भारतीय हॉकी लीजेंड केशव दत्त का 95 साल की उम्र में निधन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 8 जुलाई 2021

भारतीय हॉकी लीजेंड केशव दत्त का 95 साल की उम्र में निधन

कोलकाता, 07 जुलाई, भारतीय हॉकी लीजेंड केशव दत्त का यहां बुधवार को निधन हो गया। उन्होंने अपने दक्षिण 24 परगना स्थित संतोषपुर निवास पर करीब 12.30 बजे आखिरी सांस ली। वह 95 वर्ष के थे। हॉकी के दिग्गज केशव दत्त 1948 के लंदन ओलंपिक में भारत की ऐतिहासिक जीत का हिस्सा थे, जहां देश ने लंदन के वेम्बले स्टेडियम में मेजबान ब्रिटेन को 4-0 से हराकर स्वर्ण पदक जीता था। उन्होंने 1952 के ओलंपिक में भी देश के लिए स्वर्ण पदक जीता और कई मौकों पर फील्ड हॉकी में भारतीय नागरिकों को वैश्विक स्तर पर गौरवान्वित किया। 29 दिसंबर 1925 को लाहौर में जन्मे भारतीय हॉकी टीम के पूर्व सेंटर हाफबैक केशव दत्त अपने समय के एक शानदार हॉकी खिलाड़ी थे। उनके निधन पर देश भर के खिलाड़ियों और कोलकाता में उनके फॉलाेअर्स के अलावा पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी शोक व्यक्त किया है और कहा है कि उन्होंने एक किंवदंती को खो दिया है। ममता ने एक ट्वीट में कहा, “ हॉकी की दुनिया ने आज अपना एक सच्चा लीजेंड खो दिया। केशव दत्त के निधन से दुखी हूं। वह 1948 और 1952 में दोहरे ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता थे। वह भारत और बंगाल के चैंपियन थे। उनके परिवार और दोस्तों के प्रति संवेदनाएं।' उल्लेखनीय है कि लंदन में 1948 के ओलंपिक से पहले दिवंगत दत्त ने 1947 में हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के नेतृत्व में पूर्वी अफ्रीका का दौरा किया था। वह 1952 के हेलसिंकी खेलों में भी भारतीय टीम का हिस्सा थे, जहां भारत फाइनल में नीदरलैंड को 6-1 से हराकर लगातार पांचवीं बार ओलंपिक चैंपियन बना था।

कोई टिप्पणी नहीं: