दो महीने बाद पर्यटकों के लिये खुला ताजमहल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 16 जून 2021

दो महीने बाद पर्यटकों के लिये खुला ताजमहल

taz-mahal-open-after-two-months
आगरा, 16 जून, कोविड-19 महामारी के चलते करीब दो महीने बंद रहने के बाद बुधवार को ताजमहल फिर से पर्यटकों के लिए खोल दिया गया। ब्राजील की 40 वर्षीय महिला ताजमहल में दाखिल होने वाले शुरुआती पर्यटकों में से एक रहीं। मेलिसा डल्ला रोसा ने कहा कि 'सूर्योदय के दौरान ताजमहल का दीदार करना उनके लिये एक विशेष क्षण रहा और वह इस अद्भुत स्थल पर पूरी तरह अकेली थीं।' भारतीय पुरातात्विक सर्वेक्षण ने केन्द्र द्वारा संरक्षित स्मारकों, स्थलों और संग्रहालयों को बुधवार से खोलने की घोषणा की थी। हालांकि आगरा प्रशासन ने एक बार में ताजमहल में 650 लोगों के जाने की सीमा तय की थी। अधिकारियों ने बताया कि पहले दिन दो विदेशी पर्यटकों समेत लगभग 1,919 लोगों ने स्मारक के दीदार किये। 221 लोगों ने आगरा के किले, 75 ने फतेहपुर सीकरी और 151 ने सिंकदरा में अकबर के मकबरे के दीदार किये। मेलिसा नौ सप्ताह के योग टूर पर भारत आई थीं कि इसी दौरान लॉकडाउन की घोषणा हो गई। उन्होंने कहा, 'मैं आगरा की यात्रा के लिये कल लखनऊ से यहां आई थी। मुझे पता था कि महामारी के चलते स्मारक बंद हैं। लेकिन स्थानीय लोगों से पता चला कि ताजमहल बुधवार को खुल जाएगा। लिहाजा मैंने टिकट बुक करा लिया।' मेलिसा ने कहा, 'दोपहर तक मैंने टिकट बुक कराया और आज तड़के यहां आ गई। मैं ताजमहल में प्रवेश करने वाली पहली पर्यटक थी। यह अद्भुत अनुभव रहा। इस अवसर के लिये भारत का शुक्रिया। ' लखनऊ से आए एक भारतीय दंपति ने भी कहा कि यह शानदार अनुभव था क्योंकि यहां कुछ ही पर्यटक थे। आमिर ने कहा, 'मैं कई बार ताजमहल देख चुका हूं लेकिन आज की यात्रा यादगार है। मैंने ऑनलाइन टिकट बुक कराए और ताज महल के दीदार करने चला आया।'

कोई टिप्पणी नहीं: