सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 11 सितंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 सितम्बर

सफाई कर्मचारियों की शिकायतों का नहीं किया जा रहा है निराकरण, मध्य प्रदेश सफाई कर्मचारी एक्शन कमेटी ने केबिनेट मंत्री को दिया ज्ञापन


sehore news
सीहोर। मध्य प्रदेश सफाई कर्मचारी एक्शन कमेटी के पदाधिकारियों ने भोपाल पहुंचकर भारतीय जनता पार्टी के कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग और विधायक कृष्णा गौर को ज्ञापन दिया गया है। सफाई कर्मचारी एक्शन कमेटी के प्रदेश संगठन महामंत्री बृजेश टांक के नेतृत्व में दिये गए ज्ञापन में प्रदेश में निरस्त राज्यसफाई कर्मचारी आयोग का पुन: गठन करने और आयोग को सभी संवैधानिक अधिकार प्रदान करने की मांग की गई है। सफाई कर्मचारी एक् शन कमेटी जिलाध्यक्ष रितेश चंदेल ने कहा की दिल्ली राज्य में सफाई कर्मचारियों की समस्याओं के निवारण के लिए आयोग का गठन कर दिया गया है आयोग को संवैधानिक अधिकार देने के लिए विधानसभा में प्रस्ताव भी पास किया गया है। मध्य प्रदेश में अबतक सफाई कर्मचारी आयोग का गठन नहीं किया गया है जिस कारण सफाई कर्मचारियों की अनेक शिकायते लंबित है तो वहीं सफाई कर्मचारीयों का शोषण लगातार किया जा रहा है। शीघ्र आयोग का गठन किया जाकर आयोग को संवैधानिक अधिकार भी प्रदान किए जाए। ज्ञापन देने वालों में एक् शन कमेटी के विरेंद्र धोलपुरे,अजय शुदे, पप्पू ठाकुर,विवेक झा, बलराज नरवारे, चंद्रशेखर डागर, अमन चौहान, गीता बाई, बबिता गौतम चौहान, राकेश खरे, बबलू नरवारे, संदीप बोयत, रितेश कछवाय, अकाश अग्रिभोज, अजय सोते, माया नरवारे, दीपा खंरे आदि शामिल रहे।

शहर की विभिन्न समस्याओं को लेकर चर्चा राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच प्रदेश अध्यक्ष से मिले जिला कांग्रेस अध्यक्ष


sehore news
सीहोर। राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच मध्य प्रदेश अध्यक्ष नौशाद खान से जिला कांग्रेस कमेटी जिला अध्यक्ष बलवीर तोमर और कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्ष नईम नवाब ने मुलाकात कर राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच के द्वारा प्रदेश में जारी जनहितैशी कार्यो एवं आगामी नगरीय निकाय चुनावों सहित शहर की विभिन्न समस्याओं को लेकर चर्चा की। कांग्रेस अध्यक्ष से भेंट के दौरान प्रदेशाध्यक्ष खान ने कहा की कांग्रेस कार्यकर्ताओं को एकता दिखाने का वक्त है उन्होने कहा की राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच जनहित के मुददों को लेकर कांग्रेस के साथ है। भेंट के दौरान पुष्पमालाओं से जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री तोमर ने श्री खान का स्वागत किया। मुलाकात के दौरान विशेष तौर पर राजेंद्र ठाकुर, महमूद अली, रामचरण मालवी,  कृष्ण मालवीय, अजहर बाबा, जहीर बाबा, अयान भाई,  आफताब अली, मौलाना खान मौजूद रहे।

वनकर्मियों के बलिदान को किया गया याद, डीएफओ ने शहीदों की सेवाओं पर डाला प्रकाश


sehore news
सीहोर। वन मंडल कार्यालय में शनिवार को राष्ट्रीय वन शहीद दिवस का आयोजन वन मंडलाधिकारी डॉ. अनुपम सहाय की मौजूदगी में किया गया। इस अवसर पर वनों तथा वन्य जीवों की सुरक्षा के लिए अपने जीवन का बलिदान करने वाले शहीद वनकर्मियों की सेवाओं को याद करते हुए दो मिनट का मौन रखकर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस मौके पर शहीद वनकर्मी रघुवीर सिंह, रामस्वरूप सक्सेना, मोतीलाल मिश्रा, बट्टूलाल, लक्ष्मीलाल मालवीय, प्रताप सिंह और प्रहलाद सिंह आदि को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए वन मंडलाधिकारी ने कहा कि इनकी शहादत के कारण आज वन एवं वन्य प्राणी सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि वन कर्मचारी वन अपराधों को रोंकने के लिए पूरी सिद्दत से प्रयास कर रहे हैं। उनकी सजगता के चलते ही वनों तथा वन्य जीवों की सुरक्षा हो रही है। वन अधिकारियों एवं कर्मचारियों की ड्यूटी सुरक्षा को लेकर काफी जोखिम भरी होती है। फिर भी अपनी ड्यूटी को लेकर वन कर्मियों को पूरी तरह से मुस्तैद रहना है। जिससे वनों तथा वन्य जीवों की सुरक्षा में किसी तरह की कमियां सामने न आएं। जिले में भी कई दुर्गम स्थल हैं जहां वनों की सुरक्षा करना काफी मुश्किल भरा कार्य है। बावजूद इसके वनकर्मियों द्वारा अपनी मेहनत से वनों के साथ ही वन्य जीवों की सुरक्षा में किसी तरह की कोताही नहीं की जा रही है। सभी वन परिक्षेत्राधिकारी कार्यालय क्षेत्रों में वनकर्मियों द्वारा 24 घंटे की ड्यूटी दी जा रही है। इस अवसर पर वन विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने वनों की सुरक्षा में शहीद हुए वन कर्मचारियों को याद किया। साथ ही यह भी दृढ़ निश्चय किया कि वह वनों एवं वन्य जीवों की सुरक्षा में किसी तरह की कमी नहीं आने देंगे। वन कर्मचारी अपनी जान की परवाह किए बिना रात में भी वन क्षेत्रों में गश्त कर सुरक्षा व्यवस्था को पूरी तरह से चाक चौबंद किए हुए हैं। अधिकारियों एवं कर्मचारियों की बदौलत ही जिले में वनों के साथ ही वन्य जीवों की सुरक्षा व्यवस्था काफी बेहतर है। जहां से भी शिकायतें मिलती हैं वन कर्मचारी मौके पर पहुंचकर उनका निराकरण करते हैं साथ ही आवश्यकता होने पर अपने अधिकारियों की मदद से आगे की कार्रवाई सुनिश्चित करते हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए वन कर्मचारी संघ के अध्यक्ष संतोष साहू और विरेन्द्र भाटी ने बताया कि शनिवार को आयोजित कार्यक्रम में समेत अन्य वन परिक्षेत्राधिकारी भी उपस्थित रहे। जिनके द्वारा भी वनों की सुरक्षा को लेकर किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी गई। साथ ही राष्ट्रीय वन दिवस के आयोजन को पूरी तरह से जिले में सार्थक बनाने के लिए संकल्प लिया गया। वन मंडल कार्यालय पर  शहीद स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की कार्यक्रम के दौरान प्रमुख रूप से उप वन मंडल अधिकारी सीहोर राजेश शर्मा, परिक्षेत्र अधिकारी, सीहोर हरी मनु, वन कर्मचारी संघ पदाधिकारियों विरेन्द्र बिसोरिया (प्रंतीय सचिव), संतोष साहू अध्यक्ष हरीश आर्य, नईम अहमद, शरद रंजन, संजय शर्मा, विरेंद्र भाटी, नवनीत टिमराई, दीपेन्द्र चौहान, विष्णुदत्त मिश्रा, हसीन अहमद आदि वन रक्षक आदि शामिल थे। जिन्होंने शहीद स्मारक पर श्रद्धांजली अर्पित की। 

टीकाकरण महाअभियान के तहत 5 बजे तक 10007 लोगों ने लगवाया कोविड टीका


sehore news
जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 10007 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। सीएमएचओ श्री सुधीर डेहरिया ने बताया कि जिले में शनिवार को 5 बजे तक 10007 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। सुबह 08 बजे से ही लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचे।

जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति

जिले में कुल 10007 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले में कुल 137 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। आष्टा में 3903, बुधनी में 716, इछावर में 808, नसरूल्लागंज में 1451, श्यामपुर में 2374 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 755 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।


संवेदना टोल फ्री-टेली काउंसलिंग से कोविड प्रभावित बच्चो की काउंसलिंग


कोरोना संक्रमण के चलते मानसिक रूप से प्रभावित हो रहे बच्चों के लिए बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने नई पहल की है। आयोग ने "संवेदना" नाम से टोल फ्री टेली काउंसलिंग शुरू की है। इसके लिए टोल फ्री नम्बर 1800-1212-830 जारी किया गया है, जिस पर बच्चे कॉल कर विशेषज्ञों से बात कर अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं। कोविड-19 के दौरान 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा असर पड़ा है। ऐसे बच्चे टोल फ्री नम्बर पर सुबह 10 से 1 बजे तक और दोपहर 3 से रात्रि 8 बजे तक सोमवार से शनिवार तक अपनी समस्याओं पर विषय विशेषज्ञों, काउंसलर से बात कर सकते हैं।


बटाईदार और भूमिस्वामी के बीच करार की कॉपी तहसीलदार को देना होगी


सामान्य तौर से कृषकों और भू-स्वामियों द्वारा अपनी भूमि अन्य व्यक्तियों को धन या फसल का अंश भूमि स्वामी को देकर खेती के लिए  भूमि दे दी जाती है जिसे सामान्य तौर पर बटाई, सिकमी, अन्य स्थानीय नामो से जाना जाता है। तत्संबंध में मध्यप्रदेश भूमि स्वामी एवं बटाईदारो के हित संरक्षण अधिनियम 2016 के अनुरूप भूमि बटाई पर दिए जाने की मान्यता प्रदान की गई है। अधिनियम भूमि स्वामी बटाईदार दोनो के हितो का संरक्षण करता है अब कोई भी भूमि स्वामी अपनी भूमि बटाई पर देने या किसी व्यक्ति द्वारा बटाई पर लेने की वैधानिकता तभी मानी जाएगी जब दोनो पक्षो के द्वारा मध्यप्रदेश भूमि स्वामी बटाईदारो के हित संरक्षण अधिनियम 2016 के नियम चार के तहत अनुबंध निष्पादित किया हो और एक प्रति संबंधित क्षेत्र के तहसीलदार को उपलब्ध कराई हो। कोई भी बटाईदार, भूमि बटाई पर लेकर यदि वह फसल क्षति की देय राहत राशि, बीमा राशि और कृषि उपज का उपार्जन हेतु शासन द्वारा तभी स्वीकार माना जाएगा जब भूमि स्वामी और बटाईदार के मध्य उपरोक्त अधिनियम के अंतर्गत अनुबंध निष्पादित हुआ हो और विधिवत अनुबंध के अभाव में उपरोक्त हित लाभ दिया जाना संभव नही होगा। अतः हितवद्व व्यक्ति उपरोक्त अधिनियम के तहत कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे।


2 से 8 अक्टूबर तक मद्यनिषेध सप्ताह


समाज में बढ़ती मद्यपान की प्रवृत्ति, नशीली दवा और मादक पदार्थों के दुष्परिणाम से युवाओं, विद्यार्थियों एवं समाज को अवगत कराने और नशा सेवन प्रवृत्ति की रोकथाम हेतु जनजाग्रति एवं चेतना निर्माण के उद्देश्य से महात्मा गांधी की 152वीं जयंती के अवसर पर 2 अक्टूबर से 8 अक्टूबर तक मद्य निषेध सप्ताह मनाया जायेगा। सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण, आयुक्त ने प्रदेश के सभी कलेक्टर्स और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को मद्य निषेध सप्ताह के अवसर पर उपचार परामर्श तथा जनजाग्रति संबंधी कार्य करने के निर्देश दिये हैं, ताकि लोग नशा मुक्ति की ओर प्रेरित हो सकें। महात्मा गांधी की जयंती पर वर्चुअल व्याख्यान-वेबिनार नशामुक्ति के लिये जन-जाग्रति रैली और नुक्कड़ नाटकों का मंचन कराया जाये। इसके अलावा मद्य निषेध सप्ताह के तहत स्थानीय विद्यालयों में नशामुक्ति विषयक प्रतियोगितायें, प्रश्न मंच का आयोजन, ग्राम सभाओं में नशामुक्त ग्राम बनाने संबंधी प्रस्ताव पारित कराया जाकर, पालन कराया जाये। ग्राम स्तर, नगरीय स्तर पर स्थानीय व्हाट्सअप ग्रुप तैयार कर नशामुक्ति के संदेशों एवं लघु फिल्मों को भेजा जाये। इसके अलावा स्व-सहायता समूह, शौर्यादलों द्वारा स्थानीय स्तर पर नशामुक्ति अभियान चलाया जाये। ग्राम स्तर, शहरी स्तर पर नशामुक्ति अभियान हेतु स्थानीय वॉलेंटियर तैयार किये जायें। नशा पीड़ितों के उपचार हेतु स्वास्थ्य विभाग के सहयोग परीक्षण से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में स्वास्थ्य परीक्षण कैम्पों का आयोजन कराया जाये। साथ ही नशामुक्ति पर आधारित पोस्टर प्रदर्शनी लगाई जाये।


साल की द्वितीय नेशनल लोक अदालत सफलतापूर्वक सम्पन्न

  • नेशनल लोक अदालत में सात करोड़ 86 लाख रुपये से अधिक के 1696 प्रकरणों का हुआ निराकरण

sehore news
मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय जबलपुर के निर्देश पर सीहोर जिला मुख्यालय सहित सभी तहसील न्यायालयों में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया।  न्यायालय में आयोजित इस नेशनल लोक अदालत का स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री सुर्दशन महाजन तथा जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री आरएन चंद ने शुभारंभ किया। श्री महाजन ने कहा कि इस लोक अदालत में अधिक से अधिक लोगों के प्रकरणों का निराकरण हो ताकि उनका समय और खर्च दोनों बचेंगे। श्री चंद ने कहा कि नेशनल लोक अदालत त्वरित एवं सुलभ न्याय का अच्छा अवसर है। लोगों को नेशनल लोक अदालत में आकर इस अवसर का लाभ उठाना चाहिए।  इस अवसर पर अपर जिला न्यायाधीश एवं विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी सहित अन्य जज एवं अधिवक्ता उपस्थित थे।


नेशनल लोक अदालत में 1696  प्रकरणों का हुआ निराकरण

विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी ने जानकारी दी कि नेशनल लोक अदालत में प्रकरणों के निराकरण हेतु 27 खण्डपीठें गठित की गई है। नेशनल लोक अदालत में आपसी समझौते के आधार पर निराकरण कराने के लिए न्यायालय में लंबित कुल 6 हजार 577 प्रकरण रखे गये थे, जिनमे से 541 प्रकरणों का निराकरण आपसी राजीनामा के आधार पर होकर समझौता राशि 5 करोड़, 26 लाख, 89 हजार, 482 रूपये जमा कराई गई। इसी प्रकार नेशनल लोक अदालत की खण्डपीठ के समक्ष कुल प्रिलिटिगेषन 12 हजार 976 प्रकरण रखे गये थे, जिनमें से 1 हजार 155 प्रकरणों का निराकरण कराकर 2 करोड़, 59 लाख, 48 हजार, 435 रूपये समझौता राशी जमा कराई गई। नेशनल लोक अदालत में कुल 1696 प्रकरणों का निराकरण किया गया। जिसमें 7 करोड़, 86 लाख, 37 हजार, 917 रूपये समझौता राशि जमा कराई गई।


दम्पति को माला पहनाकर खुशी-खुशी विदा किया

नेशनल लोक अदालत में प्रकरण क्रमांक 48/2020 कविता वि. जितेन्द्र वर्मा के प्रकरण में आवेदिका कविता को दहेज के लिए प्रताड़ित कर चार वर्ष से छोड़ रखा था जिससे परेशान होकर उसने कुटुम्ब न्यायालय में भरण-पोषण का केश दर्ज किया। आवेदिका के दो बच्चे आयुष एवं रिंकू है। प्रकरण में न्यायालय के पीठासीन अधिकारी सुश्री नीना आषापुरे द्वारा कई बार समझाईश दी जाकर प्रकरण का निराकरण किया गया। राजीनामा होने से दोनो पक्ष खुश हुये। दंपति ने कहा कि वह अब कभी नही लड़ेगे तथा सुखमय दाम्पत्य जीवन व्यतीत करेंगे। प्रकरण क्रमांक 112-2020 मनीषा वि. ब्रजेश के प्रकरण में दोनो के दो बच्चे विशाल उम्र 12 वर्ष एवं सुहानी उम्र 10 वर्ष है। आवेदिका को मानसिक व शारीरिक प्रताड़ना देकर मारपीट कर घर से निकाल दिया। आवेदिका असहाय अवस्था में बच्चों सहित मायके मे रहने लगी। वर्ष 2019 में आवेदिका ने माननीय कुटुम्ब न्यायालय सीहोर में भरण पोषण का आवेदन पत्र पेश किया जिसमें सुश्री नीना आशपुरे पीठासीन अधिकारी द्वारा दोनों पक्षों को कई बार समझाईश दी जाकर उन्होनें प्रकरण में दोनों पक्षों की आपसी सहमति के आधार पर राजीनामा कराया।


मलेरिया विभाग द्वारा किया जा रहा है डेंगू का सर्वे


sehore news
चकल्दी में स्वास्थ्य विभाग के मलेरिया सर्वे दल ने डेंगू और लार्वा का सर्वे किया। सर्वे का काम जिला मलेरिया अधिकारी श्रीमती क्षमा बर्वे और उनके सर्वे दल ने किया। इस दौरान नागरिकों को समझाईश भी दी गई, की घर और आसपास पानी जमा होने ना दे। बुखार आने पर तुरंत नजदीकी चिकित्सालय में जाकर इलाज कराने की सलाह दी गई। श्रीमती क्षमा बर्वे ने जानकारी दी कि चकल्दी में सर्वे किया जा रहा है। मलेरिया निरीक्षक, फिल्ड वर्कर, एएनएम, आशा पर्यवेक्षक, आशा कार्यकर्ता दल बनाकर पूरे गांव का सर्वे प्रारंभ कर दिया गया है। आस-पास के चौकीदारों को भी सर्वे दल में शामिल कर सर्वे कराने के निर्देश दिए। गांव में प्रचार-प्रसार और जनजागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। पम्पलेट, जागरूकता नारे लेखन किया गया तथा स्टीकर द्वारा जागरूक करने का काम भी प्रारंभ कर दिया है।


जिले में अब तक 802.5 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 14.5 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 11 सितंबर, 2021 तक 802.5 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा 1294.4 मिलीमीटर थी। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 11 सितंबर, 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 781.5 मिलीमीटर,  श्यामपुर में 747.9, आष्टा में 709.0 जावर में 701.4,  इछावर में 822.3, नसरूल्लागंज में 802.0,  बुधनी में 927.0, रेहटी में 929.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 14.5 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 14.5 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 9.3 मिलीमीटर, श्यामपुर में 31.0, आष्टा में 14.0 जावर में 9.4, इछावर में 3.0, नसरूल्लागंज में 22.0, बुधनी में 6.0, रेहटी में 21.2 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


जिले में आज कोई भी व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना  एक्टिव  पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 610 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 185, श्यामपुर से 160,  नसरूल्‍लागंज 74, आष्टा से 124,  बुधनी से 26  तथा  इछावर से 41 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 254768  हैं। जिनमें से 243166  सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 1064 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1389 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।     

कोई टिप्पणी नहीं: