पालीगंज : विकास मित्र का भान्जा की मौत पोखर में डूबने से - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 27 अगस्त 2021

पालीगंज : विकास मित्र का भान्जा की मौत पोखर में डूबने से

  • * पोखर में नहाने के क्रम में डूबने वाले अभिषेक का दसवां आज
  • * आपदा प्रबंधन विभाग के द्वारा मृतक के परिजनों को चार लाख रू.का मुआवजा मिला नहीं 

child-died-in-pond
पालीगंज. पटना जिले में ही पालीगंज.मसौढ़ी के विकास मित्र हैं विजय कुमार.उनका भान्जा अभिषेक कुमार पोखर में स्नान करने गये थे.स्नान करने के दरम्यान अभिषेक कुमार पोखर में डूब मरा.वह लगभग14वर्ष का था. बताया जाता है कि पालीगंज के सिकरिया गांव के रहवासी हैं  महादलित संजय मोची.संजय मोची खेतिहर मजदूर हैं.पिता संजय मोची और मां अनीता देवी के पुत्र अभिषेक कुमार 15 अगस्त को पोखर में  स्नान करने गये थे.स्नान करने दरम्यान पोखर में डूबने से बच्चे की मौत हो गई.वह लगभग 14वर्ष का था.वह बच्चा नौवीं कक्षा में पढ़ाई कर रहा था.उसके निधन से परिवार पर पहाड़ टूट पड़ा. पोखर में डूबने से बच्चे (पुत्र) की मौत हो जाने के बाद पिता संजय मोची ने पालीगंज थाने में लिखित जानकारी दी है कि मैं संजय मोची पुत्र वासुदेव मोची का कहना है कि मेरा पुत्र अभिषेक कुमार उर्फ गोलू गांव के सूर्य मंदिर के पास पोखर में नहाने के लिए गया था.नहाने के क्रम में वह अधिक पानी में चला गया.जिसके कारण पुत्र की मौत हो गयी.इस हादसा का जिम्मेवार और दोषी किसी को नहीं ठहराते हैं. मसौढ़ी के विकास मित्र विजय कुमार का कहना है कि आपदा प्रबंधन विभाग के द्वारा मृतक के परिजनों को आपदा के समय चार लाख रू. मुआवजा देने का प्रावधान है.परंतु इस संकट में सरकार व आपदा विभाग के द्वारा कोई मुआवजा की राशि नहीं दी गई है.जल्द देने की मांग की है.

कोई टिप्पणी नहीं: