बिहार : पानी-पानी हो गये हैं बेतिया के लोग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 16 जून 2021

बिहार : पानी-पानी हो गये हैं बेतिया के लोग

  • * वार्ड नं. 28 के वार्ड पार्षद हैं मोहम्मद कयूम अंसारी. वर्तमान में कार्यकारी महापौर हैं.पहले वे सभापति कहे जाते थे आज वही बेतिया नगर निगम के महापौर कहलाते हैं
  • *  बिहार के बेतिया (Bettiah) में नरकटियागंज नगर के सभी 25 वार्डों में जलजमाव (Water Logging) ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है. नाले से निकली कीचड़ वाली गंदगी लोगों के घरों में घुसने लगी है. कई मोहल्ले के घरों और दुकानों में पानी घुसने से लोगों में आक्रोश व्याप्त है

water-loging-betiyah
बेतिया. बेतिया में लगातार बारिश जारी है.अनुमान है कि 17 जून तक जारी रहेगा.अगर निरतंर बारिश होते रही तो बैंक और सरकारी कार्यालय की स्थिति विस्फोटक हो जाएगी.अभी तो बहुत ही कम पानी हेला है.वहीं सरकारी अस्पताल के इमरजेंसी और चिकित्सकों के कक्ष में पानी प्रवेश कर गया है. बेतिया के लोगों का कहना है, जब सरकार की प्रतिष्ठित स्थानों में पानी सुगमता से प्रवेश कर जा रहा है, तो आम लोगों का निवास स्थानों का आलम का सहज अंदाजा लगाया जा सकता है.सूत्रों का कहना  बेतिया नगर परिषद क्षेत्र में कुल 39 पार्षद हैं.जो अब बेतिया नगर निगम में तब्दील है.  बताया जाता है कि बेतिया नगर परिषद की सभापति गरिमा देवी सिकारिया के विरूद्ध नगर पार्षदों ने मोर्चा खोलकर अविश्वास प्रस्ताव काे पारित कर दिया है. 28/12/2020 से सभापति नहीं है.जब गरिमा देवी सिकारिया सभापति थीं,तो मौसम आने के पहले ही अपने वार्ड नं.24 के साथ अन्य सभी 39 वार्डों के छोटे-बड़े नाले की सफाई करा देती थीं. इसके कारण कुछ वार्ड में स्थित कॉलोनी को छोड़कर अन्य वार्डों में जलजमाव नहीं हो पाता था.वार्ड पार्षद का प्रतिनिधि रोहित कुमार सिकारिया है. बताया जाता है कि इस समय वार्ड नं.28 के वार्ड पार्षद मोहम्मद कयूम अंसारी है और उनके प्रतिनिधि अरमान अंसारी हैं.बेतिया नगर परिषद का कार्यकारी  सभापति  मोहम्मद कयूम अंसारी हैं.नगर परिषद की सशक्त स्थाई समिति की कार्यकारी सभापति मोहम्मद कयूम अंसारी है.बावजूद, इसके  इन दोनों की अकर्मण्यता के कारण बेतिया शहर, कमलनाथ नगर, दरगाह  मोहल्ला, भोला बाबू कॉलोनी, शांति नगर, शिवपुरी कॉलोनी के साथ जगहों में भयंकर जलजमाव है.स्थिति बद से बदतर हाेती चली जा रही  है. बताया जाता है कि वर्तमान कार्यकारी बेतिया नगर परिषद का सभापति मोहम्मद कयूम अंसारी के द्वारा  काफी भेदभाव बढ़ता गया है जिसका मुक्तभोगी  बेतिया शहर, कमलनाथ नगर, दरगाह  मोहल्ला, भोला बाबू कॉलोनी, शांति नगर, शिवपुरी कॉलोनी आदि जगहों के लोग हो रहे हैं. वार्ड संख्या 22  के वार्ड पार्षद शाहनाज खातून हैं.इनका प्रतिनिधि मोहम्मद हसनैन है. वार्ड संख्या 23 के वार्ड पार्षद प्रभा पांडेय है. इनके प्रतिनिधि अभिषेक कुमार पांडेय है.दोनों वार्ड पार्षदों ने नाला और सड़क निर्माण की योजना की अनुशंसा की थी. जिसका प्राक्कलन नगर निगम के कनीय अभियंता श्री सुजय सुमन जी बना चुके हैं नगर निगम इस क्षेत्र में काम नहीं कर पा रही है. कहा गया कि बेतिया नगर परिषद को पदोन्नत बेतिया नगर निगम में कर दिया है.बेतिया नगर परिषद का कार्यकारी सभापति मोहम्मद कयूम अंसारी बेतिया नगर निगम के उप महापौर की भूमिका में आ गये हैं. अब सफाई की व्यवस्था उप महापौर के हाथ में है. इसके बावजूद मोहल्ले और बेतिया शहर की कितने मोहल्ले होंगे. जो इस समय जलजमाव से परेशान हैं.लेकिन कमलनाथ नगर ऐसा मोहल्ला है जहां मुख्य नाला है उस नाले से बेतिया शहर की आधी आबादी की पानी हमारे मोहल्ले से गुजरती है और साथ ही साथ डॉक्टर के के साह के सामने एक पुलिया है जो टूटी है वहां आए दिन कोई ना कोई घटना होती रहती है. जिसकी जानकारी स्थानीय विधायक ,स्थानीय सांसद, नगर निगम के कार्यकारी सभापति और स्थानीय प्रशासन को है. इसकी जानकारी है इसके बावजूद भी अब तक किसी ने ध्यान आकृष्ट नहीं किया है. 

कोई टिप्पणी नहीं: