सीमाओं पर नयी चुनौतियों का सामना कर रहा है देश : नरवणे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 7 अप्रैल 2021

सीमाओं पर नयी चुनौतियों का सामना कर रहा है देश : नरवणे

army-facing-challenge-on-border-narvane
नयी दिल्ली 06 अप्रैल, सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा है कि देश सीमाओं पर नयी चुनौतियों का सामना कर रहा है और सैनिकों को सीमाओं पर होने वाले घटनाक्रमों से अवगत रहने की जरूरत है। जनरल नरवणे ने सोमवार और मंगलवार को तमिलनाडु के वेलिंगटन स्थित रक्षा सेवा स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी) का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने कॉलेज में 76वां स्टाफ कोर्स कर रहे अधिकारियों तथा संकाय सदस्यों को संबोधित किया। उन्होंने “ पश्चिमी और उत्तरी सीमाओं पर हुई घटनाएं एवं भारतीय सेना के भविष्य के रोडमैप पर उनका प्रभाव” विषय पर एक व्याख्यान भी दिया। उन्होंने जोर देकर कहा कि राष्ट्र सीमाओं पर नए सिरे से चुनौतियों का सामना कर रहा है और छात्रों को सभी घटनाक्रमों से अवगत रहने की जरूरत है। डीएसएससी के कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल एमजेएस कहलों ने सेना के तीनों अंगों के बीच एकीकरण पर व्यावसायिक सैन्य प्रशिक्षण के विशिष्ट संदर्भ में प्रशिक्षण गतिविधियों और नई पहलों के समावेश पर सेना प्रमुख को जानकारी दी । सेना प्रमुख को पेशेवर सैन्य शिक्षा के लिए उत्कृष्टता केंद्र के रूप में डीएसएससी की भूमिका को बढ़ाने की दिशा में प्रशिक्षण पाठ्यक्रम और ढांचागत विकास में किए जा रहे बदलावों के बारे में भी जानकारी दी गई । उन्होंने कोविड-19 महामारी की बाधाओं के बावजूद प्रशिक्षण की बहुत बेहतर स्थिति बनाए रखने के लिए कॉलेज की सराहना की ।

कोई टिप्पणी नहीं: