गुजरात में सरकार ने सभी सभाओं पर रोक लगायी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 13 अप्रैल 2021

गुजरात में सरकार ने सभी सभाओं पर रोक लगायी

all-meeting-ban-in-gujrat
अहमदाबाद, 12 अप्रैल, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि राज्य में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर राज्य सरकार ने सभी तरह की सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक सभाओं पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने का सोमवार को फैसला किया। इसमें सार्वजनिक स्थानों पर जन्मदिन की पार्टियां भी शामिल हैं। ये नये निर्देश ऐसे समय आये हैं जब कुछ ही घंटे पहले गुजरात उच्च न्यायालय ने कोविड-19 की स्थिति और नागरिकों के सामने आ रहीं समस्याओं को लेकर राज्य सरकार की खिंचाई की थी। अदालत ने वायरस को नियंत्रित करने के कई उपाय भी सुझाए। शाम को एक वीडियो संदेश जारी करते हुए मुख्यमंत्री रूपाणी ने अप्रैल और मई में पड़ने वाले सभी त्योहारों के सार्वजनिक उत्सवों पर प्रतिबंध लगाने की भी घोषणा की चाहे ये किसी भी आस्था से जुड़े हों। उन्होंने लोगों से आने वाले त्योहारों को घर में मनाने और सार्वजनिक रूप से इकट्ठा होने से बचने की भी अपील की। मुख्यमंत्री ने राज्य के सभी धार्मिक स्थलों (के प्रबंधनों से) आगंतुकों और भक्तों के प्रवेश पर 30 अप्रैल तक रोक लगाने के लिए भी कहा और उनसे सीमित संख्या में लोगों की उपस्थिति में दैनिक अनुष्ठान करने की अपील की। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि गुजरात में पिछले 24 घंटे में कोविड​​-19 के सबसे अधिक 6,021 नए मामले सामने आये और 55 और मरीजों की मौत हो गई।

कोई टिप्पणी नहीं: