सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 25 अप्रैल 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 अप्रैल

अस्थाई नियुक्ति कर वेंटीलेटर टेकनिशियन लाओ, वेतन कांग्रेस देगी


sehore news
सीहोर/ सीहोर जिला अस्पताल में तीन वेंटीलेटर होते हुए भी बंद है। कोविड काल मे गंभीर मरीज वेंटीलेटर के आभाव में काल के गाल में समा रहे है। जिला कांग्रेस कमेटी सीहोर ने यह तय किया है कि स्वस्थ विभाग तुरंत अस्थाई टेकनिशियन नियुक्त कर तीनो वेंटिलेटर का संचालन प्रारम्भ करे  टेकनिशियन को दिए जाने वाला वेतन कांग्रेस पार्टी वहन करेगी। जनहित में यह निर्णय लेते हुए जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री डॉ बलवीर तोमर सहित वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने वेंटीलेटर व्यवस्था प्रारम्भ करने यह प्रस्ताव स्वास्थ विभाग को भेजा है । इस सबंध में सीएमएचओ के नाम प्रस्ताव पत्र मप्र युवा कांग्रेस के सचिव राजीव गुजराती लेकर जिला अस्पताल पहुचे ओर ड्यूटी डॉक्टर को सौपा। इस संबंध में अबिलम्ब वेंटिलेटर टेकनिशियन नियुक्त कर वेंटीलेटर संचालन प्रारम्भ करने की मांग कांग्रेसजनों ने की है। मांग करने वालो में जिला कांग्रेस अध्यक्ष बलवीर तोमर,नईम नवाब, अनूप सिंह भाटी, राजाराम बड़े भाई, हरीश राठौर, मोहिनी अग्रवाल सुरेंद्र सिंह सोठिया, अर्जुन शर्मा सलकनपुर, बलवान सिंह, अरविंद सिंह, ब्रजेश पटेल, विरजेंद्र तिवारी, राजकुमार यादव,सादिक मेव, प्यारे पटेल, संतोष गुप्ता, जसवीर सिंह, अतुल उपध्याय, निशांत वर्मा, पुनीत राठौर, शंकर खरे, मृदुल तोमर, पंकज शर्मा, सर्वेश व्यास आदि कांग्रेस जन शामिल है।

कलेक्टर ने किया रेहटी कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण, आवश्यक सुविधाओं को लेकर दिए निर्देश


sehore news
रेहटी के छात्रावास में कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। कोविड केयर सेंटर का कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने किया निरीक्षण। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कोविड केयर सेंटर में सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के दिए निर्देश। श्री गुप्ता ने कहा कि कोविड केयर सेंटर में मरीजों को भर्ती कराने से लेकर समुचित उपचार करने में कोई परेशानी न हो। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को कोविड गाइड लाईन का पालन करते हुए ड्यूटी करने के लिए कहा। इस दौरान संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।


आपकी जिदंगी बहुत अनमोल हैं - मास्क लगाएं - आप सुरक्षित - दूसरा भी सुरक्षित

  • कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये रखें सावधानियां

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये सावधानियां रखना अतिआवश्यक है और कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये हमें अपने व्यवहार में अनुकूल परिवर्तन लाना भी जरूरी है। स्वास्थ्य विभाग ने जनसामान्य से आग्रह किया है कि वे बार-बार अपनी आंख नाक और मुंह को छूनें से बचें, दूर से अभिवादन करें न किसी से हाथ मिलायें, न गले मिलें, आपस में दो गज की दूरी जरूर रखें। घर से बाहर निकलने पर हमेशा मॉस्क पहनें। खांसते और छींकते समय अपने मुंह तथा नाक को ढंककर रखें। श्वसन संबंधी शिष्टाचार का पालन करें। बार-बार साबुन तथा पानी अथवा अल्कोहलयुक्त सेनीटाईजर से हाथों को धोयें। सार्वजनिक स्थानों पर न थूकें, तंबाकू गुटका खैनी पान आदि खाकर यहां-वहां न थूकें। बार-बार छुएं जाने वाली सतहों को नियमित रूप से विसंक्रमित करें। अनावश्यक यात्रा से बचें। कोरोना को लेकर किसी से भेदभाव न करें। अनावश्यक भीड़भाड़ इकट्ठा न होने दें। अफवाहों पर ध्यान न दें और सोशल मीडिया पर किसी भी अपुष्ट जानकारी को प्रसारित न करें। सूचना के भरोसेमंद स्त्रोतों से ही जानकारी लें। आपस में सभी एक दूसरे को मनोवैज्ञानिक रूप से सहयोग प्रदान करें।  


मीटर रीडर एवं बिल वितरक को सहयोग की अपील


बिजली कंपनी के मीटर रीडर और बिल वितरक कोरोना काल में भी अपनी ड्यूटी पूरी निष्ठा से निभा रहे हैं। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी उपभोक्ताओं से आग्रह करती है कि इन बिजली कार्मिकों को कोरोना वारियर्स की तरह सम्मान देते हुए मीटर रीडिंग एवं बिल वितरण के काम में सहयोग करें। गौरतलब है कि अनवरत बिजली आपूर्ति के लिए सतत् राजस्व संग्रह बिजली कंपनी की आवश्यकता है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा कोरोना प्रोटोकाल के अनुसार सुरक्षा मापदंडो का परिपालन करते हुये मीटर रीडिंग एवं बिल वितरण का कार्य सुरक्षा एवं सावधानियों के साथ करने के निर्देश मैदानी अधिकारियों को दिए गए हैं। कंपनी ने विद्युत मीटर रीडिंग, बिल वितरण एवं राजस्व संग्रहण का कार्य करने के लिए प्रोटोकाल जारी किए है। प्रोटोकॉल- कर्मचारियों के कार्यालय में आने एवं जाने के समय थर्मल स्केंनिंग आवश्यक रूप से की जाये। तापमान अधिक होने पर उस कर्मचारी को उस दिन सेवा में नहीं लिया जाये। संबंधित कार्मिक की  चिकित्सक से आवश्यक जॉच करवाई जाए। प्रत्येक 30 मिनट में हाथ धोने की सुविधा उपलब्ध रखी जाये। इस हेतु हैंडवाश/साबुन /सैनेटाईजर का पर्याप्त स्टॉक रखा जाये। कर्मचारी/ अधिकारी के मोबाईल में आरोग्य सेतु एप होना अनिवार्य है। फीवर क्लीनिक,  कोविड अस्पताल की सूची उपलब्ध रखी जाये ताकि आवश्यकता पड़ने पर कर्मचारियों को सुविधा प्रदान की जा सके। क्वारंटाईन क्षेत्र की जानकारी उपलब्ध होनी चाहिए। इस क्षेत्रों में कार्य के लिये जाते समय कर्मचारी/अधिकारियों को विशेष रूप से सजग रहना आवश्यक है। सामाजिक दूरी बनाते हुये वाहनों का उपयोग किया जाये। कर्मचारियों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहने एवं समय-समय पर हाथ धोने एवं सैनेटाइज करने आदि के बारे में प्रशिक्षण दिया जाये। मास्क का पर्याप्त स्टॉक बनाकर रखा जाये।  सभी मीटर रीडरों को निर्देशित किया जाये कि उपभोक्ता के परिसर में प्रवेश के पहले सूचना देकर अथवा घंटी बजाकर उपभोक्ता को बुलाया जाये एवं उससे पर्याप्त दूरी (न्यूनतम 2 गज) रखते हुये परिसर में आने का उद्देश्य समझाया जाये। किसी भी स्थिति में मास्क नहीं उतारा जाये ताकि उपभोक्ता के समक्ष सुरक्षा का वातावरण बना रहे।  मीटर रीडिंग लेते समय उपभोक्ता से पर्याप्त दूरी बनाते हुये मीटर रीडिंग ली जाये। परिसर में प्रवेश के पूर्व एवं आने के बाद अपने हाथों को सैनेटाइज किया जाये। मीटर रीडिंग की फोटो अपलोड करने की सुविधा- कंपनी द्वारा वाट्स एप चैटवॉट में मीटर रीडिंग की फोटो अपलोड करने की सुविधा एवं उपाय मोबाईल एप में उपभोक्ताओं को स्वयं रीडिंग दर्ज करने एवं मीटर रीडिंग की फोटो अपलोड करने के लिये भी व्यवस्था की गई है। कंपनी ने सभी उपभोक्ताओं को पंजीकृत मोबाईल नम्बर पर एस.एम.एस. के माध्यम से सूचना प्रेषित कर सलाह दी जा रही है कि नियत अवधि में मीटर रीडिंग की फोटों अपलोड करें ताकि सही रीडिंग के अनुसार उनको विद्युत बिल प्राप्त हो सके। ऐसे उपभोक्ताओं को ई-मेल/वाटस् एप के माध्यम से भी विद्युत देयक प्रेषित करने की व्यवस्था की गई है।


वरिष्ठ नागरिक बेघर अवस्था में हो या उनके साथ दुर्व्यवहार होता हो तो टोल फ्री नंबर 14567 पर सूचना दें


वरिष्ठ नागरिक बेघर अवस्था में हो अथवा उनके साथ दुर्व्यवहार हो रहा हो तो टोल फ्री नंबर 14567 पर कॉल कर सूचित करें, ताकि संबन्धित विभागों के अधिकारियों द्वारा वरिष्ठ नागरिकों को सुरक्षा एवं आवश्यक सेवाएं दी जा सके एवं उनकी देखभाल की जा सके। विदित हो कि वरिष्ठ नागरिकों को सहायता एवं सेवा प्रदान करने हेतु भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय एवं राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा भारत सरकार द्वारा  राष्ट्रीय हेल्पलाइन (एल्डर हेल्पलाइन) स्थापित की गई है। मध्यप्रदेश में हेल्पलाइन 14567 का क्रियान्वयन सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा हेल्पेज इंडिया भोपाल के माध्यम से किया जा रहा है।   


वाहनों पर फास्टैग लगाया जाना अनिवार्य


परिवहन विभाग द्वारा 1 दिसम्बर 2017 के पश्चात निर्मित या विक्रय किए गए वाहनों पर फास्टैग लगाया जाना अनिवार्य किया गया है। समस्त राष्ट्रीय परमिट प्राप्त करने वाले वाहनों में 1 अक्टूबर 2019 से फास्टैग लगाया जाना अनिवार्य किया गया है तथा समस्त एम और एन श्रेणी चार पहिया यात्री एवं मालवाहन जो एक दिसम्बर 2017 से पूर्व विक्रित किए गए हो उन्हें  फास्टैग लगाया जाना अनिवार्य किया गया है। समस्त चार पहिया वाहन विक्रेता, समस्त बस संचालक, समस्त ट्रक संचालक तथा समस्त चार पहिया वाहन स्वामियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने वाहनों में फास्टैग अनिवार्य लगवा लें अन्यथा बिना फास्टैग वाले वाहनों के पंजीयन, अंतरण, फिटनेस , परमिट जारी नहीं किए जाएंगें। इसलिए अपने वाहनों में फास्टैग अनिवार्य लगवायें और होने वाली असुविधा से बचे।  


कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए दिव्यांगजनों को कार्यालय में आने से छूट रहेगी, आयुक्त नि:शक्तजन ने सभी विभागों और कलेक्टर को निर्देश जारी किए


आयुक्त निःशक्तजन, मध्यप्रदेश एवं राज्य नोडल अधिकारी ने प्रदेश के सभी कार्यालयों में दिव्यांगजन के कार्यालय में आने से छूट प्रदान करने संबधी निर्देश जारी किए है कि सभी जिला और अन्य कार्यालय में कोरोना संक्रमण से दिव्यांगजनों को बचाने के लिए छूट देने को कहा गया है। दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम 2018 प्रावधान के अनुसार संरक्षण एवं सुरक्षा के तहत दिव्यांगजनों को सुरक्षा एवं संरक्षण प्रदान किये जाने के लिये भारत सरकार दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग एवं मुख्य आयुक्त दिव्यांगजन, भारत सरकार, नई दिल्ली द्वारा प्रदत्त दिशा - निर्देशों के तहत आपके अधीन कार्यालय में पदस्थ दिव्यांग अधिकारियों, कर्मचारियों को लॉकडाउन के दौरान कार्यालय में उपस्थित होने में छूट प्रदान की जाने और  विशेष आवश्यक होने पर ही उन्हें कार्यालय में बुलाया जाये तथा घर पर रहकर कार्य करने की सुविधा प्रदान की जाये। कोराना संक्रमण को राष्ट्रीय आपदा घोषित किया गया है एवं प्रदेश के विभिन्न जिलों में कोरोना कोविड -19 संक्रमण से संभावित मरीजों की संख्या में निरंतर बढोत्तरी हो रही है। साथ ही मरीजों में सुधार भी हो रहा है। वर्तमान परिस्थिति में राज्य एवं जिला स्तर पर आवश्यकतानुसार कोरोना कर्फ्यू, लॉकडाउन लगाया जा रहा है। कोरोना वायरस संक्रमण में दिव्यांगजनों के संक्रमित हो जाने का खतरा अधिक होता है।      


कोरोना संक्रमण की रोकथा एवं इलाज के संबंध मे कमिश्नर एवं कलेक्टर ने ग्रामीण अमले के दिए दिशा-निर्देशा 


sehore news
आष्टा जनपद की मेहतवाड़ा तथा मैना ग्राम पंचायत में भोपाल संभागायुक्त श्री कविन्द्र कियावत एवं कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने ग्रामीण क्षेत्रों मे कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं उपचार के संबंध में ग्रामीण क्षेत्रों पदस्थ अधिकारियों-कर्मचारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए। संभागायुक्त श्री कियावात एवं कलेक्टर श्री गुप्ता ने बताया कि कि डोर टू डोर सर्वे के दौरान कोविड-19 के लक्षण पाये जाने पर उन्हेंने तुरंत जांच के लिये स्वास्थ्य केन्द्र भेजा जाये। जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाये जाने पर मरीज की रिर्पोट के आधार पर चिकित्सकों द्वारा कोविड केयर सेंटर में भर्ती करने या कोरेन्टाइन सेंटर में रखने अथवा होम आइसोलेशन में उपचार का निर्णण लिया जायेगा। चिकित्सकों के निर्देश के उपरान्त मरीज होम आइसोलेट किया जाता है तो उन्होंने आवश्यक दवाओं की किट प्रदान करने के साथ ही उसके स्वास्थ्य की सतत मानीटरिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि लोगों को जागरूक किया जाये कि इलाज से बेहतर उपाय है बचाव। संभागायुक्त एवं कलेक्टर ने ग्रामीणों एवं जनप्रतिनिधियों से भी चर्चा की। 


ग्रामवासियों को जगरूक किया जाए

उन्होंने ग्रामवासियों को कोविड के संक्रमण और उसके बचाव के लिये जागरूक किया जाये। उन्होंने कहा कि सावधानी बचाव का बेहतर उपाय है। लोगों को मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने तथा अनावश्यक घर से बाहर न निकने, बार बार साबुन से हाथ धोने के लिए जागरूक किया जाए। 


सर्दी, खांसी, बुखार होने पर तुरंत दिखाएं

उन्होंने कहा कि सर्दी, खांसी तथा बुखार होने पर तुरंत नजदीकी स्वाथ्य केन्द्र, आशा, एएनएम को दिखाने के लिये कहा जाए ताकि कोरोना की समय पर जांच की जा सके और इलाज किया जा सके। उन्होंने कहा की ग्रामवासियों को यह बताया जाए वे सामान्य सर्दी, खांसी मानकर घर पर ही खुद इलाज न करें, ऐसा करना घातक हो सकता है।


माइक्रो कन्टेनमेंट बनाया जाए

उन्होंने कहा कि गांव में किसी व्यक्ति की पॉजिटिव रिर्पोट आती है तो उसके घर को माइक्रो कन्टेंमेंट बनाया जाये। मइको कन्टेंन्मेंट बनाने के बाद नियमित मॉनीटरिंग भी की जाये ताकि उस घर के व्यक्ति बाहर न निकले। साथ ही उनके लिये दवाऐं एवं जांच का भी पर्याप्त इंतजाम हो।


योग एवं व्यायाम

उन्होंने कहा कि शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में योग एवं व्यायाम सहायक होते हैं। सभी लोगों को नियमित योग या व्यायामक रने के लिये जागरूक किया जाये। साथ ही खाने में पौष्टिक आहार लेने के लिये कहा जाए।   


जिले में 230 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजीटिव की संख्या 1359, 2 कोरोना संक्रमितों की मृत्यु, मृतकों की कुल संख्या 77


पिछले 24 घंटे के दौरान 230 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले। इनमें सीहोर शहरी क्षेत्र के 58 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जो लुनिया चौराहा, देवनगर, जनता कॉलोनी, बड़ियाखेड़ी, कस्बा, छीपापुरा, महादेव स्टेट, पुलिस लाईन, नेहरु नगर, ब्रहमपुरी, चाण्क्यपुरी, गंज, इंग्लिशपुरा, सुभाष मार्ग, पुरानी सब्जी मंडी, लेबर कॉलोनी, डीडी स्टेट, भोपाल नाका, शुगर फैक्ट्री चौराहा, खान मोहल्ला, एमयू नगर, दोहर मोहल्ला, कोतवाली चौराहा, श्रीराम कॉलोनी, कोलीपुरा, हाउसिंग बोर्ड, इंदिरा नगर के निवासी हैं इसी प्रकार नसरुल्लागंज क्षेत्र से 08 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं जो हालियाखेड़ी, नसरुल्लागंज के वार्ड नंबर 11, 14, 01, बालागांव, चकल्दी, लाड़कुई, कोर्ट एरिया के निवासी हैं। इछावर अन्तर्गत 45 व्यक्ति संक्रमित पाए गए जो इछावर के वार्ड नंबर 05, 03, 12, 01, 13, 06, 12, वीरपुर डेम, पांगरा, अतरालिया, ग्वाड़िया, कांकरखेड़ा, बरखेड़ाकुर्मी, हीरापुर, मोलगा, धाईखेड़ा, चैनपुरा, अमलाहा, पीलूखेड़ी, नीलबड़, पालखेड़ी के निवासी हैं। श्यामपुर अन्तर्गत 18 व्यक्ति संक्रमित मिले हैं जो कुशमादा, दोराहा, बिलकिसगंज, श्यामपुर, कदमपुर, मुंगावली, साईंधाम, बमूलिया, पाटनी, मुगीसपुर, बड़ी मुगांवली, मोगराराम, निपानिया कला, बिजोरी, पड़लिया के निवासी हैं। बुदनी क्षेत्र से 10 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो बुदनी के वार्ड नंबर 11, रेहटी वार्ड नंबर 12, ग्वाड़िया, महुकला, बायां, सलकनुपर के निवासी हैं। आष्टा क्षेत्र से 91 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं जो आदर्श कॉलोनी, जावर, नौगांव, कोठरी, संचोश कॉलोनी, कन्नोद रोड़ आष्टा, काजीपुरा, रसूलपुर, अंजनी नगर, पार्वती थाना, हकीमाबाद, गुराड़िया, कॉलोनी चौराहा, पटवारी कॉलोनी, पांगरी, डाबरी, डोडी, मुदीखेड़ी, कजलाश, आष्टा मेन रोड़, मेवाड़ा, कॉलोनी, रायल कॉलोनी, मानस भवन, बुधवारा, ताजपुरा, चामशी, पटाड़ा चौहान, भूपोड़, शोभाखेड़ी, अरनियाराम, राम मंदिर रोड़, बोरखेड़ा, शांतिनगर, गिलखेड़ी, भंवरा, मालपुरा, खजूरिया, सेमनरी रोड़, साईं कॉलोनी, किला क्षेत्र, काजीखेड़ी, मुकाती पेट्रोल पंप, मुकाती कॉलोनी, झीलेला रोड़, खंडेलवाल चौराहा, गोपालपुरा, खड़ीहाट, खामखेड़ा वैद्यनाथ, सिद्धिकगंज, बोरखेड़ी, नजरगंज, मुबारिकपुर के निवासी हैं।    पिछले 24 घंटे के दौरान 2 कोरोना पॉजिटिव की उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। जिला चिकित्सालय स्थित डेडिकेटेट कोविड हेल्थ सेंटर (डीसीएचसी) एवं भोपाल नाका स्थित आवसीय छात्रावास डीएचसी में 1-1 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु हो गई। मृतकों में एक पुरुष तथा एक महिला शामिल हैं। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्तमान में जिले में एक्टिव पॉजिटिव 1359 हैं। आज 71 व्यक्ति रिकवर हुए। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 4254 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 77 है । आज 985 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 181, श्यामपुर से 133, विकासखंड नसरुल्लागंज से 161, आष्टा से 243 एवं बुदनी विकासखंड से 153 तथा इछावर से 114 सेंपल लिये गए हैं। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 5690 है जिसमें से 77 की मृत्यु हो चुकी है 4254 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है। तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 1359 है। आज 985 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 98957 हैं जिनमें से 91879 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 520 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1317 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या  कुल 71 है। जिले मे जो व्यक्ति होम क्वारन्टाईन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-1075 है। जिला स्तर पर मोबाइल नंबंर 9425400273, 7987652577, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारन्टाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाईन नंबंर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारन्टाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकॉलाजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।     


70 व्यक्तियों को लगा कोरोना का टीका


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर प्रदेश के साथ ही सीहोर जिले में कोविड टीकाकरण किया जा रहा है। रविवार को शहरी सीहोर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहित जिला चिकित्सालय क़े 1 सत्र में कुल 70 व्यक्तियों को कोविड का प्रथम एवं द्वितीय टीका लगाया गया।


26 अप्रैल को सांई मंदिर सहित 5 केन्द्रों पर लगेगा कोविड-19 का टीका


निरंतर बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देश पर नागरिकों की सुविधाओं के लिए सोमवार 26 अप्रैल को चाणक्यपुरी स्थित सांई मंदिर सहित 5 अन्य स्थानों पर कोविड-19 का टीका लगाया जाएगा। सांई मंदिर स्थित टीकाकरण केन्द्र पर चाणक्यपुरी, अवधपुरी, हाउसिंग बोर्ड एवं आसपास के क्षेत्र के 45 वर्ष से अधिक आयु के ऐसे समस्त नागरिक जिनका जन्म ( 01 जनवरी 1977 के पूर्व हुआ हो ) वे सभी टीकाकरण स्थल पर पहुंचकर टीका लगवा सकते है। प्रातः 9.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक टीकाकरण किया जाएगा। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.एम.चंदेल ने जानकारी दी कि मुताबिक जिला चिकित्सालय स्थित न्यू लांड्री भवन में भी टीकाकरण किया जाएगा वहीं गंज स्थित सुभाष हायर सेकेण्डी स्कूल, शास.उत्कृष्ट उच्च.माध्य.विद्यालय क्रमांक-1 स्कूल, मण्डी स्थित संजीवनी क्लीनिक में भी कोविड का टीकाकरण किया जाएगा।


जिले में ऑक्सीजन की आपूर्ति एवं व्यवस्था के लिए नोडल एवं सहायक अधिकारी बनाये


कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए जिले के समस्त अस्पतालों में ऑक्सीजन की पूर्ति एवं व्यवस्था संबंधी कार्य के लिए कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा नोडल अधिकारी एवं सहायक नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। कलेक्टर श्री गुप्ता के जारी आदेश अनुसार डिप्टी कलेक्टर श्री आदित्य जैन को नोडल अधिकारी एवं जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री अशोक श्रीवास्तव को सहायक नोडल अधिकारी बनाया है। जो मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा सिविल सर्जन जिला चिकित्सालय सीहोर से समन्वय करते हुए ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: