विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 19 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 19 अप्रैल 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 19 अप्रैल

कोविड सेंटर में लगाये जायें सी.सी.टी.व्ही. कैमरे :  विधायक शशांक भार्गव


vidisha news
विदिशाः- कोविड-19 की संक्रमणता का फैलाव जिस गति से विदिशा में हो रहा है वह अत्यंत चिंताजनक विषय है। कोविड संक्रमण के शिकार हुए मरीजों के रिश्तेदार, परिजनों द्वारा लगातार मीडिया एवं सोशल मीडिया के माध्यम से यह मांग की जा रही है कि कोविड वार्डो में मरीज का जो ईलाज हो रहा है उसकी पारदर्शिता रखी जावे। इसी तारतम्य में विदिशा विधायक शशांक श्रीकृष्ण भार्गव ने प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा एवं कलेक्टर विदिशा को पत्र के माध्यम से लिखा है कि कोविड मरीजों की संख्या लगातार बढ रही है आईशोलेशन, आई.सी.यू. एवं कोविड वार्ड में सी.सी.टी.व्ही. लगाकर सार्वजनिक भोजनालय के बराबर से हाॅल में दो डिस्प्ले लगाये जायें या यथा संभव स्थान पर जिससे मरीजों के परिजन संतुष्ट हो सके। कई मरीज अपने परिवारजनों के साथ जाॅच कराने आते है कोविड वार्ड में उन्हें भर्ती कर दिया जाता है एवं एक-दो दिन बाद कहा जाता है कि डेथ बाॅडी लेने आ जायें। इस बीच उनको मरीज की जानकारी नहीं मिलती जिससे वह मरीज अन्यत्र ईलाज हेतु प्रयास कर सकें। अधिक मरीज होने के कारण डाॅक्टरों के राउण्ड कोविड वार्डों में कभी-कभी एक ही बार हो पाता है, दवाईयों की हालत यह है कि पैकेट बनाकर फैंक कर मरीज को दे दिया जाता है। सी.सी.टी.व्ही. द्वारा मरीज के परिजन अपने मरीज को देख सकेगें एवं वास्तविक स्थिति जान सकेगें।  विधायक भार्गव ने पुनः सी.टी. स्कैन की मांग को दोहराते हुए याद दिलाया की लगातार मांग करने के बाद आज तक विदिशा मेडिकल काॅलेज को सी.टी. स्कैन मशीन नही मिल सकी। विधानसभा में दिनांक 01.03.2021 को सवाल के दौरान माननीय स्वास्थ्य मंत्री जी द्वारा एक महीने में सी.टी. स्कैन विदिशा मेडिकल काॅलेज में प्रारंभ करने की बात कही थी जो आज तक पूरी नहीं हो सकी है।  उन्होंने कहा कि अगर सरकार के पास फण्ड न हो तो मैं सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के लिए अपनी विधायक निधि से राशि स्वीकृत कर सकता हॅू। अगर मेडिकल काॅलेज वार्डो की गोपनीयता उजागर करने, सच्चाई को सामने लाने से डरता है तो प्रत्येक मरीज के परिजन को पी.पी.ई. किट पहनाकर दिन में चार बार मिलने की अनुमति देने का कष्ट करें, मानवीय दृष्टिकोण को दृष्टिगत रखते हुए यह नितांत आवश्यक है।


आॅक्सीजन कंसट्रेटर मशीन हेतु विधायक भार्गव ने दिये 10 लाख रूपये


विदिशाः- कोविड संक्रमण से प्रभावित मरीजों को सांस लेने में दिक्कत होती है जिसका ईलाज आॅक्सीजन लगाकर ही संभव हो पाता है। आॅक्सीजन की कमी सिर्फ विदिशा में ही नहीं समूचे भारत में हो रही है। आॅक्सीजन कंसट्रेटर मशीन आॅक्सीजन सिलेण्डर का विकल्प है इस मशीन से 1 मिनिट में लगभग 10 लीटर आॅक्सीजन बनती है। लगातार मरीजों की बढती संख्या को देखते हुए विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने अटल बिहारी बाजपेयी मेडिकल काॅलेज विदिशा में बनाये गये कोविड सेंटर के लिए आॅक्सीजन कंसट्रेटर मशीन क्रय करने के लिए 10 लाख रूपये की राशि विधायक निधि से स्वीकृत की है। इस राशि से लगभग 20 मशीनें क्रय की जा सकती है जिससे 40 मरीजों को आॅक्सीजन की आपूर्ति संभव हो सकेगी। विधायक प्रतिनिधि अजय कटारे ने बताया कि विधायक शशांक भार्गव स्वयं भी संक्रमित है एवं होम आईसोलेशन में हैं। इसके बाद भी विधायक भार्गव जी बिगडते हालातों को लेकर चिंतित हैं। टेलीफोन के माध्यम से वे लगातार कोविड सेंटर एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों से संपर्क बनाये हुए है। आॅक्सीजन कंसट्रेटर मशीन क्रय करने हेतु 10 लाख रूपये की निधि स्वीकृत करने के लिए सभी कांग्रेस पदाधिकारियों एवं नागरिकों ने विधायक भार्गव का आभार व्यक्त किया है। 


कोविड से मृत्यु पर पत्रकारों के परिजनों को आर्थिक सहायता


विदिशा, दिनांक 19 अपै्रल 2021


कोरोना महामारी के दौरान पत्रकारों की कोरोना से मृत्यु पर मध्यप्रदेश सरकार उनके परिजनों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराती है।

जनसंपर्क संचालनालय द्वारा आदेश जारी किए गए है कि जिले में ऐसे पत्रकार जिनकी हाल ही में कोरोना से मृत्यु हुयी है, उनकी समस्त जानकारी के साथ निर्धारित प्रोफार्मा में patrkarkalyan@gmail.com पर आवेदन पत्र के साथ संबंधित पत्रकार का कोरोना से मृत्यु संबंधी प्रमाण-पत्र, बैंक अकाउंट तथा आयकर दाता न होने एवं परिवार में आय का दूसरा स्त्रोत न होने संबंधी शपथ पत्र संलग्न कर भेजा जावे।


हरिद्वार कुंभ से वापस आए श्रद्धालु होंगे सेल्फ क्वारेंटाइन


मप्र शासन के गृह विभाग द्वारा हरिद्वार कुंभ मेले से वापस आए सभी श्रद्धालुओं को उनके निवास ग्राम या नगर में पहुँचते ही सेल्फ क्वारेंटाइन होने के लिये निर्देशित किया गया है। गृह विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर सभी जिला कलेक्टरों को इसका प्रचार-प्रसार करने के लिये निर्देशित किया गया है। कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम और बचाव के लिये हरिद्वार कुंभ मेले से वापस आ रहे श्रद्धालुओं को अपने निवास ग्राम पहुँचते ही जिला कलेक्टर को इस संबंध में सूचना देनी होंगी। सूचना देने के लिये जिलों में एक डेडीकेट्ड नम्बर दिया जायेगा। ऐसे श्रद्धालुओं की जानकारी अन्य जागरूक नागरिकों द्वारा भी जिला कलेक्टर को दी जा सकती है।

कोई टिप्पणी नहीं: