झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 31 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 31 अगस्त 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 31 अगस्त

जिलाभाजपा ने मनाई कुशाभाऊ ठाकरे की जयंती


jhabua news
*झाबुआ(योगेन्द्र नाहर द्वारा)* भाजपा द्वारा सोमवार को प्रदेश भाजपा के आव्हान पर जिला भाजपा एवं मण्डल झाबुआ द्वारा भाजपा के पितृ पुरूष कुशाभाऊ ठाकरे की जयंती मनाई गई। सुबह करीब 09 बजे से कार्यक्रम शुरू हुआ जिसमें भाजपा के वरिष्ठ नेता आई डी ए के चेयरमैन मधु वर्मा इन्दोर द्वारा ने श्री ठाकरे के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि श्री ठाकरे का जीवन राष्ट्र एवं समाज के लिए समर्पित रहा। राजनीति को सेवा का भाव देने वाले श्री ठाकरे ने अपना सारा जीवन सामान्य तरीके से गुजारते हुए कार्यकर्ताओं को यह संदेश दिया कि राजनीति के माध्यम से जो सेवा का भाव पार्टी ने दिया है उस पर चलकर हम समाज की सेवा करें। कार्यक्रम में संचालन जिला महामंत्री सोमसिह सोलंकी ने किया कार्यक्रम में मुख्य रूप  से  भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह नायक  लोकप्रिय सांसद गुमान सिंह डामोर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ओम प्रकाश शर्मा जिला उपाध्यक्ष सत्येंद्र यादव जिला मिडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर आई टी सेल प्रभारी अर्पित कटकानी कार्यालय मंत्री मनोहर मोदी मंडल अध्यक्ष अंकुर पाठक महामंत्री जुवान सिंह गुण्डिया वरिष्ठ भाजपा नेता दोलत भावसार रमेश जी शर्मा विजय नायर भूपेश सिंगोड़ और पूर्व मंडल अध्यक्ष  बबलू सकलेचा  पपीश पानेरी मोनु  भुरीया आदि सेकड़ो भाजपा कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों की उपस्थिति रही उक्त कार्यक्रम के पश्चात  11:30 बजे से  भाजपा पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं द्वारा  प्रदेश संगठन द्वारा आयोजित  ई वर्चुअल मीटिंग  में  भाग लिया गया । कार्यक्रम मे आभार प्रकट मंडल अध्यक्ष अंकुर पाठक ने व्यक्त किया उक्त जानकारी जिला भाजपा मिडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर द्वारा दी गई।


आलकी की पालकी, जय कन्हैयालाल की .... के जयघोष के साथ शहर के ह्रदय स्थल राजवाड़ा पर 12 फिट ऊंची दही-हांडी बांधी गई, श्री कृष्ण जन्मोत्सव समिति के पदाधिकारी-सदस्यों ने लगाए जयकारे

  • युवा ज्योतिषाचार्य पं. द्विजेन्द्र व्यास एवं पं. जैमिनी शुक्ला ने संपन्न करवाई पूजन

jhabua news
झाबुआ। नंद के घर आनंद भयो .... जय कन्हैयालाल की ...., हाथी घोड़ा पालकी .... जय कन्हैयालाल की .... के जयघोष के साथ श्री कृष्ण जन्मोत्सव समिति राजवाड़ा ने शहर के ह्रदय स्थल स्थित राजवाड़ा चौक के मंच के समीप 12 फिट ऊंची दही-हांडी बांधी। दही-हांडी की विधिवत् पूजन युवा ज्योतिषाचार्य पं. द्विजेन्द्र व्यास एवं पं. जैमिनी शुक्ला ने संपन्न करवाई। प्रारंभ मंे मटकी मंे मक्खन, शहद, दही, मिश्री आदि पंचामृत डाला गया। बाद ऊपर श्रीफल रखकर आसपास चमकीली पन्नीयों से सजाकर रस्सी पर बांधी गई। तत्पष्चात् ढोल के साथ उपस्थित आयोजन समिति के प्रबंधक अषोक शर्मा एवं नीरजसिंह राठौर, संरक्षक यषवंत भंडारी, अजय रामावत, शरत शास्त्री, लालाभाई मिस्त्री, पीडी रायपुरिया, अध्यक्ष मनोज अरोरा, कोषाध्यक्ष विष्णु व्यास, अजयसिंह पंवार, अब्दुल रहीम अब्बु दादा, प्रतियोगिता संयोजक रविराजसिंह राठौर, सकल व्यापारी संघ से वरिष्ठ संजय कांठी, पंकज जैन ‘मोगरा’, कमलेष पटेल, हरिष शाह लालाभाई, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, श्वेतांबर जैन समाज से सुरेन्द्र कांठी, अषोक चौहान, दिलीप पटेल, युवा बहादुर भाटी आदि ने श्री कृष्ण के जयकारे लगाए। पं. द्विजेन्द्र व्यास एवं पं. जैमिनी शुक्ला तथा जर्नादन शुक्ला ने दही-हांडी की कंकु-चावल से तिलक कर पूजन कर मंत्रोच्चार किए। 


ढोल और जयकारो के साथ बांधी गई दही-हांडी

सभी को तिलक करने के बाद ढोल और जयकारो के साथ दही-हांडी को रस्सी के सहारे 12 फिट की ऊंचाई पर बांधा गया। नीचे तखत और रात्रि में होने वाली फंेंसी ड्रेस प्रतियोगिता के लिए मंच का निर्माण किया गया। रात्रि में फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता बाद विजेता बने बाल गोपाल द्वारा दहीं-हांडी फोड़ी जाएगी। इस दौरान कोविड के नियमों एवं टीकाकरण महाभियान का प्रचार-प्रसार भी पोस्टर-बेनर आदि के माध्यम से किया जाएगा। 


श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर प्रातःकाल कृष्ण मंदिरांे में भगवान का अभिषेक, पूजन एवं श्रृंगार का हुआ आयोजन, दोपहर मंे महिलाआंे ने किए भजन-किर्तन


jhabua news
झाबुआ। श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर 30 अगस्त, सोमवार को प्रातःकाल शहर के सभी श्री कृष्ण मंदिरांे पर भगवान का महाभिषेक, महापूजन एवं आरती का आयोजन हुआ। दोपहर में मंदिर मंे महिलाआंे ने भजन-किर्तन कर अपने घरों पर भी बाल गोपाल का विषेष पूजन-पाठ किया। इस दिन श्री कृष्ण भक्तों ने व्रत, उपवास रखकर भी भगवान की आराधना की। प्रतिवर्ष श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर जिला मुख्यालय से आजाद कृष्ण परिवार द्वारा निकाली जाने वाली भव्य वाहन यात्रा कोरोनाकाल के चलते इस बार नहंी निकाली गई वहीं इस शहर के मध्य राजवाड़ा पर भी मटकी फोड़ प्रतियोगिता का विषाल स्तर पर आयोजन नहंी करते हुए संक्षिप्त रूप एवं प्रतीकात्मक रूप से फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता एवं दही-हांडी फोड़ रखा गया है। शहर के राधाकृष्ण मार्ग स्थित राधा-कृष्ण सरकार मंदिर पर सुबह भगवान का विषेष अभिषेक मंदिर के सेवक मनीष बैरागी ने करते हुए दोपहर में राधा-कृष्णजी का मनमोहक एवं सुंदर श्रृंगार किया गया। समीप ही बाल गोपाल का सुंदर पालना भी सजाकर बालिकाओं ने पालने में बाल श्री कृष्णजी को झूलाकर भगवान के जयकारे भी लगाए। दिनभर मंदिर में श्री कृष्णजी के सुंदर गीत गूंजायमान हुए। समीप ही श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार मंदिर मे भी प्रातःकाल भगवान का अभिषेक एवं पूजन मंदिर के सेवक पं. प्रदीप भट्ट ने किया। दोपहर में समाजजनांे ने भगवान श्री सत्यनारायणजी का सुंदर श्रृंगार किया। वहीं पूरे मंदिर परिसर को भी सुदंर रूप से सुसज्जित किया गया। 


श्री गौवर्धनाथजी की हवेली में सजे बाल गोपाल 

इसी प्रकार शहर के आजाद चौक के समीप श्री गौवर्धननाथ मंदिर (श्री गौवर्धनाथजी की हवेली) में पूज्य आचार्य दिव्येषकुमार जी के सानिध्य में सुबह श्री गौवर्धनाथ प्रभु का अभिषेक, श्रृंगार कर रात्रि 12 बजे दर्षन हेतु पट बंद किए गए। दोपहर में मुख्य पट के समीप विषेष मंच सजाकर आचार्य दिव्येषकुमारजी के सानिध्य में मंदिर से जुड़़े वैष्णवजनों की उपस्थिति मंे बाल गोपाल को पालने में विराजित किया गया। यहां रात्रि 12 बजे मुख्य प्रवेष द्वार खुलंेगे और श्री गोपाल प्रभु का जन्मोत्सव मनाते हुए शंखनाद और घटियों की आवाज के साथ महाआरती और महाप्रसादी का आयोजन होगा।


श्री चारभुजानाथ मंदिर में की गई विषेष तैयारियां

शहर के श्री गौवर्धननाथ मंदिर के समीप श्री चारभुजानाथ मंदिर मंे प्रातःकाल से लेकर दोपहर तक भगवान का महाभिषेक मंदिर के सेवक वरिष्ठ पं. विष्वनाथ शुक्ल द्वारा किया गया। वहीं दषा नीमा समाज से जुड़े मनीष कोठारी, राजेन्द्र शाह, राकेष शाह, आषीष कटलाना, जितेन्द्र शाह आदि ने मंदिर को विषेष रूप से सुसज्जित करने में महत्वपूर्ण सहयोग प्रदान किया। छोटे तालाब स्थित श्री राधा-कृष्ण बिहारी मंदिर में भी सुबह अभिषेक, श्रृंगार, पूजन बाद दोपहर में मंदिर से जुड़ी महिलाआंे ने भजन-किर्तन किए। लक्ष्मीबाई मार्ग स्थित श्री राम मंदिर पर भी विषेष तैयारियां की गई। सभी श्री कृष्ण मंदिरों पर रात्रि 12 बजे भगवान का जन्मोत्सव मनाते हुए महाआरती एवं महाप्रसादी का विषेष आयोजन होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: