झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 15 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 15 जुलाई 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 15 जुलाई

लक्ष्मण सिंह नायक व सोमसिह सोलंकी जिला योजना समिति में


jhabua news

झाबुआ।  भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह नायक व जिला महामंत्री सोमसिह सोलंकी सदस्य मनोनीत उक्त जानकारी देते हुए जिला भाजपा मिडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने बताया कि  जिले के प्रभारी मंत्री इंदर सिह परमार ने झाबुआ कलेक्टर सोमेश मिश्रा को झाबुआ भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह नायक व जिला महामंत्री सोमसिह सोलंकी को जिला योजना समिति में अशासकीय सदस्य के रूप में मनोनीत करते हुए जिला कलेक्टर को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु र्निदेशित किया उक्त नियुक्ति पर जिला भाजपा के उपाध्यक्ष प्रवीण सुराणा सत्येंद्र यादव राजैन्द्र उपाध्याय भानु भुरीया जिला महामंत्री कृष्ण पाल सिंह गंगाखेड़ी गोरव खण्डेलवाल जिलामिडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर  ज्योति जोशी बसंती बारीया सहित अनेक भाजपा कार्यकर्ताओं ने नायक व सोलंकी को बधाइयाँ प्रेशीत कर उज्जवल भविष्य की कामना की है


23 लाख से अधिक राशि से झाबुआ हुडा क्षेत्र से हाथीपावा चार मंदिर तक बनेगा सी सी रोड- कांतिलाल भूरिया

  • विधायक निधी से राशि जारी करने की अनुशंसा की

झाबुआ । पर्यटन स्थलों की सुविधा बढाने एवं आम जनता को राहत देने,विकास कार्य हेतु कांग्रेस पार्टी हमेशा सकारात्मक सोच रखती है। उक्त बात पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं झाबुआ विधायक कांतिलाल भूरिया ने कही है। उक्त जानकारी देते हुए प्रदेश युवक कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ विक्रान्त भूरिया एवं शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव सक्सेना ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि झाबुआ शहर को विधायक कांतिलाल भूरिया के प्रयास से एक ओर सुविधा प्राप्त हो रही है। झाबुआ शहर मे हुडा क्षेत्र से झाबुआ शहर में पर्यटक स्थल बन चुके हाथीपावा तक सी सी रोड निर्माण किया जावेगा । विधायक भूरिया ने जिला प्रशासन की पहल पर एवं अन्य झाबुआ नगर के पदाधिकारीयों की मांग पर हाथी पावा जाने वाले मार्ग पर हुडा से चार मंदिर तक सी सी रोड निर्माण की स्वीकृति प्रदान की गयी है उक्त मार्ग की अनुमानित लागत 23 लाख रूपये से अधिक होगी। श्री भूरिया ने कहा कि वर्तमान में हाथीपावा क्षेत्र झाबुआ शहर का एक महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल का आकार ले चुका है तथा वहां निरन्तर सामाजिक संस्थाएं एवं आम जनता वहां पहुंच कर सामाजिक कार्यो में रूची ले रही है साथ ही वृक्षारोपण आदि के कार्य भी झाबुआ की जनता अपने जन्मदिवस एवं अन्य विशेष दिनों में कार्य किया जा रहा है। वर्तमान में कुछ मार्ग कच्चा था जिससे वहां पर जाने में परेशानीयों का सामना करना पडता था। उक्त बात जब जिला प्रशासन द्वारा झाबुआ विधायक कांतिलाल भूरिया के संज्ञान में लाई गयी,तो डाॅ भूरिया ने उक्त मार्ग बनाने की पहल की इस प्रकार उक्त मार्ग को सीमेन्ट कांक्रिट बनाने हेतु झाबुआ विधायक भूरिया ने 6.00 लाख रू. की जारी करने की अनुशंसा की एवं म.प्र.राज्य रोजगार गारंटी परिषद के संयुक्त प्रयास से उक्त मार्ग बनाने की स्वीकृति जारी की गयी । उक्त मार्ग बनने से झाबुआ शहर की सकल व्यापारी संगठन एवं अन्य सामाजिक संस्थाएं जो वहां पर निरन्तर अपनी श्रम शक्ति खर्च कर रही है एवं प्रतिदिन वहां घुमने जाने वाले आम जनता को राहत मिलेगी, सी सी रोड बनने पर सकल व्यापारी संगठन, गुड मार्निग क्लब हाथीपावा तथा नगर की सामाजिक संगठनों, एवं जिला कांग्रेस  द्वारा श्री भूरिया एवं जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया है।


राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग के राष्ट्रीय मुख्य महासचिव डॉ रविन्द्र मिश्रा आधिकारिक यात्रा पर


jhabua news
थांदला। राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग के मुख्य महसचिव डॉ. रविंद्रजी मिश्रा मध्यप्रदेश की त्रिदिवसीय आधिकारिक यात्रा पर दिनांक 15 जुलाई को फ्लाइट से इंदौर आ रहे है। डॉ रविन्द्र मिश्रा के साथ उनकी धर्मपत्नी श्रीमती आँचल मिश्रा, नन्ही परी अंशिका, डॉ अक्षता भट (राष्ट्रिय अध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ), शैलेश मिश्रा (प्रदेश अध्यक्ष महाराष्ट्र), शेषनाथ शुक्ला (राष्ट्रीय जनसंपर्क अधिकारी) भी आ रहे है। इस दौरान वे ओंकारेश्वर, उज्जैन व झाबुआ के पवित्र धाम श्रृंगेश्वर पर बाबा महाकाल की पूजा अर्चना का धर्मीक लाभ भी लेंगे। उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण के दौरान आप अपनी यात्रा व सारे कार्यक्रम निरस्त करते हुए संगठन के सभी सदस्यों के साथ मानवसेवा के कार्य कर रहे थे। दो वर्ष बाद मध्यप्रदेश के विभिन्न स्थानों का दौरा कर मिश्राजी सदस्यों द्वारा किये जा रहे कार्यों की समीक्षा कर श्रेष्ठ कार्य करने वाले पदाधिकारी व सदस्यों को मानवाधिकार के राष्ट्रीय अधिवेशन में सम्मानित भी करेंगे वही इस दौरान नवीन सदस्यों को सदस्य्ता किट भी उपलब्ध करवाएंगे। यहाँ उनकी अगवानी मध्यप्रदेश के प्रदेश प्रभारी कीर्तिश जैन, कार्यवाहक प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर, प्रतिनिधि प्रदेशाध्यक्ष मनीष कुमठ, प्रदेश उपाध्यक्ष अलीअसगर बोहरा, जिलाध्यक्ष श्रीमती चेतना चैहान, जिला उपाध्यक्ष गोपाल चोयल सहित समस्त पदाधिकारी व सदस्य करेंगे। वही उनके आगमन पर को लेकर मध्यप्रदेश संगठन सदस्यों में काफी उत्साह देखा जा रहा है। दिनांक 18 जुलाई को पेटलावद के ग्राम बन्नी स्थित गौशाला पर गौ सेवा का लाभ लेते हुए पौधारोपण कार्यक्रम में शिरकत करेंगे वही श्रंगेश्वर धाम पर कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे व मध्यप्रदेश की जनसमस्याओं को सुनकर उचित परामर्श देंगे वही बड़ी समस्याओं को केंद्र व प्रदेश सरकार तक पहुँचाएँगे।  उक्त जानकारी संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष पंकज चैरड़िया, संभागीय अध्यक्ष राजू मेड़ा व जिलाध्यक्ष रेखा भूरिया ने दी।


डॉक्टर बनने की आस में डॉक्टर किट से खेलते बच्चें - क्या होगा बच्चों का भविष्य पलकों को सता रही चिंता

  • स्कूलों पर शिक्षा विभाग द्वारा कोई ठोस निर्णय नही लेने पर पालकों में रोष

थांदला। कोरोना संक्रमण का दौर थम चुका है, लेकिन तीसरी लहर का खतरा बरकरार है, जिसके चलते केंद्र व मध्यप्रदेश शासन असमंजस की स्थिति में नजर आ रहा है। वह निर्णय नही कर पा रहा है कि विद्यालय खोलें या नही। आज पूरा देश अनलॉक हो चुका है ऐसे में अधिकांश अभिभावक अपने बच्चों के संग बेवजह बाहर आने - जाने यहाँ तक कि घूमने तक का प्लान बनाकर दो माह की कैद से परे मौज मस्ती करते देखे जा सकते है। ऐसे में कोरोना संक्रमण केवल स्कूलों में होगा यह भ्रम की तरह ही लगता है। आज बच्चें स्कूली पढ़ाई से दूर होकर इनडोर के साथ आउटडोर खेल में व्यस्त हो चुके है कुछ अभिभावक जरूर अभी भी कड़ाई से अपने बच्चों को घरों पर तमाम सुविधा उपलब्ध कराकर पढ़ाई व खेल का समायोजन भी कर रहे है लेकिन ऐसे पालकों का अनुपात काफी कम है। जब नन्ही तोषानी व क्विना आपस में किचन-किचन, होम डेकोर, तो डॉक्टर-डॉक्टर गेम खेलते हुए एक दूसरे का ईलाज करते है और कहते है कि हमें डॉक्टर, इंजीनियर बनना है तो बरबस उनके माध्यम से सभी बच्चों व उनके पेरेंट्स के सपनों का खयाल आना लाजमी है। पायल व सुमित बताते है कि आजकल बच्चों की घर पर पढ़ाई मुश्किल होती जा रही है ऐसे में उन्हें बच्चों की भविष्य चिंता सताने लगी है, जिसके लिए वे बच्चों की ट्यूशन लगाते भी है तो कोरोना का खतरा उन्हें सिहर जाने को मजबूर कर देता है। उनका कहना है कि आज बच्चें घर के अलावा स्कूलों में ही सबसे अधिक सुरक्षित रह सकते है। यदि प्रशासन निजी व शासकीय विद्यालयों में कोरोना से बचाव के कुछ मानक तय स्कूलों को खोल दे तो भारत का भविष्य कहे जाने वाले बच्चें पढ़ाई से वंचित नही रहेंगे व अपने पैरों पर स्टेबल भी हो सकेंगे। आज देश में ऑन लाइन पढ़ाई का चलन तेजी से बढ़ रहा है जिससे बच्चों में शारीरिक व मानसिक समस्या तथा नकारात्मक परिणाम भी देखने को मिल रहे है वही सब इसे अपनाने में आर्थिक रूप से सक्षम भी नही है, ऐसे में सरकार को ऑन लाइन पढ़ाई के बजाय ऑफ लाइन पर ध्यान केंद्रित कर बच्चों के भविष्य की चिंता करना चाहिए।


मध्यप्रदेश वीएलई ने की एक वर्ष के वेतन की मांग - विधायक से हस्तक्षेप करने दिया आवेदन


jhabua news
थांदला। मध्यप्रदेश के सीएससी ई गवर्नेन्स इंडिया लिमिटेड के अधीनस्थ महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र (ब्ैब्-20) परियोजना के अंतर्गत झाबुआ जिले की 138 पंचायतों में जिसमें थान्दला विधानसभा की 48 ग्राम पंचायतो में विलेज लेवल इंटर प्रेन्योर (वीएलई) द्वारा विगत अक्टोबर माह से शासन द्वारा प्रदान की जाने वाली विभिन्न योजनाओं का लाभ ग्रामीणों को दिया जा रहा है बावजूद इसके अभी तक उन्हें किसी भी प्रकार का पारिश्रमिक एवं मानदेय नही दिया गया है। आर्थिक परेशानी से जूझ रहे सभी वीएलई ने आज विधानसभा विधायक विरसिंग भूरिया को आवेदन देते हुए मामलें में हस्तक्षेप करते हुए एक वर्ष के वेतन दिलाने की मांग की है। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश की 5000 पंचायतों पर महात्मा गांधी ग्राम मेवा केंद्र (सीएससी - 20) के संचालन के लिए सीएससी गोवर्नेन्स लिमिटेड द्वारा वीएलई की नियुक्ति की जाकर उन्हें मानव संसाधन के रूप में अनुबंध की शर्तों के अनुसार मानदेय भी दिया जाने का प्रवधान है बावजूद इसके उन्हें अभीतक वेतनमान नही दिया गया है। इस संदर्भ में विनीत पारगी, धीरज वाघेला, कपिल मेडा, राजेश डाबी, रोशन मचार, विकास मुणिया, रोशन कटारा आदि ने जनपद सीईओ आर सी हालु एवं एसडीएम ज्योति परस्ते से भी चर्चा कर आवेदन की प्रति सौंपी।


गृहमन्त्री का पुतला दहन पुलिस ने किया विफल कांग्रेस ने कहा सफल


jhabua news
थांदला। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री व गृहमंत्री के निर्देश पर पुलिस विभाग द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री पर किये गए व्यवहार एवं गृहमन्त्री द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री पर की गई अभद्र टिप्पणी से आक्रोशित होकर मध्यप्रदेश यूथ कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया के आग्रह पर पूरे मध्य में गृहमन्त्री का पुतला दहन का आयोजन हुआ। थांदला विधानसभा क्षेत्र के थांदला में स्थानीय आजाद चैक पर विधानसभा अध्यक्ष राजेश डामोर व शहर कांग्रेस अध्यक्ष सुधीर भाबर के नेतृत्व में आनंद चैहान, अरुण ओहारी, सुनील चरपोटा, शंकर डामोर, दीपक बिलवाल, रुसमाल मईड़ा, मसुल भूरिया, चतरसिंग खोखर, अनिल अड़ , ओम प्रकाश कटारा आदि कांग्रेस के नेताओं व सरपंचों ने मिलकर पुलिस की मौजूदगी में मध्यप्रदेश गृहमन्त्री नरोत्तम मिश्रा का पुतला दहन किया। थांदला पुलिस अनुविभागीय अधिकारी व थाना प्रभारी ने दावा किया है कि शासन के विरुद्ध कांग्रसियों के गृहमन्त्री के पुतला दहन कार्यक्रम को पूरी तरह विफल करते हुए उनके दोनों बनाये पुतले जप्त कर लिया है।


बच्चे हमारा कल का सुनहरा भविष्य है इन्हें सहेजे-श्री ब्रजेष चैहान

  • मध्य प्रदेष राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग भोपाल के माननीय सदस्य श्री ब्रजेष चैहान की अध्यक्षता में बैठक आयोजित

jhabua news
झाबुआ,। मध्य प्रदेष राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के माननीय सदस्य श्री ब्रजेष चैहान की अध्यक्षता में आज विकास खण्ड राणापुर की बैठक जनपद पंचायत हाॅल में आयोजित थी। बैठक में माननीय सदस्य का पुष्प माला से अभिनंदन किया गया। माननीय सदस्य द्वारा सभी का परिचय प्राप्त किया। इस बैठक में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री सोहन कनाष, डिप्टी कलेक्टर एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास श्री डाॅ. अभयसिंह खराडी, एसडीओपी श्री इडला मौर्य, सहायक संचालक महिला बाल विकास श्री आर.एस.बघेल, श्री बालुसिंह सस्तिया एवं श्रीमती वर्षा चैहान तहसीलदार श्री रविन्द्र चैहान, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्री जाषुआ पीटर, सीएमओ श्री कमलेष गोले, बीएमओ श्री डाॅ. जी.एस.चैहान एवं बडी संख्या में महिला बाल विकास विभाग की सुपरवाईजर, श्रम विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे। इस बैठक में माननीय सदस्य श्री ब्रजेष चैहान द्वारा अपने उद्बोधन में कहा कि आयोग का मुख्य उद्देष्य बच्चों का संरक्षण देख-भाल व्यवस्थित तरिके से हो इस समय कोरोना की तीसरी लहर संभावित है। जिसमें बच्चो के लिये विषेष सावधानी का समय है। इस दौरान पढ़ाई के लिये भी हमें विषेष ध्यान देना है। बच्चे हमारा कल का सुनहरा भविष्य है। इन्हें सहजने की जिम्मेदारी हमारी है। इनके अधिकारो का संरक्षण करना हमारा कर्तव्य है। इनकी देख-भाल के लिये विषेष प्रयास होना चाहिये। वर्तमान में विकट परिस्थिति में बच्चों की षिक्षा सही तरिके से नहीं दे पा रहे है। इसके लिये विषेष रूप से कार्य योजना बनाकर बच्चों को षिक्षित करें। हमारा प्रयास हो षिक्षा बच्चों तक कैसे पहुंचे बच्चों का भविष्य खराब नहीं होने देवे। बाल श्रम एक गंभीर अपराध है। इसके लिये हमें सजग रहना होगा एवं यदि बच्चें श्रम करते पाए जाए तो उन्हें पूनर्वास के लिये षिक्षा के लिये हमें आगे आना होगा। बाल श्रम कानून का व्यापक प्रचार-प्रसार भी होना चाहिये। कोरेाना काल में जिनके माता-पिता का देहांत हुआ है। उनके लिये भी हमें विषेष प्रयास कर समाज के मुख्य धारा से जोडना है। उनका संरक्षण करना हैं उनके अधिकारों को हमे दिलाना है। मध्य प्रदेष सरकार इसके लिये कृतसंकल्पित है। जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री डाॅ. अभयसिंह खराडी द्वारा जिले में बच्चों के लिये किये जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी प्रस्तुत की एवं श्रम विभाग द्वारा भी जिले में यदि बाल श्रम पाया जाता है तो सजकता से कार्य करने के लिये तत्पर है। बीआरसी द्वारा खण्ड में बच्चों के लिये जो पढ़ाई करने के लिये जो कार्य योजना बनाई गई है। उसके संबंध में माननीय सदस्य महोदय को अवगत कराया। आयोग के माननीय सदस्य श्री ब्रजेष चैहान द्वारा जनपद परिसर में वृक्षा रोपण जिसमें अषोक एवं आम का पौधा रोपित किया। इसके पष्चात कोरोना से श्री स्व. विक्रम परमार की मृत्यु होने पर उसके निवास पर पहुंचे यहां पर इनकी पत्नी श्रीमती दिव्या परमार से चर्चा की एवं यहां पर बच्चों को बिस्कीट एवं पुस्तक भेंट की। इसके पष्चात माननीय आयोग के सदस्य द्वारा पोषण पुरर्वाष केन्द्र राणापुर पहुंचे यहां पर केन्द्र का सूक्ष्मता से निरीक्षण किया एवं यहां की व्यवस्था के लिये बधाई दी। यहां पर स्टाफ के बच्चों को बिस्कीट एवं पुस्तक प्रदान की। इस दौरान प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के प्रतिनिधि एवं प्रभारी पीआरओ श्री सुधीर कुषवाह उपस्थित थे।


माननीय राज्य मंत्री श्री इंदर सिंह जी परमार, स्कूल शिक्षा ( स्वतंत्र प्रभार) सामान्य प्रशासन एवं प्रभारी मंत्री जिला झाबुआ का दौरा कार्यक्रम-


झाबुआ 15 जुलाई 2021 माननीय राज्य मंत्री श्री इंदर सिंह जी परमार स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) सामान्य प्रशासन मध्यप्रदेश शासन एवं प्रभारी मंत्री जिला झाबुआ दिनांक 16 जुलाई 2021 को अपरान्ह 5-00 बजे झाबुआ सर्किट हाउस पर आगमन एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों से भेंट करेंगे दिनांक 17 जुलाई को प्रातः 10-00 बजे से 11-30 बजे तक भारतीय जनता पार्टी कार्यालय की बैठक मैं भाग लेंगे दोपहर 1-00 बजे जिला योजना समिति की बैठक कलेक्टर कार्यालय सभाकक्ष में आयोजित है इस बैठक की  अध्यक्षता करेंगे सायः  5-30 बजे पुलिस आनंद वाटिका का शुभारंभ करेंगे स्थान पुलिस लाइन झाबुआ सायं 6-30 बजे झाबुआ से प्रस्थान वाया पेटलावद, बदनावर उज्जैन मक्सी शुजालपुर जाएंगे ।


कलेक्टर ने झंडी दिखाकर किया वाहन को रवाना एजुकेट गर्ल्स संस्था 231 गांवों में 3432 राहत किटों का करेगी वितरण


jhabua news
झाबुआ । कलेटोरेट परिसर में गुरुवार को कलेक्टर सोमेश मिश्रा ने हरी झंडी दिखाकर एजुकेट गर्ल्स संस्था द्वारा वितरित की जा रही राहत सामग्री से भरे वाहन को रवाना किया। कलेक्टर सोमेश मिश्रा ने कहा कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए जरूरतमंद लोगों को राशन वितरण करने का कार्य संस्था कर रही है वो साधुवाद का कार्य है। जिला कार्यक्रम समन्वयक एलएन प्रजापति ने कहा कि एजुकेट गर्ल्स संस्था जिले में बालिका शिक्षा पर कार्य कर रही है। जो बच्चे शिक्षा से वंचित है, उन्हें मुख्य धारा में जोड़ने का कार्य कर रही है। संस्था के जिला प्रबंधक अभिषेक कुमार झा ने बताया कि बालिका शिक्षा के क्षेत्र में काम कर रही गैर सरकारी संस्था एजुकेट गर्ल्स ने कोविड-19 की परिस्थितियों में झाबुआ के ग्रामीण क्षेत्रों में अहम भूमिका  निभाई है। संस्था की सवयंसेवक टीम बालिका ने कोविड-19 से प्रभावित जरूरतमंदों को सेफ्टी किट, मास्क, सैनिटाइजर, सेनेटरी पैड व् राशन जैसी महत्वपुर्ण सामग्री उपलब्ध करवाई। बता दें कि संस्था द्वारा झाबुआ जिले के 231 गांवों में 3432 राहत किटों का वितरण अब तक किया जा चुका है। कार्यक्रम में संस्था के अयाज नाजी, अंकित वर्मा, योगेंद्र सिसोदिया, यश पंवार, भावेश सोलंकी, मनीष मकवाना, भुरसिंग, श्याम गोहरी आदि उपस्थित थे।


जिला योजना समिति की समीक्षा बैठक माननीय श्री इंदरसिंह परमार राज्य मंत्री स्कुल षिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रषासन विभाग एवं प्रभारी मंत्री जिला झाबुआ की अध्यक्षता में दिनंाक 17 जुलाई को आयोजित होगी


झाबुआ। जिला योजना समिति की समीक्षा बैठक माननीय श्री इंदरसिंह परमार राज्य मंत्री स्कुल षिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रषासन विभाग एवं प्रभारी मंत्री जिला झाबुआ की अध्यक्षता में दिनंाक 17 जुलाई को दोपहर 1 बजे कलेक्टर कार्यलय सभा कक्ष में आयोजित होगी। बैठक में सम्पूर्ण स्वास्थ्य/कोविड-19 की तीसरी लहर की तैयारी, राहत, सार्वजनिक वितरण प्ररणाली, सामाजिक सुरक्षा, प्रत्येक परिवार को आवास, विभिन्न योजनाओं के अपूर्ण कार्य जिसमें लोक स्वास्थ्य यात्रिकी विभाग- जल जीवन, एमपीआरडीसी, पीडब्लयूडी सेतु, महिला एवं बाल विकास विभाग-आंगनवाडी की समीक्षा होगी। बैठक में समस्त जिला अधिकारी जिसकी समीक्षा इस बैठक में होनी है वे अपना पीपीटी के माध्यम से प्रजेंटेषन प्रस्तुत करेंगे। बैठक में विभाग के अधिकारी अद्यतन जानकारी के साथ निर्धारित दिनांक एवं समय पर उपस्थित रहेंगे।


‘‘खरीफ मौसम 2021 की फसलों का जायजा लेने डायग्नोस्टिक टीम का भ्रमण‘‘

  • ‘‘डायग्नोस्टिक टीम द्वारा कीट व्याधियों के प्रकोप के नियंत्रण हेतु कृषकों से रूबरू चर्चा’’

jhabua news
 झाबुआ,। जिले में खरीफ मौसम 2021 अन्तर्गत विभिन्न फसलों के लक्षित 189000 हैक्टयर रकबा के विरूद्ध लगभग 90 फिसदी बुवाई कार्य सम्पन्न हो चूका है। खरीफ मौसम की वर्षा भी अद्यतन स्थिति में 217.2 मि.मी.  रही है। जिला कलेक्टर श्री सोमेाष मिश्रा के निर्देषानुसार दिनांक 14.07.2021 को जिला स्तरीय डायग्नोस्टिक टीम जिसमें श्री एन.एस. रावत, उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास जिला झाबुआ, वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ डाॅ. आई.एस. तोमर, डाॅ. चन्दन, सहायक संचालक कृषि एस.एस. रावत एवं मैदानी अमला शामिल है। दल द्वारा मेघनगर विकासखण्ड के ग्राम झायड़ा टोडी का भ्रमण कर कृषक श्री रमेश-करमचंद, प्रकाष-करमचंद, किषोर-दितिया, तकेसिंह-दल्ला के खेतों में मक्का, सोयाबीन, कपास फसलों का अवलोकन किया गया। भ्रमण के दौरान कृषकों से रूबरू चर्चा भी की गई, फसल स्थिति संतोषजनक पाई गई तथा कृषकों द्वारा भी चर्चा में किसी प्रकार की कीटव्याधियों के प्रकोप से इंकार किया गया है। साथ ही ग्राम मदरानी के कृषक श्री रमेश-थावरा, कालू-दलसिंह, तेरसिह-वरसिंह, तेरू-दिला, साधु-दलसिंह के खेतों में लगी मक्का फसल भी अच्छी स्थिति में देखी गई है। विकासखण्ड थांदला के ग्राम अनुपुरा के कृषक श्री मानसिंह-सकरीया, जीगा-दिथिंग, एकमल-दिथिंग, बहादुर-कालू, दल्ला-लालु के खेत में धान फसल का अवलोकन किया गया। विकासखण्ड पेटलावद के ग्राम खोरिया के कृषक श्री राजु-मानसिंह, कमजी-भेरू, तेरू-मेरू एवं तेरसिंह-जोगडिया के खेतों में लगी फसल मक्का, कपास की स्थिति भी काफी अच्छी देखी गई। भ्रमण के दौरा कृषकों को डायग्नोस्टिक टीम द्वारा ये तकनीकि सलाह भी दी गई  खेत फसल का नियमति निरीक्षण करें। खेत फसल के साथ-साथ खेत की मेढ़ साफ-सुथरी रखें। फसल पंक्तियों के बीच डोरा चलाये। कीट व्याधियों के प्रकोप होने पर प्रारंभिक तौर पर नीम तेल का छिड़काव करें। अधिक जानकारी हेतु कृषि विज्ञान केन्द्र एवं नजदीकी कृषि कार्यालय से सम्पर्क करें तथा मैदानी अमलों से उचित मार्गदर्षन लेवे।

कोई टिप्पणी नहीं: