झारखंड में वज्रपात से नौ लोगों की मौत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 4 जुलाई 2021

झारखंड में वज्रपात से नौ लोगों की मौत

9-people-died-in-jharkhad-by-sky-lightining
रांची, 03 जुलाई, झारखंड के अलग-अलग जिले में शनिवार को आकाशीय बिजली गिरने से एक ही परिवार के पांच सदस्यों समेत नौ लोगों की मौत हो गयी। राज्य के विभिन्न जिलों से यहां मिली रिपोर्ट के अनुसार, प्रदेश के खूंटी, पलामू, चतरा, लोहरदगा एवं रांची जिले में आज बारिश के बीच वज्रपात से नौ लोगों की झुलस कर मौत हो गयी। खूंटी से यहां प्राप्त सूचना के अनुसार, जिले के के कर्रा स्थित लरता गांव में एक की परिवार के पांच सदस्यों की वज्रपात से मौत हो गई। बताया जाता है कि खेत में काम कर रहे मंगा मुंडा और उनके परिवार के अन्य सदस्य अचानक शुरू हुई बारिश से बचने के लिए एक पेड़ के नीचे खड़े थे तभी वज्रपात हो गया। इस घटना में मंगा मुंडा (60), उनकी पत्नी जीवंती मुंडाइन (55), उनका बेटा पूना (28), बहू जयमा (25) और एक साल के पोते की मौके पर ही मौत हो गयी। वहीं, पलामू जिले के विश्रामपुर में मछली पकड़ रहे युवक सतीश कुमार (18) और चतरा के हंटरगंज स्थित बेला गांव में खेल रहे छह साल के बच्चे अंकुश की मौत आकाशीय बिजली की चपेट में आने से हो गई। उधर, रांची जिले के लापुंग में भी मवेशियों को चराने के क्रम में महिला सुनीता देवी (38) की वज्रपात से झुलस कर मौत हो गयी। लोहरदगा के कुड़ू स्थित बड़मारा गांव में खेती कर रहे नरेश साहू (35) के आकाशीय बिजली से मौत होने की सूचना है।

कोई टिप्पणी नहीं: