सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 03 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 अगस्त 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 03 अगस्त

सरकारी अस्पतालों में जीवन रक्षक दवाओं उपकरणों का टोटा सेवादल महिला कांग्रेस ने सौपा ज्ञापन

  • समस्याओं को दूर नहीं किया गया तो सेवादल, कांग्रेस  के अनुसांगिक संगठनों के साथ देगी धरना- नरेंद्र खंगराले,

सीहेार। जिले के सरकारी अस्पतालों में जीवन रक्षक दवाओं तथा उपकरणों की भारी कमी को लेकर जिला कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष नईम नबाव, सेवादल कांग्रेस जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष गुलाब बाई ठाकुर के नेतृत्व में राज्यपाल के नाम का ज्ञापन कलेक्टर तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सौपा गया। जिले की सरकारी अस्पतालों में समस्याओ को देखते हुए सेवादल कांग्रेस के प्रदेश सचिव तथा पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष राकेश राय ने भी चिंता व्यक्त की है। ज्ञापन सौपते हुए सेवादल व महिला कांगं्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले और गुलाब बाई ठाकुर ने बताया की जीवन रक्षक दवाओंंं और उपकरणों की भारी कमी की व्यवस्था एवं डॉक्टरों की मनमानी दवाओं की काला बाजारी को नही रोका गया तो कांग्रेस के सभी अनुसांगिक संगठनों के साथ मिलकर धरना प्रदर्शन करेंगे। ज्ञापन सौपने वालों में प्रमुख रूप से वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजेंद्र ठाकुर दर्शन सिंह वर्मा राजेंद्र वर्मा, प्रीतम दयाल चौरसिया, डॉ अनीस खान, विवेक राठौर, लक्ष्मण सिंह रेकवार, विनोद राठौर लखन मालवीय, कमल सिंह सूर्यवंशी आदि कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।


काले कपड़े पहनकर विरोध दर्ज कराया 

  • पटवारियों की हो रही है मौते,समस्याओं का नहीं किया जा रहा है निराकरण, पटवारी संघ ने लंबित मांगों को लेकर विरोध रैली निकाल कर दिया ज्ञापन

sehore news
सीहोर। पटवारियों ने मंगलवार को विभिन्न लंबित मांगों लेकर काले कपड़े पहनकर विरोध दर्ज कराया विरोध रैली निकाली और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर ब्रिजेश सक्सेना को दिया। अल्प संसाधनों के बावजूद पटवारी शासन व किसान हित के प्रति संकल्पित होकर विभिन्न प्रकार के तकनीकी साफ्टवेयरों, मोबाइल ऐप, बेब पोर्टल टीएसएम मशीन तकनीकी उपकरणों विभागीय कार्यो का कुशल संपादन कर रहे है लेकिन शासन के द्वारा पटवारियों की विभिन्न मांगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जिससे पटवारियों में आक्रोश बना हुआ है। मध्यप्रदेश के पटवारी संवर्ग निरंतर किसानों व शासन के मध्य कड़ी के रूप में में कायज़् कर शासन की अधिकांश योजनाओं का सफलतापूर्वक क्रियान्वयन कर रहा है। साथ ही शासन के 56 विभागों का कार्य कर रहा है जिससे कृषकों में शासन की उज्वल छवि निर्मित होकर उनका आर्थिक व सामाजिक सशक्तिकरण होने के साथ ही राज विभाग म.प्र. शासन को भारत सरकार द्वारा निरंतर सम्मान प्राप्त हो रहा है। चौबीसों घंटे सातों दिवस निरंतर कार्यो पटवारियों के द्वारा किया गजा रहा है। शासन द्वारा समस्याओं का निराकरण नहीं किया गया है । शासन द्वारा विगत कई वर्षो से केवल आश्वासन ही दिया जाता रहा है। कोई मांग पूर्ण नहीं की गई हैं। जिससे प्रदेश के पटवारियों में निराशा का भाव बना हुआ है। पटवारियों का मनोवल प्रभावित हो रहा है। पटवारियों की मौत हो रही है। ज्ञापन देने वालों में जिला अध्यक्ष धीरज श्रीवास्तव,जिला सचिव संजय राठौर,इछावर धर्मेंद्र वर्मा,आष्टा योगेंद्र तिवारी, श्यामपुर मनीष सेन,नसरूल्लागंज से सुनील मालवीय,रेहटी से सचिन यादव,बुधनी खेमचंद,सीहोर अरुण प्रताप आदि पटवारी शामिल रहे। 


प्रदर्शन-हडताल कर रहे कर्मचारियों ने किया सुंदरकांड पाठ, बोले- भगवान! सरकार को सद्बुद्धि दो


sehore news
सीहोर। मध्यप्रदेश पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग के संगठन सयुंक्त मोर्चा के बैनर तले जिलेभर के ग्रामीण विकास विभाग के समस्त कर्मचारी, अधिकारी और ग्राम पंचायत सचिव, ग्राम रोजगार सहायक इन दिनों हड़ताल पर हैं। मंगलवार को शहर के जनपद कार्यालय स्थल पर प्रदर्शनकारी 17 संगठनों के संयुक्त मोर्चा ने संकट मोचक सुंदरकांड सेमरादांगी के मंडल पर जारी सुंदरकांड में बड़ी संख्या में एकत्रित होकर हनुमान जी का गुणगान करते हुए पाठ किया और बोले भगवान, सरकार को सद्बुद्धि दो। हड़ताल के 13 वे दिन मंगलवार को जनपद कार्यालय परिसर में हड़ताल पर बैठक अधिकारियों और कर्मचारियों ने सरकार से लम्बित मांगों के निराकरण के लिए सुंदरकांड का आयोजन किया गया। इसके अलावा जनपद कार्यालयों के बाहर हड़ताल के चलते अधिकारियों और कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर एक तरफ जहां प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की, वहीं दूसरी ओर सरकार को कोसा। इस संबंध में मध्यप्रदेश पंचायत सचिव संगठन के जिलाध्यक्ष महेश राठौर ने बताया कि बुधवार को भी प्रदर्शन किया जाएगा। मंगलवार सुबह जनपद पंचायत कार्यालय परिसर में हड़ताल पर बैठे कर्मचारियों ने सुंदरकांड करते हुए अंत में भगवान से प्रार्थना करते हुए कहा कि हे प्रभु प्रदेश सरकार को सद्बुद्धि दे, सत्ता के अहंकार में आकर सरकार में बैठे लोग हम कर्मचारियों की मांगों को भूल चुके हैं। हे ईश्वर तुम कुछ ऐसा करो कि सरकार को याद आ जाए कि हम कोरोना काल में भी दी गई जिम्मेदारी को बेहतर ढंग से निभा रहे हैं, ऐसे में कम से कम जो काम कर रहे हैं उनकी सुध तो सरकार ले ले। मौके पर जिला संयोजक लखन ठाकुर, ब्लॉक संयोजक प्रमोद राठौर, सह संयोजक राजकुमार नामदेव, प्रवक्ता अखिलेश मेवाड़ा अध्यक्ष महेश राठौड़, विजय त्यागी, ओम प्रकाश शर्मा, पदमसिंह मालवीय, मुकेश पाटीदार, सुनील वर्मा, प्रकाश मेवाड़ा जनक गोयल, भरत मेवाड़ा मुकेश वर्मा राधेश्याम चन्द्रवंशी भारत वर्मा और यादव, भारत गौर, विक्रम परमार, रचना कौशल रमेश उज्जला महेश वीरेंद्र पटेल, गनपत मेवाडा राघवेंद्र, विमल, संदीप मनोज धनगर, करण सिंह सेन रामगोपाल, मोहनलाल, महेश मेवाडा, सुरेश परमार आदि शामिल थे।


ग्रामीण सेंटर पर बढ़ाए जाए वैक्सीन डोज की संख्या


sehore news

सीहेार। ग्राम पंचायत सेमरा दांगी एवं दुपाडिय़ा दांगी में मात्र 50 प्रतिशत ही वैक्सीन डोज ग्रामीण को अबतक लगाए गए है। बड़ी मात्र में दोनों गोवों के ग्रामीणों को कोरोना वायरस से बचने के लिए वैक्सीन नहीं लगाई है। मंगलवार को किसान नेता विनय सिंह दांगी के नेतृत्व में ग्रामीणों के द्वारा कलेक्ट्रेट पहुंचकर ज्ञापन दिया गया है। ग्रामीणों ने वैक्सीन डोज की संख्या बड़ाने की मांग की है। श्री दांगी ने बताया की ग्रामवासी वैक्सीन के लिए परेशान है बुजुर्ग  तीन चार किलोमीटर दूर से भी  वैक्सीन डोज लगवाने के लिए आ रहे है। ग्रामीणों को  दो-तीन घंटे लाइन में खड़े होना पड़ा रहा है।  ज्यादा से ज्यादा डोज उपलब्ध करा दिए जाए जिस से ग्रामवासीयों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। 


रपटा, पुल, पुलिया पर पानी होने पर रास्ता पार नहीं करने की कलेक्टर ने की अपील

  • वर्षा के दौरान नदी, तालाब व डेम के आसपास पिकनिक मानने न जाएं

sehore news
वर्षा के दौरान बड़ी संख्या में लोग नदी, तालाब व डेम के आसपास पिकनिक मनाने जाते हैं और कई बार थोडी सी लापरवाही से बड़ी घटनाएं घटित हो जाती हैं। कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने सभी नागरिकों से खतरनाक और गहरे पानी वाली जगहों पर नहीं जाने की अपील की है। श्री ठाकुर ने सभी अभिभावकों से अपील करते हुए कहा कि बच्चों को नदी, तालाब, पोखर में नहाने अथवा पिकनिक के लिए जाने से मना करें। श्री ठाकुर ने नागरिकों से अपील की है कि नदी,  नाले, रपटों पर जलभराव की स्थिति में वहां से गुजरने वाले रास्तों को बाढ़ एवं पानी होने की स्थिति में पार न करें।  इसके साथ ही श्री ठाकुर  ने सभी एसडीएम,  तहसीलदार और नगर पालिका के अधिकारियों  को निर्देश दिये हैं कि जिले के सभी तालाबों,  डेम,  नदी,  नालों और पानी भराव वाले क्षेत्रों पर लगातार निगाह रखें और स्थानीय लोगों से सम्पर्क में रहें। वर्षा,  जल भराव और अतिवृष्टि की स्थिति में लोगों को  ऐसी जगहों से हटाने और वैकल्पिक व्यवस्था के निर्देश भी दिए हैं। इसके साथ ही खतरनाक और गहरे पानी वाली जगहों लागों को जाने से रोकने निर्देश दिए हैं। श्री ठाकुर ने आपदा प्रबंधन समितियों से भी अनुरोध किया गया  है कि अपने-अपने क्षेत्रों में  वर्षा के दौरान सतत निगरानी रखें।


जिला स्तरीय संयुक्त परामर्श दात्री समिति की बैठक 6 अगस्त को


जिला स्तरीय संयुक्त परामर्श दात्री समिति की बैठक 6 अगस्त,2021 को प्रात: 11 बजे जिला पंचायत कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित की गई है। अपर कलेक्टर ने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्धारित समय पर उपस्थित होने को कहा है।


शासकीय सेवकों की प्रोफाइल अपडेट के कलेक्टर ने दिए निर्देश


सभी शासकीय कार्यालय में आगामी छ माह में सेवानिवृत्त होने वाले शासकीय सेवकों के साथ साथ समस्त अधिकारी कर्मचारियों की जानकारी आईएफएमआईएस में ऑनलाइन अपडेट कराने के कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने सभी आहरण एवं संवितरण अधिकारियों को निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री ठाकुर द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार सेवा पुस्तिका में अंकित नाम, सरनेम, हिन्दी एवं अंग्रेजी में, जन्मतिथि, पदनाम प्रथम नियुक्ति तिथि, परिवार के सदस्यों की जानकारी पति, पत्नि, पुत्र, पुत्री, परिवार पेंशन हेतु नामांकित पति पत्नी, बैंक खाते आईएफएससी कोड सहित समस्त जानकारी अपडेट कराने के निर्देश दिए है। साथ ही पुत्र-पुत्री, दिव्यांग हो तो उसकी जानकारी संबंधित शासकीय सेवक के सेवा अभिलेख के आधार पर सही अंकित की जाए। त्रृटि होने पर जिला कोषालय अधिकारी को सभी आवश्यक दस्तावेज सहित पत्र प्रस्तुत कर सुधार के लिए अवगत कराने के लिए कहा गया है। कलेक्टर ने कर्मचारियों के परिवार पेंशन, ग्रेच्यूटी, जीआईएस, जीपीएफ, डीपीएफ एवं लाईफ टाईम एरियर, कर्मचारी का फोटो, हस्ताक्षर एवं पहचान चिन्ह यथास्थान पर अकिंत कर अपलोड कर सबमिट करने के निर्देश दिए। सेवानिवृत्त कर्मचारियों का पेंशन प्रकरण सबमिट करने के पूर्व लंबित किसी प्रकार का वेतन निर्धारण का अनुमोदन अनिवार्य रूप से कराने के निर्देश दिए है साथ ही अगर वसूली की टीप हो तो उसका परीक्षण उपरांत वसूली प्रक्रिया नियत समय पर सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। तत्पशचात ही पेंशन प्रकरण सबमिट करें। पेंशन प्रकरण सबमिट करने के पूर्व संबंधित शासकीय सेवक की प्रोफाईल में उसका वर्तमान पता, मोबाईल नम्बर अपडेट अवश्य करें। सेवानिवृत्त सेवक की सेवा पुस्तिका का प्रथम पृष्ठ पर अकिंत जन्ततिथि सत्यापित की गई हो और समस्त वेतनवृद्धि नियमानुसार अंकित की जाकर सत्यापित की गई हो। समस्त अधिकारियों कर्मचारियों की सेवार्निवृत के पूर्व विभाग अथवा शासन स्तर पर वांछित अनापत्ति प्रमाण-पत्र प्राप्त कर तत्पशचात प्रकरण सबमिट करना चाहिए। पेंशन प्रकरण का यथासमय निराकृत किया जाए।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आयुष्मान योजना की हितग्राही श्रीमती अंकिता बाई से किया संवाद, श्री गोरेलाल को आयुष्मान कार्ड प्रदान किया


sehore news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आयुष्मान भारत निरामयम, मध्यप्रदेश योजना के तहत आयुष्मान हितग्राही सम्मेलन में आयुष्मान हितग्राहियों को प्रतीक स्वरूप आयुष्मान कार्ड प्रदान किए। योजना के अन्तर्गत मुख्यमंत्री श्री चौहान आयुष्मान योजना में उपचार का लाभ प्राप्त कर चुकी हितग्राही श्रीमती अंकिता बाई से संवाद भी किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल के मिन्टों हाल में आयोजित आयुष्मान भारत निरामयम, मध्यप्रदेश योजना में आयुष्मान सम्मेलन में आष्टा विकासखण्ड के ग्राम अरनिया गाजी की श्रीमती अंकिता बाई से बात की। उन्होंने योजना से लाभ प्राप्त करने के संबंध में विस्तृत चर्चा की। संवाद के दौरान श्रीमती अंकिता ने बताया कि पिछले साल आयुष्मान कार्ड बनवाया था। आयुष्मान कार्ड के जरिये भोपाल में हार्ट सर्जरी नि:शुल्क हुई। ये योजना गरीबों के लिए बहुत उपयोगी है। सम्मेलन में इछावर विकासखण्ड के ग्राम ढाबला माता के श्री गोरेलाल को आयुष्मान कार्ड प्रदान किया गया।


जिले में  4 लाख 80 हजार 282 आयुष्मान कार्ड बनाये गये

आयुष्मान योजना 23 सितम्बर, 2018 से संचालित की जा रही है। योजना में एंपेनल्ड निजी और शासकीय चिकित्सालयों में हितग्राही परिवार को एक वर्ष में 5 लाख रुपये का नि:शुल्क उपचार प्रदान किया जा रहा है। सीहोर जिले में अभी तक 4 लाख 80 हजार 282 हितग्राहियों के कार्ड बनाये गये है। जिले में अभी तक लाभार्थी हितग्राहियों की संख्या 14 हजार 669 है। लाभार्थी हितग्राहियों द्वारा जिला अस्पताल के अतिरिक्त प्रदेश के अन्य बड़े शहरों में उपचार कराया गया।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 983 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 177, श्यामपुर से 173, विकासखंड नसरुल्लागंज से 177, आष्टा से 238,  बुधनी से 113 तथा इछावर से 105 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 209399 हैं जिनमें से 207652 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 678 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1534 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


आबकारी विभाग ने छापामार कार्रवाई कर अवैध मदिरा जप्त की


जिले में अवैध मदिरा के विरुद्ध कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देशन पर आबकारी विभाग द्वारा निरंतर कार्रवाई की जा रही है। आबकारी अमले ने सीहोर, दोराहा, आष्टा, बुदनी तथा नसरूल्लागंज में 1 जुलाई से 31 जुलाई तक 36 प्रकरणों में कार्रवाई करते हुए ड्रम, कुप्पों,व भट्टी से कुल 110.52 हाथ भट्टी कच्ची मदिरा और 7595 किलोग्राम महुआ लाहन जप्त किया है। आबकारी अधिकारी कीर्ति दुबे ने बताया कि इन 36 प्रकरणों में कार्रवाई करते हुए मप्र आबकारी अधिनियम 1915 की विभिन्न धाराओं में 36 प्रकरण दर्ज कर 110.52 लीटर हाथ भट्टी कच्ची मदिरा तथा 7595 किग्रा महुआ लाहन जप्त किया है जिसकी अनुमानित कीमत 3 लाख 95 हजार 755 रुपये है। इस कार्यवाही में आबकारी की टीम शामिल थी।

कोई टिप्पणी नहीं: