भारत-अमेरिका सहयोग का ‘प्रमुख स्तंभ’ होगी जलवायु भागीदारी : बाइडन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 24 अप्रैल 2021

भारत-अमेरिका सहयोग का ‘प्रमुख स्तंभ’ होगी जलवायु भागीदारी : बाइडन

climate-co-opration-makes-indo-us-relation-strong-biden
वाशिंगटन, 24 अप्रैल, अमेरिकी राष्ट्रपति जो. बाइडन ने कहा है कि वह जलवायु एवं ऊर्जा उद्देश्यों की प्राप्ति को भारत के साथ द्विपक्षीय सहयोग का एक ‘‘प्रमुख स्तंभ’’ बनाना चाहते हैं और मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ काम करने को लेकर आशान्वित हैं। बाइडन की टिप्पणी दोनों देशों द्वारा ‘भारत-अमेरिका जलवायु एवं स्वच्छ ऊर्जा एजेंडा 2030 भागीदारी’ की घोषणा किए जाने के एक दिन बाद आई। भारत और अमेरिका ने पेरिस समझौते के लक्ष्यों को प्राप्त करने के वास्ते मौजूदा दशक में संबंधित क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग को गहरा करने के लिए इस भागीदारी की घोषणा की है। बाइडन ने जलवायु परिवर्तन पर आयोजित दो दिवसीय वर्चुअल शिखर सम्मेलन में शुक्रवार को अपने संबोधन में कहा, ‘‘जलवायु एवं ऊर्जा संबंधी हमारे उद्देश्यों को प्राप्त करने, इसे हमारे द्विपक्षीय सहयोग का प्रमुख स्तंभ बनाने के लिए मैं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मिलकर काम करने को लेकर आशान्वित हूं।’’ भागीदारी में जलवायु कार्रवाई और स्वच्छ ऊर्जा की दिशा में 2030 के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को हासिल करने के लिए 450 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा स्थापित करना शामिल है।

कोई टिप्पणी नहीं: