शिखर की टीम इंडिया ने श्रीलंका को दी करारी शिकस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 19 जुलाई 2021

शिखर की टीम इंडिया ने श्रीलंका को दी करारी शिकस्त

team-india-beat-srilanka
कोलम्बो, 18 जुलाई, सलामी बल्लेबाज और कप्तान शिखर धवन की नाबाद 86 रन की कप्तानी पारी और ईशान किशन की 59 तथा ओपनर पृथ्वी शॉ की 43 रन की तेज तर्रार पारियों की बदौलत भारत ने श्रीलंका को पहले वनडे में रविवार को एकतरफा अंदाज में सात विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। श्रीलंका ने पुछल्ले बल्लेबाज चमीका करुणारत्ने की नाबाद 43, कप्तान दासुन शनाका की 39 और चरित असालंका की 38 रन की उपयोगी पारियों से 50 ओवर में नौ विकेट पर 262 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया जबकि भारत ने 36.4 ओवर में तीन विकेट पर 263 रन बनाकर आसान जीत अपने नाम की।


लक्ष्य चुनौतीपूर्ण था लेकिन युवा पृथ्वी शॉ ने शुरुआत से आतिशी बल्लेबाजी का नजारा पेश किया। पृथ्वी ने ने 24 गेंदों पर नौ चौकों की मदद से 43 रन ठोके। पहले विकेट के लिए 58 रन की साझेदारी में शिखर अपेक्षाकृत शांत रहे। पृथ्वी का विकेट गिरने के बाद मैदान पर उतरे ईशान किशन ने भी गेंदबाजों की पिटाई का सिलसिला जारी रखा। शिखर ने किशन के साथ दूसरे विकेट के लिए 85 रन जोड़े। किशन इस साझेदारी में ज्यादा आक्रामक रहे। किशन ने 42 गेंदों पर 59 रन में आठ चौके और दो छक्के लगाए। किशन के आउट होने के बाद शिखर ने मनीष पांडेय के साथ तीसरे विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी में शिखर ने अपने पुराने तेवर दिखाते हुए आकर्षक शॉट खेले। मनीष पांडेय 40 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 26 रन बनाकर आउट हुए। भारत का तीसरा विकेट 215 के स्कोर पर गिरा। शिखर ने नए बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव के साथ चौथे विकेट की अविजित साझेदारी में 48 रन जोड़कर भारत को 132 ओवर शेष रहते सात विकेट से जीत दिला दी। शिखर ने 95 गेंदों पर नाबाद 86 रन में छह चौके और एक छक्का लगाया जबकि सूर्य ने 20 गेंदों पर अविजित 31 रन में पांच चौके मारे। पृथ्वी को उनकी आक्रामक पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।


इससे पहले श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। श्रीलंका ने अच्छी शुरुआत की और पहले विकेट के लिए 49 रन जोड़े। लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने सलामी बल्लेबाज आविष्का फर्नांडो को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। फर्नांडो ने 35 गेंदों पर 32 रन बनाये। श्रीलंका का स्कोर 16 ओवर में एक विकेट पर 85 रन था लेकिन चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने 17 वें ओवर में पहली गेंद पर भानुका राजपक्षे और चौथी गेंद पर ओपनर मिनोद भानुका को चार रन के अंतराल में आउट कर भारत को दो सफलताएं दिलायीं। राजपक्षे ने 24 और मिनोद ने 27 रन बनाये। लेफ्ट आर्म स्पिनर क्रुणाल पांड्या ने धनंजय डी सिल्वा को टीम के 117 के स्कोर पर आउट किया। डी सिल्वा ने 14 रन बनाये। असालंका और शनाका ने पांचवें विकेट की साझेदारी में 49 रन जोड़े। दीपक चाहर ने असालंका और वाणींदू हसारंगा को आउट किया जबकि चहल ने शनाका का विकेट निकालकर श्रीलंका का स्कोर सात विकेट पर 205 रन कर दिया। हार्दिक पांड्या ने इसुरु उदाना को आउट कर श्रीलंका का स्कोर आठ विकेट पर 222 रन कर दिया लेकिन नौंवें नंबर के बल्लेबाज चमीका करुणारत्ने ने नौंवें विकेट के लिए दुष्मंत चमीरा के साथ 40 रन जोड़कर श्रीलंका को लड़ने लायक स्कोर तक पहुंचा दिया। चमीरा 13 रन बनकर पारी की आखिरी गेंद पर रन आउट हुए। करुणारत्ने 35 गेंदों में एक चौके और दो छक्कों की मदद से 43 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे। भारत की तरफ से चाहर ने 37 रन पर दो विकेट, चहल ने 52 रन पर दो विकेट और कुलदीप ने 48 रन पर दो विकेट लिए जबकि क्रुणाल को 26 रन पर एक विकेट और उनके भाई हार्दिक को 33 रन पर एक विकेट मिला।

कोई टिप्पणी नहीं: