कोरोना के कारण दिल्ली में आज रात से कर्फ्यू लागू - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 16 अप्रैल 2021

कोरोना के कारण दिल्ली में आज रात से कर्फ्यू लागू

weekend-curfyu-imposed-in-delhi
नयी दिल्ली 16 अप्रैल, दिल्ली में काफी तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए शुक्रवार रात 10 बजे से सप्ताहांत कर्फ्यू लागू हो गया। यह स्पताहांत कर्फ्यू कुल 55 घंटे का होगा। दिल्ली में शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक के लिए सप्ताहांत कर्फ्यू लगाने की घोषणा की गयी है। राजधानी में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए दिल्ली सरकार की ओर से जारी किए गए दिशा-निर्देशों के मुताबिक सप्ताहांत में कर्फ्यू के दौरान आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के अलावा शादी समारोह में शामिल होने वाले लोगों के लिए कर्फ्यू पास जारी किए जायेंगे। इस दौरान दिल्ली में सभागार, मॉल, जिम और स्पा पूरी तरह से बंद रहेंगे। सिनेमाघरों को 30 प्रतिशत क्षमता के साथ चलाने की अनुमति दी गयी है। आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को कर्फ्यू पास जारी किए जाएंगे। लोगों के रेस्तरां में बैठकर खाना खाने पर रोक रहेगी और केवल होम डिलीवरी की अनुमति होगी।


मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल और अन्य अधिकारियों के साथ मुलाकात करने के बाद यह फैसला लिया है। इस दौरान कई तरह की पाबंदियां रहेंगी, लेकिन लोगों को जरूरत के हिसाब से छूट भी प्रदान की जाएगी। मुख्य सचिव ने अपने आदेश में कहा है कि सप्ताह के अंत के कर्फ्यू में लोगों के आवाजाही पर रोक लगी रहेगी, लेकिन सामान की आवाजाही बेरोकटोक जारी रहेगी। मुख्य सचिव ने सभी जिलाधिकारी और डीसीपी को इस आदेश को सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया है तथा इसका पालन नहीं करने पर आपदा प्रबंधन कानून के तहत सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। सबसे बड़ी बात यह है कि इसमें बिना काम के घर से बाहर निकलने पर रोक, इसके लिए अतिरिक्त जरूरत पड़ने पर घर से बाहर निकलने पर लोगों को छूट है, बशर्तें वाजिब वजह होनी चाहिए। देश के कई अन्य राज्यों की तरह राजधानी दिल्ली में भी कोरोना संक्रमण काफी तेजी से फैल रहा है। दिल्ली में 19,486 नये मामले सामने आने के बाद कोरोना संक्रमितों की संख्या 8,03,623 हो गयी है। इस दौरान 12,649 लोगों के स्वस्थ होने पर संक्रमणमुक्त लोगों की संख्या बढकर 7,30,825 हो गयी है। इसी अवधि में 141 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकडा 11,793 को पार कर चुका है। राजधानी में फिलहाल सक्रिय मामले 61,005 हो गये हैं जिनका विभिन्न स्थानों पर इलाज किया जा रहा है। इस बीच, दिल्ली सरकार ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को अहम जिम्मेदारी देते हुए राजधानी में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए कोविड-19 प्रबंधन का नोडल मंत्री नियुक्त किया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस संबंध में एक आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं जिसके मुताबिक श्री सिसाेदिया अब राजधानी में कोविड-19 प्रबंधन के लिए नोडल मंत्री के रूप में कार्य करेंगे और अगले आदेश तक अंतर-मंत्रालयी समन्वय की जिम्मेदारी भी संभालेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: