भारत ने लॉर्ड्स में दूसरा टेस्ट 151 रन से जीता - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 17 अगस्त 2021

भारत ने लॉर्ड्स में दूसरा टेस्ट 151 रन से जीता

india-won-lords-test
लंदन, 16 अगस्त, मोहम्मद शमी (नाबाद 56) और जसप्रीत बुमराह (नाबाद 34) की बेहतरीन पारियों के बाद मोहम्मद सिराज (32 रन पर चार विकेट) और बुमराह (33 रन पर तीन विकेट) की घातक गेंदबाजी से भारत ने इंग्लैंड को दूसरी पारी में सोमवार को पांचवें और अंतिम दिन 120 रन पर ढेर कर दूसरा टेस्ट 151 रन के बड़े अंतर से जीतकर पांच मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। भारत के पास ट्रेंट ब्रिज में भी पहला टेस्ट जीतने का अच्छा मौका था लेकिन आखिरी दिन का खेल बारिश के कारण धुल जाने से भारत के हाथ से यह मौका निकल गया ,लेकिन भारत ने लॉर्ड्स में उसकी सारी कसर निकलते हुए बेहतरीन जीत अपने नाम की। भारत ने इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 272 रन का लक्ष्य रखा था लेकिन मेजबान टीम अंतिम दिन भारतीय गेंदबाजों के सामने टिक नहीं पायी और 51.5 ओवर में 120 रन पर ढेर हो गयी। बल्ले से हाथ दिखाने के बाद बुमराह ने गेंद से भी हाथ दिखाए और 15 ओवर में 33 रन देकर तीन विकेट झटके। सिराज ने 10.5 ओवर में 32 रन देकर सबसे ज्यादा चार विकेट निकाले। इशांत शर्मा ने 10 ओवर में 13 रन देकर दो विकेट लिए जबकि सुबह भारत की दूसरी पारी में नाबाद 56 रन बनाने वाले शमी ने 10 ओवर में 13 रन देकर एक विकेट लिया। इंग्लैंड की पारी में उसके कप्तान जो रुट ने सर्वाधिक 33 रन बनाये।


इससे पहले तेज गेंदबाजों मोहम्मद शमी (नाबाद 56) और जसप्रीत बुमराह (नाबाद 34) की शानदार और सर्वश्रेष्ठ पारियों की बदौलत भारत ने लंच के बाद अपनी दूसरी पारी आठ विकेट पर 298 रन बनाकर घोषित कर दी और इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 272 रन का लक्ष्य रखा। शमी और बुमराह ने नौंवें विकेट की अविजित साझेदारी में 89 रन जोड़े। भारत ने लंच के कुछ देर बाद जाकर अपनी दूसरी पारी 298 रन पर घोषित की। शमी ने 70 गेंदों पर अविजित 56 रन में पांच चौके और एक छक्का लगाया जबकि बुमराह ने 64 गेंदों पर नाबाद 34 रन में तीन चौके लगाए। शमी ने ऑफ स्पिनर मोईन अली पर लम्बा छक्का मारकर अपना दूसरा अर्धशतक पूरा किया। इसके बाद उन्होंने 2014 में नाटिंघम में बनाये अपने 51 रन के पिछले सर्वश्रेष्ठ स्कोर को पीछे छोड़ दिया। शमी लंच तक 67 गेंदों पर अविजित 52 रन में पांच चौके और एक छक्का लगा चुके थे । दूसरे छोर पर बुमराह ने भी गजब की परिपक्वता दिखाते हुए 58 गेंदों पर नाबाद 30 रन में दो चौके लगाए थे । दोनों के बीच तक लंच नौंवें विकेट के लिए 77 रन की सर्वाधिक साझेदारी हो चुकी है। भारत ने सुबह के सत्र में दो विकेट गंवाए और 105 रन जोड़े।


भारत ने सुबह छह विकेट पर 181 रन से आगे खेलना शुरू किया। भारत अभी इंग्लैंड से 154 रन ही आगे था और भारत की मैच में सारी उम्मीदें कल 14 रन पर नाबाद विकेटकीपर ऋषभ पंत पर टिकी हुई थीं। पंत ने सुबह दूसरी नयी गेंद के साथ गेंदबाजी कर रहे जेम्स एंडरसन पर क्रीज से आगे निकलकर कवर में बेहतरीन चौका मारा। लेकिन ओली रॉबिन्सन के अगले ओवर में बाहर निकलती गेंद पर बल्ला लगाकर विकेटकीपर जोस बटलर को कैच थमा बैठे। पंत ने 46 गेंदों पर एक चौके के सहारे 22 रन बनाये। नए बल्लेबाज इशांत शर्मा ने 26 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 16 रन बनाये। उन्हें रॉबिन्सन ने पगबाधा किया। भारत का आठवां विकेट 209 के स्कोर पर गिरा। इस समय लग रहा था कि भारत की पारी जल्द सिमट जायेगी लेकिन शमी और बुमराह ने जवाबी प्रहार करते हुए उल्टा इंग्लैंड के गेंदबाजों पर दबाव बना दिया। इंग्लैंड के कप्तान जो रुट ने अपनी फील्डिंग को फैला दिया जिसका फायदा उठाकर दोनों बल्लेबाजों ने आसानी से रन बटोरे और भारत को लंच तक 259 रन की बढ़त दिला दी।भारत ने लंच के बाद अपनी बढ़त को 271 रन पहुंचकर अपनी दूसरी पारी घोषित कर दी। इंग्लैंड की तरफ से मार्क वुड ने 51 रन पर तीन विकेट, रॉबिन्सन ने 45 रन पर दो विकेट ,मोईन ने 84 रन पर दो विकेट और सैम करेन ने 42 रन पर एक विकेट लिया। पहली पारी में पांच विकेट लेने वाले जेम्स एंडरसन को 53 रन देकर कोई विकेट नहीं मिला। 

कोई टिप्पणी नहीं: