कोविड-19 से उबरे सचिन तेंदुलकर, प्लाज्मा दान करेंगे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 24 अप्रैल 2021

कोविड-19 से उबरे सचिन तेंदुलकर, प्लाज्मा दान करेंगे

sachin-recoverd-will-donate-plazma
मुंबई, 24 अप्रैल, पूर्व भारतीय कप्तान सचिन तेंदुलकर ने शनिवार को कहा कि वह कोविड-19 से उबर गये हैं और जब भी वह प्लाज्मा दान करने के योग्य होंगे तो वह ऐसा करेंगे। शनिवार को अपना 48वां जन्मदिन मना रहे तेंदुलकर को 27 मार्च को कोविड-19 के लिये पॉजीटिव पाया गया था तथा वह एहतियात के तौर पर कुछ समय के लिये अस्पताल में भी भर्ती रहे थे। तेंदुलकर ने अपने ट्विटर हैंडल पर जारी वीडियो में कहा, ‘‘मैं एक संदेश देना चाहूंगा जिसे चिकित्सकों ने मुझे देने के लिये कहा है। मैंने प्लाज्मा दान केंद्र का उद्घाटन किया था और उनका संदेश था, यदि सही समय पर प्लाज्मा दिया जाता है तो रोगी जल्दी ठीक हो सकता है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं निजी तौर पर जब योग्य हो जाऊंगा तब इसे दान करूंगा और मैंने अपने चिकित्सकों से बात की है। ’’ तेंदुलकर को आठ अप्रैल को अस्पताल से छुट्टी मिल गयी थी और वह घर पर ही पृथकवास पर थे। प्लाज्मा दानकर्ता में इसे दान करने से 14 दिन पहले तक किसी तरह के लक्ष्ण नहीं होने चाहिए। इस दिग्गज बल्लेबाज ने कोविड-19 से उबरने वाले लोगों से प्लाज्मा दान करके दूसरों की मदद करने को कहा। उन्होंने कहा, ‘‘और आप जो भी कोविड-19 से उबर गये हैं, अपने चिकित्सक से मशविरा करें और जब आप योग्य बन जाएंगे कृपया रक्तदान करें। इससे काफी समस्या का निदान हो सकता है।’’ तेंदुलकर ने कहा, ‘‘हम जानते हैं कि जब तक हम बीमार रहते हैं तब तक हमारे परिजनों, दोस्तों को कितनी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ’’ तेंदुलकर ने उपचार के दौरान उन्हें सकारात्मक बनाये रखने के लिये भी चिकित्सकों का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा, ‘‘जन्मदिन की शुभकामनाओं के लिये आपका आभार। इससे वास्तव में मेरा दिन बन गया। पिछला एक महीना मेरे लिये काफी मुश्किल वाला रहा। मेरा परीक्षण पॉजीटिव आया और मैं 21 दिन तक अलग थलग रहा। ’’ तेंदुलकर ने कहा, ‘‘आपकी प्रार्थनाएं और शुभकामनाओं, मेरे परिवार और मित्रों की प्रार्थनाएं और शुभकामनाओं के साथ सभी चिकित्सकों और उनके सहयोगियों ने मुझे सकारात्मक बनाये रखा जिससे मुझे बीमारी से उबरने में मदद मिली। आप सभी बहुत बहुत धन्यवाद। ’’

कोई टिप्पणी नहीं: