मधुबनी : बाढ़ राहत के लिए डीएम को ज्ञापन देगी भाकपा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 16 जुलाई 2021

मधुबनी : बाढ़ राहत के लिए डीएम को ज्ञापन देगी भाकपा

cpi-madhubani-appeal-to-dm-for-flood-relief
मधुबनी, बाढ़-अतिवृष्टि से उतपन्न भयावह स्थिति एवं जिले के ग्रामीण परिवेश में सड़क निर्माण के समय  संवेदक द्वारा मनमानी मिट्टी काटने से विभिन्य जगहों पर भयंकर गड्ढा खोदकर वैसे ही छोड़ देने से जल जमाव है । जल जमाव के कारण जिले के बिस्फी , बेनीपट्टी एवं आज रहिका प्रखंड में डूबने से तीन किशोर की मृत्यु हो गई । सड़क निर्माण में विभाग के लापरवाही के कारण एक दर्जन से भी ज्यादा बच्चों का  डूबने से मृत्यु हुई है । दुख कीबात यह है कि आज तक पीड़ितों को सरकारी तौर पर मुआवजा नही मिला है । भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी मधुबनी के तरफ से पार्टी जिला मंत्री मिथिलेश झा के नेतृत्व में बिस्फी के प्रभावित विभिन्य पंचायतों का दौरा करते हुए पीड़ितों से मिलकर उन्हें आश्वासन दिया गया कि सभी उचित सहायता उपलब्ध करने के लिए जिला पदाधिकारी को पार्टी के तरफ से ज्ञापन दिया जाएगा । पत्रकारों एवं मृतक के परिजनों से बात करते हुए जिला मंत्री मिथिलेश झा ने कहा लगभग दो महीने से जिले के लोग प्राकृतिक आपदा जैसे यास तूफान अतिवृष्टि एवं बाढ़ से त्रस्त है । सरकारी तंत्र बाढ़ एवं आपदा में  पूर्व तैयारी के नाम पर  भ्रमण एवं बैठके कर रहे है लेकिन इस भ्रस्ट तंत्र से आमलोगों को लाभ मिलने का उम्मीद नही है ।  दूसरी तरफ कोरोना संकट में परेशान लोगों के लिए टीकाकरण केंद्र पर टिका उपलब्ध नही  रहने से लोग परेशान है । स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन से  भाकपा मांग करती है कि जिले के विभिन्य केंद्रों पर  नियमित टिका का व्यवस्था सुनिश्चित करें । साथ ही शर्प दंश एवं डूबने से हुए मृतकों के परिवार को 4 लाख प्रत्येक का भुगतान किया जाय । पानी से नष्ट फसलों एवं बिचड़ा के अभाव में  किसानों का हुए नुकसान का मुआवजा देने हेतु सर्वेक्षण करबाने का अविलम्ब  घोषणा किया जाय ।

कोई टिप्पणी नहीं: