चोटिल सेरेना विंबलडन से बाहर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 30 जून 2021

चोटिल सेरेना विंबलडन से बाहर

serena-out-from-wimbaldon
विम्बलडन (इंग्लैंड), 30 जून, स्टार टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स बेलारूस की एलियाकसांद्रा सेसनोविच के खिलाफ मंगलवार को पहले दौर के मुकाबले में दायें पैर में चोट के कारण विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट से बाहर हो गई। अपने 23 में से सात ग्रैंडस्लैम एकल खिताब यहां जीतने वाली सेरेना उस समय मुकाबले से हट गई जब स्कोर पहले सेट में 3-3 से बराबर था। किसी भी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के दौरान यह सिर्फ दूसरा मौका है जब सेरेना को मुकाबले के बीच से हटने को बाध्य होना पड़ा। इससे पहले 1998 में भी उन्हें ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के बीच से हटना पड़ा था। सेरेना ने दुनिया की 100वें नंबर की खिलाड़ी के खिलाफ मुकाबले के बीच से हटने के बाद कहा, ‘‘आज मुकाबले से हटने से मेरा दिल टूट गया था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आज जब मैं कोर्ट पर उतरी और बाहर गई तो मैंने दर्शकों की शानदार गर्मजोशी और समर्थन को महसूस किया। यही मेरी दुनिया है। ’’ सेसनोविच ने कहा, ‘‘वह बेजोड़ चैंपियन है और यह दुखद कहानी है।’’ रोजर फेडरर को जब सेरेना के हटने के बारे में बताया गया तो उन्होंने कहा, ‘‘हे भगवान। मुझे इस पर विश्वास नहीं हो रहा।’’ सेरेना सिर्फ दूसरी बार किसी ग्रैंडस्लैम के पहले दौर से बाहर हुई हैं। इससे पहले 2012 में उन्हें वर्जीनी रजानों के खिलाफ फ्रेंच ओपन के पहले दौर में शिकस्त झेलनी पड़ी थी। गत चैंपियन सिमोना हालेप और चार बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन नाओमी ओसाका टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले रही हैं और अब सेरेना के हटने के बाद महिला एकल खिताब तक का सफर रोमांचक होने की उम्मीद है। इससे पहले आठ बार के विंबलडन चैंपियन फेडरर ने अगले दौर में जगह बनाई जब उनके प्रतिद्वंद्वी एड्रियन मनारिनो चौथे सेट में चोटिल होने के कारण मुकाबले से हट गए। मनारिनो को भी कोर्ट पर उसी स्थान पर चोट लगी जहां सेरेना चोटिल हुई थीं। मनारिनो जब मुकाबले से हटे तब फेडरर ने शुरुआती तीन में से दो सेट गंवा दिए थे लेकिन चौथे सेट में वह 4-2 से आगे चल रहे थे। अन्य मुकाबलों में सेरेना की 41 साल की बहन वीनस, 17 साल की कोको गॉ, गत फ्रेंच ओपन चैंपियन बारबरा क्रेजसिकोवा और शीर्ष वरीय ऐश बार्टी महिला एकल में जीत दर्ज करने में सफल रहे जबकि पुरुष एकल में दूसरे नंबर के दानिल मेदवेदेव, चौथे नंबर के एलेक्जेंडर ज्वेरेव और 10वें नंबर के डेनिस शापोवालोव अगले दौर में पहुंचे। आस्ट्रेलिया ओपन 1998 चैंपियन पेत्र कोर्डा के बेटे बीस साल के सबेस्टियन कोर्डा ने विंबलडन में सफल पदार्पण करते हुए 15वें वरीय एलेक्स डि मिनोर को 6-3, 6-4, 6-7, 7-6 से हराया।

कोई टिप्पणी नहीं: