बेतिया : प्रति प्रखंड दो लाभुकों को एंबुलेंस क्रय करने के लिए 50 प्रतिशत अनुदान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 15 मई 2021

बेतिया : प्रति प्रखंड दो लाभुकों को एंबुलेंस क्रय करने के लिए 50 प्रतिशत अनुदान

two-abmulance-per-block-bihar
बेतिया .पश्चिम चम्पारण के जिलाधिकारी कुदंन कुमार ने कहा है कि सरकार के द्वारा एमएम पीवाई अंतर्गत एंबुलेंस क्रय करने के लिए 50 प्रतिशत अनुदान दी जा रही है.जिसका व्यापक प्रचार-प्रसार करने की जरूरत है.मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना अंतर्गत प्रति प्रखंड दो लाभुकों को एंबुलेंस क्रय करने के लिए 50 प्रतिशत (अधिकतम 02 लाख) अनुदान दिया जायेगा. जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम, बेहतर चिकित्सीय व्यवस्था सहित आमजनों के कल्याण के बिन्दुओं पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक सम्पन्न हुयी. इस बैठक में जिलास्तरीय पदाधिकारी, सभी एसडीएम आदि उपस्थित रहे. जिलाधिकारी ने कहा कि कमांड एण्ड कंट्रोल रूम का संचालन कारगर एवं अच्छे तरीके से किया जाय.प्रत्येक काॅल को अत्यंत ही गंभीरता से लेते हुए समस्याओं का त्वरित एवं बेहतर निराकरण कराना सुनिश्चित किया जाय.उन्होंने कहा कि बीएसएनएल में तकनीकी खराबी के कारण कई बार काॅल प्राप्त करने तथा कोविड मरीजों के स्वास्थ्य जानकारी लेने में परेशानी की बात सामने आयी है. इसके लिए आवश्यकतानुसार वैकल्पिक तौर पर बेहतर सर्विस देने वाली अन्य कंपनियों की सेवा ली जा सकती है. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण गांवों की तरफ  फैल रहा है. इस पर अंकुश लगाने के लिए सरकार द्वारा जारी अद्यतन दिशा-निर्देशों का सख्ती के साथ शत-प्रतिशत अनुपालन अतिआवश्यक है. साथ ही कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए माइक्रो प्लान अविलंब तैयार किया जाय ताकि समय रहते संक्रमण को फैलने से रोका जा सके. उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है.कंटेनमेंट जोन प्रोटोकाॅल का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाय.साथ ही आशा के माध्यम से कंटेनमेंट जोन में रहने वाले परिवारों का सर्वेक्षण कराया जाय.सर्वेक्षण के क्रम में कोविड-19 लक्षण पाये जाते हैं तो अविलंब उनकी जांच करायी जाय. प्रत्येक कोविड मरीज को  मेडिसीन किट्स उनके घर पर उपलब्ध करायी जाय तथा समय-समय पर उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाय. जिलाधिकारी ने कहा कि गांवों में संक्रमण की रोकथाम एवं आम-सूचना संग्रहण के लिए चौकीदारी परेड सहित जविप्र दुकानदारों की सहायता ली जाय. साथ ही माईकिंग के माध्यम से ग्रामीणों को कोरोना संक्रमण के प्रति सचेत, सजग रहने तथा सरकार द्वारा जारी अद्यतन दिशा-निर्देशों का सख्ती के साथ अनुपालन करने के लिए जागरूक एवं प्रेरित किया जाय. सिविल सर्जन एवं एसडीएम को निर्देश दिया गया कि गंडक पार के चार प्रखंडों के लिए एंबुलेंस की आवश्यकता का अविलंब आकलन करें ताकि गंभीर मरीजों को त्वरित गति से संबंधित कोविड अस्पताल में पहुंचाया जा सके. जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए वैक्सीनेशन अत्यंत की कारगर है. जिले में चिन्हित स्थलों पर वैक्सीनेशन का कार्य जारी है. वैक्सीनेशन कार्य में तनिक भी लापरवाही एवं शिथिलता नहीं बरती जाय.वैक्सीनेशन कार्य मिशन में कराना सुनिश्चित किया जाय. चिन्हित सभी टीकाकरण स्थलों पर हर हाल में प्रतिदिन वैक्सीनेशन की व्वयस्था की जाय. उन्होंने कहा कि विभागीय निर्देशानुसार पंचायतों के गांव-टोलों, हाट-बाजारों सहित अन्य सार्वजनिक स्थलों को अच्छे तरीके से सैनेटाइज कराना है. इसके लिए 15 वें वित आयोग के अंटायड अनुदान की राशि से पंचायतों में सोडियम हाइपोक्लोरायड के माध्यम से सैनेटाइजेशन कार्य युद्धस्तर पर कराना सुनिश्चित किया जाय. सिविल सर्जन को निर्देश दिया गया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अंतर्गत कार्यरत वैसे संविदा कर्मी जो कार्य बहिष्कार करते हुए होम आइसोलेशन में चले गये हैं तथा अन्य कर्मियों को कार्य से रोक भी रहें हैं, उनके विरूद्ध अविलंब संबंधित थाने में प्राथमिकी दर्ज की जाय. साथ ही उनको संविदामुक्त करने की कार्रवाई की जाय. जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना अंतर्गत आठवें चरण में प्रति प्रखंड दो लाभुकों (एक एससी/एसटी एवं एक इबीसी) को एंबुलेंस क्रय करने के लिए वाहन मूल्य का 50 प्रतिशत (अधिकतम 02 लाख) अनुदान दिया जाना है.जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि इस कार्य को अत्यंत ही गंभीरता से लेते हुए शत-प्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति ससमय की ली जाय.साथ ही उक्त आशय से संबंधित जानकारी का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार कराना सुनिश्चित किया जाय. जिला परिवहन पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना अंतर्गत आठवें चरण में प्रति प्रखंड दो लाभुकों द्वारा एंबुलेंस क्रय कराने से संबंधित जानकारी का व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है.उक्त योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 16.05.2021 है. चयनित लाभुकों को दिनांक-24.05.2021 को एंबुलेंस क्रय करने के लिए चयन पत्र हस्तगत कराया जायेगा. इसके बाद चयनित लाभुकों द्वारा एंबुलेंस क्रय कर अनुदान के लिए प्रखंड विकास पदाधिकारी को आवेदन समर्पित करना होगा.आवेदन समर्पित करने के 07 दिनों के अंदर अनुदान राशि का भुगतान संबंधित बीडीओ द्वारा किया जायेगा. उन्होंने बताया कि पूर्व में 8 वें चरण में आवेदन का चुके लाभुक भी लाभ प्राप्त कर सकते हैं.इसके लिए उन्हें बीडीओ को लिखित आवेदन समर्पित करना होगा. लाभुक इस संबंध में विस्तृत जानकारी के लिए संबंधित बीडीओ एवं जिला परिवहन पदाधिकारी (मोबाईल नंबर-6202751030) पर संपर्क कर सकते हैं.

कोई टिप्पणी नहीं: