झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 03 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 अगस्त 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 03 अगस्त

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा पोलेटेक्नीक कॉलेज झाबुआ में स्थापित , ईवीएमध्वीवीपेट वेयर हाउस का निरीक्षण किया


jhabua news
झाबुआ। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिये गए निर्देश के पालन में कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री सोमेश मिश्रा एवं पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता द्वारा पोलेटेक्नीक कॉलेज झाबुआ में स्थापित ईवीएमध्वीवीपेट वेयर हाउस का निरीक्षण किया एवं संधारित रजिस्टर में हस्ताक्षर किए। यहां पर मशीनों के सुरक्षित संधारण एवं सुरक्षा के संबंध में बाहरी निरीक्षण (वेयर हाउस का ताला खोले बिना अर्थात सील्ड वेयर हाउस) का निरीक्षण आज दिनांक 03 अगस्त 2021 को किया गया। इस दौरान डिप्टी कलेक्टर श्री अनिल भाना एवं निर्वाचन सुपरवायजर श्री प्रकाश सिंगाडिया उपस्थित थे।


डॉ मिश्रा का जन्मदिन मरीजों की सेवा कर पौधा रोपकर मनाया


jhabua news
थांदला। राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग के राष्ट्रीय मुख्य महसचिव डॉ रविन्द्र मिश्रा के जन्मदिवस पर प्रदेश प्रभारी कीर्तिश जैन, कार्यवाहक प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर के मार्गदर्शन में मध्यप्रदेश टीम के प्रदेश महासचिव मोहनलाल पाटीदार, तहसील अध्यक्ष गोपाल चोयल के सानिध्य में वरिष्ठ पत्रकार देवीसिंग भूरिया, मेडिकल ऑफिसर डॉ सीता काग, दीपक चावड़ा, जगदीश प्रजापत, पवन बारोट, राजू राठौड़, सन्दीप पंवार चंद्रशेखर राठौड़, स्वास्थ्य कर्मचारी सोहनलाल निनामा आदि ने उप स्वास्थ्य केंद्र रायपुरिया पर मरीजों की सेवा करते हुए उन्हें पौष्टिक फल बिस्किट आदि का वितरण किया वही अस्पताल परिसर में पौधा भी रौपा। इस अवसर पर डॉ सीता काग ने संस्था के सभी सदस्यों को धन्यवाद देते हुए बताया कि एक वर्ष पूर्व मिश्राजी के जन्मदिन पर आप सभी ने जो शीशम का पौधा लगाया था वह आज 10 फिट ऊँचा पेड़ बन गया है। यदि सभी इसी तरह सेवा संकल्प के साथ पौधारोपण करेंगे तो निश्चित ही पर्यावरण भी सुरक्षित रहेगा व मरीजों की अपनापन जताते हुए सेवा करेगा तो कोई भी मरीज अपने आप को अकेला नही समझेगा व वे जल्दी स्वस्थ्य भी हो जाएंगे।


सेवा निवृत्ती पर बधाई


झाबुआ । जिले की पूर्व कलेक्टर जयश्री कियावत के 31 जुलाई को आयुक्त लोक शिक्षण के पद से सेवा निवृत्त होने पर जिला पेंश्नर एसोशियन झाबुआ जिले के पेश्नर की ओर से हाद्विक बधाई प्रेषित की एवं द्वीघायु होने की कामना की है।उल्लेखनीय है कि श्रीमति कियावत झाबुआ में कलेक्टर के पद पर रहते हुए सफलता पूर्वक कार्य किया एवं सम्पूर्ण जिला उनके कार्यकाल से सतुंष्ट था एवं उन्होने एक समाजसेवी की तरह जिले की सेवा की । 


महासती पूज्या श्री साध्वी निखिलशीलाजी म सा के सानिध्य में तप-त्याग से मनाया मालव केसरीजी का 37वॉ पुण्य स्मृति दिवस

  • 150 से ज्यादा तपस्वियों ने किया एकासन तप

jhabua news
थांदला। जिन शासन गौरव जैनाचार्य पूज्य गुरुदेव श्रीउमेशमुनिजी म सा ‘‘अणु‘‘ के सुशिष्य गणनायक प्रवर्तक पूज्य गुरुदेव श्रीजिनेन्द्रमुनिजी म सा की आज्ञानुवर्तिनी विदुषी महासती पूज्या श्रीनिखिलशीलाजी म सा आदि ठाणा-4 चातुर्मास हेतु स्थानीय पौषध भवन स्थानक पर विराजित है। आपके सानिध्य में जप-तप-त्याग सहित कई विभिन्न धार्मिक गतिविधियां गतिमान है। इसी क्रम में मालव केसरी प्रसिद्ध वक्ता पूज्य गुरुदेव श्रीसौभाग्यमलजी म.सा. का 37वॉ पुण्य स्मृति दिवस एकासन तप  त्याग से उनके गुणानुवाद करते हुए उत्साहपूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर उपस्थित परिषद को संबोधित करते हुए पूज्या महासती श्रीनिखिलशीलाजी म सा ने फरमाया की भगवान महावीर देव इस अवसर्पिणी काल के अंतिम तीर्थंकर हुए।आपके शासन में कई आचार्य हुए तो कई विशिष्ट धर्म प्रभावक भी हुए तो कई विशिष्ट श्रावक-श्राविकाओं ने स्व पर का कल्याण किया है।उन्होंने कहा व्यक्ति जन्म से नही अपने कर्म से पहचाना जाता है, जन्मतिथि बीज के समान है और पुण्यतिथि वृक्ष के समान। पुण्यतिथि में उस पुण्यात्मा का सारा जीवन हमारे सामने आ जाता है।पुण्यतिथि पर हम विशेष तप आराधना करते है या धर्म आराधना करने की प्रेरणा देते है वही उन महापुरुषों के सद्गुणों को ग्रहण करने का लक्ष्य भी होना चाहिए। ऐसे ही महापुरुष का जन्म मलावा की धरती नीमच के छोटे से सरवानिया ग्राम में माता केशरदेवी की कुक्षी से हुआ। जन्म के समय कौन जानता था कि ये इतने बड़े धर्मप्रभावक होंगे। पिता चैथमलजी एवं माता केशरदेवी ने एक कोहिनूर रूपी हीरे को जन्म दिया था।आपके जन्म के समय आपके पिताजी की आर्थिक स्थिति ठीक नही थी।जब घर मे बालक का जन्म होता है तो बाजे ढोल आदि बजाए जाते है लेकिन मालव केसरी जी के जन्म के समय ऐसा नही था क्योंकि आपके पिताजी की माली हालत कुछ ठीक नही थी।आपका बचपन बहुत ही संघर्षमय रहा। छोटी सी उम्र में माता-पिता का वियोग हो गया।एक व्यक्ति आपको बहाल-फुसलाकर खाचरोद ग्राम तक ले आया और उसने भी उन्हें वहाँ छोड़ दिया छोटा बालक चैराहे पर खड़ा इधर-उधर देख रहा है तभी श्रेष्ठी श्री मियाचंदजी की नजर बालक पर पड़ी।उन्होंने बालक से पूछा तुम्हारा नाम क्या है तब बालक ने धीरे से कहा ‘‘सौभाग्य‘‘ और साथ मे कहा मुझे भूख भी लगी है।तब श्रेस्ठि श्री मियाचंदजी बालक की घर ले आये एवं उसका पालन-पोषण पुत्रवत करने लगे।वही साधु-संतों का समागम प्राप्त कर आपने 10 वर्ष की छोटी सी उम्र में संयम ग्रहण किया। आप गर्भ में सामान्य थे लेकिन बाद में आगे चलकर विशिष्ट हो गए।आपका जीवन बूंदी के लड्डू के समान था जैसे लड्डू की हर बूंदी में मिठास होता है वैसे ही आपका जीवन भी जिधर से देखो सद्गुणों से ओतप्रोत था।आपका व्यक्तित्व चुम्बकीय था जो कोई आपके पास आता परम शांति का अनुभव करता था।आपमे कलह मिटाने की भी दक्षता रही हुई थी।श्रमण संघ के निर्माण में आपका अमूल्य योगदान था।आप अपने गुरु की ईश्वर कहकर पुकारते थे।आप हमेशा एकता के पक्षधर रहे।कई संघो को संगठित करने का कार्य भी आपके द्वारा प्रमुख रूप से किया गया। धर्मसभा में महासती पूज्या श्री  प्रियशीलाजी म सा ने फरमाया की सामान्य श्रावक के 15 नियमों में जिनधर्म में रुचि होना भी एक नियम है। सभी धर्म अपने को श्रेष्ठ बताते है किन्तु सही गलत की पहचान हमे अपनी बुद्धि से करनी होती है।जिस प्रकार एक व्यापारी अपना खराब माल भी अच्छा बताकर बेचना चाहता है लेकिन ग्राहक को हि उसके अच्छे बुरे की पहचान करनी होती है।इसी प्रकार सभी धर्मो को कसौटी पर कसकर ही उनकी सही पहचान करना चाहिए।अपनी आत्मा से प्रतिकूल आचरण दूसरों के लिए नही करना चाहिए।जैसा व्यवहार हम हमारे लिए चाहते है वही व्यवहार हमे दूसरों के लिए भी करना चाहिए।समस्त जीवों के प्रति मैत्री भाव रखना ही जिनधर्म का मूल है।दयाधर्म ही जीव को अंगीकार करने योग्य है।आपने मालव केसरीजी के विषय मे फरमाया की आप बचपन मे अनाथ हो गए थे लेकिन बाद में निर्ग्रन्थ प्रवचन की शरण ग्रहण कर कइयों के नाथ हो गए।जन्म के समय आपका दुर्भाग्य रहा हुआ था लेकिन निर्ग्रन्थ प्रवचन की शरण अंगीकार की तो अपना ‘‘सौभाग्य‘‘ नाम सार्थक किया।आप वाणी के जादूगर थे।जिनवचनो पर आपको दृढ़ श्रद्धा थी इसी श्रद्धा से आप स्वयं तीरे और कई भव्यजनो को तारा। धर्मसभा में आज महासती पूज्या श्री  निखिलशीलाजी म सा के मुखारविंद से श्री गौरव सुजानमलजी शाहजी ने अपनी तपस्या को आगे बढ़ाते हुए 11 उपवास के प्रत्याख्यान ग्रहण किये। तेले की लड़ी में आज श्री मयंक महेशजी व्होरा एवं आयंबिल की लड़ी में श्रीमती इंदु बहन कुवाड का क्रम था। मालव केसरीजी के पुण्य स्मृति दिवस पर  सामूहिक एकासन तप का आयोजन किया गया जिसमें  130 से अधिक आराधकों ने प्रत्याख्यान ग्रहण किये।जिनके सामूहिक एकासन महावीर भवन पर हुए।संघ में कई श्रावक श्राविकाएँ गुप्त तपस्या भी कर रहे है।सामूहिक एकासन करवाने का लाभ श्री वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ थांदला ने लिया।


माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा आयुष्मान हितग्राही सम्मेलन में वीसी के माध्यम से झाबुआ के हितग्राही से चर्चा की गई


jhabua news
झाबुआ। आयुष्मान भारत ‘ निरामयम् ‘ आयुष्मान हितग्राही सम्मेलन में माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान द्वारा वीडियो कान्फ्रेसिंग कक्ष में वीसी के माध्यम से आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी श्री रवि कन्नु भगोरा एवं इनकी पत्नी श्रीमती रानु भगोरा से चर्चा की। माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा श्री रवि कन्नु भगोरा (थांदला) से चर्चा में पुछा की आपको आयुष्मान योजना का लाभ प्राप्त करने में एवं आयुष्मान कार्ड बनाने में आपको कोई दिक्कत तो नहीं आई इस पर श्री रवि ने बताया कि मुझे बडे आसानी से आयुष्मान कार्ड बन गया एवं मेरे पुत्र जो जन्म के बाद बोल नहीं पा रहा था। जिसका मैने झाबुआ अस्पताल मे करवाया। जिस पर रूपये 32 हजार का व्यय हुआ जो आयुष्मान कार्ड से भुगतान हुआ। मेरे जैसे गरीब लोगों के लिये यह एक वरदान एवं जीवनदान जैसा सिद्ध हुआ है। मैं शासन को धन्यवाद देता हूॅ। इस वीडिया कान्फे्रंसिंग के माध्यम सेे माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान द्वारा प्रदेश स्तर पर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों के आयुष्मान भारत योजना के हितग्राहियों से रूबरू चर्चा की थी। इस दौरान कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री डाॅ. जे.पी.एस.ठाकुर, सिविल सर्जन डाॅ. श्री बी.एस.बघेल,डाॅ. श्री सावन सिंह चैहान, डीएचओ डाॅ. श्री निसार खान पठान, डाॅ. श्री एस.एस.गाडरिया, जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री राजाराम खन्ना एवं आयुष्मान कार्ड के हितग्राही उपस्थित थे। कलेक्टर श्री मिश्रा द्वारा नन्हे प्यारे से रियांश को भेट स्वरूप खिलोना दिया गया।


अमानक स्तर के 2540 किलो ग्राम पाॅलिथीन से भरा ट्रक को कलेक्टर द्वारा हरी झण्डी देकर रवाना किया


jhabua news
झाबुआ। जिला प्रशासन के आव्हान पर दिनांक 1 अगस्त से 15 अगस्त तक शहरी क्षेत्र में पाॅलिथीन मुक्त झाबुआ का अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत अमानक स्तर के 2540 किलो ग्राम पाॅलिथीन एकत्र की गई। जिसे आज प्रातः कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, झाबुआ नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नु डोडियार, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एल.एन.गर्ग, पार्षद श्री नरेन्द्र राठौरिया, पार्षद श्रीमती मालू डोडियार, पार्षद श्री जुवानसिंह गुण्डीया द्वारा हरी झण्डी देकर ट्रक को रवाना किया। नगरपालिका झाबुआ द्वारा ट्रेचिंग ग्राउण्ड पर छटनी के पश्चात संग्रहित अमानक स्तर की पाॅलिथीन पन्नी सीमेंट प्लान्ट मनावर को ट्रक क्रमांक एमपी 09 एमजी 8117 द्वारा 2540 किलो ग्राम पाॅलिथीन भेजी गई। जहां पर इसका निष्पादन किया जावेगा। मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री एल.एस.डोडिया द्वारा बताया गया कि पाॅलिथीन मुक्त अभियान 1 अगस्त से 15 अगस्त तक झाबुआ शहर में जनजागृति प्रचार-प्रसार तथा झोला बैंक की स्थापना आदि कार्यक्रम किये जा रहे हैं। इस आयोजन में इस ईकाई के प्रमुख श्री विजय छाबडा, तकनिकी श्री उपेन्द्र ओले, श्री भुपेन्द्र सिंह व पर्यावरण विभाग के श्री जितेन्द्र द्विवेदी का विशेष सहयोग रहा।


पहली बार सिंचाई कनेक्शन की सब्सिडी डीबीटी माध्यम से   डिजिडटलाइजेशन की दिशा में बिजली कंपनी ने बढ़ाए कदम

  • झाबुआ के 36385 किसानों के खातों में 10.04 करोड़ डीबीटी से जमा

झाबुआ। केंद्र शासन के डिजिटलाइजेशन अभियान के क्रियान्वयन में पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने और तेजी लाकर किसानों की सब्सिडी डीबीटी से प्रारंभ की है। अब सिंचाई के बिजली कनेक्शनों की सब्सिडी डीबीटी से दी जा रही है। पश्चिम मप्र में सबसे पहले झाबुआ जिले का चयन कर सफलतापूर्वक 10.04 करोड़ रूपए की सब्सिडी राशि बैंक खातों में जमा की गई हैं। मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर ने बताया कि कंपनी क्षेत्र के 15 जिलों में सबसे पहले आदिवासी बहुल झाबुआ जिले का चयन डायरेक्टर बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) के लिए किया गया था। राज्य शासन के निर्देश पर यहां के सभी किसान हितग्राहियों के आधार, बैंक खाते, खसरा आदि का मिलान किया गया। मुख्यालय से दल भेजकर सभी हितग्राहियों का इस योजना के लिए प्रतिपरीक्षण भी कराया गया, किसानों से संवाद किया गया, योजना की जानकारी बताई गई। इसके बाद परीक्षण के तौर पर एक किसान के खाते में सब्सिडी जमा की गई।  श्री तोमर ने बताया कि पूरे सिस्टम की चैकिंग के बाद अब राज्य शासन के निर्देश पर झाबुआ जिले के सभी पात्र 36 हजार 385 किसानों के बैंक खातों में दस करोड़ चार लाख रूपए की सिंचाई रकम सब्सिडी के रूप में जमा की गई है। प्रत्यक्ष लाभ अंतरण(डीबीटी) के लिए इंडस इंड बैंक में विशेष रूप से वर्चुअल खातें खुलाए गए है। प्रबंध निदेशक श्री तोमर ने बताया कि इस योजना के सफलतापूर्वक संचालन में निदेशक श्री मनोज झंवर, मुख्य महाप्रबंधक श्री संतोष टैगोर, कार्यपालक निदेशक श्री संजय मोहासे,  झाबुआ के तत्कालीन अधीक्षण यंत्री श्री एससी वर्मा, मौजूदा अधीक्षण यंत्री श्री पीएस चैहान, मुख्यालय अधीक्षण यंत्री श्री अंतिम जैन, नोडल अधिकारी श्री गौतम कोचर का सराहनीय योगदान रहा।


समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक 4 अगस्त को कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में होगी


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में दिनंाक 4.अगस्त 2021 को टी.एल. बैठक आयोजित की गई है। यह बैठक कलेक्टर सभा कक्ष में अपरान्ह 12 बजे आयोजित होगी। बैठक के दौरान लंबित समयावधि पत्रों, जनसुनवाई, सीएम हेल्पलाइन, माननीय मुख्यमंत्री कार्यालय एवं निवास से प्राप्त शिकायतों तथा दिनांक 23.8.2021 को माननीय मुख्यमंत्री महोदय की अध्यक्षता में आयोजित वी.सी. से संबंधित विषयों की समीक्षा संबंधित अधिकारियों से की जाएगी। साथ ही आगामी 15 अगस्त की तैयारियों को लेकर भी चर्चा की जाएगी।


‘‘अ से अक्षर‘‘ अभियान तथा ‘‘एनिमिया मुक्त झाबुआ‘‘, कलेक्टर की अध्यक्षता में दिनांक 4 अगस्त को समीक्षा बैठक


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में दिनांक 4 अगस्त 2021 को सांय 5 बजे कलेक्टर सभा कक्ष में आयोजित होगी।यह बैठक पूर्व में  दिनांक 26.07.2021 को अ से अक्षर अभियान तथा एनिमिया मुक्त झाबुआ के संबंध में बैठक आयोजित की गयी थी। बैठक में दिये गये निर्देशानुसार इस अभियान के विधिवत क्रियान्वयन हेतु एवं पूर्व बैठक में दिये गये निर्देशानुसार इस संबंध में दिनांक 4.08.2021 को सायं 5 बजे आपके द्वारा अभी तक की गयी प्रगति के संबंध में बैठक का आयोजन किया गया है। अतः आपके द्वारा किये गये कार्यो की प्रगति की अद्यतन जानकारी पीपीटी के माध्यम से बैठक में प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें एवं पीपीटी की एक प्रति साॅफ्ट काॅपी  पर ईमेल करते हुए हार्ड काॅपी इस कार्यालय में दिनांक 4.08.2021 को दोपहर 3 बजे तक प्रस्तुत करें। इस बैठक में समय पर पूर्ण तैयारी के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिये गये है।


15 अगस्त 2021 स्वतंत्रता दिवस समारोह आयोजित, जिला जनपद पंचायत,पंचायत मुख्यालयों पर कार्यक्रम होंगे


झाबुआ,। 15 अगस्त 2021 को स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम आयोजित होगा। इस वर्ष नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के कारण कार्यक्रमों की रूप रेखा निर्देशानुसार जिसमें जिला, जनपद पंचायत, पंचायत मुख्यालयों पर होंगे। समारोह स्थल पर प्रातः 9 बजे ध्वजारोहण किया जाएगा। जहां पर मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण, राष्ट्रगान एवं संदेश का वाचन होगा। समारोह स्थल पर परेड आयोजित होगी। जिला पंचायत कार्यालय में जिला पंचायत अध्यक्ष/ प्रशासनिक समिति के प्रधान द्वारा ओपचारिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा तथा कार्यक्रम में राष्ट्र गान गाया जाएगा। जनपद पंचायत कार्यालय में जनपद पंचायत अध्यक्ष/ प्रशासनिक समिति के प्रधान द्वारा ओपचारिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा तथा कार्यक्रम में राष्ट्र गान गाया जाएगा। ग्राम पंचायत कार्यालय में अध्यक्ष सरपंच/ प्रशासनिक समिति के प्रधान द्वारा ओपचारिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा तथा कार्यक्रम में राष्ट्र गान गाया जाएगा। ऐसे जिला पंचायत/जनपद पंचायत/ ग्राम पंचायत जहां निर्वाचित अध्यक्ष/ प्रशासनिक समिति के प्रधान उपलब्ध नहीं होने की दशा में कार्यालय प्रमुख द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा। नगरपालिका/नगरपरिषद में अध्यक्ष (जहां निर्वाचित अध्यक्ष कार्यरत है) द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा। शेष नगरिय निकायों में मुख्य नगरपालिका अधिकारी द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा। जिले से संबंधित सभी माननीय संसद सदस्य, विधायकगण, पार्षद एवं अन्य नागरिको को सम्मान पूर्वक आमंत्रित किया जाए। सभी शासकीय कार्यालयों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाए। कार्यालय प्रमुख द्वारा प्रातः 8 बजे अपने विभाग के अधिकारी/कर्मचारी को एकत्रित कर कार्यालय भवन पर राष्ट्रीय ध्वज फहराएगें तथा इस अवसर पर राष्ट्रीयगान गाया जाएगा। समस्त शिक्षण संस्थाओं में पूर्व वर्ष की भांति प्रातः 8 बजे या इसके पूर्व ध्वजारोहण व राष्ट्रगान का सामूहिक गान किया जाए। स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम में स्कुली बच्चों को शामिल नहीं किया जाएगा। कार्यक्रम स्थल पर प्राथमिक चिकित्सा की आवश्यक व्यवस्था अनिवार्य रूप से की जाए। कार्यक्रम स्थल पर सेनेटाईजर, मास्क एवं सामाजिक दूरी का विशेष ध्यान रखा जाए। सार्वजनिक भवनों एवं राष्ट्रीय महत्व की इमारतों में दिनांक 14 एवं 15 अगस्त 2021 रात में प्रकाश की व्यवस्था की जाए। कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, कारगिल में शहिद हुए सेनिकों के परिवारों एवं प्रदेश के लोकतंत्र सेनानियों को घर जाकर साल श्रीफल से सम्मानित किया जाए। कोविड-19 के दिशा निर्देशों का पालन किया जाए।

कोई टिप्पणी नहीं: