सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 07 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 8 अप्रैल 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 07 अप्रैल

कोरोना महामारी से बचना है की मास्क एवं दो गज की दूरी है जरूरी- विधायक सुदेश राय

  • पंचायत एवं ग्रामीण विकास अभियंता संघ ने शुरू किया कोरोना बचाव अभियान

sehore news
सीहोर। कोरोना जैसी संक्रमित बीमारी से बचने के लिए मास्क एवं दो गज की दूरी का पालन करना प्रत्येक नागरिक के लिए अनिवार्य हो गया है प्रत्येक नागरिक को कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लगवाना भी जरूरी है उक्त बात बुृधवार को चिंतामन गणेश मंदिर प्रांगण से पंचायत एवं ग्रामीण विकास अभियंता संघ जिला समिति द्वारा आयोजित कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश व्यापी जनजागरूकता अभियान शुभारंभ कार्यक्रम में विधायक सुदेश राय के द्वारा कहीं गई। शुभारंभ कार्यक्रम की अध्यक्षता पंचायत एवं ग्रामीण विकास अभियंता संघ प्रांताध्यक्ष इंजी. धर्मेन्द सिंह तोमर के द्वारा की गई । ग्रामीण विकास अभियंता संघ द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश व्यापी जनजागरूकता अभियान चला रहा है। जिस के तहत ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के नागरिकों को कोरोना बचाव के स्लोगन सहित स्टीकर वाहनों पर लगाए जाएंगे। जिले में 10 हजार मास्क बांटने का लक्ष्य संघ द्वारा रखा गया है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक सुदेश राय और ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संघ के सदस्यों द्वारा सभी राहगीरों को मास्क का वितरण भी किया गया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से पूर्वं भाजपा जिला अध्यक्ष सीताराम यादव राजेश राठौर,  राजकुमार गुप्ता,  संतोष शमाज़्, अनिल शर्मा, सुप्रिया दुफारे, प्रमोद त्यागी,गौतम शाह,आर.एस. तोमर, आर.एस. कोरी.दीपेश रावल,  प्रमोद राठौर, शशि कुमार झा, नोमान उरज़्हमान, एम.एस. अहिरवार,इंजी. ए0के0 पंथी आदि उपस्थित रहे।


भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष ने मरीजों को किया फलों का वितरण, जनसेवा के लिए नर्मदा हॉस्पिटल के डॉक्टर नर्स की कुशवाह ने की प्रशंंसा

  • नागरिकों के स्वास्थ्य संवर्धन के संकल्प के साथ कर रहे है जनता की सेवा- बाघेला

sehore news
सीहोर। नर्मदा हॉस्पिटल के चिकित्सक जनहित में अच्छी सेवा जरूरतमंद गरीब मरीजों को उपलब्ध करा रहे है। स्पर्धा के दौर में जन कल्याण की भावना से अस्पताल संचालित करना कठित लेकिन आत्मशांति प्रदान करने वाला सुखद कार्य है उक्त बात बुधवार को भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष भगत सिंह कुशवाहा ने कहीं। उन्होने नर्मदा हॉस्पिटल पहुंचकर भाजपा के स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में मरीजों और उनके परिजनों को फलों का वितरण किया। नर्मदा अस्पताल के संचालक एवं महाराणा प्रताप संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञान सिंह बाघेला ने अस्पताल के स्टाफ के साथ भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष श्री कुशवाहा और भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश प्रभारी दर्शन सिंह चौधरी का पुष्प मालाओं से स्वागत किया। स्वागत अवसर पर श्री बाघेला ने कहा की नागरिकों के स्वास्थ्य संवर्धन के संकल्प के साथ जनता की सेवा करना हीं हमारा परम लक्ष्य है। भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष श्री कुशवाहा और भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश प्रभारी श्री चौधरी ने  नर्मदा अस्पताल के सभी वार्डो में पहुंचकर मरीजों को फल वितरण के दौरान परिजनों से कुशलछेम जानी और अस्पताल के द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे ईलाज की भी जानकारी ली। नर्मदा अस्पताल संचालक श्री बाघेला ने कहा की केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा दी गई कोरोना गाइडलाइन का पूर्ण रूप से पालन किया जा रहा है। अस्पताल में मरीजों को सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रहीं है। फल वितरण के दौरान पिछड़ा वर्ग जिला भाजपा प्रकोष्ठ के कमलेश कुशवाहा पूनम चंद्र कुशवाहा सहित अस्पताल के डॉक्टर नर्स और कर्मचारी गण उपस्थित रहे।


सायलो केंद्र में ट्रेक्टरों पर बैठे ग्रामीणों को पहनाए मास्क, कार्यकर्ताओं ने पंपलेट बांटकर दिया जागरूकता का संदेश

  • भाजपा पंचायतीराज प्रकोष्ठ और श्यामपुर मंडल ने शुरू किया जन जागरूकता अभियान

sehore news
सीहोर। सायलो केंद्र के अंदर बाहर ट्रेक्टरों ट्रालियों पर बैठे सैकड़ों ग्रामीणों को भाजपा कार्यकर्ताओं के द्वारा कोरोना वायरस से सुरक्षा के लिए मास्क पहनाए गए। भाजपा कार्यकर्ताओं ने पंपलेट बांटकर मास्क लगाने, दो गज की दूरी रखने,सैनीटाईजर साबून का उपयोग करने का संदेश देकर किसानों को जागरूक किया।  बुधवार को भाजपा पंचायतीराज प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष वरिष्ठ भाजपा नेता पंडित महेश दुबे और श्यामपुर मंडल अध्यक्ष दिनेश मेवाड़ा के संयुक्त नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ता ने जन जाग्रती अभियान का शुभांरभ मंडी स्थित सायलो के केंद्र से शुभारंभ किया। अभियान अंतर्गत भाजपा कार्यकर्ताओं के द्वारा विभिन्न गांवों से ट्रेक्टरों ट्रालियों के माध्यम से शासकीय गेंहू उपार्जन केंद्र सायलो में गेंहू विक्रय करने पहुंचे किसानों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए मेडिकली मास्क पहनाए और जीवन सुरक्षा के लिए के संदेश लिखित जागरूकता के लिए पंपलेटों का वितरण किया।  भाजपा पंचायतीराज प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष वरिष्ठ भाजपा नेता पंडित महेश दुबे ने बताया की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,मुख्यमत्री शिवराज सिंह चौहान और क्षेत्रीय विधायक सुदेश राय के द्वारा निरंतर नागरिकों को कोविड 19 से सुरक्षित रखने के प्रयास किए जा रहे है। स्वास्थ्य विभाग का अमला अस्पतालों में कोविड वायरस को लेकर टीका करण कार्य कर रहा है अब तक लाखों नागरिकों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। कोरोना संक्रमण रोकने के लिये भाजपा पंचायतीराज प्रकोष्ठ और श्यामपुर भाजपा मंडल के द्वारा जन जागृति अभियान शुरू कर दिया गया है। पंडित श्री दुबे ने कहा की जन जागृति के लिए दस हजार पंपलेट छपवाए गए है और दस हजार मास्क सूती कपड़े के बनवाए गए है। एक लाख से अधिक  नागरिकों के मध्य पहुंचने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है आवश्यकता पडऩे पर अधिक मास्क और पंपलेटों की व्यवस्था भी की जाएगी। जन जागृति अभियान में श्यामपुर तहसील क्षेत्र के प्रत्येक गांव में पहुंचकर ग्रामीणों को कोरोना महामारी से सचेत रहने के लिए कहा जाकर जरूरी जानकारी उपलब्ध कराई जाएंगी। जन जागृति अभियान में प्रमुख रूप से राहुल पाठक, नरेंद्र राजपूत, विजय दुबे, सुरेश दांगी, राधेश्याम मेवाड़ा, अजय दुबे, दिलीप गांधी सहित बड़ी संख्या में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता शामिल रहे।


‘‘मैं कोरोना वालेटिंयर‘‘ अभियान प्रारंभ, कोरोना को रोकने प्रशासन और समाज मिलकर करेगा काम


कोरोना संक्रमण की प्रभावी रोकथाम के लिए सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयासों के साथ समाज को सक्रिय रूप से भागीदार बनाने के उद्धेश्य से राज्य शासन द्वारा ‘‘मैं कोरोना वांलेटिंयर‘‘ अभियान प्रांरभ किया गया है। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने सभी जिला अधिकारियों को स्वयंसेवक के रूप में अधिक से अधिक पंजीयन कर कोरोना संक्रमण रोकथाम के जिले जनजागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता बताया कि वालेटिंयर लिंक http:// mapit.gov. in/covid19/login.aspx पर जाकर अधिक से अधिक स्वयंसेवक के रूप में अपना पंजीयन करवाएं तथा 181 पर कॉल करके भी अपना पंजीयन करवा सकते है। कोरोना संक्रमण रोकथाम हेतु समाज को जागरूक करने के लिये सभी को मिलकर प्रायास करना होगा। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में जिले के स्वयंसेवको को कोरोना की रोकथाम के लिए जन जागरूकता कार्यक्रमों एंव सेवा कार्यो में सहभागी बनाया जायेगा। उन्होने बताया कि जागरूकता अभियान में स्वयंसेवी संगठन, सामाजिक एंव धार्मिक संगठन, विभिन्न राजनैतिक संगठनों के अलावा विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं से भी इस अभियान में शामिल होने के लिये आव्हान किया गया है।  उन्होने कहा कि वालेटिंयर्स का पंजियन चार श्रेणियों की निर्धारित उप श्रेणियों में किया जाएगा। उन्होने सभी जिला अधिकारियों को वालेटिंयर्स के पंजियन कराकर वालेटिंयर्स की नाम, पता, मोबाईल नंबर की सूची जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं।


जिले में एक दिन में सर्वाधिक टीकाकरण, नसरुल्लागंज के छह टीकाकरण केंद्रों पर हुआ 1963 लोगों का टीकाकरण, कलेक्टर ने की टीकाकरण कार्य की समीक्षा


sehore news
कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा कोविड-19 की सतत् मॉनिटरिंग के कारण टीकाकरण की गतिविधि में तेजी आई है। आज नसरुल्लागंज के 6 टीकाकरण केंद्रों में 1965 लोगों का टीकाकरण किया गया। एसडीएम श्री डीएस तोमर ने बताया की यह अब तक का जिले में  किसी अनुभाग का एक दिन की सबसे ज्यादा टीकाकरण की संख्या है।  उन्होंने बताया कि टीकाकरण को गति देने के लिए जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों तथा प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा लगातार लोगों से टीका लगवाने की अपील की जाती रही है। उन्होंने यह भी बताया कि कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने नसरुल्लागंज में टीकाकरण की समीक्षा की और उन्होंने निर्देश दिए कि निरंतर टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित किया जाए। लोगों को यह बताया जाए कि मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग और टीकाकरण ही कोरोना से बचाव का उपाय है। नसरुल्लागंज अनुभाग की विकास एवं निर्माण कार्यों की संबंधी गतिविधियों की समीक्षा करते हुए श्री अजय गुप्ता ने सभी कार्य समय सीमा में पूर्ण किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने संभागायुक्त श्री कविंद्र कियावत द्वारा शुरू किए गए जल संचयन अभियान की नियमित समीक्षा करने और जल संचयन के शुरू किए गए कार्यों को गति देने के निर्देश दिए हैं। आज तहसील नसरुल्लागंज अंतर्गत मास्क के लिए रोको टोको अभियान में कुल 107 चालान काटे गये। जिसमें कुल 5350 रुपये का जुर्माना लगाया गया ।  सभी को मास्क लगाने हेतु प्रेरित किया गया एवं निशुल्क मास्क का वितरण भी किया गया।


अब 08 मई को आयोजित होगी नेशनल लोक अदालत


मप्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 10 अप्रैल को आयोजित की जाने वाली नेशनल लोक अदालत की तिथि में न्यायिक अधिकारियों के स्थानांतरण एवं कोविड-19 बढ़ते प्रकोप में प्री-सिटिंग निर्धारित करने में बाधाओं को दृष्टिगत रखते हुए परिवर्तन किया गया है। अब 10 अप्रैल के स्थान पर 08 मई को जिला न्यायालय सहित तहसील न्यायालयों में नेशनल लोक अदालत आयोजित की जाएगी।


कक्षा 9वी से 12वीं तक की वार्षिक एवं प्री-बोर्ड परीक्षाओं संबंधी निर्देश जारी., परीक्षा आयोजन के लिए होंगे दो विकल्प


स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) और सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री श्री इन्दर सिंह परमार के निर्देश पर कोरोना वायरस संकमण के दृष्टिगत परीक्षाओं के आयोजन के संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग ने आदेश जारी किए हैं। परीक्षाओं के आयोजन के संबंध में सभी जिलों के कलेक्टर, जिला शिक्षा अधिकारी और सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग को जिम्मेदारी सौंपी गई है। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा वार्षिक परीक्षा तथा प्री-बोर्ड परीक्षाओं के लिये दो विकल्प दिये गये हैं। विकल्प एक अनुसार ऑनलाईन परीक्षा का आयोजन होगा। विकल्प दो अनुसार विद्यार्थियों को प्रश्न पत्र विद्यालयों से वितरित होंगे, जिसे विद्यार्थी घर पर हल कर विद्यालय द्वारा निर्धारित समय सीमा में अपने विद्यालय में जमा करेंगे। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी इस आदेश के अनुसार प्रदेश के सभी शासकीय विद्यालयों में कक्षा 9वी एवं 11वीं की वार्षिक परीक्षा तथा कक्षा 10वीं एवं 12वीं की प्री-बोर्ड परीक्षा के प्रश्न पत्र विद्यालयों से वितरित होंगे, जिसे विद्यार्थी घर पर हल कर विद्यालय द्वारा निर्धारित समय सीमा में अपने विद्यालय में जमा करेंगे। जबकि अशासकीय विद्यालयों को यह छूट होगी की वे या तो ऑनलाइन परीक्षाएं संचालित कर ले या फिर शासकीय विद्यालयों की तरह विद्यार्थियों से घर पर प्रश्न पत्र हल कराकर विद्यालय में जमा कराके मूल्यांकन करें। कक्षा 10वीं एवं 12वीं की प्रायोगिक परीक्षायें एवं वार्षिक परीक्षायें संबंधित बोर्ड माध्यमिक शिक्षा मण्डल, सीबीएसई, आईसीएसई आदि के निर्देश के अनुसार आयोजित की जायेंगी।


कोरोना के नियंत्रण एवं उपचार में कोई कोर-कसर न रहे

  • अस्पतालों में सर्वश्रेष्ठ उपचार सुविधाएँ मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना के नियंत्रण एवं उपचार में कोई कोर-कसर न रहे। अस्पताल में कोरोना के उपचार की सर्वश्रेष्ठ व्यवस्थाएँ करें। जाँच, दवा, इंजेक्शन, बेड्स आदि की कोई कमी न रहे। इस कार्य में धन की बिल्कुल कमी नहीं आने दी जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान मिंटो हॉल परिसर में बनाए गए अस्थाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कक्ष से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की जिलेवार समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, डीजीपी श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान, अपर मुख्य सचिव गृह श्री राजेश राजौरा आदि उपस्थित थे।


प्रभारी अधिकारियों की भूमिका सराहनीय

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रत्येक जिले में कोरोना संबंधी व्यवस्थाओं के लिए तैनात प्रभारी अधिकारी निरंतर अपने जिलों का भ्रमण कर वहाँ सारी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित कर रहे हैं। उनकी भूमिका सराहनीय है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिन जिलों में संक्रमण ज्यादा है, वहाँ संक्रमण रोकने तथा जहाँ संक्रमण नहीं है, वहाँ संक्रमण न फैले इस संबंध में समस्त आवश्यक कदम उठाए जाएँ।


कमांड एंड कंट्रोल सेंटर प्रभावी मॉनीटरिंग करें

मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिया कि जिलों में होम आइसोलेशन के मरीजों की निगरानी के लिए बनाए गए कमांड एवं कंट्रोल सेंटर कोरोना मरीजों की प्रभावी मॉनिटरिंग करें। मरीजों से दिन में कम से कम 2 बार बात की जाए।


हैल्प डेस्क स्थापित करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी मेडिकल कॉलेज अपने यहाँ हैल्पडेस्क स्थापित करें तथा कोरोना के संबंध में लोगों की मदद करें। आवश्यकता होने पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मरीज से डॉक्टर की बातचीत भी करवाई जाए। इलाज के लिए टेलीमेडिसिन का भी उपयोग किया जाए।


हर जिले में प्रारंभ करें कोविड केयर सेंटर

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि हर जिले में कोविड केयर सेंटर प्रारंभ किया जाए। जिन जिलों में आवश्यकता है वहाँ विकासखंड और तहसील स्तर पर भी आइसोलेशन सेंटर तथा आवश्यक चिकित्सा सुविधा विकसित की जाएँ।


समय से मिल जाए जाँच रिपोर्ट

मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि कोरोना जाँच के पश्चात उसकी रिपोर्ट समय पर मिल जाए यह सुनिश्चित करें। यदि शासकीय लैब में अधिक जाँच आ जाती हैं तो निजी लैब में भी निर्धारित दर पर टेस्टिंग के लिए सैंपल भेजे जाएँ।


टीकाकरण का टारगेट शीघ्र पूर्ण करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी जिले को वैक्सीनेशन का दिया गया टारगेट शीघ्र पूर्ण करें।


कोरोना नियंत्रण के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान की पीड़ा, अन्य सभी के लिए प्रेरणा बनेगी- स्वामी चिदानंद सरस्वती

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान के आमंत्रण पर स्वास्थ्य आग्रह के मंच पर धर्म प्रमुखों ने व्यक्त किए विचार

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की बढ़ते कोरोना संक्रमण पर चिंता, जन-जागरूकता अभियान और कोरोना  नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य आग्रह के माध्यम से व्यक्त हो रही पीड़ा और धर्मगुरुओं से संवाद की पहल अन्य सभी के लिए प्रेरणा बनेगी। यह बात ऋषिकेश के परमार्थ निकेतन आश्रम के प्रमुख स्वामी चिदानंद सरस्वती ने कही। स्वास्थ्य आग्रह के दौरान धर्म गुरुओं से संवाद कार्यक्रम में स्वामी चिदानंद भी ऑनलाइन जुड़े और कहा कि शरीर स्वस्थ है तो सभी स्वस्थ और सार्थक  होता है। स्वामी जी ने कहा मुख्यमंत्री श्री चौहान का स्वास्थ्य जागरूकता के लिए प्रयास सराहनीय है, प्रेरक है। मध्यप्रदेश स्वस्थ रहे, ये संकल्प लिया जा रहा है। स्वामी चिदानंद ने कहा कि सभी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें पर दिल से परस्पर जुड़े रहें, दूर न हों। स्वामी जी ने कहा प्रधानमंत्री श्री मोदी और मुख्यमंत्री श्री चौहान के प्रयास प्रशंसनीय है। स्वामी जी ने श्री चौहान को कुंभ में दिन रात कार्य करते देखा है। वे तपस्या कर रहे हैं, साधना कर रहे हैं। धर्म गुरुओं से संवाद किया है। ये प्रयास देश को प्रेरणा देगा। चौहान साहब की पीड़ा हमारी प्रेरणा बने, हम सब मुकाबला कर जीतेंगे। सावधानियाँ रखें सभी। लोग सुरक्षा के लिए सिंगल ही नहीं बल्कि डबल मास्क लगाएँ। रायसेन कलेक्ट्रेट कार्यालय स्थित एनआईसी कक्ष से कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, शहर काजी श्री जहीरूद्दीन, गायत्री शक्तिपीठ के श्री हरिओम आचार्य, पण्डित रामेश्वर शर्मा तथा श्री संतोष प्रसाद मिश्रा सहित अन्य धर्मगुरू कार्यक्रम में शामिल हुए। वीसी के पश्चात कलेक्टर श्री भार्गव ने धर्मगुरूओं से नागरिकों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और 45 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों को कोविड वैक्सीन लगवाने हेतु प्रेरित करने की अपील की।


धर्म गुरुओं की अपील का होगा प्रभाव: मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वास्थ्य आग्रह के दौरान आज मिंटो हाल में विभिन्न धर्म गुरुओं के साथ कोरोना नियंत्रण पर विचार विमर्श किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने धर्म गुरुओं से आम जन को मार्गदर्शन देने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पूरे देश में जब कोरोना संक्रमण बढ़ रहा, ऐसे में समाज के सहयोग से ही वायरस पर नियंत्रण के उपायों को लागू किया जा सकता है। सावधानियों के पालन की धर्म गुरुओं की अपील कारगर होगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस कार्य में स्वैच्छिक वॉलेंटियर बनें और कोरोना नियंत्रण में सहयोग करें। मुख्यमंत्री ने बताया कि कोरोना संक्रमण से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने के लिए हेल्प डेस्क भी बनाई जा रही। प्रारंभ में अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान ने कोरोना की स्थिति पर प्रेजेंटेशन दिया। इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कुछ समर्पित कार्यकर्ता हों, जो कार्य करें जन-जागरूकता अभियान के लिए। ये कार्य निरंतर चलना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रार्थना का भी असर होता है। सभी की प्रार्थना अपने तरह की होती हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संतों के आगमन के लिए और इस संकट में एकत्र होकर मार्गदर्शन देने के लिए आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि ये रैन अंधेरी बीतेगी और सुहानी सुबह फिर आएगी। प्रारंभ में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल और सभी जिलों के धर्मगुरुओं का स्वागत किया और उनसे कोरोना नियंत्रण पर चर्चा  की।


कोरोना नियंत्रण पर संतों, धर्म प्रमुखों ने विचार रखे

करुणाधाम आश्रम के स्वामी शांडिल्य महाराज ने कहा कि भय न हो, सभी सावधानी रखी जाएँ, मुख्यमंत्री श्री चौहान के प्रयास सराहनीय है। आर्क बिशप लियो कार्नलियो ने कहा कि सरकार की सक्रियता से भारत और मध्यप्रदेश में कोरोना नियंत्रण हुआ, ये युद्ध है, जो  कुशलता और सफलता से लड़ा जा रहा है। शहर काजी भोपाल ने बताया कि वैक्सीन के लिए हम प्रेरित कर रहे हैं, सोशल डिस्टेंसिग का पालन करेंगे। सरकार के निर्देश मानेंगे। सेहत की सुरक्षा के लिए यह आवश्यक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान को बधाई देते हुए कहा कि वे निःसंदेह अच्छा कार्य कर रहे हैं। बोहरा धर्म गुरु शेख ताहिर अली ने कहा कि अल्लाह ने पैदा किया, सेहत की नैमत दी। यह महामारी किसी पे असर न कर जाए, ये फिक्र करते हैं मुख्यमंत्री श्री चौहान। सिख धर्म गुरु श्री ज्ञानी दिलीप सिंह ने कहा कि मास्क लगाओ, ये जरूरी है। ज्ञानी दिलीप सिंह ने मुख्यमंत्री श्री चौहान की कोशिशों की सराहना की। बौद्ध धर्म गुरु शाक्य भंते ने कहा कि प्रदेश में संदेश जा रहा है, मुख्यमंत्री श्री चौहान के जन-जागरूकता अभियान से, आप सुरक्षित तो परिवार सुरक्षित, मास्क लगायें, सभी, हमसे किसी को हानि न पहुँचे।


एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय शिक्षण कर्मचारी चयन परीक्षा, इच्छुक अभ्यर्थी 30 अप्रैल तक जमा करा सकेंगे आवेदन


एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय में शैक्षणिक पदों के लिये आवेदन-पत्र आमंत्रित किये गये हैं। जन-जातीय कार्य मंत्रालय, भारत सरकार के तहत एक स्वायत्त संगठन, जन-जातीय छात्रों के लिये राष्ट्रीय शिक्षा समिति (एनईएसटीएस) है। संगठन सोसायटी पंजीकरण अधिनियम के तहत पंजीकृत है। उक्त संस्था द्वारा राज्यों से एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों (ईएमआरएस) के लिये शिक्षण स्टॉफ जैसे प्राचार्य (प्रिंसिपल), उप प्राचार्य (वाइस-प्रिंसिपल), पीजीटी और टीजीटी की भर्ती के लिये ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। आवेदन 30 अप्रैल, 2021 तक जमा कराये जा सकते हैं। ईटीएसएसई 2021 के लिये ऑनलाइन आवेदन, शैक्षिक योग्यताएँ, शिक्षण अनुभव और अन्य पात्रता मानदण्ड आदि के संबंध में ब्योरे सूचना बुलेटिन <https://recruitment.nta.nic.in> पर उपलब्ध हैं।


राष्ट्रीय शिक्षा नीति का लक्ष्य भारत को वैश्विक ज्ञान की महाशक्ति बनाना हैं: राज्य मंत्री श्री परमार

  1. राष्ट्रीय शिक्षा नीति हेतु टास्क फोर्स की वर्चुअल बैठक आयोजित

स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री श्री इन्दर सिंह परमार की अध्यक्षता में राज्य-स्तरीय टास्क फोर्स की प्रारंभिक बैठक मंत्रालय में वर्चुअली कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित की गई। राज्य मंत्री श्री परमार ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का लक्ष्य भारत को वैश्विक ज्ञान की महाशक्ति बनाना हैं। वर्तमान शिक्षा व्यवस्था में आमूलचूल परिवर्तन लाने और विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के उद्देश्य को लेकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति कई वर्षो के अध्ययन, चिंतन और विभिन्न शिक्षाविदों के साथ मंथन उपरांत तैयार की गई है। इसके उद्देश्यों के अनुरूप क्रियान्वयन हम सभी की जिम्मेदारी है। आप सभी के प्राप्त सुझावों के आधार पर क्रियान्वयन की योजना और प्रक्रिया निर्धारित की जायेगी। इस हेतु आप सभी राष्ट्रीय शिक्षा नीति के ड्राफ्ट को अच्छे से अध्ययन करे, ड्राफ्ट के बारे अपने विद्यालय, मोहल्ले, समाज के नागरिकों, शिक्षाविदों आदि से चर्चा करे और अपने महत्वपूर्ण सुझाव टास्क फोर्स की बैठकों में प्रस्तुत करें।  राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के विभिन्न पहलुओं को प्रभावी तौर पर लागू करने एवं स्कूल शिक्षा की गुणवत्ता के विकास हेतु सुझाव और मार्गदर्शन के लिए राज्य शासन द्वारा टास्क फोर्स का गठन किया गया है। टास्क फोर्स में प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा विभाग को सदस्य सचिव, आयुक्त लोक शिक्षण और आयुक्त राज्य शिक्षा केंद्र संचालक को सदस्य, सचिव मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल, संचालक मध्य प्रदेश राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड और निदेशक महर्षि पतंजलि संस्कृत संस्थान को पदेन सदस्य के रूप में शामिल किया गया है। इसके साथ ही प्रदेश के विभिन्न जिलों से शासकीय और अशासकीय क्षेत्र के 24 प्रतिनिधियों को भी सदस्य के रूप में शामिल किया गया है। जिलों के सभी सदस्य कलेक्ट्रेट के एनआईसी कक्ष से बैठक में वर्चुअली उपस्थित रहें। सदस्यों ने प्रारंभिक शिक्षा, व्यवसायिक शिक्षा, शिक्षक शिक्षा व्यवस्था, शिक्षा कॉम्प्लेक्स, बुनियादी और आधारभूत शिक्षा, डिजिटल ऑनलाइन शिक्षा और प्रौढ़ शिक्षा आदि विषयों पर महत्वपूर्ण सुझाव दिए। राज्यमंत्री श्री परमार ने सभी उपयुक्त सुझावों को उपसमितियों के माध्यम से पर गंभीरता से विचार करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर प्रमुख सचिव श्रीमती रश्मि अरुण शमी, आयुक्त लोक शिक्षण श्रीमती जयश्री कियावत, निदेशक हिंदी ग्रंथ अकादमी श्री अशोक कड़ेल, संचालक श्री के.के. द्विवेदी, निदेशक राज्य ओपन बोर्ड श्री प्रभातराज तिवारी सहित संबंधित अधिकारी और सदस्य उपस्थित थे।


पोषण अभियान को जन-आंदोलन बनाने की आवश्यकता हैः स्वाति मीणा

  • भोजन में प्रोटीन को शामिल करना बहुत जरूरी हैः अमिता सिंह
  • "वर्तमान समय और पोषण अभियान का महत्व" विषय पर वेबिनार आयोजित

पोषण अभियान को जन-आंदोलन बनाने की आवश्यकता है। इस अभियान से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने की जरूरत है ताकि इससे संबंधित भ्रांतियों को दूर किया जा सके। कुपोषण की समस्या को दूर करने के लिए शासन की योजनाओं के साथ समाज का सहयोग भी बहुत जरूरी है। संचालक, महिला एवं बाल विकास सुश्री स्वाति मीणा ने यह बात पीआईबी और आरओबी भोपाल द्वारा मंगलवार को ‘वर्तमान समय और पोषण अभियान का महत्व’ विषय पर आयोजित वेबिनार में कही। सुश्री मीणा ने कहा कि पोषण अभियान में मिशन मोड पर काम हो रहा है और इसके परिणाम भी दिखने लगे हैं। अभियान में डेटा मैनेजमेंट, पोषण ट्रैकर के माध्यम से सारा डेटा सिस्टम में एकत्रित किया जा रहा है। इसके आधार पर कमियों को चिन्हित कर उनके सुधार के कार्य किये जा रहे हैं। सुश्री मीणा ने कहा कि कुपोषण का मुद्दा सामाजिक, आर्थिक और लैंगिंक समानता से भी जुड़ा है। समाज में महिलाओं को सही पोषण देना अब भी प्राथमिकता में नहीं है। वेबिनार में आहार विशेषज्ञ सुश्री अमिता सिंह ने कहा कि आमतौर पर हमारे आहार में प्रोटीन की काफी कमी देखी जाती है। हमें खाने में दालों को शामिल करने की जरूरत है। दूध भी दिन में दो बार किसी न किसी रूप में लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि खाने में विटामिन सी के साथ मौसमी सब्जियों को भी जरूर शामिल करें। उन्होंने कोरोना काल में आहार विषय पर भी विविध जानकारी दी। अपर महानिदेशक पीआईबी, भोपाल श्री प्रशांत पाठराबे ने कहा कि अच्छे स्वास्थ्य का आधार पोषण है। यह संतुलित वृद्धि को बढ़ावा देता है। उन्होंने कहा कि पोषण अभियान का बहुत बड़ा महत्व है, क्योंकि इसके तहत 60 प्रतिशत से अधिक आबादी महिला एवं बच्चों को कवर किया जाता है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में अच्छे पोषक आहार की महत्ता और बढ़ गई है। डॉ. समीर पवार, पोषण विशेषज्ञ यूनिसेफ ने कहा कि बच्चे के विकास के लिए शुरुआती 1000 दिन बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। इस समय में बच्चे की वृद्धि और विकास की गति सबसे तेज होती है। इसी अवधि में मस्तिष्क का सबसे ज्यादा विकास होता है। यूनिसेफ के संचार विशेषज्ञ श्री अनिल गुलाटी ने कहा कि पोषण से संबंधित जानकारियों को जमीनी स्तर तक पहुँचाने में संचार माध्यमों का काफी महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने पोषण से संबंधित फेक मैसेज पर लगाम लगाने की भी जरूरत बताई। उप निदेशक, पीआईबी श्री एम.वी.कृष्णा प्रसाद ने पोषण अभियान के बारे में प्रकाश डाला। पीआईबी के निदेशक श्री अखिल नामदेव ने धन्यवाद ज्ञापन किया और मीडिया एवं संचार अधिकारी श्री प्रेम चन्द्र गुप्ता ने कार्यक्रम का संचालन किया।


कोरोना वालेंटियर्स को जारी होंगे परिचय पत्र : मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • दो दिवसीय लॉकडाउन के लिए आपदा प्रबंधन समूह जिला स्तर पर निर्णय लें मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्वास्थ्य आग्रह के अंतर्गत जिलों और संस्थाओं के प्रतिनिधियों से किया संवाद

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना वॉलेंटियर्स को जिला प्रशासन द्वारा परिचय- पत्र जारी किये जायेंगे। कोरोना संक्रमण को रोकने में स्व-प्रेरणा से बने कोरोना स्वयं-सेवकों की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्हें रोको टोको अभियान तथा अन्य गतिविधियों में इस परिचय-पत्र से मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि लॉकडाउन सीमित अवधि का ही रखा जायेगा। जिला स्तर पर यदि रविवार के साथ शनिवार का लॉकडाउन रखने की आवश्यकता हो, तो इस संबंध में आपदा प्रबंधन समूह जिला स्तर पर निर्णय ले सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में राज्य के बाहर से आ रहे व्यक्तियों के स्वास्थ्य परीक्षण और आवश्यकता होने पर उन्हें आईसोलेशन में रखने की व्यवस्था की जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान 'स्वास्थ्य आग्रह' कार्यक्रम में वीडियो कॉफ्रेंस द्वारा विभिन्न जिलों के नागरिकों और समाज-सेवियों से चर्चा कर रहे थे। खजुराहो सांसद श्री वी.डी. शर्मा और गायत्री परिवार के सदस्यों ने भी अपने सुझाव रखे। इस वार्तालाप में कोरोना संक्रमण की रोकथाम में लिए कई महत्वपूर्ण और उपयोगी सुझाव प्राप्त हुए। भोपाल की आवाज संस्था की सुश्री रोली शिवहरे ने कहा कि जिला प्रशासन के सहयोग से यमराज और चित्रगुप्त के रूप में सड़कों और चौराहों पर मास्क लगाने के लिए रोको-टोको अभियान चलाया गया। उन्होंने सुझाव दिया कि जैसे धार्मिक आयोजनों में मोहल्ले और कॉलोनियों के लोग आगे आते हैं और आपसी सहयोग करते हैं, वैसे ही जो परिवार कोरोना से प्रभावित हैं उनका भी कॉलोनी और मोहल्ले के लोग सहयोग करें। सुश्री रोली शिवहरे ने कोरोना के भय को दूर करने के लिए विशेष अभियान चलाने की आवश्यकता बताई। न्यू मार्केट व्यापारी संघ के अध्यक्ष श्री सतीष गंगराड़े ने कोरोना काल में वंचित समुदायों को खाद्यान्न वितरण, नि:शुल्क मास्क और सेनेटाइजर वितरण तथा न्यू मार्केट में साफ-सफाई के लिए की गई डस्टबिन व्यवस्था की जानकारी दी। विदिशा के उद्यमी श्री मित्तल ने कहा कि शासकीय शालाओं में विद्यार्थियों को शाला विकास निधि से मास्क उपलब्ध कराये जायें। विदिशा के सामाजिक कार्यकर्ता श्री श्रवण व्यास ने कहा कि बैंकों में भीड़ बढ़ रही है। अत: संक्रमण नियंत्रण के लिए आवश्यक व्यवस्था के निर्देश दिये जाने चाहिए। कुंभ से गाँवों में लौट रहे लोगों से संक्रमण फैलने की संभावना और उसके नियंत्रण के लिए आवश्यक उपाय करने का सुझाव भी रखा गया। स्वामी विवेकानन्द विश्वविद्यालय, सागर के कुलपति डॉ. अरविंद तिवारी ने कहा कि कोरोना से प्रभावित व्यक्तियों के लिए घर में ही ऑक्सीजन व्यवस्था और डॉक्टर की सलाह के अनुसार मेडिकल किट उपलब्ध कराकर होम आइसोलेशन व्यवस्था को और सुदृढ़ किया जा सकता है। श्री तिवारी ने कहा कि मेडिकल दुकानों पर भी डॉक्टर की गाइड लाईन के अनुसार मेडिकल किट की सरल उपलब्धता सुनिश्चित की जाना चाहिए। सागर ट्रक एसोसिएशन तथा सिख समुदाय का प्रतिनिधित्व कर रहे श्री प्रबिंदर सिंह दुग्गल ने कहा कि कोरोना संक्रमण से भय के कारण कोरोना से प्रभावित व्यक्तियों की मदद करने लोग आगे नहीं आते हैं। अत: इस संबंध में भ्रांतियों को दूर करना और सावधानियों को अपनाते हुए पीड़ित व्यक्ति की मदद की जा सकती है, इस संबंध में जानकारियाँ व्यापक रूप से दी जानी चाहिए। छतरपुर के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. सुभाष चौबे ने जानकारी दी कि छतरपुर के समस्त चिकित्सकों ने एक मत से यह निर्णय लिया है कि कोविड काल में कोई भी चिकित्सक अपना क्लीनिक बंद नहीं करेगा। छतरपुर के श्री प्रदीप सिंह ने भी अपने सुझाव रखे। होशंगाबाद के डॉ. श्री अतुल सेठा ने रेपिड एंटीजेंट टेस्ट निजी प्रयोगशालाओं को देने तथा कोरोना के प्रारंभिक लक्षणों के संदर्भ में चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा सावधानियों और दवाओं पर बेसिक प्रोटोकाल विकसित कर इसकी जानकारी प्रभावित लोगों को उपलब्ध कराने की आवश्यकता बताई। होशंगाबाद के श्री अनिल अग्रवाल ने कहा कि कोरोना जागरूकता पर छोटी-छोटी आडियो-वीडियो फिल्म बनाकर उनका व्यापक प्रदर्शन किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान से मिंटो हाल, भोपाल के परिसर में स्वास्थ्य आग्रह स्थल पर विभिन्न कर्मचारी-अधिकारी संगठनों के प्रतिनिधियों ने भेंट भी की और कहा कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए जन-जागृति पैदा करने के उद्देश्य से आवश्यक सभी गतिविधियाँ उनके सदस्यों द्वारा संचालित की जायेंगी।


कलेक्टर ने रोको टोको अभियान का लिया जायजा, लोगों को जागरूक करने चलाये जा रहें हैं जागरूकता कार्यक्रम


sehore news
पूरे जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देश पर रोको टोको अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत मास्क नहीं लगाने वाले लोगों के विरूद्ध चालानी कार्यवाही की जा रही है । इसके साथ ही अधिकारियों एवं अनेक संस्थाओं द्वारा जनजागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। सीहोर नगर में चलाये जा रहे रोकोटोको अभियान का कलेक्टर श्री गुप्ता ने जायजा लिया इस दौरान उन्होने सभी अधिकारियों से कोविड की गाईड लाईन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिये। एसडीएम श्री रवि वर्मा एवं पुलिस अधिकारियों द्वारा रोको टोको अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत आज 11 हजार रूपये की चालानी कार्यवाही की गई है।


सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों का वीसी के माध्यम से शुभारंभ, प्रात:10.30 बजे मुख्यमंत्री करेंगे वर्चुअल शुभारंभ


सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों का प्रदेश व्यापी शुभारंभ 08 अप्रेल को प्रात: 10.30 बजे आयोजित किया गया है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान इस कार्यक्रम का वर्चुअल शुभारंभ करेंगे। सीहोर जिले में शुभारंभ कार्यक्रम जिला पंचायत के सभा कक्ष में आयोजित किया गया है।


जिला पंचायत सीईओ ने किया निर्माण एवं विकास कार्यो का निरीक्षण


जिले मे चल रहे अनेक निर्माण एवं विकास कार्यो का जिला पंचायत के सीईओ ने निरीक्षण कर समय सीमा में पूर्ण करने तथा गुणवत्तापूर्ण निर्माण के नेर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होने नसरूल्लागंज जनपद के अनेक पंचायतों का भ्रमण किया इसके साथ ही उन्होने ग्राम नादान, हसनपुर, तिनोनिया, बसंतपुर सहित अनेक गांवों का भ्रमण किया । इस दौरान उन्होने स्कूल तथा आंगनबाड़ी  का भी निरीक्षण किया। उन्होने कोरोना वायरस के बढ़ते हुए प्रसार को देखते हुए मास्क लगाने तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की ।


5563 किसानों से 46117.18 मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी


जिले में आज 5563 किसानों से 46117.18 मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी जिले के उपार्जन केन्द्रो द्वारा की गई। अधिकारियो द्वारा उपार्जन केन्द्रों का सतत निरीक्षण किया जा रहा है। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे उपार्जन केन्द्रों का सतत निरीक्षण करें और यह देखें की किसानों को फसल बेचने में किसी प्रकार की कोई भ्री असुविधा ना हो।


जिले में 46 व्यक्ति कोरोना पाजिटिव मिले, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजीटिव की संख्या 322


पिछले 24 घंटे के दौरान 46 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले। इनमें सीहोर शहर के 34 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। यह सभी व्यक्ति  चाणक्यपुरी, इंग्लिशपुरा, अवधपुरी, श्रवण का बगीचा, मीनार मस्जिद, सिंधी कॉलोनी, गुलाब विहार, गंगा आश्रम, देवेन्द्र नगर, स्टशन रोड, चकला मोहल्ला, शास्त्री कॉलोनी, पुलिस लाईन, श्रीराम कॉलोनी, शिव मंदिर के पास गंज, पलटल एरिया, कोतवाली चौराहा, जहांगीरपुरा, बड़ियाखेड़ी, ब्रह्मपुरी कॉलोनी, पॉवर हाउस चौराहा, न्यू बस स्टेंण्ड चौराहा, भोपाल नाका, मण्डी गुलजारी का बगीचा, नेहरू कॉलोनी, अंबेडकर नगर गंज, बड़ा बाजार, जयंती कॉलोनी  के निवासी हैं । इसी तरह आष्टा विकास खण्ड से 09 व्यक्ति पॉजिटिव पाये गये, ये सभी मेवाड़ा कॉलोनी, बड़ा बाजार आष्टा, सांई कॉलोनी सुभाष नगर, सिद्दीकगंज, कजलास, रामाखेड़ीके निवासी हैं। श्यामपुर स्थानीय, बिजोरी तथा छापरी कला से 01-01 व्यक्ति  की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि वर्तमान में जिले में एक्टिव पॉजिटिव की संख्या   322  है ।  आज 21 व्यक्ति रिकवर हुए।  अब  तक  कुल  रिकवर  की  संख्या  2958   है।   कुल  कोविड  संक्रमित  मृत व्यक्तियों की संख्या 49 है । आज 503 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 134,  नसरूल्लागंज विकासखण्ड से  71 , आष्टा विकास खण्ड  से 85, इछावर विकासखण्ड से 35, श्यामपुर विकासखण्ड से 95,  बुदनी विकास खण्ड से 83 सैम्पल लिए गए है । जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 3329 है जिसमें से 49 की मृत्यु हो चुकी है 2958 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है। तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 322 है। आज 503 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 86355 हैं जिनमें से 80908 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 211 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 2047 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले मे जो व्यक्ति होम क्वारन्टाईन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-226470 है। 1075 नंबर पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती है। जिला स्तर पर मोबाइल नंबंर 9425400273, 9425400453, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन  सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारन्टाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाईन नंबंर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारन्टाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकॉलाजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं। 


01 लाख 5 हजार 530 व्यक्तियों को लगा टीका, 63 हजार 741 बुजुर्गों ने लगवाया कोविड का टीका


sehore news
मंगलवार तक जिले में 01 लाख 5 हजार 530 व्यक्तियों को कोविड-19 का टीका लगाया जा चुका है। जिसमें 63 हजार 741 बुजुर्गों ने टीकाकरण केन्द्रों पर पहुंचकर कोविड-19 का टीका लगवाया। 16 जनवरी 2021 से कोविड-19 का प्रथम चरण प्रारंभ किया गया था तब से आज तक 94 हजार 764 व्यक्तियों को प्रथम तथा 10766 को द्वित्तीय डोज लगाया जा चुका है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॅा.सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि 62 हजार 890 बुजुर्गो को प्रथम तथा 851 बुजुर्गो को  द्वित्तीय डोज लगाया जा चुका है। 45 से 59 वर्ष की आयु के मध्य 20 हजार 257 को प्रथम तथा 60 को द्वित्तीय डोज लगाया जा चुका है। अब तक 45 से 59 वर्ष  की आयु के मध्य 20 हजार 317 व्यक्तियों को टीका लगाया जा चुका है। 5 हजार 397 फ्रंट लाईन वर्क्रर को प्रथम तथा 4609 को द्वित्तीय डोज लगाया जा चुका है। 6 हजार 220 हैल्थकेयर वर्कर को प्रथम तथा 5246 को द्वित्तीय डोज लग चुके है। अब तक 1162 टीकाकरण सत्र आयोजित किए जा चुके है। सिविल अस्पताल आष्टा अंतर्गत 233 सत्र लगाए गए है। बुदनी में 218, इछावर में 180 नसरूल्लागंज में191 श्यामपुर में 269 तथा अर्बन सीहोर में 71 टीकाकरण अब तक आयोजित किए जा चुके है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया ने जन सामान्य से अपील की है कि खतरा अभी टला नहीं है इसलिए मास्क अवष्य लगाएं, सोषल डिस्टेंष का पालन करें तथा साबुन पानी से समय-समय पर हाथ धोते रहें एवं एल्कोहल युक्त सेनिटाईजर इस्तेमाल करें एवं समय-समय पर राज्य शासन अथवा जिला प्रषासन द्वारा जारी दिषा निर्दषों का पालन करें। 

कोई टिप्पणी नहीं: