मोतिहारी : आधुनिक नर्सिंग की जननी फ्लोरेंस नाइटेंगल हैं - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 12 मई 2021

मोतिहारी : आधुनिक नर्सिंग की जननी फ्लोरेंस नाइटेंगल हैं

moder-nursing-home-motihari
मोतिहारी. अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी श्री शीर्षत कपिल अशोक ने बीस ANM एवं GNM को स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए किया सम्मानित. जिलाधिकारी महोदय ने COVID 19 के कारण उत्पन्न परिस्थितियों से प्रभावकारी तरीके से निपटने में स्वास्थ्यकर्मियों के योगदान की किया प्रशंसा करते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थिति में स्वास्थ्यकर्मियों की सेवाभाव एवम पूर्ण समर्पण से ही हम Covid की जंग को जीत सकते है. उक्त अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस के अवसर पर ANM एवं GNM को प्रशस्ति तथा चंपा का पौधा देकर किया गया सम्मानित. प्रशस्ति पत्र प्राप्त करने वालों में सुश्री निशा कुमारी, कुमारी श्वेता, नीलू कुमारी, सीता कुमारी, प्राची कुमारी, बिंदु कुमारी, अभिषेक कुमार, अनिता सिंह, प्रियंका कुमारी, कुमारी प्रियंका, नीतू कुमारी, राजनंदनी, गीता सिन्हा, अनिता कुमारी, पूनम कुमारी सहित अन्य हुए शामिल हैं. मालूम हो कि आधुनिक नर्सिंग की जननी फ्लोरेंस नाइटेंगल है.कोरोना काल में विषम परिस्थिति में काम करने वाली नर्सेंज को सैल्यूट है. आज के दौर में जब डॉक्टर एवं नर्स हमारे लिए भगवान का रूप बनकर उभरे हैं, वे इस महामारी के काल में अपने जीवन को दांव पर लगाकर हमारी सेवा में जुटे हुए हैं.  आज दुनिया भर में नर्सें जिस सेवा-भाव में मरीजों की देखभाल में लगी हुई हैं. उनके भीतर इस अलख को जगाने वाली महिला का आज जन्मदिन है.  फ्लोरेंस नाइटेंगल जिन्होंने पूरी दुनिया को यह सिखाया कि कैसे आप एक मरीज की पूरे निस्वार्थ भाव से सेवा कर सकते हैं. वह फ्लोरेंस नाइटेंगल ही थीं, जिन्होंने अपने सेवा भावना और दयालुता से नर्स के पेशे को एक बेहद सम्मानित पेशे के रूप में स्थापित किया.  फ्लोरेंस नाइटेंगल का जन्म 12 मई, 1820 को ब्रिटेन में हुआ था. उनके जन्मदिन को पूरी दुनिया में अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस के रूप में मनाया जाता है.  देश में नर्सिंग सेवा से जुड़े सभी कर्मियों को 'अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस' की शुभकामनाएँ। ईश्वर से प्रार्थना है कि देश को कोरोना मुक्त बनाने हेतु प्रयत्नशील स्वास्थ्य कर्मियों को सुख-समृद्धि व उत्तम स्वास्थ्य प्रदान करें।

कोई टिप्पणी नहीं: