श्रीलंका में टीकों की कमी के कारण स्कूलों को दोबारा खोलने में समस्या - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 17 जून 2021

श्रीलंका में टीकों की कमी के कारण स्कूलों को दोबारा खोलने में समस्या

vaccine-shortage-in-srilanka
कोलंबो, 17 जून, श्रीलंका के शिक्षा मंत्री जीएल पेइरिस ने कहा कि कोविड-19 की मौजूदा लहर के बाद स्कूलों को फिर से खोलने के प्रयासों में शिक्षकों और कर्मचारियों के लिए पर्याप्त टीकों की अनुपलब्धता के कारण बाधा उत्पन्न हो रही हैं। श्रीलंका में वैश्विक महामारी की तीसरी लहर के कारण मध्य अप्रैल से ही देश में स्कूल बंद हैं। पेइरिस ने कहा,‘‘ हमें शिक्षकों और अन्य शैक्षणिक कर्मचारियों के लिए 2,70,000 से अधिक टीकों की जरूरत है। यह टीकाकरण स्कूलों को दोबारा खोलने के लिए बेहद आवश्यक होगा।’’ मंत्री ने कहा कि टीकाकरण से शिक्षकों का स्वास्थ्य बेहतर होगा और अभिभावकों के बीच विश्वास पैदा होगा। सरकार स्कूल के बच्चों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए जल्द से जल्द स्कूल खोलने का इरादा रखती है। स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, श्रीलंका में अभी तक संक्रमण के 2,30,692 मामले सामने आए हैं और इससे 2374 लोगों की मौत हुई है। देश में 15 अप्रैल के बाद से 1,34,000 से अधिक मामले सामने आए हैं और 1766 लोगों की इससे मौत हुई है। भारत के कोविड-19 रोधी ‘कोविशील्ड’ टीके की 50 हजार खुराक भेंट करने के बाद श्रीलंका में इस साल जनवरी अंत में टीकाकरण शुरू हुआ था।

कोई टिप्पणी नहीं: