बंगाल में भाजपा के सत्ता में आने पर ‘भूमिपुत्र’ होगा मुख्यमंत्री : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 4 अप्रैल 2021

बंगाल में भाजपा के सत्ता में आने पर ‘भूमिपुत्र’ होगा मुख्यमंत्री : मोदी

bangal-son-will-be-cm-modi
सोनारपुर 03 अप्रैल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के सत्ता में आने पर किसी ‘भूमिपुत्र’ को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। श्री मोदी ने दक्षिण 24 परगना जिले के सोनारपुर में जन सभा को संबोधित करते हुए कहा,“ दीदी (सुश्री बनर्जी) बाहरी लोगों की बात कर रही हैं। हम सभी भारत माता की संतान हैं। कोई भी भारतीय यहां बाहरी नहीं है। यदि भाजपा दो मई के बाद सरकार बनाती है, तो किसी ‘भूमिपुत्र’ को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। ” उन्होंने कहा,“दीदी की पार्टी का कहना है कि वह 2024 में वाराणसी से चुनाव लड़ेंगी। बंगाल चुनाव हारने के बाद वह एक सुरक्षित सीट की तलाश कर रही हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल के लोगों ने नबन्ना से ‘टका मार कंपनी (टीएमसी-तृणमूल )’ के बाहर निकलने की पटकथा लिख दी है। श्री मोदी ने कहा कि तृणमूल डिजिटल इंडिया की पहल से नफरत करती है, क्योंकि यह कट-राशि, उठाईगीरी और भ्रष्टाचार को बंद करता है। उन्होंने तृणमल कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाया कि उन्होंने परेशानी का सामना कर रहे लोगों के लिए भेजे गये राशन में भी लूट मचायी। दीदी, अपनी पार्टी के गुंडों पर लगाम लगाओ श्री मोदी ने कहा कि लोगों ने अपना फैसला पहले ही दे दिया है और सुश्री ममता बनर्जी बहुत बड़े अंतर से हारने वाली हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि तृणमूल में कुछ लोगों ने ममता दीदी को दूसरी सीट से मैदान में उतारने का फैसला किया था, लेकिन कुछ बुद्धिमान लोगों ने उनसे कहा कि यह उनकी दूसरी बड़ी गलती होगी। श्री मोदी ने कहा कि कुछ लोगों ने उनसे कहा कि अगर वह दोनों सीटें हार जाएंगी, तो तृणमूल के लिए एक पार्टी के रूप में कार्य करना बहुत मुश्किल हो जाएगा। श्री मोदी ने कहा, “ममता दीदी गलत सलाह देने वालों से घिरी हुई हैं।” उन्होंने कहा कि वाराणसी जाने पर आपको ‘बाहरी’ या ‘पर्यटक’ नहीं कहा जाएगा। आपको कई लोग ‘तिलक’ और ‘चोटी’ के साथ मिलेंगे। हर कदम के साथ आप ‘हर हर महादेव’ का जाप सुनेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि वाराणसी के लोग बंगाल की तरह आपको बाहरी लोग कहकर नहीं बुलाएंगे। वाराणसी के लोगों के दिल बड़े हैं - वे आपको बाहरी नहीं कहेंगे - जैसा कि बंगाल के लोग कहते हैं।” 

कोई टिप्पणी नहीं: