ATM में नकदी नहीं होने पर बैंक पर 10 हजार का लगेगा जुर्माना - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 11 अगस्त 2021

ATM में नकदी नहीं होने पर बैंक पर 10 हजार का लगेगा जुर्माना

atm-can-not-be-empty
नयी दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि अगर नकदी की कमी की वजह से ग्राहक को ATM से खाली हाथ लौटना पड़ा तो संबंधित बैंक पर इस वर्ष पहली अक्टूबर से जुर्माना लगाया जाएगा। यानी अब अपने एटीएम में पर्याप्त नकदी नहीं रखना बैंकों को भारी पड़ने वाला है। इस संबंध में आरबीआई ने एक सर्कुलर जारी कर कहा है कि किसी भी बैंक के एटीएम में एक महीने में ज्यादा से ज्यादा 10 घंटे तक नकदी की कमी स्वीकार्य है, और इससे ज्यादा समय होने पर बैंकों पर प्रति एटीएम में नकदी के हिसाब से 10—10 हजार जुर्माना लगाया जाएगा।


विदित हो कि आरबीआई पर बैंक नोट जारी करने की जिम्मेदारी है। अपने सर्कुलर में आरबीआई ने कहा है कि यह नियम लागू करने के पीछे उसका मकसद एटीएम में नकदी की कमी से होने वाली दिक्कत से ग्राहकों को निजात दिलाना है। सर्कुलर में साफ कहा गया है कि अगर किसी बैंक के किसी एटीएम में 10 घंटे से ज्यादा देर तक नकदी की कमी पाई गई तो बैंक को प्रति एटीएम 10,000 रुपये का जुर्माना देना होगा।


सर्कुलर में आरबीआई ने कहा है कि बैंकों और व्हाइट लेबल एटीएम (वैसी कंपनियां जिन्हें आरबीआइ ने सिर्फ एटीएम परिचालन का लाइसेंस दिया है) आपरेटर्स को अपना तंत्र मजबूत रखना होगा। उन्हें सुनिश्चित करना होगा कि उनके तहत आने वाले किसी भी एटीएम में नकदी की कभी भी कमी नहीं हो। अगर ऐसा नहीं किया गया तो बैंकों पर मौद्रिक जुर्माना लगेगा। यही नहीं अगर किसी व्हाइट लेबल एटीएम में नकदी की कमी मिलती है तो जुर्माना उस बैंक पर लगाया जाएगा, जिससे उस एटीएम में रकम डालने का करार है।

कोई टिप्पणी नहीं: