बेतिया : एसपी ने दो दारोगा समेत 6 पुलिसवाले को किया सस्पेंड - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 8 अप्रैल 2021

बेतिया : एसपी ने दो दारोगा समेत 6 पुलिसवाले को किया सस्पेंड

betiya-sp-suspend-6-cops
बेतिया. रेड टी-शर्ट और जींस पहने युवक यातायात पुलिस को चकमा देकर भागना चाह रहा था.पर वह कामयाब न हो सका.इतने में तैनात गृहरक्षक ने गाड़ी की चाभी निकालकर हाथ में रख ली.तब वह युवक यातायात पुलिस के सामने चाभी के लिए  गिड़गिड़ाने लगा.  गिड़गिड़ाने का सकारात्मक परिणाम सामने नहीं आने पर पॉकेट से एक-एक सौ का दो सौ रू. निकालकर पान चबाने वाले यातायात पुलिस को थमा दिया.नोट थामते ही यातायात पुलिस कहने लगे दो चाभी दो,चाभी दो ना. इस वक्त यह एक बड़ी खबर है पश्चिम चंपारण जिले का है, जहां बेतिया एसपी ने दो दारोगा समेत 6 पुलिसवाले को सस्पेंड कर दिया है. रिश्वतखोरी के मामले में इन पुलिसवालों के खिलाफ एक्शन लिया गया है. रिश्वतखोरी का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस कप्तान ने यह बड़ा कदम उठाया है. बुधवार को बेतिया एसपी उपेंद्र नाथ वर्मा ने दो दारोगा समेत 6 पुलिसवाले को सस्पेंड कर दिया. बेतिया नगर के छावनी आरओबी के पास रिश्वतखोरी का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस कप्तान ने यह कठोर कदम उठाया. बताया जा रहा है कि गृह रक्षा वाहिनी के दो जवान और एक महिला सिपाही भी शामिल हैं, जिनके ऊपर कार्रवाई की गई है. दोनों होमगार्ड जवानों को ड्यूटी से वंचित किया गया है. बेतिया पुलिस अधीक्षक उपेंद्र नाथ वर्मा ने बताया कि मंगलवार को एक वीडियो तेजी से वायरल हुआ था. वायरल वीडियो में देखा गया कि पुलिस पदाधिकारी रिश्वत ले रहे थे. इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए एसडीपीओ मुकूल परिमल पांडेय को जांच का निर्देश दिया गया. जांच में पाया गया कि वायरल वीडियो में दिख रहे पुलिसवाले बेतिया यातायात थाना के हैं. उनकी पहचान बेतिया जिला के यातायात थाना में प्रतिनियुक्त दारोगा भगीरथ प्रसाद, दारोगा शब्बीर अहमद खां, गृहरक्षक प्रभु यादव और महिला गृहरक्षक गुड़िया कुमारी के रूप में की गई.

कोई टिप्पणी नहीं: