बेतिया : कोविड-19 अस्पताल में सभी व्यवस्थाएं रखें अपडेट : डीएम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 8 अप्रैल 2021

बेतिया : कोविड-19 अस्पताल में सभी व्यवस्थाएं रखें अपडेट : डीएम

  • जिलाधिकारी ने जिलेवासियों से की अपील-मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें, आपस में 02 गज की दूरी बनाकर रखें, सावधानी ही सुरक्षा है...

dm-order-covid-guidelene
बेतिया। बिहार में वैश्विक कोविड-19 का कहर 2021में भारी है।आज 1527 कोरोना पॉजिटिव का मरीज मिले।बढ़ते कोरोना का संक्रमण पर ब्रेक लगाने के लिए मास्क और 02 गज की दूरी का अनुपालन सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया गया।सड़कों पर निकलने वाले लोगों तथा सार्वजनिक परिवहन की गहन जांच कर मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया गया। पश्चिम चम्पारण के जिलाधिकारी श्री कुंदन कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पूरी सख्ती के साथ मास्क पहनने और 02 गज की दूरी सहित अन्य कोविड-19 प्रोटोकाॅल का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय। उन्होंने कहा कि इसके लिए सड़कों पर लगातार जांच अभियान चलाया जाय और मास्क नहीं पहनने और सामाजिक दूरी का पालन नहीं करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई की जाय, निर्धारित जुर्माना लगाया जाय। जिलाधिकारी कार्यालय प्रकोष्ठ में कोविड-19 से संबंधित समीक्षात्मक बैठक में अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट में अधिकतम 50 प्रतिशत क्षमता से ज्यादा किसी भी परिस्थिति में अनुमान्य नहीं होगा। यह व्यवस्था 05 अप्रैल से 15 अप्रैल तक लागू रहेगी। जिला परिवहन पदाधिकारी, मोटर यान निरीक्षक, अवर प्रवर्तन पदाधिकारी को दृढ़तापूर्वक अनुपालन सुनिश्चित करायेंगे। साथ ही वाहनों में मास्क आदि की जांच के लिए अभियान चलाने, बस स्टैंण्ड में कोरोना से बचने के लिए सुरक्षात्मक उपाय का माईकिंग के माध्यम से प्रचार-प्रसार करने का निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि देश के अन्य राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से फैल रहे हैं। उन राज्यों से जिले के लोगों के वापस आने की संभावना है। इसे ध्यान में रखते हुए प्रखंड स्तर पर क्वारंटाइन सेंटर की व्यवस्था की जाय। क्वारंटाइन सेंटर में सभी व्यवस्थाएं अपडेट रखी जाय। जिन क्षेत्रों में कोरोना के मामले हैं, वहां केटेंनमेंट जोन बनाकर कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम की जाय। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले लोगों एवं उनके सम्पर्क में आने वाले लोगों पर नजर रखें तथा हर हाल में उनकी जांच कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण का काम तेजी से कराएं। सेकेंड डोज के टीकाकरण के लिए भी लोगों को अलर्ट करते रहें। अधिक से अधिक टीकाकरण होने से कोरोना संक्रमण का असर कम से कम होगा। साथ ही सभी फ्रंट लाइन वर्कर और हेल्थ केयर वर्कर जो कार्य में लगे हैं उन सभी की टेस्टिंग करायी जाय और उनके संपर्क में आने वाले उनके परिजनों आदि की भी जांच करायी जाय।  उन्होंने कहा कि कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए गृह मंत्रालय, भारत सरकार के कोविड-19 संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए जारी अद्यतन दिशा-निर्देश तथा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा कार्यस्थलों, धार्मिक स्थल, शाॅपिंग माॅल, होटल एवं रेस्टोरेंट आदि के संचालन के संबंध में निर्गत अद्यतन मानक संचालन प्रक्रियाओं का अक्षरशः एवं कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाय।  उन्होंने कहा कि कोविड रोगियों के उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी अद्यतन दिशा-निर्देश के आलोक में जीएमसीएच सहित जिले के सभी सरकारी एवं चयनित गैरसरकारी स्वास्थ्य संस्थाओं में सभी व्यवस्थाएं अपडेट रखी जाय ताकि विषम परिस्थिति में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े।  जिलाधिकारी ने कहा कि गृह मंत्रालय द्वारा जारी निर्देश के आलोक में दिनांक-05.04.2021 से अप्रैल माह के अंत तक सार्वजनिक स्थलों पर किसी भी प्रकार के सरकारी एवं निजी आयोजनों पर रोक लगायी गयी है। उक्त रोक विवाह, श्राद्ध एवं अन्य पारिवारिक कार्यक्रमों पर लागू नहीं है। श्राद्ध में अधिकतम 50 एवं विवाह में अधिकतम 250 व्यक्ति सम्मिलित हो सकते हैं। इसका अनुपालन कराना सुनिश्चित किया जाय। साथ ही श्राद्ध एवं विवाह में कोविड-19 प्रोटोकाॅल का शत-प्रतिशत अनुपालन भी सुनिश्चित करायी जाय। उन्होंने कहा कि भीड़भाड़ वाले स्थलों यथा-फूड, कोर्ट, जलपान गृह, सब्जी मंडी, बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन, रेहड़ी आदि पर व्यक्तियों के जमावड़े को नियंत्रित करने के लिए अधिक से अधिक पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति सुनिश्चित की जाय। साथ ही दिनांक-05.04.2021 से खुलने वाले स्कूल, काॅलेज एवं कोचिंग क्लासेज अब दिनांक-11.04.2021 तक बंद रहेंगे। पूर्व निर्धारित परीक्षाएं स्कूल/काॅलेज प्रबंधन आवश्यकतानुसार कोविड-19 प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए कर सकेंगे। इसका सख्ती के साथ अनुपालन सुनिश्चित किया जाय। यह ध्यान रखा जाय कि किसी भी सूरत में स्कूल, काॅलेज एवं कोचिंग क्लासेज संचालित नहीं हो।  जिलाधिकारी ने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण के प्रति सभी सजग रहें, कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करें। सभी लोग मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें, आपस में 02 गज की दूरी बनाकर रखें एवं समय-समय पर हाथ को सैनेटाइजर अथवा साबुन से अच्छे तरीके से साफ करते रहें। सावधानी ही सुरक्षा है।

कोई टिप्पणी नहीं: