विषेषकर ग्रामीण क्षेत्रों के लोग किसी भी प्रकार के भ्रम और बहकावे में ना आते हुए, इस आयु सीमा में आने वाले ग्रामीणजन शत-प्रतिषत वेक्सीन लगाकर जागरूकता का परिचय दे।


टीका महोत्सव के तहत किया प्रेरित

इस दौरान भाजपा जिला मीडिया प्रभारी श्री नाहर ने भाजपा जिलाध्यक्ष के मार्गदर्षन एवं निर्देषानुसार ही जिला चिकित्सालय के टीकाकरण केंद्र पर टीका लगवाने के लिए आए नागरिकांे को भी वेक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया। जिला मीडिया प्रभारी श्री नाहर ने उन्हें बताया कि पहला डोज आज लगने के बाद दूसरा डोज आपको 28 दिन बाद लगवाना है। इस दौरान इस कार्य में विषेष सहयोग टीकाकरण केंद्र में पदस्थ नर्सेस सुनिता डामोर एवं शाहिन मंसूरी ने प्रदान किया।


कोविड वैक्सीनेशन के बाद भी हो रहा कोरोना - दर्जनभर स्वास्थ्य कर्मी भी कोरोना की चपेट में, झबुआ में बेड व ऑक्सीजन की कमी अन्य राज्यों में भी ईलाज नही


jhabua news
थांदला। झाबुआ ही नही अपितु पूरे देश मे कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है ऐसे में शासन प्रशासन कोरोना संक्रमण की चैन तोड़ने व उससे देश की जनता को बचाने का भरसक प्रयास कर रहा है, वैक्सीनेशन उनके द्वारा किये जा रहे प्रयासों में से एक है। लेकिन जब कोरोना की वैक्सीन लगाने के बाद भी यदि किसी को कोरोना हो जाये तो फिर वैक्सीन पर प्रश्न खड़े हो जाते है। जी हाँ वर्तमान समय में जिला स्वास्थ्य विभाग के दर्जनभर स्वास्थ्यकर्मी जिनमें स्वयं सीएमएचओ भी आते है कोरोना के दोनों टीका लगाने के बावजूद इसके संक्रमण का शिकार हो चुके है हालांकि इसका कोई आधिकारिक आंकड़ा उपलब्ध नही हो पाया है लेकिन जिला प्रबंधन ने माना है कि वैक्सीनेशन के बावजूद कुछ लोग कोरोना की चपेट में आये है। जिला स्वास्थ्य कर्मियों के कोरोना संक्रमित होने से लोगों में कोरोना संक्रमण के दौर में कोरोना टीकाकरण को लेकर जो उत्साह था वह कम होता नजर आ रहा है। ऐसे में जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया की यह सच है कि कोरोना टीका लगने के बाद भी कुछ लोगों को कोरोना हो गया है लेकिन उनके लिए वैक्सीन कोरोना से लड़ने का काम करेगा व उनका न तो ऑक्सीजन लेवल कम होगा और न ही उन्हें अस्पताल में गम्भीर रूप से भर्ती होना पड़ेगा ऐसे में उनके लिए कोरोना ज्यादा घातक नही होगा। इसलिए जिला स्वास्थ्य विभाग ने भी जिलें की जनता से कोरोना वैक्सीन लगाने की अपील की है। इधर कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है जिसे देखते हुए झाबुआ में आइसोलेशन केंद्र व आईसीयू वार्ड पर काम चल रहा है सूत्रों की माने तो जिले में सैकड़ो मरीज कोरोना की चपेट में आये हुए है जिनमें कुछ ऐसे भी है जिनका ऑक्सीजन लेवल कम है या अस्थिर है तो कुछ ऐसे भी है जिनको कभी भी ऑक्सीजन की जरूरत पड़ सकती है लेकिन जिला अस्पताल में इसके पर्याप्त इंतजाम नही है बेड की भी कमी है तो ऑक्सीजन भी उपलब्ध नही है ऐसे में मरीजों को अन्य राज्यों में जाना पड़ रहा है लेकिन वहाँ पर भी केस बढ़ने से वे मरीजों को उनकी ही रिस्क पर भर्ती कर रहे है। थांदला व आसपास के कुछ मरीजों का कहना है कि उन्हें निजी अस्पताल में ईलाज करवाना पड़ रहा है जहाँ शासकीय दर के स्थान पर अतिरिक्त दरों वाला बांड भरवाया जा रहा है व मनमानी राशि वसूली जा रही है। आपको बता दे झाबुआ में लगभग 50 लाख की लागत से कोविड सेंटर बनाया जा चुका है लेकिन बड़े मंत्री से इसके शुभारंभ के चक्कर में इसे चालू नही किया गया है जिसका खामियाजा जिले की जनता अपनी जान से चुका रही है।


कोरोना में बड़ा देसी ईलाज पर भरोसा - आज भी टाइफाइड में कारगर ईलाज है जड़ी बूटी युक्त माला


jhabua news
थांदला। आज पूरा देश कोरोना संक्रमण से त्रस्त है जबकि कोरोना संक्रमण का कोई वैज्ञानिक हल नही मिल पाया है ऐसे में देश की जनता खासकर वनांचल में देशी ईलाज पर ज्यादा भरोसा जताया जा रहा है। आजकल वायरल बुखार हो या वर्तमान की महामारी कोरोना यहाँ के आदिवासी झाड़फूंक में विश्वास करते है या फिर जड़ीबूटी वाली माला में। एक विशेष प्रकार की अंचल खासकर गुजरात के जंगलों में पाई जाने वाली आहाजाल नाम से प्रसिद्ध जड़ीबूटी को आदिवासी लम्बे समय से होने वाले बुखार जिसे हम टाइफाइड कहते है में दवाई के रूप में इस्तेमाल करते है। पीड़ी दर पीड़ी इस देशी औषधि की माला बनाने वाले कुंवरसिंह बारिया कहते है कि बीमार मरीज के बुखार में यह माला गले मे पहनाई जाती है जो माला के मुरझाने के साथ साथ वह पीड़ित रोगी बुखार से पूर्णतः स्वस्थ्य हो जाता हैस उनके मुताबिक सैकड़ो लोग प्रतिदिन आ रहे है व इस देश ईलाज से ठीक भी हो रहे है। आज जब शासकीय अस्पतालों की हालत खराब है जगह जगह नो सीखिए फर्जी डिग्री धारी बंगालियों की दुकानें खुल गई है ऐसे में देशी ईलाज का यह कारगार उपाय आज भी अपनाया जा रहा है। अब शासन प्रशासन जनता को स्वास्थ्य सुविधा नही दे पा रहा है तो ऐसे में उसे इन देशी ईलाज की शरण में जाने वाले लोगों को रूढ़ि परम्परा या गलत धारणा कह कर रोकने का भी कोई अधिकार नही है।


लॉक डाउन खुलने के बाद भी जारी है सीमाओं पर पहरा


jhabua news
थांदला। लॉक डाउन खुल जाने के बाद भी मध्यप्रदेश को संक्रमण से बचाने की कवायद में प्रशासन पूरी तरह सक्रिय नजर आ रहा है। नगर के दोनों सीमावर्ती राज्य राजस्थान व गुजरात बॉर्डर पर स्वास्थ्य विभाग, पुलिस व राजस्व कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है जो मध्यप्रदेश की सीमा में प्रवेश करने वाले हर नागरिकों की स्क्रीनिंग कर उनके आने जाने का कारण आदि जानकारी ले रहे है। आपको बता दे लॉक डाउन खुलने के बाद सीमावर्ती राज्यों से आवागमन चालू है लेकिन सभी राज्य अपनी अपनी क्षेत्र की सुरक्षा कुछ इसी तरह से कर रहे है। उनका मकसद बस अनायास बेवजह घूमने वालों पर लगाम लगाना है जिससे कोरोना की चेन रोकी जा सके व देश जल्द कोरोना मुक्त हो सके।


निविदा आमंत्रित


झाबुआ,। उप सचिव म.प्र. शासन महिला एंव बाल विकास विभाग भोपाल के निर्देशानुसार झाबुआ जिले मंे संचालित एकीकृत बाल विकास परियोजना झाबुआ (शहरी) एवं नगरपंचायत पेटलावद, थांदला, मेघनगर, झाबुआ एवं रानापुर में संचालित आंगनवाडी केन्द्रो में दर्ज 3 से 6 वर्ष तक के बच्चों, गर्भवती-धात्री माताओं, किशोरी बालिकाओं के लिये निर्धारित मीनू अनुसार ताजा पका हुआ पूरक पोषण आहार प्रदाय करने हेतु स्वयं की स्थापित ईकाई वाले इच्छुक महिला स्व-सहायता समूह से निविदा आमंत्रित की गई है। केवल ऐसे क्रियाशील महिला स्व सहायता समूह जो राष्ट्रीय शहरी अजीविका मिशन, राज्य शहरी आजीविका मिशन के पंजीकृत महिला स्व-सहायता समूह से होकर इन समूहो के 3 वर्ष की आधार सीडेड बैंक खाता से बचत राशि शेष होना चाहिए। इस हेतु निविदा 16 अपै्रल 2021 तक इस कार्यालय में प्रस्तुत करे।

कोई टिप्पणी नहीं: