डबल इंजन की सरकार बंगाल को उसका हक देने के लिए तैयार : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 7 अप्रैल 2021

डबल इंजन की सरकार बंगाल को उसका हक देने के लिए तैयार : मोदी

bjp-double-engine-ready-for-bangal-modi
हावड़ा/ कूचबिहार, 06 अप्रैल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की डबल इंजन की सरकार बंगाल को उसका हक देने के लिए तैयार है। श्री मोदी ने यहां मंगलवार को एक जनसभा में कहा कि लोग अनुमान लगा रहे हैं कि दो मई को राज्य विधानसभा चुनाव में हार के बाद तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) बिखर जाएगी। उन्होंने कहा,“ स्थिति यह है कि दीदी (सुश्री बनर्जी) की पार्टी को मतदान केंद्रों पर पोलिंग एजेंट नहीं मिल रहे हैं। कुछ दिनों पहले दीदी चुनाव आयोग और सुरक्षा बलों पर उनके पोलिंग एजेंट को रोकने का आरोप लगा रहीं थी और अब उन्होंने स्वीकार कर लिया है कि उनके पोलिंग एजेंट उनके खिलाफ विद्रोह कर रहे हैं। ” प्रधानमंत्री ने इस दौरान सुश्री बनर्जी के पैसों के बदले भाजपा के लिए वोट मांगने के आरोप का खंडन करते हुए कहा, “ दीदी ने आप पर पैसे लेने और अपने वोट बेचने का आरोप लगाया है। क्या आप ऐसा करते हैं? क्या यह आपका अपमान नहीं है? आपको इस चुनाव में उन्हें इसका जवाब देना होगा। एक ऑडियो टेप से तृणमूल के सिंडिकेट का खुलासा देश भर में चर्चा का विषय बना हुआ है। पूरे देश ने सुना है कि कैसे ‘भाईपो सेवा कर’ ने हावड़ा सहित पश्चिम बंगाल के कई शहरों में चीजों को दयनीय बना दिया है। ” इससे पहले प्रधानमंत्री ने कूच बिहार में एक बैठक के दौरान चलो पलटाई (चलो हम परिवर्तन करें) का नारा देते हुए कहा, “ दीदी ने बंगाल में एक नया कर शुरू किया है ‘भाईपो सेवा कर ’। इसी कारण आज बंगाल के हर कोने से आवाज आ रही है - “ चलो पलटाई, चलो पलटाई।” प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो सुश्री बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि टीएमसी के बाहर होने की पुष्टि पहले ही हो चुकी है। उन्होंने कहा कि दीदी का गुस्सा दर्शाता है कि वह चुनाव हार चुकी हैं। हाल ही में दीदी ने कहा था कि हर मुसलमान को एकजुट होना चाहिए और अपने वोटों को विभाजित नहीं होने देना चाहिए। इसका मतलब है कि दीदी जानती हैं कि मुस्लिम वोट बैंक, जिसे उन्होंने अपनी ताकत माना है वह भी उनसे दूर जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं: