अक्षरा का मगही गाना 'हसले घरवा बसो है बेटा' रिलीज - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 26 मई 2021

अक्षरा का मगही गाना 'हसले घरवा बसो है बेटा' रिलीज

akshara-singh-maghi-song-release
मुंबई, 24 मई, भोजपुरी अभिनेत्री-गायिका अक्षरा सिंह का मगही गाना 'हसले घरवा बसो है बेटा' रिलीज हो गया है। भोजपुरी अभिनेत्री अक्षरा सिंह का जलवा अब भोजपुरी के बाद मगही गानों में भी दिखा है।अक्षरा सिंह का मगही गाना 'हसले घरवा बसो है बेटा' आज रिलीज के साथ वायरल होने लगा है। यह गाना वेद एंटरटेनमेंट के यूट्यूब चैनल पर रिलीज हुआ है, जिसमें अक्षरा की खूबसूरत आवाज के साथ मेल वॉइस में शिव कुमार बिक्कू का है। यह एक मगही लोक गीत है, जिसको लोग खूब पसंद कर रहे हैं। 'हसले घरवा बसो है बेटा' को लेकर अक्षरा सिंह ने कहा कि यह गाना बेहद खूबसूरत और प्रासंगिक है। मुझे यह गाना करके बहुत मजा आया, उम्मीद है मेरे फैंस और चाहने वालों को भी खूब पसंद आएगी। उन्होंने कहा, “मगही, भोजपुरी की तरह बिहार की भाषा है, इसलिए मुझे इसमें काम करने को कोई दिक्कत नहीं हुई। यूं कहें कि भोजपुरी से बेहद करीब है मगही। वैसे भी एक कलाकार के नाते नई चीजें ट्राय करना मुझे बेहद पसंद है। यह गाना भी आपके दिल को छू लेगी, इसलिए मेरे और गाने की तरह इस गाने को भी भरपूर प्यार और आशीर्वाद दीजिये। ” गौरतलब है कि अक्षरा सिंह के मगही गीत 'हसले घरवा बसो है बेटा' के संगीतकार प्रियांशु सिंह है और लिरिक्स मोजिब रहमान का है। को प्रोड्यूसर कुणाल कुमार और डिजिटल हेड कुमार सागर है।

कोई टिप्पणी नहीं: