सोमवार से सख्त लॉकडाउन, यूपी बिहार के मजदूरों का पलायन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 9 मई 2021

सोमवार से सख्त लॉकडाउन, यूपी बिहार के मजदूरों का पलायन

rajasthan-lock-down-bihar-up-labour-depart
जयपुर 09  मई, राजस्थान में सोमवार से सख्त लॉकडाउन की घोषणा के बाद बिहार-यूपी के मजदूरों को कोई काम नहीं मिलने के कारण उनका पलायन शुरू हो चुका है। सांगानेर, वीकेआई और मानसरोवर क्षेत्र में रहने वाले बिहार और उत्तर प्रदेश के  हजारों मजदूर बेरोजगार हो गए हैं  ऐसे में वे अपने गांव लौटना चाहते हैं। जब से प्रदेश में लॉकडाउन की घोषणा हुई है कि हजारों की तादाद में मजदूर पलायन कर गए और कुछ और भी जाना चाहते है। उत्तर प्रदेश के राय बरेली निवासी ऋषि ने बताया कि रोजी-रोटी के लिए जयपुर आए थे। एम्ब्रॉयडरी की मशीन चलाते थे। कोरोना के कारण  उनका काम बंद हो गया है। ऐसे में खाली रहकर यहां क्या करेंगे। गुजारा करना मुश्किल हो रहा है। खुद क्या खाएंगे, परिवार को क्या खिलाएंगे। कुछ ऐसी बताया कि लॉकडाउन के कारण कारोबार बंद होने का हवाला देकर मालिक ने कहा- जाओ। घर घूम आओ। जब सामान्य हालात होंगे, तब आना। बिहार के मधुबनी निवासी दशरथ आइसक्रीम बेचते थे। गर्मी का ही सीजन होता है कि आईसक्रीम का बिजनेस चलता है। लॉकडाउन लग गया तो सब चौपट हो गया। नंदपुरी में परिवार सहित रहते थे। अब घर जाकर ही कुछ करने का मन बनाया है। हजारों मजदूरों की रोजी-रोटी एक बार फिर छिन गई है और उनका पलायन शुरू हो गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: