सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 6 मई 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 मई

 किल कोरोना-3 अभियान 7 से 25 मई तक होगा संचालित


कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए स्वास्थ्य आयुक्त सह सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के निर्देश अनुसार 7 मई से 25 मई तक किल कोरोना-3 अभियान संचालित किया जाएगा। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने सभी संबंधित अधिकारियों को सुचारू रूप से अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। कोविड-19 रोगियों के शीघ्र पहचान एवं त्वरित उपचार की दृष्टि से ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में स्पेशल फीवर स्क्रीनिंग कैंपेन किल कोरोना-2 अभियान का संचालन किया जा रहा है। प्रदेश में कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए अधिकाधिक जनसंख्या तथा स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार के लिए किल कोरोना-3 अभियान का संचालन शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में किया जाएगा। किल कोरोना-3 अभियान के अंतर्गत सर्दी, खांसी, बुखार के लक्षण युक्त रोगियों के प्राथमिक उपचार एवं कोविड-19 के सर्वेलेंस के लिए की गई है। किल कोरोना-3 अभियान के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ महिला एवं बाल विकास विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास एवं नगरीय आवास एवं विकास विभाग के मैदानी अमले द्वारा वृहद स्तर पर संबंधित गतिविधियां सुनिश्चित की जाएगी। ताकि प्रत्येक नागरिक तक स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया जा सके।        


किल कोरोना अभियान के अन्तर्गत अनुविभाग एवं ब्लाक स्तरीय कंट्रोल रूम संचालित    


कोरोना संक्रमण की रोकथाम तथा कोविड संबंधी सूचाओं के लिए अनुविभाग एवं ब्लाक स्तर पर किल कोरोना अभियान के तहत कंट्रोल रूम संचालित किए जा रहे हैं। कंट्रोल रूम में जल संसाधन विभाग के अधिकारी/कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। सीहोर अनुविभाग में उपयंत्री श्री धर्मेन्द्र कुमार मालवीय-9425393393, आष्टा में श्री महेन्द्र कुमार शर्मा-9977168302, इछावर में श्री धीरेन्द्र कुमार पुरोहित-9425305557, नसरुल्लागंज में श्री अंकित सक्सेना-9981662364 एवं बुधनी कंट्रोल में श्री एमके यादव-9981328144 की ड्यूटी लगाई गइ है। यह अधिकारी/कर्मचारी अनुविभाग एवं ब्लाक स्तर पर संचालित कंट्रोल रूम से किल कोरोना अभियान के तहत पाए गए संदिग्ध एवं पॉजिटिव व्यक्तियों के फालोअप संबंधी जानकारी प्राप्त कर 10 प्रतिशत संदिग्ध पॉजिटिव व्यक्तियों की संपूर्ण जानकारी नाम, मोबाइल नंबर आदि जिला स्तर स्थित कंट्रोल रूम प्रभारी श्री दीपक चौकसे को उपलब्ध कराएंगे। साथ ही जिला स्तरीय कंट्रोल रूम से प्राप्त जानकारी के आधार पर संबंधितों से दूरभाष पर फालोअप प्राप्त करेंगे।  


ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु लोगों को दी जा रही समझाइश, सर्दी, खांसी के मरीजों को दिलाई जा रही भाप


sehore news
कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं ग्राम कोटवारों द्वारा जागरुक किया जा रहा है। गाँवों में लोगों को कुकर से भाप लेने की विधि बताई जा रही है। साथ ही सर्दी, जुखाम के मरीजों को भाप रथ द्वारा भाप भी दिलाई जा रही है। कार्यकर्ताओं द्वारा लोगों को समझाया जा रहा है कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क लगाए, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें एवं हाथों को बार-बार साबुन से धोते रहें।


जिले में डोर टू डोर सर्वे के दौरान किया जा रहा है मरीजों का परीक्षण


sehore news
कोविड-19 के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए प्रारंभिक स्तर पर ही पता लगाने तथा समुचित इलाज के लिए डोर टू डोर सर्वे का कार्य आशा, एएनएम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा निरंतर किया जा रहा है। आशा, एएनएम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा घर घर जाकर मरीजों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली जा रही है। साथ ही थर्मल स्कैनर से फीवर तथा ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन सीजन लेवल चेक किया जा रहा है एवं कोविड-19 के संभावित लक्षण मिलने पर उन्हें स्वास्थ्य केंद्र भेजा जा रहा है। आंगनवाडी कार्यकर्ताओं द्वारा लोगों को कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए भी जागरुक किया जा रहा है। साथ ही मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग बनाने एवं हाथों को सेनेटाईज करने आदि की सलाह दी जा रही है। 


रणनीति बनाकर कोरोना पर करे प्रहार-मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • शासकीय अमले के साथ ग्रामीणों की भी टीम बनाई जाए

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना पर अंतिम प्रहार का समय आ गया है। किल कोरोना अभियान के संचालन के लिए सरकारी टीम के साथ ही ग्रामीणों की टीम गाँव स्तर पर तैयार की जाए, जो सर्वेक्षण कार्य में शासकीय अमले को सहयोग करें। साथ ही सर्वेक्षण के बाद यह टीम गाँव में रहते हुए भविष्य में जरुरत पड़ने पर कोरोना गाइड लाईन के पालन में सहयोग करेगी। दल के सदस्यों के मोबाइल नम्बर भी पोर्टल पर प्रदर्शित किए जाएं, ताकि उनसे निरंतर सम्पर्क बना रहे। मुख्यमंत्री श्री चौहान वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा किल कोरोना अभियान के संबंध में चर्चा कर रहे थें। सर्वेक्षण में संक्रमित व्यक्ति छूटे नहीं- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि किल कोरोना अभियान के माध्यम से संक्रमण को पूरी तरह से रोकना और कब्जे में करने का यह उचित समय है। एक भी संक्रमित व्यक्ति छुपा नहीं रहें यह सुनिश्चित करना है। प्रदेश में संक्रमण की स्थिति में निरंतर सुधार हो रहा है, पॉजीटिव केसों की संख्या में कमी के साथ ही स्वस्थ होने वालों की संख्या भी निरंतर बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को पूरी तरह से रोकने के लिए रणनीति बनाकर प्रयास करने होंगे। किल कोरोना अभियान के तहत प्रत्येक गाँव और घर के सर्वेक्षण के लिए कार्य करना होगा। शासकीय अमले के साथ ही प्रत्येक गाँव के स्थानीय लोगों की टीम बनाई जाए। उसमें गाँव के सभी दलों के इच्छुक कार्यकर्ताओं, पंचायत पदाधिकारियों, जन अभियान परिषद के सदस्यों और समाज सेवियों को शामिल किया जाए। यह दल शासकीय अमले के साथ सहयोग समन्वय कर कोरोना के लक्षणों वाले रोगियों को चिन्हित करने, उन्हें मेडिकल किट देने और उनकी जाँच मे सहयोग करें। बड़े गाँवों में फीवर क्लीनिक बनेंगे- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बड़े गांवों में उप स्वास्थ्य केन्द्र के अतिरिक्त फीवर क्लीनिक भी बनाए जाएँ। उन्होंने कहा कि ग्राम स्तरीय दल को संक्रमण की निरंतर मॉनीटरिग के लिए तैयार किया जाए, ताकि सर्वे के उपरांत भी यदि किसी व्यक्ति में संक्रमण के लक्षण मिलते हैं तो उनकी जाँच कराने, मेडिकल किट देने, आवश्यकता अनुसार होम आइसोलेशन, कोविड केयर सेंटर एवं चिकित्सालय ले जाने की व्यवस्थाओं में सहयोग करें। इसी तरह नगर पालिका नगर निगम क्षेत्रों में भी वार्डवार समितियों का गठन किया जा सकता है।      किल कोरोना के लिए व्यापक जन-जागरण अभियान चलेगा-मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किल कोरोना अभियान के संबंध में व्यापक जन-जागरण की आवश्यकता बताई है कि जनसंचार के विभिन्न माध्यमों के उपयोग के साथ ही नगर पालिका, नगर निगम क्षेत्रों में मोबाइल एनाउसमेंट की व्यवस्था की जाए। कोरोना हेल्प सेंटरों का गठन किया जाए। ग्रामीण अंचल में डोंडी पिटवाकर अभियान के संबंध में जन-जागरण किया जाए। होम आइसोलेशन प्रोटोकॉल का प्रभावी पालन हो- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि होम आइसोलेशन के प्रोटोकॉल का प्रभावी पालन किया जाए। घर में समुचित व्यवस्थाओं के अभाव में संक्रमित व्यक्ति को ग्रामीणों की सहमति से क्वारेन्टाइन सेंटरों अथवा कोविड केयर सेंटर में ले जाया जाए। सेंटरों पर बुनियादी व्यवस्थाएँ भोजन आदि के प्रबंध किए जाए। इसके लिए राशि की भी व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि इसी तरह जिला और जनपद स्तर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी के नेत्तृत्व में टीम का गठन किया जाए, जिसमें सांसद, विधायक, जन-प्रतिनिधि सहित समाज-सेवियों को शामिल किया जाए।


वैक्सीनेशन का सुरक्षा चक्र करेगा कोरोना से बचाव -मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश एवं देश की जनता को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए उन्हें वैक्सीनेशन का सुरक्षा चक्र प्रदान किया जा रहा है। इसी अनुक्रम में बुधवार से 18 वर्ष से अधिक और 45 वर्ष तक आयु वर्ग के युवाओं से उनके टीकाकरण के पश्चात एवं पहले के अनुभवों पर वे वर्चुअली चर्चा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि प्रदेश में लगभग 5 करोड़ 16 लाख वैक्सीन डोज की जरूरत होगी। उन्होंने बताया कि गत दिवस को 45 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन भी प्राप्त हुए हैं। इनका आवश्यकतानुसार वितरण कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान कहा कि वैज्ञानिक कहते हैं, तथ्य बताते हैं कि वैक्सीनेशन लगवाने के बाद अलबत्ता तो कोरोना होगा नहीं, और यदि हुआ तो नुकसान नहीं पहुँचाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सागर, जबलपुर, उज्जैन और ग्वालियर के 18 वर्ष से अधिक आयु के वैक्सीनेटेड युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि एक - एक जिले में एक एक सत्र में वैक्सीनेशन कराया गया है।  उन्होंने कहा कि इस महीने 9 लाख लोगों को टीका लगाया जाएगा। अभी तक लगभग 82 लाख लोगों को टीका लगाया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देश की दो कंपनियों को वैक्सीनेशन आपूर्ति के लिए आदेश के साथ भारत सरकार के माध्यम से विदेशी कंपनियों से आपूर्ति के प्रयास किये जा रहे हैं। वैक्सीनेशन में नहीं हुई कोई परेशानी- मुख्यमंत्री श्री चौहान से वर्चुअली चर्चा करते हुए सागर की शीतल एवं राज ने कहा कि वैक्सीन लगवाने में कोई परेशानी नहीं हुई। पोर्टल पर सहजता से पंजीयन हो गया था एवं समय पर स्लॉट एवं सूचना मिल गयी थी। इसके बाद जबलपुर के शुभम एवं शुभाँगी से मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पूछा कि वैक्सीनेशन के बाद किसी प्रकार का कोई साइड इफेक्ट तो नहीं हुआ। उन्होंने कहा कोई साइड इफेक्ट नहीं हुआ। उज्जैन से अपूर्व देवड़ा एवं शिल्पी ने मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा पूछने पर बताया कि वेक्सीनेशन के बाद 30 मिनिट अंडर आब्जर्वेशन  में उन्हें रखा गया था। ग्वालियर के सत्यांश एवं आयुषी तोमर से उन्होंने वैक्सीनेशन स्थल के बारे में जानकारी ली। सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में पूछा और कहा कि हॉस्पिटल्स से दूर वैक्सीनेशन स्थल का चयन सुरक्षा को देखते हुए किया गया है।मुख्यमंत्री की अपील,प्लाज्मा एवं ब्लड करें डोनेट ग्वालियर की आयुषी के प्रस्ताव का समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपील की है, कि दूसरों की सहायता के लिए पुराने कोरोना पेशेन्ट अपना प्लाज्मा डोनेट करें। प्लाज्मा से दूसरे मरीजों की जान बचाई जा सकती है। उन्होंने आम जनता से कहा कि सप्ताह में 4 दिन वैक्सीनेशन किया जाएगा। वैक्सीनेशन के पहले व्यक्ति अपना ब्लड डोनेट कर सकते हैं। इससे आवश्यकता पड़ने पर दूसरों की मदद की जा सकेगी।


जिले में 140 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले, वर्तमान में कोरोना एक्टिव-पॉजीटिव की संख्या 931, 3 संक्रमित व्यक्ति की मृत्यु, कुल मृत्यु संख्या 103


पिछले 24 घंटे के दौरान 140 व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव मिले। सीहोर शहरी क्षेत्र से 30 व्यक्ति पॉजीटिव मिले हैं। जो संक्रमित व्यक्ति सब स्टेशन फायर बिग्रेड के समीप, डाइट कॉलोनी, इछावर रोड़, बड़ा बाजार, पुलिस लाईन, इंदौर नाका, चाण्क्यपुरी, शिव आराधय कॉलोनी, राठौर मोहल्ला, रानी मोहल्ला, गणेश मंदिर रोड़, अवधपुरी, ब्रहमपुरी, भोपाल नाका, कोतवाली चौराहा, गुलजारी का बगीचा, पारस विहार, पुलिस लाइन, रेलवे फाटक रोड़, कस्बा, पलटन एरिया के निवासी हैं। नसरुल्लागंज क्षेत्र से 23 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो सुनेड़, चकल्दी, सिवनी मालवा रोड़, निपानिया, खरसानिया, वासुदेव, सिराड़ी, बोरखेड़ा खुर्द, भैयालाल कॉलोनी, हमीदगंज, स्वपन सिटी, अतरालिया, लाड़कुई, बालागांव, टीकामोड़, रेहटी रोड़ के निवासी हैं। इछावर क्षेत्र अंतर्गत 15 व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं संक्रमित व्यक्ति इछावर के वार्ड नंबर 11, 07, वीरपुर डेम, अमलाहा, दुदलई, कांकरखेड़ा, ब्रिजिशनगर, सेमली जदीद, खेरी, नापली रोड़, अतरालिया, सतपीपलिया के निवासी हैं।  श्यामपुर क्षेत्र से 17 व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं संक्रमित व्यक्ति मखेड़ा, श्यामपुरा, चरनाल, अहमदुपर, निपानिया, नवारिया, दुर्गगांव, चरनाल, चांदबड़, मगरखेड़ा, धनखेड़ा, करंजखेड़ा, दुपाड़िया, डोबरा, मोगराराम, हथाईखेड़ा, जमोनिया, दोराहा, सिकंदरगंज, खाईखेड़ा, झरखेड़ा तथा बिलकिसगंज क्षेत्र के निवासी है। बुधनी क्षेत्र से तो 23 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो खितवाई, आमोन, सलकनपुर, थाना परिसर बुधनी, पीलीकरार, बुधनी के वार्ड नंबर 04,03, 11, रेहटी वार्ड नंबर 09, खेरी सिलेगना, बकतरा, सेमरी, वर्धमान कॉलोनी के निवासी हैं। आष्टा क्षेत्र से 32 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो डोडी, गल चौराहा, फूडरा, खड़ीहाट, साईं कॉलोनी, जमोनिया खुर्द, शास्त्री कॉलोनी, बड़ा बाजार, ब्रिजिशनगर, मुबारिकपुर, मंडली, इटावा इटारसी, झिरनिया, हथाईखेड़ा, पगारिया राम, सुभाष नगर, पदमसी, खाचरोद, हकीमाबाद, बजरंग कॉलोनी, सेमनरी रोड़, नजरगंज, मालवीय नगर, दशहरा मैदान रोड़, अलीपुर, कदराखेड़ी, साईं कॉलोनी, कोठरी, छापर, अगरपुरा, पखनी, डोडी, खामखेड़ा, बमूलिया भाटी, मगरखेड़ा, पाडलिया, शिवपुरा, पांगरी, कुरावर, रॉयल कॉलोनी, पटारिया गोयल, बुधवारा, पगारिया राम, किला, किलेरामा, गवाखेड़ा, जावर, सोलारसी, जताखेड़ी, हाजीपुर के निवासी हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान एक कोरोना पॉजिटिव की उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। जिला चिकित्सालय स्थित डेडिकेटेट कोविड हेल्थ सेंटर (डीसीएचसी) से 3 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु हो गई। मृतकों में तीनों पुरुष हैं।   सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्तमान में जिले में एक्टिव पॉजिटिव 931 हैं। आज 274 व्यक्ति रिकवर हुए। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 6650 हैं। कुल कोविड संक्रमित मृत व्यक्तियों की संख्या 103 है । आज 798 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 140, श्यामपुर से 167, विकासखंड नसरुल्लागंज से 161, आष्टा से 113 एवं बुदनी विकासखंड से 148 तथा इछावर से 69 सेंपल लिये गए हैं। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 7684 है जिसमें से 103 की मृत्यु हो चुकी है। 6650 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है। तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 931 है। आज 798 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 107674 हैं जिनमें से 99064 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 623 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 855 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले मे जो व्यक्ति होम क्वारन्टाईन में हैं उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 कॉल सेंटर स्थापित किया गया है। जिसका संपर्क नंबर- 07562-1075 है। जिला स्तर पर जिला कोविड कमाण्ड कंट्रोल सेंटर का मोबाइल नंबंर 9425400273, 7987652577, 9425400453 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होम क्वारन्टाईन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाईन नंबंर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारन्टाईन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साइकॉलाजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।


अंतर्जातीय विवाह के प्रस्ताव भेजने के लिये जिला कलेक्टर अधिकृत


भारत सरकार सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय नई दिल्ली द्वारा सामाजिक एकीकरण के लिये डॉ. अम्बेडकर स्कीम फॉर सोशल इंटीग्रेशन थ्रो इंटरकास्ट मैरिज प्रारंभ की गई है। डॉ. अम्बेडकर प्रतिष्ठान, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार के प्रावधान अनुसार डॉ. अम्बेडकर स्कीम फॉर सोशल इंटीग्रेशन थ्रो इंटरकास्ट मैरिज के प्रस्ताव भारत सरकार को सीधे अग्रेषित करने के लिये जिला कलेक्टर अधिकृत हैं। अनुसूचित जाति के युवक या युवती द्वारा सवर्ण युवक या युवती से विवाह करने पर योजना में ढाई लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है। यह योजना सम्पूर्ण भारतवर्ष में लागू होकर मध्यप्रदेश में भी क्रियान्वित की जा रही है। योजना में 500 दम्पतियों को प्रोत्साहित किये जाने का प्रावधान रखा गया है। योजना से संबंधित विस्तृत जानकारी का अवलोकन भारत सरकार, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय नई दिल्ली के पोर्टल ambedkarfoundation.nic.in पर किया जा सकता है।


निर्माताओं को रेमडेसिविर की सप्लाई बढ़ाने के निर्देश


राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 महामारी के नियंत्रण के लिये यथासंभव प्रयास किए जा रहे हैं। इसके अंतर्गत रेमडेसिविर की सुगम उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए शासन द्वारा हर संभव प्रयास किए गए हैं। रेमडेसिविर निर्माताओं को मध्यप्रदेश में इसकी सप्लाई बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। सभी को जरूरत अनुसार उचित दाम पर रेमडेसिविर की सुगम उपलब्धता के साथ ही इसकी कालाबाजारी एवं अवैध विक्रय की रोकथाम के निर्देश प्रदेश के सभी औषधि निरीक्षकों को जारी किए गए हैं। औषधि निरीक्षकों द्वारा रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति एवं वितरण पर सतत निगरानी रखी जा रही है। अस्पतालों में भर्ती मरीजों को रेमडेसिविर इंजेक्शन की सुलभ उपलब्धता के उद्देश्य से इसका वितरण केवल अस्पताल एवं संस्थानों में हो, ऐसी व्यवस्था भी की गई है। कुल 7 कंपनियों के रेमडेसिविर इंजेक्शन की सप्लाई प्रदेश में हो रही है। आज दिनांक तक कुल 2 लाख 40 हजार 554 इंजेक्शन की उपलब्धता प्रदेश में सुनिश्चित की गई है। बुधवार 5 मई को मैसर्स हेट्रेरो द्वारा 600 यूनिट प्रायवेट को पूरे मध्यप्रदेश में रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति की गई है। ऑक्सीजन के परिवहन को त्वरित एवं प्रभावी बनाने के लिये राज्य शासन द्वारा अनुमति प्राप्त ऑक्सीजन वाहन को एम्बुलेंस के समक्ष माना गया है। ऑक्सीजन के 2 टैंकर ट्रेन के माध्यम से आज आये हैं, जिन्हें जबलपुर एवं भोपाल जिले में भेजा गया। इसके साथ ही आज 6 टैंकर एयरलिफ्ट कर 2 टैंकर जामनगर और 4 टैंकर रांची को भेजे गए। ऑक्सीजन की निर्वाध सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए इसके निर्माताओं एवं डिस्ट्रीब्यूटर्स से सतत संपर्क किया जा रहा है। प्रदेश में विगत दिवस में लगभग 677.4 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की उपलब्धता रही है। प्रदेश में ऑक्सीजन के परिवहन के लिये पूर्व से स्वीकृत टैंकरों के अतिरिक्त टैंकरों से ऑक्सीजन की सप्लाई का प्रयास किया जा रहा है। ऑक्सीजन के इण्डस्ट्रियल उपयोग को भी सीमित करके सर्वप्रथम मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जा रही है।   


होम्योपैथी औषधि के सेवन करने के लिए नवीन दिशा निर्देश जारी


आयुष मंत्रालय भारत सरकार के कोरोना ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल अंतर्गत होम्योपैथी औषधि के सेवन करने के लिए नवीन दिशा निर्देश जारी किए है। आयुष विभाग के द्वारा आयुष संस्था से स्वस्थ व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाये रखने के लिए आमजन, पुलिस विभाग के जवान, स्वास्थ्य के कर्मचारी, शासकीय कार्यालयों में कार्यरत अधिकारी, कर्मचारी, नगर परिषद के कर्मचारी, को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने हेतू  वितरण किया जा रहा है । होम्योपैथी औषधि ARS ALB 30 की खुराक पुनः ले, इसकी 3 खुराक को सुबह खाली पेट दिन में 1 बार 3 दिन तक रिपीटीशन स्वस्थ व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता बनाये रखने के लिए अब 21 दिन के अंतराल पर किया जाये।  आयुष मंत्रालय द्वारा जारी किए गए नवीन दिशा निर्देश अनुसार होम आईसोलेशन में रह रहे एसिम्पटोमैटिक रोगियों एवं कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये व्यक्ति के लिए नवीन दिशा निर्देश अनुसार ARS ALB  30 को दिन में 1 बार 7 दिन तक सेवन करने के निर्देश जारी किए गए हैं। जिन संक्रमित व्यक्तियों में कोरोना के लक्षण दिखाई दे रहे हैं वे आयुष मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जारी किए आयुष ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल के लिए अपने क्षेत्र की आयुष चिकित्सक, आयुष सुपरवाइजर, ए.एन. एम. आशा कार्यकर्ता, आगनबाडी कार्यकर्ता, से संपर्क करें। नियमित रूप से शरीर का तापमान, आक्सीजन लेवल की जांच कराए। होम्योपैथिक औषधि का सेवन करते समय मुख को साफ रखे, होम्योपैथिक दवाई खाने के पहले एवं बाद में कोई भी चीज न खायें, 15 मिनिट का अंतर रखे। जारी आदेश में कहा गया है कि मरीज दवाई का सेवन होम्योपैथिक चिकित्सक की सलाह से करें, मास्क पहने। सोशल डिस्टेंस का पालन करे, हाथों को साबुन पानी, या सेनिटाइजर से साफ रखें, हाथ मिलाने की जगह, नमस्कार करने की आदत अपने दैनिक जीवन में लाये, गर्म पानी का उपयोग करे, नमक पानी के गरारे करें, नियमित रूप से योगा, व्यायाम करें, भरपेट भोजन करे, अफवाहों एवं भ्रामक प्रचार से बचे तथा पर्याप्त नींद ले।


जान बचाना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता-मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • सभी को मिले अच्छे से अच्छा उपचार, आई.सी.यू. बेड्स बढ़ाए जाएँ गरीबों को नि:शुल्क राशन मिलता रहे, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण नियंत्रित हुआ है। हमें कुछ और दिन सख्ती करके संक्रमण की चेन को पूरी तरह तोड़ना है। लोगों की जान बचाना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। सभी जिलों में कोरोना का अच्छा से अच्छा इलाज सुनिश्चित करना है। आई.सी.यू. बेड्स की संख्या बढ़ाई जाये। शादियाँ आगे बढ़ाई जायें। अंतिम संस्कार में सीमित व्यक्ति शामिल हों। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी जिलों में कोरोना के दौरान हर गरीब को नि:शुल्क राशन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सभी जिलों से प्रभारी मंत्री, कोरोना के प्रभारी अधिकारी, कलेक्टर्स, पुलिस अधीक्षक आदि उपस्थित थे। ऑक्सीजन एवं इंजेक्शन पर्याप्त-मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन आदि पर्याप्त मिल रहे हैं। जहाँ-जहाँ आवश्यक हो बेड्स की संख्या बढ़ाई जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कुछ स्थानों से दवाओं, इंजेक्शन आदि की कालाबाजारी की शिकायतें आ रही हैं, यह हैवानियत है। गड़बड़ करने वालों को छोड़ा न जाए, उन पर सख्त कार्रवाई करें। निजी अस्पताल मरीजों से अधिक शुल्क न वसूलें, यह सुनिश्चित किया जाए। एम्बुलेंस की दरें निर्धारित- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के लिए एम्बुलेंस की दरें निर्धारित कर दी गई हैं। यह सुनिश्चित किया जाए कि निर्धारित दर पर ही मरीजों को एंबुलेंस उपलब्ध हों। साप्ताहिक नए प्रकरणों में कमी प्रदेश में कोरोना के साप्ताहिक नए प्रकरणों में उल्लेखनीय कमी आई है। प्रदेश में 28 अप्रैल की स्थिति में कोरोना के साप्ताहिक नए प्रकरण 91 हजार 354 थे, वहीं 5 मई की स्थिति में ये  घटकर 86 हजार 820 हो गए हैं। प्रदेश की साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 20.3: है। 89 हजार 144 नए सक्रिय प्रकरण प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 89 हजार 144 हैं।  पिछले 24 घंटों में 12 हजार 319 नए प्रकरण आए हैं, वहीं 9,643 स्वस्थ हुए हैं। प्रदेश की रिकवरी रेट 84.7: तथा मृत्यु दर 1: है। 12 जि़लों में 200 से अधिक नए प्रकरण प्रदेश के 12 जिलों में 200 से अधिक कोरोना के नए प्रकरण आए हैं। इंदौर में 1817, भोपाल में 1579, ग्वालियर में 1174, जबलपुर में 826, उज्जैन में 355, रीवा में 341, शिवपुरी में 328, रतलाम में 308, धार में 252, सागर में 236, सिंगरौली में 232 तथा सतना में 231 कोरोना के नए प्रकरण आए हैं।


एसडीएम ने अमले के साथ सख्ती से कराया कोरोना कर्फ्यू का पालन   


sehore news
कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने के लिए एसडीएम श्री रवि वर्मा ने तहसीलदार और सीएमओ नगरपालिका सहित अमले के साथ संपूर्ण नगर में भ्रमण किया जा रहा है।  नगर में भ्रमण के दौरान श्री वर्मा ने महिलाओं और बूढ़े लोगों को सख्त चेतावनी देकर घर भेजा वहीं उन्होंने अनावश्यक घूम रहे युवाओं को फटकार भी लगाई। साथ ही जुर्माना भी वसूला गया। कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले लोगों को अस्थाई जेल में भी निरुद्ध किया गया। उन्होंने अनेक दुकानदारों को भी सख्त चेतावनी दी है कि लुका छुपी का खेल न खेलें। उन्होंने नपा कर्मचारियों को निर्देशित किया कि जो दुकानदार कोरोना कर्फ्यू के दौरान चोरी छुपे सामान बेच रहे हैं उन सभी की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी करवाई जाए ताकि ऐसे लोगों से जुर्माना भी वसूला जा सके और उनकी दुकानों को सील भी किया जा सके। एसडीएम श्री वर्मा ने सभी नगरवासियों से अपने-अपने घरों में रहने की बार-बार अपील की।


2243 व्यक्तियों को लगा कोरोना का प्रथम एवं द्वितीय टीका


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर प्रदेश के साथ ही सीहोर जिले में कोविड टीकाकरण किया जा रहा है। बुधवार को जिले के 67 सत्रों में कुल 2243 व्यक्तियों को कोरोना का प्रथम एवं द्वितीय टीका लगाया गया। शहरी सीहोर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहित जिला चिकित्सालय क़े 6 सत्र में कुल 544 व्यक्तियों को, आष्टा में 23 सत्र में 592 को, बुधनी में 08 सत्र में 318 को, इछावर में 04 सत्र में 121 को नसरुल्लागंज में 06 सत्र में 219 को एवं श्यामपुर में 20 सत्र में 449 व्यक्तियों को कोविड का प्रथम एवं द्वितीय टीका लगाया गया।


15 मई तक सब कुछ बंद कर देंए संक्रमण की चेन तोड़ दें, कड़ाई से जनता कर्फ्यू का पालन करें

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश की जनता का किया आह्वान, सभी से सहयोग का आग्रह

sehore news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की जनता से आह्वान करते हुए कहा है कि कोरोना मानवता पर बड़ा संकट है। कोरोना को नियंत्रित करने का एकमात्र उपाय संक्रमण की चेन तोड़ना है। यह कार्य सभी के सहयोग के बिना संभव नहीं है। हम लंबे समय तक बंद नहीं रख सकते, जन-जीवन सामान्य भी करना है। अतः आगामी 15 मई तक सब कुछ बंद कर दें। जनता कर्फ्यू का कड़ाई से पालन करें और संक्रमण की चेन तोड़ दें। शादी विवाह आगे बढ़ा दें। जिस गाँव में एक भी कोरोना मरीज़ हैए वहाँ मनरेगा के कार्य बंद कर दें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस कार्य में सभी के सहयोग की अपील की है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि कोरोना को समाप्त करने के लिए गाँव-गाँव, शहर-शहर में किल कोरोना अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर सर्वे कर मरीजों की पहचान कर उनका तुरंत इलाज प्रारंभ किया जा रहा हैए शहरी क्षेत्रों में कोविड सहायता केंद्र बनाए जाकर वहाँ जाँचए मेडिकल किट वितरण आदि की व्यवस्था की जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार गरीब, आम आदमी, मध्यमवर्गीय व्यक्तियों को भी कोरोना का निर:शुल्क इलाज तुरंत उपलब्ध कराएगी। इसके लिए सरकार कल से ही योजना प्रारंभ कर रही है। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत पैकेज घोषित किया जा रहा है। निजी अस्पतालों के साथ सरकार अनुबंध करेगी। सीटी स्केन आदि जाँचें भी निरूशुल्क होंगी। कोरोना पर नियंत्रण हुआ है- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में कोरोना पर नियंत्रण हुआ है। कोरोना संक्रमण में मध्यप्रदेश पहले देश में सातवें स्थान पर थाए अब वह चौदहवें स्थान पर आ गया है। प्रदेश का साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 19.8 प्रतिशत है, वहीं रिकवरी रेट बढ़ कर 85.13 प्रतिशत हो गया है। प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति पर्याप्त हो गई है। बेड्स की संख्या बढ़कर 63 हजार से अधिक हो गई है। आईसीयू बेड्स भी बढ़ाए जा रहे हैं। जनपद पंचायतों में विधायक नेतृत्व लें-  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिलों की तरह जनपद पंचायतों में भी क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप गठित किए जायें, जिसमें विधायकए एसडीएमए सीईओ जनपदए समाजसेवी आदि हों। विधायक इस कार्य का नेतृत्व करें। मेरा गाँव कोराना मुक्त गाँव- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गाँव में बाहर से आने वाले व्यक्तियों को बिना जाँच एवं क्वॉरेंटाइन किए अंदर न आने दें। इस तरह मेरा गाँव कोरोना मुक्त गाँव और मेरा क्षेत्र कोरोना मुक्त क्षेत्र बनाएं। पात्रता पर्ची नहीं है तब भी मिलेगा नि:शुल्क राशन- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार हर गरीब को नि:शुल्क राशन उपलब्ध करा रही है। प्रत्येक गरीब को 10 किलो नि:शुल्क राशन दिया जा रहा है। इसके लिए पात्रता पर्चीए अंगूठे की छाप देनाए आधार नंबर देना आदि की कोई जरूरत नहीं है। ग्रामीण एवं शहरी पथ विक्रेताओं को एक.एक हज़ार रुपये की राशि दी जा रही है। जनता को लूटा तो छोड़ूंगा नहीं- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ऐसे लोगों को जो कि दवाओं आदि की कालाबाज़ारी कर रहे हैंए जनता से ज्यादा पैसे ले रहे हैंए सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि में जनता को लूटने वालों को छोड़ूंगा नहीं। कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी। तीसरी लहर के लिए हेल्थ इंफ़्रा- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में यदि कोरोना की तीसरी लहर आती है, तो उसके लिए भी हेल्थ इंफ़्रा तैयार किया जा रहा है। प्रत्येक जिले में ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैंए सीटी स्केन आदि मशीनें लगाई जा रही हैं। प्रदेश में 95 नए ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। मीडिया के साथी जनता का मनोबल बढ़ाये- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने मीडिया से आग्रह किया कि वह जनता का मनोबल बढ़ायें।    

कोई टिप्पणी नहीं: