मधुबनी : आपदा की स्थिति में आपदा जोखिम समीक्षात्मक की बैठक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 2 अगस्त 2021

मधुबनी : आपदा की स्थिति में आपदा जोखिम समीक्षात्मक की बैठक

disaster-meeting-madhubani
मधुबनी, 02 अगस्त, जिला पदाधिकारी, मधुबनी श्री अमित कुमार के अध्यक्षता में मौनसून के मामलों में बाढ़ एवं जल-जमाव की समस्याओं तथा इस कारण उत्पन्न आपदा की स्थिति में आपदा जोखिम को न्यूनीककृत करने के लिए जिला स्तर पर सभी विभागों के पदाधिकारियों के साथ समाहरणालय सभाकक्ष में समीक्षात्मक बैठक सम्पन्न हुई। इस दौरान अपर समाहर्त्ता, मधुबनी, सिविल सर्जन, मधुबनी, प्रभारी पदाधिकारी, जिला आपदा प्रबंधन शाखा, मधुबनी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, मधुबनी, जिला परिवहन पदाधिकारी, मधुबनी, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी -सह- जिला पंचायत राज पदाधिकारी, मधुबनी, जिला आपूर्ति पदाधिकारी, मधुबनी, जिला सांख्यिकी पदाधिकारी, मधुबनी, जिला कृषि पदाधिकारी, मधुबनी, सहायक निदेशक, जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग, मधुबनी, कार्यपालक अभियंता, लोक स्वास्थ्य प्रमण्डल, मधुबनी इत्यादि उपस्थित थे। बैठक के दौरान जिला पदाधिकारी, मधुबनी द्वारा आपदा जनित जोखिम को न्यूनतम करने में सहायक हेतु सभी विभागों के पदाधिकारियों को उनके कार्य एवं दायित्व का उल्लेख करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए, जो इस प्रकार है :-

1. जिला कृषि पदाधिकारी, मधुबनी बाढ़ के समय कृषि संयंत्रों, बीज, खाद्य आदि को सुरक्षित जगह पहुंचाने के लिए संबंधित कमिटी के साथ समन्वय स्थापित करेंगे।

2. बीज और खाद का भंडारण सुरक्षित जगहों पर कर, प्रखंड कृषि पदाधिकारियों निश्चित रूप से किसानों को तकनीकी जानकारी मुहैया करायें, जिला से प्रखण्ड एवं पंचायत स्तर पर नियमित रूप से कीटनाशक एवं खाद की आपूर्ति हो।

3. जिला पशुपालन पदाधिकारी, मधुबनी मवेशियों एएवं चारा को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने के लिए संबंधित ग्राम पंचायत आपदा प्रबंधन कमिटी और सामुदायिक स्तर की स्वास्थ्य एवं खोज तथा बचाव कमिटी के साथ समन्वय स्थापित करेंगे।

4. पशुओं के लिए पर्याप्त चारा, दवा आदि की आपूर्ति सुनिश्चित करायेंगे।

5. जिला शिक्षा पदाधिकारी, मधुबनी अगर स्कूल भवन/परिसर क्षतिग्रस्त हो गया हो या उसका इस्तेमाल राहत/पुनर्वास केन्द्र के रूप में हो रहा हो तो आपात स्थिति के सभी चरणों में पढ़ाई के लिए जगह की वैकल्पिक व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे।

6. जरूरत के अनुसार राहत एवं पुनर्वास केन्द्र के रूप से इस्तेमाल किये जाने के लिए स्कूल, कॉलेज को स्थानीय प्रशासन को सौपेंगे।

7. जिला आपुर्ति पदाधिकारी, मधुबनी आपात स्थिति के हालात में गोदामों, जन विरतण प्रणाली की दुकानों तथा भंडारण के दूसरे जगहों की सुरक्षा से संबंधित चौकसी को प्रचारित करेंगे।

8. सिविल सर्जन, मधुबनी द्वारा सवारी, फर्स्ट एड बॉक्स, आवश्यक दवाओं की किट्स, प्रसव किट्स और चिकित्सकीय साज-सामान, स्ट्रेचर आदि पर्याप्त रूप से उपलब्ध करायेंगे।

9. आपात स्थिति के दौरान कोई डॉक्टर, नर्स या स्टाफ छुट्टी पर नहीं जायेंगे।

10. कार्यपालक अभियंता, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण प्रमण्डल, मधुबनी द्वारा जरूरत के अनुसार चापाकल, नलकूप, कुंआ जैसे पानी के उपयुक्त श्रोतों की पहचान तथा पता कर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे।

11. आपदा प्रभावित इलाके में जलापूर्ति व्यवस्था घ्वस्त या क्षतिग्रस्त हो गयी हो, तो वहां टैंकरों से स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति करायेंगे।

12. सहायक निदेशक, सामाजिक सुरक्षा कोषांग, मधुबनी द्वारा अशक्त लोगों, बूढ़ों और निस्सहायों के लिए वाश, भोजन एवं शरण की व्यवस्था करायेंगे।

13. जिले में दिव्यांग व्यक्तियों कि सूची तैयार करेंगे ताकि आपदा के समय चिन्हित दिव्यांगों को आपदा से बचाव में किसी प्रकार की परेशानी न हो।

14. जिला परिवहन पदाधिकारी, मधुबनी द्वारा राहत, बचाव और राहत सामग्रियों की ढुलाई आदि के लिए प्रशासन को आवश्यकतानुसार पर्याप्त संख्या में वाहन उपलब्ध करायेंगे।

15. आपात समय में वाहन इस्तेमाल के लिए ड्राइवर, कंडक्टर, वाहनों की अद्यतन सूची उपलब्ध करायेंगे।

16. जिला सूचना एवं जनसम्पर्क पदाधिकारी, मधुबनी द्वारा हर दिन मौसम के संबंध में जिलेवासियों को सूचना दिलायेंगे एवं इस संबंध में प्रेस बुलेटिन जारी करायेंगे।

17. अखबारों एवं प्रचार के दूसरे माध्यम के जरिए सूचनाओं के प्रभावी प्रचार के लिए मीडिया के लोगों को मौके पर ले जायेगें।

कोई टिप्पणी नहीं: