पूसा : कृषि विज्ञान केंद्र को सर्वश्रेष्ठ केवीके का राष्ट्रीय सम्मान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 16 जुलाई 2021

पूसा : कृषि विज्ञान केंद्र को सर्वश्रेष्ठ केवीके का राष्ट्रीय सम्मान

  • केवीके वैशाली से संबद्ध श्रीमती मनोरमा सिंह अभिनव किसान पुरस्कार से सम्मानित

pusa-agriculture-science-center-awarded
पूसा, डा राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डा रमेश चन्द्र श्रीवास्तव के नेतृत्व में विश्वविद्यालय ने दो नई उपलब्धियां हासिल की है। विश्वविद्यालय के पिपराकोठी कृषि विज्ञान केंद्र को पंडित दीनदयाल उपाध्याय सर्वश्रेष्ठ  कृषि विज्ञान केंद्र 2020 का प्रथम पुरस्कार मिला है । इसी के साथ कृषि विज्ञान केंद्र वैशाली से संबद्ध श्रीमती मनोरमा सिंह को जगजीवन राम अभिनव किसान पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया गया है। सम्मान के रूप में श्रीमती सिंह को पचास हजार रूपये एवं प्रशस्ति चिह्न दिये जायेंगे ।आपको बता दें कि फरवरी 2016 में कुलपति डा रमेश चन्द्र श्रीवास्तव ने मनोरमा सिंह के मशरूम यूनिट का उद्घाटन किया था। श्रीमती सिंह ने विश्वविद्यालय से ट्रेनिंग लेकर छोटे से प्लांट से मशरूम उत्पादन शुरू किया और आज वे लगभग डेढ़ लाख रूपये महीने से अधिक की कमाई कर रही हैं।कुलपति डा श्रीवास्तव ने सम्मान मिलने पर डा एम एस कुंडू,निदेशक प्रसार शिक्षा एवं श्रीमती मनोरमा सिंह को बधाई दी। उन्होंने कहा कि मशरूम के क्षेत्र से जुड़कर किसान आसानी से पचास से एक लाख रूपये की कमाई कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि अब बिहार में सत्ताइस कंट्रोल्ड प्लांट हो गये हैं तथा इसके अतिरिक्त हजारौं किसान मशरूम उत्पादन से जुड़कर अच्छी कमाई कर रहे हैं। डा श्रीवास्तव ने कहा कि विश्वविद्यालय के केवीके को सर्वश्रेष्ठ केवीके का पुरस्कार मिलना एक गौरव की बात है।इसके लिये उन्होंने सभी वैज्ञानिकों  एवं कर्मचारियों को बधाई दी। पुरस्कारों की घोषणा आइसीएआर के स्थापना दिवस समारोह के दौरान माननीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री, भारत सरकार श्री नरेंद्र सिंह तोमर, माननीय मंत्री मतस्यिकी, पशुपालन एवं डेयरी, भारत सरकार,श्री पुरूषोत्तम रूपाला,माननीय मंत्री, रेलवे,संचार तथा  इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार, श्री अश्विनी वैष्णव, माननीय राज्य मंत्री कृषि एवं किसान कल्याण, भारत सरकार, श्री कैलाश चौधरी , माननीय राज्य मंत्री कृषि एवं किसान कल्याण सुश्री शोभा करंदलाजे, महानिदेशक आइसीएआर, श्री त्रिलोचन महापात्र की उपस्थिति में की गयी। आनलाईन आयोजित इस कार्यक्रम मे देश भर के कृषि विश्वविद्यालयों के कुलपति, कृषि विज्ञान केंद्रों को वैज्ञानिक ,अधिकारी एवं हजारों किसान सम्मिलित हुये। डा राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय की ओर से कार्यक्रम में कुलसचिव, डा पीपी श्रीवास्तव, निदेशक अनुसंधान, डा मिथिलेश श्रीवास्तव, निदेशक छात्र कल्याण, डा एके मिश्रा, निदेशक शिक्षा, डा एम एन झा, डीन बेसिक साइंस, डा सोमनाथ राय चौधरी, डीन कृषि अभियांत्रिकी, डा अम्बरीष कुमार, डीन कम्यूनिटी साइंस, डा मीरा सिंह , डा केएम सिंह समेत कई वरिष्ठ वैज्ञानिक सम्मिलित हुये।

कोई टिप्पणी नहीं: