विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 18 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 19 अगस्त 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 18 अगस्त

गौवंश की सुरक्षा व सम्मान के लिए कांग्रेस करेगी आंदोलन


vidisha news
विदिशाः- सड़कों पर भटक रही गौमाता से किसान भाई और आम नागरिक बेहद परेशान हो रहे हैं। जनता की परेशानी को देखते हुए गौमाता को गौशालाओं में भेजने की व्यवस्था करने और गौभक्ति का ढोंग दिखाने वाली भाजपा सरकार और सोते हुए प्रशासन को जगाने के लिए 19 अगस्त को प्रातः 11 बजे कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता शहरी-ग्रामीण क्षेत्रों में घूम रहे बेसहारा गौवंश को एकत्रित कर जनपद कार्यालय विदिशा पहुंचकर गौपूजन कर जिला प्रशासन के सुपुर्द करेंगे। आज शाम 5 बजे विदिशा विधायक शशांक भार्गव के कार्यालय पर आंदोलन की तैयारियों को लेकर बैठक की गई। शहर के अलग-अलग इलाकों से गौवंश को एकत्रित करने के लिए 5 दस्तों का गठन किया गया। विधायक शशांक भार्गव ने बैठक में विशेष तौर पर विदिशा के आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के किसान भाइयों से गांव में घूम रहीं बेसहारा गौमाताओं को अधिक से अधिक संख्या में एकत्रित कर 11 बजे जनपद कार्यालय पर लाने की अपील की। बैठक में ब्लॉक प्रभारी नरेंद्र रघुवंशी, ब्लॉक कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष दीवान किरार, नंदकिशोर शर्मा, जिनेश जैन,अजय कटारे, वैभव भारद्वाज, मंडलम अध्यक्ष विजयकांत रैकवार, बृजेंद्र वर्मा, वसीम खान, धर्मेंद्र यादव, संयोग जैन, माधो सिंह अहिरवार, डॉ राजेंद्र दांगी, मुआज कामिल, अभिराज शर्मा, विनोद राजपूत, संजीव प्रजापति, मनोज कुशवाह, योगेश सेन, संतोष गौड़ सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।


बाढ़ कंट्रोल रूम क्रियाशील रहें, निचली बस्तियों के बीस-बीस परिवार मुखियों के नाम व सम्पर्क नम्बर संधारित करें


vidisha news
आगामी दिवसों में भारी वर्षा की चेतावनी मौसम विभाग द्वारा जारी की गई है को ध्यानगत रखते हुए विदिशा जिले में बाढ़ नियंत्रण संबंधी कार्यो की आज वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा समीक्षा की गई। उन्होंने कहा कि विकासखण्ड मुख्यालयो पर बाढ कंट्रोल रूम क्रियाशील रहें ऐसी निचली बस्तियां जहां पानी भरने की संभावना अधिक रहती है उन क्षेत्रों के बीस-बीस परिवार मुखियाओं के समूह गठित कर उनके नाम पते व सम्पर्क नम्बर संधारित किए जाएं।  कलेक्टर डॉ जैन ने बताया कि राज्य सरकार से अतिवृष्टि की संभावना का हाईअलर्ट प्राप्त हुआ हैं अतः समस्त फील्ड स्तरीय अमला अपने-अपने मुख्यालय पर उपस्थित रहना सुनिश्चित करें। उन्होंने राजस्व विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग के अमले को निर्देशित किया है कि अतिवर्षा के कारण यदि किसी ग्राम का सम्पर्क कट जाता है तो शासकीय अमला उस ग्राम में मौजूद रहकर आवश्यक गतिविधियों का संचालनों का क्रियान्वयन करें इसी प्रकार एसडीएम तथा नगरीय क्षेत्र के सीएमओ भी निचली बस्तियो में जलभराव होने पर यदि किसी को सुरक्षित जगह पहुंचाना है तो अतिशीघ्र पहुंचाने के प्रबंध क्रियान्वित किए जाएं।  कलेक्टर डॉ जैन ने समस्त एसडीएमो को व्हीसी के माध्यम से निर्देश दिए है कि आपदा की स्थिति में कोई भी अधिकारी, कर्मचारी मुख्यालय से अनुपस्थित पाया गया तो उसके खिलाफ अत्यन्त गंभीरता से कार्यवाही की जाएगी। 

गूगल लोकेशन शेयर करें

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने वीडियो कांफ्रेसिंग समीक्षा के दौरान समस्त खण्ड स्तरीय अधिकारियों के अलावा ग्राम स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए है कि अतिवृष्टि अथवा बाढ के दौरान अपनी-अपनी गूगल लोकेशन शेयर करते रहें जिससे स्थानीय स्तर की जानकारी प्राप्त होती रहें।  कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि जिला मुख्यालय से बाढ नियंत्रण के संबंध में जो भी मैसेस भेजा जाता है उसका सभी बाढ कंट्रोल रूम अनिवार्य रूप से संबंधितों तो प्रसारित करने की प्रबंध सुनिश्चित करेंगे। बाढ की भयावह स्थिति निर्मित ना हो लोगो की जानमाल के साथ किसी भी प्रकार का खिलवाड़ ना हो पर विशेष बल देते हुए कलेक्टर डॉ जैन ने सभी डेम बांधो पर विभागो के इंजीनियर उपस्थित रहें। कम संसाधनो में बाढ नियंत्रण के बेहतर प्रबंधन कैसे सुनिश्चित हो का प्रयोग करते रहें।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सिरोंज एसडीएम से वीडियो संवाद के दौरान डेमो प्रस्तुत करने के निर्देश दिए कि किसी एक गांव में बाढ का पानी भर गया है और रहवासी चारो और पानी से घिर गए है ऐसी परिस्थितियों में आमजनो के बचाव हेतु अन्य संसाधनो का उपयोग कैसे करेंगे ताकि किसी भी प्रकार की जनहानि ना हो सकें। सबसे पहले सुगमता से कौन पहुंचेगे का चिन्हांकन कैसे किया जाता है उनके सम्पर्क नम्बर तथा उन तक सूचनाएं कैसे प्रेषित करेंगे। वहीं बाढ से बचाव के लिए मुहैया कराए गए उपकरणो का संचालन कौन कैसे करेगा इत्यादि के बारे में बिन्दुवार जानकारी प्राप्त की है। 

वाहनो में संसाधनों को भण्डारित करें

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने समस्त एसडीएम व डिप्टी कलेक्टरों के अलावा तहसीलदारो को निर्देश दिए है कि उन्हें आवंटित वाहनो में बाढ़ से बचाव के लिए आवश्यक उपकरण जिसमें रस्सा, सर्चलाइट, मेगा फोन के अलावा फर्स्टएड कीट अनिवार्य रूप से रखी रहें ताकि जैसे ही अचानक किसी भी बाढ क्षेत्र में पहुंचना है तो प्रारंभिक संसाधनो के लिए इंतजार ना करना पडें़।


राजस्व कार्यो की समीक्षा 


कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने खण्ड स्तरीय वीडियो कांफ्रेसिंग समीक्षा में राजस्व कार्यो की भी समीक्षा की है। उन्होंने समस्त राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए है कि कम से कम 70 प्रतिशत राजस्व प्रकरणो का निराकरण प्रत्येक राजस्व अधिकारी करना सुनिश्चित करें। उन्होंने नामांतरण, सीमांकन, बंटवारा, फसल क्षति के कार्यो की भी समीक्षा की है।  कलेक्टर डॉ जैन ने शासकीय उचित मूल्य दुकानो की आवंटित किए जाने वाले खाद्यान्न में किसी भी प्रकार की धोखाधडी ना हो, फुटकर खरीदने वालो के द्वारा शासकीय अनाज की खरीदी ना की जाएं। प्रत्येक एसडीएम अपने-अपने कार्यक्षेत्रों की ऐसी उचित मूल्य दुकानो तथा खरीदने वालो की गोपनीय जांच रिपोर्ट एक सप्ताह में प्रेषित करें। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि छह माह से अधिक से सीमांकन, बंटवारा व नामांतरण के लंबित प्रकरणो को टीएल बैठक में शामिल किया जाए।  कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि जिन स्थलों पर राहत शिविर संचालित किए जाने है उन स्थलों पर बुनियादी आवश्यतओं की पूर्ति सुनिश्चित कराई जाए ताकि बाढ प्रभावितों को किसी भी प्रकार की असुविधाओं का सामना ना करना पडें। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित व्हीसी समीक्षा के दौरान अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, विदिशा एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा, डिप्टी कलेक्टर द्वय श्री कुमार शानू देवडिया और श्रीमती अमृता गर्ग के अलावा विदिशा शहरी एवं ग्रामीण तहसीलदार, नायब तहसीलदार मौजूद रहे।


कृषि आदान कार्यो की समीक्षा 


vidisha news
अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने आज अपने चैम्बर में कृषि आदान कार्यो की समीक्षा की। उन्होने सौराई रेक पाइंट पर खाद का लोड़िंग आनलोडिंग कार्यो में किसी भी प्रकार का व्यवधान ना हो इसके लिए खाली वाहनो के लिए नवीन कृषि उपज मंडी मिर्जापुर के पीछे वाली सडक से ओलम्पस स्कूल होते हुए सौराई पहुंचेगे वही खाद से लोडिंग ट्रक सीधे राष्ट्रीय राजमार्ग से सीधे गंतव्य स्थल की ओर पहुंचेगे।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने जिले में उपलब्ध खाद के भण्डारण की समीक्ष की वहीं उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार का नकली खाद का विक्रय जिले में ना हो के लिए सघन जांच पड़ताल की कार्यवाही अनवरत रूप से चलती रहें। बैठक में किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चौकसे, कॉ-आपरेटिव बैंक के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह समेत अन्य विभागो के अधिकारी मौजूद रहें। 


जिले में अब तक 884.3 मिमी तथा आज 28.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई 


विदिशा जिले में बुधवार 18 अगस्त को 28.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि अब तक 884.3 मिमी वर्षा दर्ज की जा चुकी है। गौरतलब हो कि जिले की औसत वर्षा 1075.50 मिमी है। बुधवार को विदिशा तहसील में छह मिमी, बासौदा में 25.6 मिमी, कुरवाई में 7.2 मिमी, सिरोंज में 17 मिमी, लटेरी में 29 मिमी, ग्यारसपुर में 67 मिमी, ग्यारसपुर में 27 मिमी, नटेरन में दस मिमी, शमशाबाद में 36 मिमी तथा पठारी तहसील में 60 मिमी वर्षा दर्ज हुई है।

कोई टिप्पणी नहीं: